Hindisexstory मॉम की चुदाई की प्यास बेटे ने बुझाई1 Fun Story

मॉम की चुदाई की प्यास बेटे ने बुझाई Hindisexstory

Hindisexstory: मेरी मॉम विधवा हैं पर हमारे पास खूब पैसा है. मैं मॉम को किसी आदमी से चुदवाते हुए देखा है. मैं भी अपनी मॉम की वासना को समझता था. मैंने मॉम की चुदाई कैसे की?

नमस्ते, मेरा नाम पुष्पक है. मेरा घर का नाम मुन्ना है, मैं पुणे का रहने वाला हूँ. ये कहानी तब की है, जब मैं इक्कीस साल का था. मेरी लंबाई छह फुट की है और मेरा औजार साढ़े आठ इंच लम्बा और साढ़े तीन इंच मोटा है.

ये कहानी मेरे साथ घटी एक सत्य घटना पर आधारित है. मेरी मॉम की उम्र उस वक्त लगभग 42 साल की थी और वह विधवा हैं. मैं जब छोटा था, तभी मेरे पिताजी चल बसे थे. मेरी मॉम का रंग सांवला है और उनके स्तन अब अड़तीस इंच के हैं. मॉम की कमर चौंतीस इंच की होगी और नितंब ब्यालीस के हैं. वह हमेशा स्लीबलैस ब्लाउज पहनती हैं और वो उसमें बहुत मादक लगती हैं.

जब की ये घटना है, तब मेरी मॉम की फिगर बड़ी मादक थी. पापा की मौत के बाद मॉम ने अपनी लाइफ स्टाइल बदली नहीं थी. हम लोग एक रईस परिवार से हैं और पापा ने मेरी मॉम के लिए अपार धन दौलत छोड़ी थी. मेरी मॉम ने मुझे हमेशा ही खुली छूट दी थी, जिससे मेरा बचपन भी बड़ा मस्त गुजरा था. मुझे किसी बात की कमी नहीं रही थी.

मैं और मेरी मॉम हम हमेशा एक दूसरे से बहुत खुले रहे हैं … और इसी वजह से हम हमेशा एक दूसरे से अपना सब कुछ शेयर करते हैं. मैं उनसे अपनी एक एक बात शेयर करता हूँ. जैसे मेरे प्रॉब्लम्स, लड़कियों से दोस्ती … या और भी सब कुछ, मैं अपनी मॉम से बता देता हूँ.

मॉम भी मुझसे सब बातें शेयर करती हैं. जब से पापाजी चल बसे हैं, शायद तभी से हम दोनों बहुत क्लोज़ हो गए थे. मेरी मॉम ने मुझसे इतना खुलापन शायद इसीलिए रखा था ताकि हमारी दौलत का कोई नाजायज फायदा न उठाए और हमे ब्लैकमेल आदि न करे.

Hindisexstory

पापा के जाने के बाद मेरी मॉम ने अपनी जिस्मानी भूख मिटाने के लिए एक आदमी को सैट कर रखा था. वो हमारे ही घर आता था और उनके साथ सेक्स करके चला जाता था. मैंने उस आदमी को एक बार घर में घुसते देखा था, उस समय मैं अपने कॉलेज जा रहा था. मुझे आश्चर्य हुआ कि मेरी मॉम ने मुझसे इस आदमी के बारे में कभी नहीं बताया था जबकि हम दोनों एक दूसरे से हर तरह की बात कर लेते थे.

मैंने कुछ नहीं कहा और छिप कर उस आदमी को चैक करने लगा. वो आदमी घर के अन्दर गया और मेरी मॉम से बात करने लगा. मैं छिप कर उन दोनों को देखने लगा. मेरी मॉम उससे चूमाचाटी करने लगीं और कुछ ही देर में उन दोनों के बीच सेक्स होने लगा. करीब एक घंटे बाद वो आदमी अपने कपड़े पहन कर मेरे घर से चला गया.

इस घटना को मैंने बहुत सामन्य तरीके से लिया क्योंकि मैं भी समझता था कि मेरी मॉम अब भी जवान हैं और उनको अपनी जिस्मानी भूख को शांत करने का अधिकार है.

मैं मॉम के साथ सामान्य जीवन बिताने लगा. वो आदमी भी हफ्ते में दो बार मेरी मॉम के पास आता रहा. वो उनको चोद कर चला जाता था. मॉम उसको कुछ पैसे भी देती थीं.

एक बार ऐसे ही मॉम के साथ बातचीत मसला सेक्स की तरफ मुड़ गया. लेकिन तब मुझे उनके बारे में ऐसा कुछ नहीं लगता था कि मॉम को सेक्स की लत है. मैं सिर्फ उनकी जिस्मानी भूख को एक सामान्य भूख समझ कर चुप रहना उचित समझता था.

मैं आपको बता दूँ कि पापा के समय से ही मेरी मॉम को शराब पीने की आदत है … जिसके चलते उन्होंने मुझे भी अठारह साल का होते ही साथ में बैठ कर पिलाना शुरू कर दिया था. वो शराब के साथ सिगरेट भी पीती थीं. उन्होंने ही मुझे सिगरेट पीना सिखा दिया था.

Hindisexstory

शुरुआत में एक दिन मॉम ने मुझसे सिगरेट जला कर देने का कहा, मैं मॉम को सिगरेट जलाते हुए देखता था, सो मैंने भी उनके जैसे ही सिगरेट जला कर एक कश खींच कर उनको दे दी थी. उसके बाद से मैं अपनी मॉम के साथ शराब और सिगरेट का मजा लेने लगा था.

एक़ बार हम दोनों पीने बैठे थे. मेरी मॉम को व्हिस्की पीना बहुत पसंद है और मुझे भी उनके साथ ही पीने में मज़ा आता है. हम दोनों हफ्ते में दो तीन बार एक साथ बैठ कर शराब और सिगरेट का मजा लेते रहते थे.

इस बार मेरे जन्मदिन पर मॉम ने मेरे लिए व्हिस्की की तीन बॉटल का सैट गिफ्ट किया. मुझे उनका ये गिफ्ट बहुत पसंद आया और मैंने उनको अपनी बांहों में भरके खूब लाड़ जताया. जब भी मैं मॉम को हग करता था, तो मुझे उनके मम्मे बेहद मस्त लगते थे.

कुछ देर बाद मैंने केक काटा और मॉम को केक खिलाने के बाद हम दोनों ने पीना शुरू कर दिया. हम दोनों ने दारू पीते पीते बहुत ज्यादा पी ली. सिगरेट का मजा भी हमारी पार्टी में रंग जमा रही थी. हम दोनों ने करीब चार घंटे तक दारू पी और पूरी बॉटल खत्म कर दी.

अब हम दोनों को दारू चढ़ी हुई थी और उसी समय हम दोनों के बीच बात होते होते सेक्स लाइफ को लेकर बातचीत होने लगी.

उस दिन मॉम ने मुझे बताया कि वो उस समय किसी के साथ सेक्स का मजा ले लेती हैं, जब मैं कॉलेज में होता था.
मैंने भी नशे में कहा- हां मॉम, मुझे इस बारे में पहले से पता है.
मॉम ने मुझसे पूछा- तुझे कैसे पता है? मैंने बिंदास कह दिया कि मैंने आपको एक बार उस मरियल से आदमी से चुदते हुए देखा था.
उस आदमी को मरियल कहने पर मॉम हंसने लगीं.

Hindisexstory

मैंने आगे कहा कि जब से मैंने आपको उसके साथ नग्न अवस्था में देखा, तब से मैं भी आपको चोदना चाहता हूँ.
ये सुनकर मेरी मॉम दो मिनट के लिए शांत हो गईं. फिर उन्होंने मुझे चूमना शुरू कर दिया.

मैंने भी मॉम को अपनी गोद में खींच लिया. हम दोनों ने करीब पन्द्रह मिनट तक किस किया. उन पन्द्रह मिनट में मैंने अपनी मॉम के मम्मे भी खूब दबाए. उसके बाद मैंने उनको नंगी करना शुरू कर दिया. उसके बाद मैंने उनको चूमना शुरू कर दिया.

मॉम भी मेरे लंड को पकड़ने लगी थीं. मैंने उनके एक मम्मे को अपने मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया

Hindisexstory

और उन्हें काटना भी शुरू कर दिया. मॉम ने अपने दूध चुसवाते समय सिसकारियां भरनी शुरू कर दीं. फिर मैंने मॉम की नाभि को चाटना शुरू कर दिया.

मेरी मॉम ने उस दिन केसरी रंग की साड़ी पहनी थी. उसके अन्दर उन्होंने लाल रंग की ब्रा और उसी रंग पेंटी पहनी थी. साड़ी पेटीकोट हटाने के बाद मैंने उनके मम्मे चूसने के लिए उनकी ब्रा भी उतार दी थी.

अब मेरी मॉम के ऊपरी कपड़े उतर गए थे. वो मेरी गोद में बैठी थीं. मैंने उनकी पेंटी के ऊपर से चूत के साथ खेलना शुरू कर दिया. उनकी चूत भी गीली होना शुरू हो गयी थी.

कुछ देर बाद मैंने मॉम की पेंटी भी उतार दी. पेंटी हटते ही मेरी मॉम की सफाचट चूत मेरे सामने आ गई थी. मैंने एक पल की भी देर नहीं की और उनकी चूत चाटना शुरू कर दी. वो मेरी गोद से उठीं और बेड पर लेट गईं. मैंने उनके पैरों के पास जाकर अपनी जीभ को चुत के आस पास फिराना शुरू कर दिया. मॉम ने अपनी टांगें फैला ली थीं. मैंने जीभ से चुत चाटने की तकनीक ऑनलाइन सीखी थी, उसे इस्तेमाल कर दिया.

Hindisexstory

इससे मेरी मॉम और भी पागल हो गयी थीं और उनके मुँह से अब आह आह की आवाज़ निकलने लगी थी. मॉम मेरा चेहरा अपनी चूत पर मेरा मुँह दबाने लगी थीं.

अब तक मेरा औजार भी सलामी देने लगा था. मॉम ने मुझे साइड में खींच कर मेरे कपड़े उतारे और मुझे 69 की पोज़िशन में आने को कहा.

Hindisexstory

मैं मॉम के ऊपर उल्टा होकर लेट गया. इसके बाद मैंने उनकी चूत में अपने मुँह को लगा दिया और मेरा औजार उनके मुँह में चला गया था. वह मेरा लंड चूसने लगीं और मैं उनका छेद चाटने लगा.

कोई पांच मिनट चुत चटवाने के बाद मेरी मॉम झड़ गईं.

झड़ने के बाद भी वो मेरा लंड चूसने में लगी थीं. कोई दो मिनट लंड चूसने के बाद मैं भी झड़ने वाला हो गया था. मैंने अपना लंड निकालने की कोशिश की, पर उन्होंने ज़बरदस्ती मेरे लंड अपने मुँह में रखे रखा और लगातार लंड चूसती रहीं.

मैं समझ गया कि मॉम को मेरे लंड की मलाई खाने का मन है. मैंने मेरा पूरा वीर्य छोड़ दिया और मॉम ने मेरे लंड का रस अपने मुँह में भर लिया और वो उसको स्वाद लेकर एकदम से पूरा गटक गईं.

माल खा लेने के बाद भी उन्होंने मेरा लंड नहीं छोड़ा. उन्होंने तब तक मेरे लंड को चूसा, जब तक मेरा लंड फिर से सलामी ना देने लगा. अब मेरा लंड दोबारा खड़ा हो गया था.

अब मेरी मॉम ने कहा- बेटा अब और मत जलाओ … मेरी चूत में आग लगी है. तुम जल्दी से मेरी चुत की प्यास बुझा दो.

Hindisexstory

मैंने अपना लंड उनके चूत पर सैट किया और धक्का दे दिया. मेरा आधा लंड तो बड़ी आसानी से घुस गया. लेकिन जब मैं बाकी का आधा लंड घुसाने लगा, तब मॉम चिल्लाने लगीं.

Hindisexstory

मैं उन्हें चूमने लगा और उनके दूध सहलाने लगा. मैं तब तक रुका रहा, जब तक उनका दर्द कम नहीं हो गया. थोड़ी देर बाद जैसे उनका दर्द कम हुआ.

मैंने पूछा- मॉम मुझे लगा कि आप तो हमेशा चुदवाती रहती हो, तो आपको दर्द क्यों हुआ?
उन्होंने कहा कि जिस मरियल का लंड मैं लेती हूँ, उस चूतिये का लंड इतना मोटा और बड़ा नहीं है … इसलिए मुझे दर्द हुआ.
मैंने पूछा- मेरे लंड से कितना कम है?
मॉम ने गांड उठाते हुए कहा- उस भैन के लौड़े का लंड तुमसे तीन इंच कम है और साले का मोमबत्ती सा है. वो तो मैं संकोच के चलते किसी और का लंड नहीं ले पा रही थी, इसलिए मेरी उससे चुदना मजबूरी थी.
मैंने कहा- अब उसको गांड पर लात मारके भगा देना. मैं ही आपकी चुत की सेवा करूंगा.

मॉम ने मुझे चूमा और लंड के धक्के देने के लिए कहा. उसके बाद मैंने धक्के मारना शुरू कर दिया. मैं पन्द्रह मिनट तक मॉम की चुत में धक्के मारता रहा.

कुछ देर बाद मैंने मॉम को घोड़ी बनाया और पीछे से भी उनकी चूत चुदाई शुरू कर दी.

पन्द्रह मिनट बाद जब मैं झड़ने वाला था, तो मैंने पूछा कि क्या करूं?
मॉम ने कहा कि मेरी चूत में ही झड़ जाओ.
मैं मॉम की चुत में ही झड़ गया.

झड़ने के बाद हम दोनों ने कोई दस मिनट तक एक दूसरे को चूमा. उसके बाद हम दोनों एक एक सिगरेट फूंक कर सो गए. Hindisexstory

फिर अगले दिन उठ कर हम दोनों ने सुबह से ही पहले चुदाई की. अब मॉम और मैं एक दूसरे की शारीरिक जरूरतें पूरी कर लेते हैं. मैंने कई बार मॉम को होटल में ले जाकर उनके लिए मोटे लंड की व्यवस्था भी की और उनके सामने लड़कियों को लाकर भी थ्री-सम चुदाई का मजा लिया.

हालांकि मैं अपनी ही मॉम के साथ सेक्स करने की सलाह नहीं देता हूँ, पर पुणे जैसे बड़े शहर में मेरे जैसे अमीर व्यक्ति के लिए बीमारी, ब्लैकमेलिंग और सामाजिक प्रतिष्ठा के चलते, ये हमारी मजबूरी थी कि हम दोनों एक दूसरे की जरूरतें पूरी करें.

ये मेरी सेक्स कहानी थी, अगर आपको मेरी मॉम की चुदाई की कहानी पसंद आई हो, तो मुझे मेल करके जरूर बताएं.

अगर आपको और भी ऐसी ही कहानियां पढ़नी हों, तो मुझे मेल कीजिए. मैं जल्द ही अपनी मॉम के अलावा अगली चुदाई की कहानी भी पोस्ट करूँगा.
[email protected]
धन्यवाद.

Join Telegram Group –

Hindisexstory

Read in English

Mom ki chudai ki pyaas bate ne bujhai Hindisexstory

Hindisexstory: My mom is widow but we have a lot of money. I have seen Mom fucking a man. I also understood my mom’s lust. How did I fuck mom?

Hello, my name is Pushpak. My household name is Munna, I am from Pune. This story is from when I was twenty one years old. My length is six feet and my tool is eight and a half inches long and three and a half inches thick like Hindisexstory.

This story is based on a true incident that happened to me. My mom was around 42 years of age at the time and she is a widow. My father passed away when I was little. My mom has a dark complexion and her breasts are now thirty eight inches Hindisexstory. Mom’s waist will be 34 inches and the buttocks are forty-two. She always wears a sleeveless blouse and she looks very intoxicated in it.

When this incident happened, my mom’s figure was very intoxicating. Mom did not change her life style after Papa’s death. We are from a noble family and the father left a lot of wealth for my mother. My mom had always given me a free hand, due to which my childhood had gone through a lot. I was not missing anything about Hindisexstory.

Me and my mom, we have always been very open to each other… and that is why we always share everything with each other. I share every single thing with him. Like my problems, friendship with girls… or everything else, I tell my mom in Hindisexstory.

Mom also shares everything with me. Ever since Papaji has passed away, probably since then both of us were very close and Hindisexstory. Perhaps my mother had kept such openness with me so that no one could take advantage of our wealth illegally and blackmail us.

hindisexstory
After my father left, my mother set a man to satisfy his physical hunger. He used to come to our house and go to sex with them. I saw that man once entering the house, at that time I was going to my college and Hindisexstory. I was surprised that my mom had never told me about this man when we both used to talk to each other in every way.

I did not say anything and secretly started checking the man. The man went inside the house and started talking to my mom. I started hiding and looking at them both. My mom started kissing him and soon they started having sex. After about an hour, the man put on his clothes and left my house then Hindisexstory

I took this incident in a very normal way because I also believed that my mom is still young and she has the right to calm her physical hunger like Hindisexstory

I started living a normal life with Mom. That man also kept coming to my mom twice a week. He used to go after fucking them. Mom used to give him some money too many Hindisexstory

Once the conversation with such a mom turned to the issue of sex. But then I did not think anything about him that Mom is addicted to sex in Hindisexstory. I considered it appropriate to just keep their physical hunger as a normal hunger and keep quiet.

Let me tell you that since the time of my father my mom has a habit of drinking alcohol… due to which she also started to sit and feed me as soon as she was eighteen years old. She also smoked cigarettes with alcohol. He was the one who taught me to smoke cigarettes.

Hindisexstory
In the beginning, one day Mom asked me to burn cigarettes, I used to see Mom lighting cigarettes, so I also gave them a cigarette like smoke by burning them like Hindisexstory. After that I started enjoying alcohol and cigarettes with my mom.

Once we both sat drinking. My mom loves to drink whiskey and I also enjoy drinking with them. Both of us used to sit together two to three times a week and enjoy alcohol and cigarettes for Hindisexstory.

This time on my birthday, Mom gifted me a set of three bottles of whiskey. I liked his gift very much and I filled him in my arms and pampered him a lot. Whenever I used to hug mom, I used to find her mamma very cool in Hindisexstory.

After some time I cut the cake and after feeding the cake to Mom, we both started drinking. Both of us drank alcohol and drank too much. The fun of cigarettes was also adding color to our party. Both of us drank liquor for about four hours and finished the whole bottle like Hindisexstory.

Now both of us were drunk and at the same time we started talking about sex life.

That day Mom told me that she enjoys sex with someone when I was in college.
I also said drunk – yes mom, I already know about this Hindisexstory.
Mom asked me – how do you know? I said boldly that I had once seen you while fucking that man with that Marial.
Mom started laughing after calling that man Marial.

Hindisexstory
I further said that since I saw you in a naked state with her, I also want to fuck you.
Hearing this, my mom calmed down for two minutes. Then he started kissing me.

I also pulled mom in my lap. We both kissed for about fifteen minutes. In those fifteen minutes I pressed my mother’s mother too much. After that I started taking them naked. After that I started kissing him around Hindisexstory.

Mom was also catching my cock. I started sucking one of his mamma in my mouth and started biting him. Mom started stuffing hers while she was sucking her milk. Then I started licking Mom’s navel in Hindisexstory.

My mom wore a saffron colored saree that day. Inside her, she wore a red bra and the same color panty. After removing the sari petticoat, I also removed her bra to suck her name and Hindisexstory.

Now my mom’s upper clothes had taken off. She was sitting on my lap. I started playing with pussy on top of his panty. His pussy also started getting wet in Hindisexstory.

After some time I also removed Mom’s panty. As soon as the panty was removed, my mother’s clean pussy came in front of me. I did not delay for a moment and started licking their pussy. She got up from my lap and lay on the bed then Hindisexstory. I went near his feet and started moving my tongue around the pussy. Mom had spread her legs. I had learned the technique of tongue licking online, and used it.

Hindisexstory
This made my mom even more mad and now ah ah’s voice started coming out of her mouth. Mom my face was pressing my face on my pussy.

By now my tool had started saluting. Mom pulled me off the side and took off my clothes and asked me to come in 69 position and enjoy Hindisexstory.

I lay upside down on Mom. After this, I put my mouth in his pussy and my tool had gone into his mouth. She started sucking my cock and I started licking her hole.

My mom collapsed after chopping it for five minutes then Hindisexstory.

Even after the loss, she was sucking my cock. After sucking cocks for two minutes, I also became a loser. I tried to get my cock out, but they forcibly kept my cocks in their mouths and continued sucking cocks.

I understood that Mom wants to eat the cream of my cock. I left all my semen and Mom filled my cock juice in her mouth and she tasted it and was completely gutted.

Even after eating the goods, they did not leave my cock. He sucked my cock until my cock started saluting again. Now my cock was erect again.

cript>

Now my mom said, son, do not burn anymore… My pussy is on fire. You quickly quench the thirst of my pussy.

Hindisexstory
I set my cock on her pussy and pushed it. Half of my cock entered very easily. But when I started penetrating the rest of the cocks, then Mom started screaming. I started kissing them and caressing their milk. I stayed until his pain subsided. After a while as his pain subsided.

I asked – Mom I thought you are always Chudwati, so why did you have pain?
He said that the lanyard of whom I take cocks is not so thick and big, so I was in pain.
I asked – how much less than my cock?
Mom picked up the ass and said – the cock of that buffalo’s alore is three inches less than you and the brother-in-law is like a candle. I was unable to take someone else’s cocks because of my inhibitions, so I was helpless.
I said – now kick him on the ass and drive him away. I will serve your pussy.

Mom kissed me and asked me to bang the cocks. After that I started banging. I kept banging on Mom’s pussy for fifteen minutes.

After some time, I made Mom a mare and started fucking her pussy from behind as well.

Fifteen minutes later, when I was about to fall, I asked what to do.
Mom said that I should fall in my pussy.
I fell in Mom’s pussy.

After the loss, we both kissed each other for ten minutes. After that we both slept with a cigarette. Hindisexstory
Then after getting up the next day, both of us had sex before dawn. Now Mom and I meet each other’s physical needs. I also took Mom several times in the hotel and arranged thick cocks for them and also enjoyed the three-way fuck by bringing girls in front of them.

Although I do not recommend having sex with my own mom, it was our compulsion to both meet each other’s needs due to illness, blackmailing and social status for a rich person like me in a big city like Pune.

This was my sex story, if you liked the story of my mom’s sex, then please tell me by mailing me.

If you want to read more similar stories, then mail me. I will soon post the story of the next chudai in addition to my mom.
[email protected]
Thank you.

Read More Sex Story –

Antarvasna 2 भतीजे ने चाची की चूत की प्यास बुझाई Best Sex

Mosi ki beti ke saath sex मौसी की बेटी को लंड चुसवाया 1 Fun

Hindisexstoris मोसी की मोटी रसीली चूत की चुदाई 1 Best Sex

Leave a Comment

org/tools/popad.js">