Gand ki kahani | पड़ोस आँटी की लड़की की टाईट गाँड मारी 1

लड़की की टाईट गाँड मारी Gand ki kahani

Gand ki kahani: मेरा नाम साहिल है और मैं आगरा से हूँ। हमारे पड़ोस में एक आँटी रहती हैं जिनकी एक लड़की है जो कि बहुत ही ख़ूबसूरत होने के साथ-साथ बहुत ही सेक्सी भी है। उसकी फिगर ३६-२४-३४ है। जिसका नाम श़बनम था। उसकी नशीली आँखें हमेशा मुझसे कुछ कहतीं थीं। लेकिन मैं समझ नहीं पाया कि आख़िर वो क्या चाहतीं हैं। वाऊ, क्या फिगर है उसकी, जो देखे मुट्ठ मारे बिना नहीं रह सकता। उसकी चूचियाँ ऐसी हैं जैसे किसी दूध की नदी में उसने छलाँग लगाई हो। उसकी गाँड ऐसी है जैसे किसी झील में घुसे जा रहे हैं।

बात उन दिनों २००१ की है जब मैं हाई स्कूल के पेपर की तैयारी कर रहा था। हमारा इंग्लिश का पेपर था और मैं घर पर ख़ूब पढ़ रहा था। रात के ११ बजे बेल बजी तो मैं चौंक गया कि कहीं मेरा दोस्त तो नहीं आ गया, पेपर आउट करने के लिए।

Gand ki kahani

जैसे ही मैंने दरवाज़ा खोला तो सामने आँटी और उनकी बेटी शब़नम खड़ी थीं। उन्होंने मुझसे कहा कि इसे भी पेपर के बारे में थोड़ा-बहुत समझा दो। उसके बाद आँटी चलीं गईं, तो मम्मी ने पूछा कि कौन है, तो मैंने तुरन्त उत्तर दिया कि श़बनम आई है पढ़ने के लिए। तो वो अपने कमरे में वापस चली गईं।

मेरे मन में कोई भी ग़लत विचार नहीं थे। आधे घण्टे के बाद शबनम कहने लगी कि उसे नींद आ रही है, और वह थोड़ी देर सोना चाहती है। मैंने कहा, ठीक है थोड़ी देर सो लो। उसने मिनी-स्कर्ट और टी-शर्ट पहन रखी थी, वह सो गई। उसके सोने के बाद मैंने देखा कि उसकी स्कर्ट ऊपर उठ गई थी, और उसकी चिकनी-चिकनी जाँघें और गाँड दिख रहीं थीं। मेरा ७ इंच का लण्ड एकदम खड़ा हो गया और मेरे मन में गन्दे विचार आने लगे।

मैंने धीरे-धीरे उसकी टाँगों को सहलाना शुरु कर दिया, फिर हाथ हाथ ऊपर की ओर ले जाकर उसकी पैन्ट में उँगली करने लगा। तभी वह जाग गई और पूछने लगी कि क्या कर रहे हो। मैंने पलट कर पूछा “तुम्हें मज़ा नहीं आ रहा था?”

“मज़ा तो आ रहा था, लेकिन अगर कुछ हो गया तो?”

“कुछ नहीं होगा।” Gand ki kahani

फिर मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए, उसके बाद वह गरम होने लगी। धीरे-दीरे मैंने अपना हाथ उसकी टी-शर्ट के अन्दर डाल दिया और टी-शर्ट उतार दी। उसकी चूचियाँ ऐसे बाहर आईं जैसे दो पहाड़ो को आज़ादी मिल गई हो।

क्या दूध थे उसके, गज़ब के, एकदम टाईट और तरो-ताज़ा माल। फिर हम दोनों किस करते हुए बिस्तर पर आ गए। मैंने उसकी स्कर्ट उतार दी। अब वह केवल पैन्टी में थी। मैंने अपनी पैन्ट उतारी और जैसे ही अपना लंड निकाला तो वह एकदम डर गई। इतना बड़ा लंड….

उसने मेरे लण्ड को सहलाना शुरु कर दिया। जैसे-जैसे वह सहलाती जा रही थी, मेरा लंड भी वैसे-वैसे ही बड़ा और कड़क भी होता जा रहा था। फिर हम दोनों 69 की स्थिति में आ गए। वह मेरा लण्ड चूसने लगी और मैं उसकी गाँड में ज़ुबान डालकर खूब मज़े ले रहा था।

१५ मिनट बाद वो मेरे मुँह में ही झड़ गई। मैंने उसे ऊपर उठाया और उसकी दोनों टाँगें फैला कर मैंने अपना लंड उसकी बुर में डालने की कोशिश की, लंड अन्दर जा ही नहीं पा रहा था। मैंने फिर से ज़ोर लगाकर किसी तरह अपना लंड उसकी बुर में घुसेड़ा तो वह दर्द के मारे चीख उठी और कराहने लगी। मैंने उसे समझाया कि शुरु में दर्द होता है लेकिन बाद में मज़ा आएगा। मैंने दुबारा झटकों के साथ जैसे ही ताक़त लगाई तो मेरा लंड पूरा-का-पूरा अन्दर चला गया।

 Gand ki kahani
Gand ki kahani

Gand ki kahani

मैंने उसे जी भरकर चोदा। लगभग आधे घण्टे के बाद मैंने अपना वीर्य उसकी बुर में छोड़ दिया और इस दौरान वह दो बार झड़ चुकी थी। उसकी बुर से खून बह रहा था। वह डर गई, तो मैंने समझाया कि यह पहली बार होता है। उसके बाद मैंने उसे कुतिया बनाया और उसकी गाँड में लंड डालने लगा तो मना करने लगी। पर मैं भी कहाँ मानने वाला था। मैंने क्रीम ली और उसकी गाँड और अपने लंड पर लगाई और पेल दिया लंड को… पर ये क्या लंड तो जा ही नहीं रहा था, बहुत टाईट गाँड की छेद थी साली की।

मैंने ज़ोर लगा कर जैसे ही दुबारा झटका मारा तो मेरा आधा लंड उससकी गाँड में घुस गया। वह चिल्लाने लगी। मैंने कहा “मम्मी आ जाएगी,” और उसका मुँह अपने हाथ से बन्द कर दिया। और फिर एक ज़ोर का झटका लगाते ही मेरा लंड पक्क से पूरा का पूरा उसकी गाँड की छेद में पेवस्त हो गया। कम से कम आधे घण्टे तक हमने गाँड-चुदाई का आनन्द लिया फिर निढाल होकर बिस्तर पर ढेर हो गए।

फिर वह अपने घर चली गई। उस दिन के बाद जब भी मुझे मौक़ा मिलता, मैं उसकी जमकर चुदाई करता।

pdf sex story download

Read In English

aunty ki ladki ki tight gaand mari


Gand ki kahani: My name is Sahil and I am from Agra. There is an aunt in our neighborhood who has a girl who is very beautiful as well as very sexy. His figure is 37–24–38. Whose name was Shabnam. His intoxicating eyes always said something to me. But I could not understand what she wanted. Wow, what a figure, that cannot be seen without turning back. His Tits are as if he had jumped in a river of milk. His gang is like being drowned in a lake.

It was 2001 when I was preparing for high school paper. We had an English paper and I was studying well at home. At 11 o’clock in the night, the bell rang so I was shocked that my friend had come, to paper out.

Gand ki kahani
As soon as I opened the door, Anti and her daughter Shabnam were standing in front. He asked me to explain a little about the paper as well. After that Aunty went away, so the mother asked who is it, so I immediately replied that Shabnam has come to read. So she went back to her room.

I did not have any wrong thoughts. After half an hour, Shabnam started saying that she was sleepy, and she wanted to sleep for a while. I said, okay sleep for a while. She was wearing a mini-skirt and T-shirt, she slept. After she slept, I saw that her skirt was up, and her smooth thighs and knots were showing. My 4-inch LND stood up completely and dirty thoughts started coming in my mind.

I slowly started caressing her legs, then moved her hand upwards and started fingering her pant. Then she woke up and started asking what were you doing. I turned back and asked, “You were not having fun?”

“It was fun, but what if something happened?”

“nothing will happen.” Gand ki kahani

Then I put my lips on her lips, after that she started getting hot. Slowly, I put my hand inside his T-shirt and removed the T-shirt. Her Tits came out as if two mountains had got freedom.

What milk was it, amazing, absolutely tight and fresh goods. Then we both came to bed doing kiss. I took off her skirt. Now she was only in panty. I removed my pant and as soon as I removed my cock, she was absolutely scared. Such a big cock….

He started caressing my LND. As she was being caressed, my cock was also getting bigger and stiffer in the same way. Then we both got into 69 position. She started sucking my LND and I was enjoying it by putting tongue in her Gand.

After 15 minutes she fell in my mouth. I lifted him up and by spreading both his legs, I tried to put my cock in his bur, the cock was not able to go inside. I pushed my cock in her burr again by force, then she screamed in pain and started moaning. I explained to him that it hurts at first but will be fun later. As soon as I applied strength with shaking, then my cock went in full.

Gand ki kahani
I choaded him wholeheartedly. After about half an hour I left my semen in her bur and during this time she had fallen twice. His Bur was bleeding. She got scared, so I explained that this happens for the first time. After that I made her a bitch and started putting cocks in her Gand, then she refused. But where was I going to believe I took the cream and put it on my Gand and my cocks and gave it to the cocks… but what were these cocks going to, the very tight hole was pierced?

As soon as I hit the blow again, half of my cock entered his hole. She shouted. I said “Mommy will come,” and closed her mouth with her hand. And then as soon as I got a loud shock, my cock was completely covered in the hole of his Gand with pucca. For at least half an hour, we enjoyed gag-chudai, then piled up and piled on the bed.

She then went to her house. After that day, whenever I got a chance, I would fuck him fiercely.

Follow here

Read chudai New Story-

मौसी की गाण्ड मारी छत पे | antarvasna mosi-hindisexstoris-mosi antarvasna

मोटी गांड वाली कामवाली आंटी की चुदाई की -Aunty xxx Story

Leave a Comment

org/tools/popad.js">