Chachi ki chudai story 1 चाची की गीली चुत को चाट के Sex

चाची की गीली चुत को चाट के Chachi ki chudai story

Chachi ki chudai story: मैंने अपनी चाची की चुत की चुदाई की. असल में चाची के उभरे चूचों को देख कर मेरा लंड खड़ा हो जाता था और मैं मौके की तलाश में था. एक बार बहाने से मैंने चाची को गर्म कर दिया और …

मेरा नाम आर्यन है और मैं बिहार के जमुई जिले के पास में झाझा का रहने वाला हूं.

मैं हिंदी बेस्ट सेक्स स्टोरी masthindistory की कहानियां काफी समय से पढ़ रहा हूं और मैंने इसकी कहानियां ख़ासकर चाची की चुत की चुदाई कहानी पढ़ना आज से करीब 8 या 10 साल पहले शुरू किया था. अभी मैं 28 के ऊपर का हो चुका हूं और अभी तक कुंवारा ही हूं. मगर masthindistory से मेरा नाता बहुत पुराना है.

यह कहानी वैसे तो वास्तविक है लेकिन इस कहानी में मनोरंजन के लिए मैंने थोड़ा सा मसाला भी डाल दिया है ताकि आपको कहानी पढ़ने में मजा आये.

यह कहानी मेरे और मेरी चाची के बीच में हुई घटना की है. इसलिए मैं अपनी चाची का नाम यहां पर नहीं बताऊंगा.

दोस्तो, वैसे तो मैंने आज तक अपनी जिन्दगी में बहुत सी लड़कियां और भाभी चोद कर मजा लिया. मेरी गर्लफ्रेंड की चुदाई भी मैंने खूब की है. मगर चाची की चुत चुदाई की ये घटना कुछ निराली थी. इसलिए मैंने सोचा कि पाठकों के साथ अपनी चाची की चुत चुदाई का किस्सा शेयर करूं.

मैंने रंडी की चुदाई के साथ-साथ रिश्तों में चुदाई भी खूब की है. जिसमें मेरी मौसी की चुदाई भी शामिल है. मगर इस कहानी में मैंने अपनी चाची की चुत कैसे मारी सिर्फ उस घटना का जिक्र ही किया है. तो अब आपका ज्यादा समय न लेते हुए मैं अपनी कहानी पर आता हूं. मैं उम्मीद करता हूं कि आपको मेरी चाची की चुत की कहानी पढ़ते हुए मजा आयेगा.

chachi ki chudai story

कहानी तब की है जब मैंने अपनी कॉलेज की पढ़ाई शुरू की थी. उस वक्त मेरी पढ़ाई पूरी करने के लिए मैं पहली बार घर से बाहर गया था. कॉलेज के समय में मेरा लंड भी बहुत परेशान करने लगा था. मैंने कॉलेज में जाते ही गर्लफ्रेंड बना ली थी. कुछ ही दिन के बाद उसकी चुत को चोद दिया. मगर चुत की प्यास और बढ़ गई थी.

जब मेरे कॉलेज का पहला साल खत्म हुआ तो मैं घर वापस आ गया था. एक महीने की छुट्टी थी. घर आये हुए मुझे एक सप्ताह ही हुआ था कि मेरे लंड ने मुझे फिर से परेशान करना शुरू कर दिया. कई दिनों तक मैं masthindistory साइट पर सेक्सी कहानियां पढ़ कर लंड को हिलाता रहा लेकिन मुझे चुत चाहिए थी.

एक दिन मेरी चाची मेरे घर पर आयी. मैंने एक रात पहले ही चाची की चुत की चुदाई की कहानी पढ़ी थी. कहानी को पढ़कर मेरी नजर चाची के चूचों पर गई तो मेरा लंड खड़ा हो गया. उस दिन मैंने चाची के चूचों के बारे में सोच कर मुठ मारी. फिर मैंने सोचा कि क्यों न चाची की चुत चुदाई का मजा ले लूं.

मैंने चाची की चुदाई करने का प्लान सोचना शुरू कर दिया लेकिन मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि मैं यह कैसे कर पाऊंगा. एक दिन की बात है कि मेरे घर पर कोई भी नहीं था. पापा काम से बाहर गये हुए थे और मां किसी रिश्तेदार के यहां पर गई हुई थी. उस दिन चाची घर आई और मेरी मां के बारे में पूछने लगी.

चाची कई बार मेरी मां के पास आ जाती थी और दिन भर बैठ कर बातें करती रहती थी. मैं भी चुपके से चाची के उभारों को देख कर मजा लिया करता था. उस दिन भी मैंने सोचा कि चाची मेरी मां के पास आई है. मैंने मां के बारे में बताया तो चाची ने कहा कि ठीक है मैं फिर बाद में आऊंगी.

chachi ki chudai story

मैं बोला- चाची कुछ काम है तो मुझे बता दो.
चाची बोली- नहीं कुछ खास नहीं, मेरे सिर में दर्द हो रहा था. मैं तो तुम्हारी मां के पास बाम लेने के लिए आई थी. मेरे घर में मुझे बाम नहीं मिल रही थी.
मैं बोला- कोई बात नहीं चाची, मैं आपको बाम ढूंढ कर दे देता हूं.

मैं चाची के सामने ही बाम ढूंढने लगा और मुझे मिल गई.

चाची को बाम थमाते हुए मैंने चाची के ब्लाउज की तरफ देखा तो मुझे चाची के क्लिवेज दिख गये. मेरे मन में वासना जाग गई.
मैंने कहा- चाची अगर ज्यादा दर्द हो रहा है तो मैं आपके सिर में बाम लगा देता हूं.
वो बोली- नहीं, मैं खुद से लगा लूंगी.
मैंने कहा- अरे चाची, दूसरे के हाथ से मालिश करवाने में ज्यादा आराम मिलता है.

फिर मेरे जोर देने पर चाची मान गई. मैंने चाची को अन्दर वाले कमरे में चलने के लिए कह दिया. चाची मेरे सामने बेड पर जाकर लेट गई और मैंने चाची के सिर बाम लगाना शुरू कर दिया. अब चाची के उठे हुए चूचे मुझे और अच्छी तरह नजर आ रहे थे.

ब्लाउज में मेरी चाची के चूचे ऐेसे तने हुए थे जैसे कोई मिसाइल हो. चाची के उभारों को देख कर मेरे लंड में तनाव आ चुका था. मैं बेड के किनारे पर खड़ा होकर चाची के सिर में बाम की मालिश कर रहा था. मेरा तना हुआ लंड मेरी लोअर में मुझे परेशान करने लगा था.

मालिश करने के बहाने धीरे धीरे मैं चाची के कंधे पर अपने तने हुए लंड को टच कर देता था. जब मेरा लंड चाची के कंधे से टच होता था उसमें और उत्तेजना आ जाती थी और चाची के कंधे पर झटका लगता था. मेरी वासना बढ़ती जा रही थी.

chachi ki chudai story

सामने चाची के चूचों की दरार मुझे दिख रही थी और दूसरी तरफ चाची के कंधे पर लंड के छूने से मेरा बुरा हाल हो रहा था.
मैं बोला- चाची कई बार सिर में दर्द पीछे गर्दन की वजह से भी हो जाता है.
वो बोली- ठीक है तो फिर थोडी़ मालिश गर्दन की भी कर दो.

मेरे कहने पर चाची पलट गई. चाची के पलटते ही उसकी भारी सी गांड मुझे साड़ी के अंदर ही उठी हुई दिखाई देने लगी. अब चाची की नजर मेरी लोअर पर थी. मेरी लोअर में तना हुआ लंड चाची को दिख गया. मगर चाची ने कुछ नहीं बोला.

मैं भी देख रहा था कि चाची मेरे तने हुए लंड को देख रही थी. इस वजह से मेरे लंड में और ज्यादा उत्तेजना हो रही थी. मैं जान बूझ कर लंड में झटके दे रहा था ताकि चाची मेरे लंड को देख कर उत्तेजित हो सके. कई बार मैंने चाची की नजर के सामने ही अपने लंड को झटका दिया.

अब चाची की नजर मेरे लंड पर गड़ गई थी. वो बार-बार बहाने से मेरे लंड की तरफ ही देख रही थी. मैं भी अपने तने हुए लंड को चाची के होंठों के पास लेकर जाने लगा था. एक बार तो मैंने बहाने से चाची की नाक को अपने लंड से छू भी दिया.

मुझसे बर्दाश्त करना मुश्किल हो रहा था लेकिन चाची कुछ पहल नहीं कर रही थी. फिर मैंने चाची की गर्दन पर मालिश करने के बहाने हाथ पीछे तक ले जाना शुरू कर दिया. अब चाची की पीठ पर उसकी ब्रा की पट्टियों पर मेरी उंगलियां छू रही थी. मैं जान बूझकर चाची की ब्रा को छू रहा था. मुझे बहुत मजा आ रहा था.

कुछ देर ऐसे ही करने के बाद अब मेरी मेहनत का असर दिखने लगा था. चाची पलटते हुए बोली- अब गर्दन की मालिश बहुत हो गई. अब सिर की ही मालिश कर दे.
चाची ने अपनी साड़ी का पल्लू अपने चूचों के ऊपर से हटा दिया था. चाची के ब्लाउज में तने हुए चूचे मुझे साफ नजर आ रहे थे.

मैंने बाम की शीशी चाची की बाजुओं की बगल में पेट पास रख दी. इस तरह से कोण बनाया कि जिस तरफ मैं खड़ा था उसके दूसरी तरफ शीशी रखी हुई थी. अब मैं जब शीशी उठाने के लिए चाची के ऊपर झुका तो मेरा लंड चाची के सिर पर लग गया और मेरी कुहनी चाची के चूचों से छू कर जाने लगी.

chachi ki chudai story

एक दो बार मैंने ऐसा ही किया. अब चाची की टांगें भी फैलने लगी थीं. शायद चाची की चुत गीली हो रही थी. मैंने मालिश करना जारी रखा.

फिर जब चाची से रहा न गया तो उसने पीछे हाथ लाकर मेरे लंड को पकड़ लिया और उसको सहलाने लगी. चाची की आंखें बंद थीं.

मुझे भी इसी पल का इंतजार था. मैंने तुरंत चाची के चूचों को दबाना शुरू कर दिया. अगले ही पल हम दोनों के होंठ एक दूसरे के होंठों से मिले हुए थे. मैं चाची के चूचों को दबाते हुए उसके होंठों का रस पी रहा था. चाची भी मेरा पूरा साथ दे रही थी. उसके 36 के चूचे दबाते हुए मुजे गजब का मजा आ रहा था.

फिर चाची खुद ही उठते हुए अपने ब्लाउज को खोलने लगी. उसकी ब्रा को मैंने झट से आजाद करवा दिया. चाची ऊपर से नंगी हो गई. मैंने चाची के स्तनों को मुंह में भर कर पीना शुरू कर दिया. चाची इतनी गर्म हो गई कि मुझे अपने ऊपर लेकर लेटती चली गई.

नीचे से मैंने चाची की साड़ी को खोल दिया और उसके पैटीकोट का नाड़ा खोल कर उसे नीचे किया तो उसकी पैंट पर हाथ जा लगा. मैंने पैंटी को हाथ से रगड़ा और चाची की गीली चुत पर हाथ लगा कर देखा तो वो उभर कर ऊपर अलग से मेरे हाथ में महसूस हो रही थी.

चाची की चुत चाटी chachi ki chudai story

अब तो हद ही हो गई थी. मैंने तुरंत चाची की चड्डी को खींच कर चाची की चुत को नंगी कर दिया और उसकी टांगों को उठा कर उसकी चुत में जीभ लगा दी. चाची तड़पते हुए मेरे मुंह को अपनी चुत में दबाने लगी. मैं चाची की चुत में जीभ डाल कर उसे चोदने लगा.

chachi-ki-chudai-story-real-chudai-stories-hindi-sex-story

उसके बाद चाची उठी और मेरे लोअर को निकाल दिया. उसने मेरे कच्छे को भी नीचे खींच दिया और फिर मेरे लंड को सीधा मुंह में भर कर जोर से चूसने लगी. मैं तो आनंद में डूबने लगा. चाची मेरे लंड को मुंह में लेकर तेजी के साथ चूस रही थी. दो मिनट तक चाची ने मेरे लंड को चूसा. इस बीच में मैंने टीशर्ट भी उतार दी थी. अब दोनों नंगे थे.

मैंने चाची की टांगों को फैलाया और उसके थूक से सराबोर हो रहे लंड को उसकी चुत पर टिका दिया. मैंने जोर लगाते हुए चाची की चुत में लौड़े को घुसा दिया. चाची ने मुझे बांहों में भर लिया और अपनी चुत को चुदवाने लगी.

chachi ki chudai story

दोस्तो मुझे इतना मजा आ रहा था कि मैं बता नहीं सकता. मैंने चाची की चुत चुदाई जारी रखी और पांच मिनट के बाद मेरा वीर्य निकलने को हो गया तो मैंने चाची से पूछा कि कहां निकालूं तो उसने कहा कि अन्दर मत निकालना.

चाची के कहने पर मैंने लंड को बाहर निकाल लिया और उसके पेट पर अपने वीर्य को छोड़ दिया. हम दोनों शांत हो गये. उसके बाद चाची ने अपने कपड़े वापस से दुरुस्त किये और चली गई. मुझे मजा आ गया उस दिन.

chachi ki chudai story

मेरी चाची दिखने में भले ही साधारण थी लेकिन उसके अंदर सेक्स की आग बहुत थी. उस दिन मैंने इस बात को महसूस किया. एक दिन चाचा जब घर पर नहीं थे तो चाची ने काम के बहाने से मुझे रात को घर पर बुला लिया.

उस दिन मैंने चाची की चुत में उंगली की तो चाची बोली- मुझे तेरे लंड चाहिये, उंगली से काम नहीं चलेगा.
उस रात को मैंने चाची की चुत की चुदाई लगभग 35 मिनट तक की. फिर तो मैं मौका मिलते ही चाची की साड़ी को ऊपर उठा कर चाची की चुत में उंगली कर देता था.

ऐेसे ही एक बार मेरी मां मेरे मामा के यहां पर गई हुई थी. उस दिन घर पर खाना बनाने की जिम्मेदारी चाची की ही थी. हम दोनों तो बस मौके की तलाश में थे. पापा के लिए नाश्ता बनाने के बाद वो काम पर निकल गये और मैंने किचन में ही चाची को पकड़ लिया. चाची की साड़ी उठा कर वहीं पर उसकी कच्छी निकाल दी.

किचन के स्लैब पर चाची को झुका कर चाची की चुत मारी. उस दिन मैंने चाची की चुत में ही अपना माल गिराया. दोस्तो, चुत के अंदर माल गिराने का अलग ही मजा है. चाची अब अपनी चुत में ही माल गिरवाती थी.

उसके बाद फिर मैं पढ़ाई के लिए बैंगलोर चला गया. वहां से चार साल के बाद वापस आया. वापस आने के बाद मैंने और चाची ने आते ही चुदाई शुरू कर दी मगर चाची के बेटे ने हम दोनों को देख लिया. उसको तो हमने किसी तरह चुप करवा दिया.

मगर सच कभी न कभी सामने आ ही जाता है. ऐसे ही एक दिन मेरी मां ने मुझे और चाची को रंगे हाथ चुदाई करते हुए पकड़ लिया तो चाची ने सारा इल्जाम मेरे सिर पर लगा दिया.

chachi ki chudai story

उस दिन के बाद से मेरी और चाची की लड़ाई हो गई. फिर हम दोनों ने कभी चुदाई नहीं की. लेकिन मैंने चाची की चुत को चोद कर खूब मजे लिये. मुझे कई बार दुख होता है कि चाची ने मेरे साथ सही नहीं किया.

आपकी राय मेरी आपबीती के बारे में क्या है मुझे जरूर बतायें. मुझे आपके मेल का इंतजार रहेगा. अपनी हिंदी बेस्ट सेक्स स्टोरी पर आपकी प्रतिक्रिया के इंतजार में आपका आर्यन.
[email protected]

आपको मेरी यह सच्ची सेक्स घटना कैसी लगी मुझे Telegram पर ज़रूर बताये में आपके comment और message का इंतज़ार करूगा. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं.

Read in English

Chachi ki chut ko chaat ke ki chudai | Chachi ki chudai story

Chachi ki chudai story: I fuck my aunt’s pussy. Actually, my cock used to be erected after seeing the aunt’s bullets and I was looking for opportunity. Once on the pretext I warmed up my aunt and…

My name is Aryan and I am from Jhajha near Jamui district of Bihar.

I have been reading the stories of Hindi best sex story masthindistory for a long time and I started reading its stories especially aunt’s chut chudai story about 8 or 10 years ago. Right now I am over 28 and still a virgin. But my association with masthindistory is very old, chachi ki chudai story.

Although this story is real but I have put a little spice in this story for entertainment so that you will enjoy reading the story.

This story is about the incident between me and my aunt. So I will not tell my aunt’s name here.

Friends, by the way, I have enjoyed having many girls and sisters-in-law in my life till date. I have done a lot of fucking with my girlfriend. But this incident of kissing aunt was somewhat unusual. So I thought that I should share my anecdote with my aunt and chachi ki chudai story.

Along with Randi’s sex, I have also done a lot of sex in relationships. Which includes my aunt’s fuck But in this story, how I killed my aunt’s aunt only mentioned that incident. So now without taking much of your time, I come to my story. I hope you enjoy reading my aunt’s story.

chachi ki chudai story
The story is about when I started my college studies. At that time, I went out of my house for the first time to complete my studies. During college time, my cock was also very disturbing. I made a girlfriend as soon as I went to college. A few days later gave her pussy. But the thirst of Chut had increased and chachi ki chudai story.

When my first year of college was over, I was back home. It was a month off. It was only a week before I came home that my cock started bothering me again. For several days, I used to read sexy stories on the masthindistory site and shake cocks but I wanted a kiss.

One day my aunt came to my house. I had read the story of Aunty’s Chut Chudai a night before. After reading the story, my eyes went to aunt’s pussy and my cock was erect. That day, I thought about Aunty’s hips and gave it to me. Then I thought why not enjoy aunty’s fuck and chachi ki chudai story.

I started thinking of a plan to fuck my aunt but I could not understand how I would be able to do this. It is a matter of one day that there was no one at my house. Father had gone out of work and mother had gone to a relative’s place. That day aunt came home and started asking about my mother, chachi ki chudai story.

Aunt used to come to my mother many times and used to sit and talk all day long. I also used to enjoy secretly seeing aunt’s rise. That day also I thought that aunt had come to my mother. When I told about my mother, my aunt said that I will come back later.

chachi ki chudai story
I said – Aunt if you have some work, then tell me.
Auntie bid – No, nothing special, I was having a headache. I had come to your mother to take a balm. I was not getting balm in my house.
I said – Never mind auntie, I find you balm.

I started looking for the balm in front of my aunt and I found it.

While giving balm to aunt, I looked at aunt’s blouse and I saw aunt’s clive. Lust awoke in my mind.
I said – Aunty, if you are in more pain then I put balm in your head.
She said- No, I will do it myself.
I said – Hey aunt, getting more massage from the other hand gives more comfort, chachi ki chudai story.

Then on my insistence aunt agreed. I asked my aunt to walk in the inner room. Aunty went to bed in front of me and I started applying Aunt’s head balm. Now the aunt’s raised pussy was visible to me more.

In the blouse my aunt’s legs were stretched like a missile. Seeing the aunt’s bulge, my cock was tense. I was standing on the edge of the bed, massaging the balm in my aunt’s head. My taut cocks started bothering me in my lower, chachi ki chudai story.

Slowly I used to touch my tight cocks on aunt’s shoulder under the pretext of massaging. When my cock was touched by aunt’s shoulder, there was more excitement in it and there was a blow on aunt’s shoulder. My lust was increasing.

chachi ki chudai story
I was able to see the crack of aunt’s pussy in front and on the other hand, I was feeling bad due to touching of cocks on aunt’s shoulder.
I said – aunt many times headaches also occur due to back neck.
She said – okay then do a little massage on the neck too and chachi ki chudai story.

At my behest, Aunty turned back. As soon as the aunt turned over, her huge ass started appearing inside the saree. Now aunt’s eye was on my lower. The aunt saw the cocks taut in my lower. But aunt did not say anything.

I was also seeing that aunt was looking at my taut cocks. Because of this, there was more excitement in my cock. I was deliberately jerking in the cocks so that my aunt could get excited by looking at my cocks. Many times I jerked my cock in front of aunt’s eyes.

Now aunt’s eyesight had fallen on my cock. She was looking at my cock only on the pretext. I also started taking my taut cocks near aunt’s lips. Once, I even touched my aunt’s nose with my cock on the pretext, chachi ki chudai story.

I was finding it difficult to tolerate but aunt was not taking any initiative. Then I started taking my hands back on the pretext of massaging my aunt’s neck. Now my fingers were touching on her bra straps on aunt’s back. I was deliberately touching aunt’s bra. I was enjoying it very much and chachi ki chudai story.

After doing this for some time, the effect of my hard work was now visible. Aunty said while reversing – now neck massage is enough. Now massage the head itself.
The aunt had removed the pallu of her sari from the top of her hips. I had clear tresses stitched in aunt’s blouse, chachi ki chudai story.

I put the bottle of balm next to the arms of aunt. Angled in such a way that the vial was placed on the other side of the side where I was standing. Now, when I leaned over my aunt to lift the bottle, my cock hit my aunt’s head and my elbow started touching my aunt’s pussy.

chachi ki chudai story
I did the same thing once or twice. Now aunt’s legs were also spreading. Perhaps aunt’s pussy was getting wet. I continued to massage, chachi ki chudai story.

Then when the aunt could not keep up, she brought her back and grabbed my cock and started caressing it. Aunt’s eyes were closed.

I too was waiting for this moment. I immediately started pressing aunt’s pussy. The next moment, both of our lips met each other’s lips. I was drinking the juices of her lips while pressing my aunt’s boobs. Aunty was also supporting me. I was enjoying amazing while pressing her 36s and chachi ki chudai story.

Then aunt herself woke up and started to open her blouse. I quickly got her bra free. Aunt became naked from above. I started drinking aunty’s breasts with her mouth full. Aunty got so hot that she kept lying down on me, chachi ki chudai story.

I opened my aunt’s sari from the bottom and opened her pati-coat and opened it, so my hand was on her pants. I rubbed the panty with my hand and looked at my aunt’s wet pussy, then it emerged and was feeling separately in my hand, chachi ki chudai story.

Aunty’s pussy chat chachi ki chudai story
Now the limit was reached. I immediately pulled the aunt’s tights and naked her aunt’s pussy and lifted her legs and put tongue in her pussy. Aunty started squirming and pressing my mouth in her pussy. I put tongue in aunty’s pussy and started fucking her.

chchachi ki chudai story.
After that aunt got up and removed my lower. He pulled my cock down too and then started sucking my cock vigorously by stuffing it directly into my mouth. I started drowning in joy. Auntie was sucking my cock fast in her mouth. Aunty sucked my cock for two minutes. In the meantime, I also removed the t-shirt. Now both were naked and chachi ki chudai story.

I spread my aunt’s legs and put her cocks getting wet with her spit. I thrust the Alore into aunty’s pussy. Aunt stuffed me in the arms and started fucking her pussy, chachi ki chudai story.

Friends, I was enjoying it so much that I could not tell. I continued to fuck my aunt and after five minutes, I was about to get my semen, so I asked my aunt where to remove it and she said not to get inside and chachi ki chudai story.

At the behest of my aunt, I took the cocks out and left my semen on her stomach. We both fell silent. After that, aunt got her clothes back and went away. I enjoyed that day.

chachi ki chudai story
My aunt was simple in appearance but there was a lot of sex fire inside her. That day I realized this. One day when uncle was not at home, aunt called me home at night on the pretext of work and chachi ki chudai story.

That day, I fingered my aunt’s pussy, then my aunt said – I want your cock, finger won’t work.
That night I kissed aunty’s pussy for about 35 minutes. Then, when I got a chance, I used to lift my aunt’s sari and put a finger in my aunt’s pussy, chachi ki chudai story.

Just like this, my mother went to my maternal uncle’s place. It was aunt’s responsibility to cook food at home that day. We were both just looking for opportunity. After making breakfast for father, he went out to work and I caught my aunt in the kitchen. After picking up the aunt’s sari, she removed her kutchi there, chachi ki chudai story.

Bending the aunt on the kitchen slab and kicked the aunt’s pussy. That day I dropped my merchandise in aunty’s pussy. Friends, it is very fun to drop stuff inside the pussy. Aunt used to make the goods fall in her pussy and chachi ki chudai story.

Then after that I went to Bangalore for studies. Returned from there after four years. After coming back, my aunt and I started fucking but Aunt’s son saw both of us. We have silenced him in some way, chachi ki chudai story.

But the truth sometimes comes out. One day, my mother caught me and my aunt while red-handed, and my aunt put all the charges on my head.

chachi ki chudai story
Since that day, my aunt and I have a fight. Then both of us never fuck. But I enjoyed my aunt’s pussy very much. Many times I feel sad that my aunt did not correct me and chachi ki chudai story.

What is your opinion about my tragedy, please tell me. I look forward to your mail. Aryan waiting for your response on his Hindi Best Sex Story.
[email protected]

More chachi sex story-

चाची से करवाई लंड की मसाज | chachi ki chudai – chachi xxx story

नाईटी खोल चाची की गांड को चाटा – Chachi xxx Story Chachi ki khani

मसाज के बहाने चाची को चोदा | chachi xxx story – chachi ki story