antarvasna mosi | मौसी की गाण्ड मारी छत पे 1 hindisexstory

मौसी की गाण्ड मारी antarvasna mosi

antarvasna mosi: अमित शर्मा, सबसे पहले गुरु जी को धन्यवाद कि उन्होंने मेरी सभी कहानियाँ masthindistory वेबसाइट पर प्रकाशित की। जैसा कि आप सब को मैंने बताया था कि मैं सोनीपत में रहता हूँ। मेरा नाम अमित है और मैं एक प्लेबॉय हूँ।

यह कहानी बहुत लम्बी है कि मैं जिगोलो कैसे बना। मैं देखने में सुन्दर हूँ और मेरा कद 5’11” है, मेरे लण्ड की लम्बाई सात इंच है।

तो दोस्तो, यह तो हो गया मेरे बारे में ! अब मैं आपको अपनी एक घटना बताता हूँ !

अभी कुछ दिनों पहले मेरी बुआ की लड़की की शादी थी। वहाँ हमारे सभी रिश्तेदार आये हुए थे, मेरी एक दूर के रिश्ते में लगने वाली मौसी भी आई हुई थी जिसे पता नहीं कैसे पता चल गया कि मैं जिगोलो भी हूँ।

मुझे यह तब पता चला जब मेरी मौसी ने मेरे ऊपर यह फ़िकरा कसा कि आजकल तो नौजवान लड़के पैसों के लिए कुछ भी करते हैं। उनकी इस बात पर मुझे गुस्सा आया कि जरूरतमंद औरतों और लडकियों की मदद करना क्या गलत काम है। उस समय तो मैं वहाँ से उठ कर ऊपर छत पर चला गया।

antarvasna mosi

थोड़ी देर बाद मौसी भी ऊपर आ गई और वहाँ मैं और सिर्फ मेरी मौसी ही थी। मौसी दिखने में तो एकदम सच में कमाल थी, बड़ी-बड़ी चूचियाँ, एकदम मस्त गाण्ड !

मुझे ऐसे फिगर वाली कम ही औरतें सेक्स के लिए बुलाती हैं।

मौसी ने मुझे कहा- तू तो बहुत बड़ा हो गया है?

मैं गुस्से में तो था ही, मैंने भी बोल दिया- मेरा वो भी बड़ा हो गया है।

तभी मौसी बोली- उसी का तो जायजा लेने आई हूँ !

अब तो मेरा गुस्सा ख़त्म और मुझमें वासना उतर आई।

रात का समय था छत पर काफी अँधेरा था। मौसी मेरे करीब आई और उन्होंने मेरे लोअर में हाथ डाल दिया, मेरे लण्ड को हाथ में पकड़ कर बोली- यह तो सच में बड़ा हो गया है !

और लोअर को नीचे सरका दिया। अंडरवियर तो मैंने पहना ही नहीं था। वो झुक कर बैठ गई और मेरे लण्ड को पकड़ कर मुँह से चूसने लगी। मुझे उनके बारे में पहले से ही पता था कि वो अपने समय की बहुत बड़ी राण्ड रह चुकी थी, उनके पति भी अब बीमार रहते हैं तो सेक्स की आग तो उनमें लगनी ही थी।

कुछ देर चूसने के बाद वो उठी तो मैं उनके होटों को चूमने लगा और धीरे धीरे उनकी मस्त चूचियाँ दबाने लगा। वो भी बहुत गर्म हो गई थी। उन्होंने साड़ी पहन रखी थी।

हमें थोड़ी जल्दी भी थी क्योंकि वहाँ किसी के आने का डर था, ऊपर वैसे तो कोई आता जाता था नहीं, फिर भी वो जगह सुरक्षित नहीं थी।

मैंने उनकी साड़ी और पेटीकोट ऊपर करके उनकी पैंटी नीचे करके बिल्कुल उतार दी। अब चूसने की बारी मेरी थी, मैं नीचे झुक कर बैठ गया और उनकी साड़ी और पेटीकोट को ऊपर कर दिया उन्होंने भी अपने पैर थोड़े से फैला लिए ताकि चूत के दर्शन अच्छे से हो जायें और मैं आराम से चूस सकूँ।

antarvasna mosi

उनकी चूत गीली थी और जैसे ही मेरी जीभ ने चूत पर दस्तक दी उनकी तो आह निकल गई। उनकी चूत का स्वाद सच में काफी अच्छा था। मैं उसे मस्ती के साथ चूस रहा था। कुछ देर बार मैंने उन्हें वहीं घोड़ी बनने को कहा क्योंकि हमें थोड़ी जल्दी थी इसीलिए सारे कपड़े उतार नहीं सकते थे हम।

वो भी यह बात समझती थी इसीलिए उन्होंने देर नहीं लगाई, वो घोड़ी बन गई और मैंने अपने लण्ड को को उनकी चूत पर रखा और धक्का लगाया तो लण्ड पूरा उनकी चूत में चला गया। उनके मुँह से मीठी सी आह निकली और उनकी सांसें तेज तेज चलने लगी।

मैंने धक्के लगाने शुरु कर दिए। हम दोनों को ही बहुत मजा आ रहा था और मैंने तो यह सोचा भी नहीं था कि ऐसे मौके पर भी मुझे चूत मिल जाएगी।

मैंने धक्के तेज तेज लगाने शुरु कर दिए, थोड़ी देर बाद मौसी का पानी निकलने लगा। एकदम से मेरे दिमाग में आया कि उनकी गाण्ड भी तो अभी बाकी रहती है, चूत का काम तो पूरा हो गया।

antarvasna mosi

मैंने लण्ड को चूत से निकाला, लण्ड पर इतनी चिकनाई थी कि वो आराम से गाण्ड में जा सके। मौसी को शायद यह अहसास नहीं था कि मैं उनकी गाण्ड भी मरूँगा।

मैंने एक ही झटके में गाण्ड में लण्ड उतार दिया उनकी गाण्ड भी थोड़ी ढीली ही थी पर उन्हें बहुत दर्द हुआ, वो बोली- गाण्ड मरवाए तो मुझे कई साल हो गये हैं, आराम से कर !

antarvasna mosi

पर मैं कहाँ रुकने वाला था, लण्ड को बाहर निकालता और अंदर तक डाल देता। अब मुझे बहुत मजा आने लगा था।

कुछ देर बाद मैंने भी अपना सारा पानी उनकी गाण्ड में निकाल दिया। हम दोनों ने कपडे ठीक किये।

antarvasna mosi

मौसी बहुत खुश थी, मुझसे मेरे गले लगी और नीचे चलने को कहा। मौसी का घर पास ही था, उन्होंने बहाना बनाया कि मुझे काम है किसी को भेज दो मेरे साथ !

और मुझे अपने साथ अपने घर ले गई। वहाँ कोई नहीं था, सब के सब शादी के लिए दूसरे घर गये हुए थे जहाँ मैं आया हुआ था।

वहाँ हमने क्या क्या किया वो मैं अपनी अगली कहानी में बताऊँगा।आपको मेरी कहानी कैसी लगी मुझे जरूर बताना।

आपको मेरी यह सच्ची सेक्स घटना कैसी लगी मुझे Telegram पर ज़रूर बताये में आपके comment और message का इंतज़ार करूगा. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं.

bhabhi Hindi sex story group

Read In English

Aunty’s ass kicked antarvasna mosi
antarvasna mosi: Amit Sharma, first of all thanks to Guru ji that he published all my stories on the masthindistory website. As I told you all, I live in Sonipat. My name is Amit and I am a playboy.

This story is very long how I became Jigolo. I am beautiful to look at and my height is 5’11 ”, the length of my LND is seven inches.

So friends, it’s about me! Now let me tell you one of my events!

Just a few days ago my aunt’s daughter was married. All our relatives had come there, I also had an aunt in a distant relationship, who does not know how to know that I am also Jigolo.

I came to know when my aunt took a cue from me that nowadays young boys do anything for money. I was angry at her saying that it is wrong to help needy women and girls. At that time, I got up from there and went to the roof above.

antarvasna mosi
After some time my aunt also came up and there was only me and my aunt. My aunt was really amazing to look at, big tits, very cool Gand!

Few women with such a figure call me for sex.

Auntie told me – You have become very big?

I was angry, but I also said – that too has grown.

Then aunt said – I have come to take stock of that!

Now my anger is over and lust has come down in me.

It was dark at night. Aunty came close to me and put her hand in my lower, holding my LND in her hand, said – it has really grown up!

And moved the lower down. I was not wearing any underwear. She sat down and grabbed my LND and started sucking her mouth. I already knew about her that she had been a very rundown of her time, if her husband is also ill now, then the fire of sex had to be started.

After getting sucked for some time, I woke up to kiss her hot lips and slowly started pressing her cool pussy. She too had become very hot. He was wearing a sari.

We were also a little early because there was a fear of someone coming there, no one used to come up, yet that place was not safe.

I removed her saree and petticoat up and down her panty. Now it was my turn to suck, I bent down and sat down and put her sari and petticoat up. She also spread her legs a little so that the pussy can be seen well and I can suck it comfortably.

antarvasna mosi
His pussy was wet and as soon as my tongue knocked on his pussy, his ah came out. His pussy taste was really good. I was sucking her with fun. Sometime I asked them to become mares there because we were a little quick so we could not remove all clothes.

She also understood this, that is why she did not delay, she became a mare and I put my LND on her pussy and pushed it, then LND went completely into her pussy. A sweet sigh came out of his mouth and his breath started moving fast.

I started banging. Both of us were having a lot of fun and I had not even thought that I would get pussy even on such an occasion.

I started pushing fast, after a while aunt’s water started coming out. Immediately it came to my mind that even his Gand remains still, the work of pussy is complete.

antarvasna mosi
I removed LND from pussy, it was so smooth on LND that it could go to Gand easily. Auntie probably did not realize that I would die her Gand too.

I removed LND in Gand in one stroke, his Gand was also loose but he was in a lot of pain, he said – if I get Gand killed, it has been many years, rest easy!

But where I was going to stop, I would pull LND out and put it inside. Now I started enjoying a lot.

After some time I also removed all my water in his Gand. We both fixed the clothes.

antarvasna mosi
Auntie was very happy, hugged me and asked me to walk down. Aunt’s house was near, they made an excuse that I have work, send someone with me!

And took me with her to her home. There was no one there, all of them had gone to another house for marriage where I had come.

What we did there, I will tell you in my next story. Tell me how you liked my story.

How did you like my true sex incident, tell me on Telegram, I will wait for your comment and message. Apart from this, you can also give your opinion by commenting on the story below.

Read New Post

चुपके से लंड दिखा कर, की भाभी की चुदाई Desi Bhabhi Story