Antarvasna story बुआ की चूत की मेजदार चुदाई 1 Free Sex Story

बुआ की चूत की मेजदार चुदाई Antarvasna story

Antarvasna story: मेरी बुआ बहुत खूबसूरत और सेक्सी है. एक दिन बुआ और माँ की बातें सुन कर मुझे पता लगा कि बुआ की चूत की प्यास नहीं बुझती. तो मैंने क्या किया?

हाय दोस्तो, मैं योगी अमृतसर, पंजाब का रहने वाला हूँ. यह मेरी और मेरी बुआ की चुदाई की कहानी है।

मेरी बुआ दिखने में बहुत खूबसूरत और सेक्सी है उनका नाम सुषमा है उनके कूल्हों का साइज 40, कमर 34 और उनके बूब्स तो भोजपुरी की अभिनेत्री मोनालिसा की तरह थी। उनका हाइट भी 5 फिट 9 इंच बिल्कुल मेरे हाइट जितना, उनकी उम्र 35 के आस पास थी। क्या कहूँ यारो किसी भी का मन डोल जाए।
यह चुदाई एक महीने पहले की है जब मेरी बुआ मेरे घर घूमने आई थी दिल्ली से। जब हमारे घर आई तो मेरी मम्मी के गले लगी. मैंने उनको प्रणाम किया.

बुआ अंदर आयी, बैठी मम्मी ने उनको पानी पिलाया।

हमारा घर बहुत बड़ा था तो मम्मी ने मुझे कहा कि जा बुआ का बैग तेरे रूम के बगल वाले रूम में ले जा.

तो मैं बुआ का बैग अपने कमरे के साथ वाले कमरे में रखकर आ गया। फिर मेरी बुआ रूम में जाकर नहा धोकर आराम करने लगी.

फिर शाम का समय बुआ उठी फ्रेश होकर हॉल में आई वहां पर मैं बैठकर टी वी देख रहा था।

मेरी बुआ बहुत ही हॉट है. उनके ब्लाउज का गला बहुत गहरा रहता है हमेशा … जिसके कारण उनका क्लीवेज साफ साफ दिखता है. बुआ आयी और मेरे बगल में बैठ गई. उनका क्लीवेज मुझे साफ साफ दिख रहा था, मैं उनके क्लीवेज को तिरछी नजरो से देख रहा था.

Antarvasna story

फिर मां आ गयी, वो दोनों आपस में बात करने लगी।

रात हुई तो हम सोने चले गए. मेरे को नींद नहीं आ रही थी … बार बार बुआ की बूब्स मुझे याद आ रही थी फिर मैं मुठ मारके सो गया।

अगली सुबह मैं कॉलेज चला गया लेकिन बुआ की याद में मैं कॉलेज से जल्दी वापिस आ गया.
घर आकर मैंने माँ को आवाज लगाई उन्होंने शायद मेरी आवाज नहीं सुनी।

फिर मैं माँ के रूम की तरफ गया तो माँ और बुआ की बातें चल रही थी; वो भी चुदाई की।
मैं दरवाजे के पास रहकर सुनने लगा.

मेरी माँ मेरे पापा के बारे में बताने लगी कि मेरे पापा अक्सर घर से बाहर रहते हैं तो माँ पापा की ज्यादा चुदाई नहीं हो पाती.
तो मेरी बुआ ने कहा- इसी कारण आप चुचे इतने छोटे हैं.

फिर बुआ भी अपनी कम चुदाई का रोना रोने लगी. मेरी माँ को बुआ बोल रही थी- मैं भी क्या करूँ भाभी? पहले मेरे पति मुझे खूब चोदा करते थे. लेकिन आज कल पता नहीं क्या हो गया. शायद हमारी नौकरानी के साथ चक्कर है मेरी पति का! एक दिन मैंने उन्हें उसके कूल्हे को छूते देखा था पर मैं कुछ कह नहीं पायी. फिर मैंने भी डिसाइड किया मैं भी किसी दूसरे मर्द से चुदवाऊंगी।

मैं बुआ की बात सुनकर खुश हो गया और मेरा लंड रॉड की तरह खड़ा हो गया. मैंने बाथरूम जाकर मुठ मारी।

Antarvasna story

फिर हम जब रात्रि का भोजन कर रहे थे तब मैं उनकी चूची के तरफ देख रहा था तो उन्होंने देख लिया. मैं अपना सर नीचे करके खाना खाने लगा. फिर बुआ भी समझ गयी उनके भतीजे का ध्यान अपनी बुआ के बड़े बड़े स्तनों की तरफ है।

हम सब भोजन करके अपने अपने कमरे में चले गए।

रात को जब मैं पानी पीने के लिए बाहर निकला तो मेरी बुआ के रूम से आवाज आ रही थी ‘स्श्स हह आह उम्म्ह’ करके!
मैंने बुआ के कमरे में झाँक कर देखा तो एक थोंग यानि छोटी से पेंटी के अंदर हाथ डालकर बुआ अपनी चूत में उंगली कर रही थी और अपने चूचों को मसल रही थी. बुआ के शरीर को इस तरह नंगा देखकर मैं पागल हो गया था. मेरा लंड तो सातवें आसमान पर गोता लगा रहा था।

बुआ की चूत की मेजदार चुदाई Antarvasna story

अब तो मैंने डिसाइड कर लिया था अपनी वासना की प्यास मैं अपनी बुआ की चूत के पानी से मिटाऊंगा.

फिर मैं सोचने लगा कि मैं बुआ के रूम में अंदर कैसे जाऊं? हालांकि मैंने दोपहर में माँ और बुआ की बातें सुनकर तुरंत उनको सेक्स का आफर कर सकता था. लेकिन डर भी थी कि वो मेरी बुआ हैं.
मैंने दिमाग लगाया कि मैं ठंडा तेल मांगने के बहाने जाऊंगा.

फिर मैंने जोर से धक्का देकर बुआ के कमरे का दरवाजा खोला, मैं बुआ के रूम में गया और कहा- बुआ, तेल चाहिए था.
और मैंने ‘कुछ नहीं देखा’ ऐसा नाटक किया.

फिर मैंने कहा- बुआ, आप ये क्या कर रही हैं?
उन्होंने तुरंत अपने शरीर को चादर से ढका.

Antarvasna story

मैंने कहा- माफ करना बुआ … मुझे दरवाजा खटखटा के अंदर आना था.
तो बुआ बोली- कोई बात नहीं बेटा, मेरी ही गलती है … मेरी चूत में इतनी आग लगी है. इसकी प्यास बुझाने के चक्कर में मैं दरवाजा बंद करना भूल गई।

फिर मौका का फायदा उठाते हुए, उनके मुंह से इस प्रकार की बातें सुनकर मैंने कहा- मेरे रहते आपको कोई चीज में दिक्कत नहीं होगी बुआ; मैं आपकी प्यास बुझाऊंगा.
वो उठकर मेरे पास आयी, मुझे गले से लगा लिया.

मैं भी बहुत दिनों से बुआ के जिस्म का प्यासा था तो आज मेरी मन की मुराद पूरी होने वाली थी. मैंने उनके रसीले होंठों को अपने होंठों में लेकर चूसना चालू हो गया।

फिर बुआ ने कहा- थोड़ा सबर कर जानेमन! अब तो तू मेरी रोज चूत मारेगा. देखना तेरी मम्मी के सामने चुदवाऊंगी मैं!

बुआ की बातों को सुनकर मैं पागल हो गया. अपने कपड़ों को निकाल के सिर्फ चड्डी को छोड़ के, बुआ को बिस्तर पर पटककर उसको पागलों की तरह चूमने लगा. वो भी मेरा साथ दे रही थी.

फिर मैंने बुआ के पूरे बदन को चूमा. मेरी बुआ पागल हुए जा रही थी. फिर मैंने बुआ की चूत को चाटना चालू किया. वो थोड़े समय के बाद मेरे मुंह में झड़ गयी.

बुआ की चूत की मेजदार चुदाई Antarvasna story

तब मैंने उनको बताया- मैंने आज दोपहर में आपकी और मम्मी की बात सुन ली थी. और मैं यहां तेल लेने नहीं आया था, आपको चोदकर अपना तेल निकालने आया था।
फिर वो बोली- मैंने तेरी नजर देख ली थी, इसी कारण मैंने दरवाजा खोल के रखा था।

Antarvasna story

इतना बोल कर बुआ मेरे लंड को बेतहाशा चूसने लगी. उन्होंने कहा- तुम्हारा लंड तो बहुत बड़ा है.
जल्दी ही मेरा माल निकाल गया, उन्होंने मेरा पूरा रस गटक लिया.

बुआ की चूत की मेजदार चुदाई Antarvasna story

थोड़ी देर के बाद मेरा लंड फिर खड़ा हो गया. फिर मैंने उनके चूत में अपना लंड जैसे ही डाला, वो दर्द से कराह उठी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ क्योंकि मेरा लंड फूफा से बड़ा था.
ऐसा बुआ ने कहा और बहुत दिनों से नहीं चुदी होने के कारण।

फिर मैं धीरे धीरे करके धक्कों की स्पीड बढ़ाने लगा और फिर बुआ भी जोर जोर से गालियाँ देकर कहने लगी- चोद मादरचोद … अपने बुआ की चूत का भोसड़ा बना दे.
मैं भी जोश जोश में बहुत जोर से धक्के लगा रहा था.

वो भी अपना गांड उठाकर मेरी सहायता कर रही थी. पूरे रूम में फचाफच की आवाज आ रही थी. बुआ को बहुत मजा आ रहा था. कुछ समय के बाद हम दोनों बुआ भतीजा एक साथ झड़ गए.

फिर कुछ समय के पश्चात हम दोनों ने एक बार फिर जमकर चुदाई की.
इसी तरह रात भर हमने चुदाई की. मैंने बुआ की गांड भी मारी और … फिर मैं अपने रूम आके सो गया.

फिर तो बुआ जब भी मौका मिलता चुदवा लेती. मैं कभी कभी टीवी देखते उनसे लंड चुसवाता वो भी दोपहर में खुले आम हाल में जब मेरी माँ किचन में काम कर रही होती.

Antarvasna story

एक दिन इसी तरह मेरी माँ ने हमें दोपहर नंगे होकर उनके रूम में चुदाई करते देख लिया. मेरी माँ दोपहर में सोई थी हम दोनों जानबूझकर उनके रूम के जाकर चुदाई कर रहे थे… तो वो जग गयी उन्होंने हमें देख लिया.
कुछ अलग करने के चक्कर में हम उस दिन पकड़े गए.

[email protected]
आपको मेरी बुआ की चूत की प्यास बुझाने की स्टोरी कैसी लगी मुझे Telegram पर ज़रूर बताये में आपके comment और message का इंतज़ार करूगा. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं.

बुआ की चूत की मेजदार चुदाई Antarvasna story

Read in English

Bua ki chut ki pyaas bujhai Antarvasna story

Antarvasna story: My aunt is very beautiful and sexy. One day after listening to aunt and mother’s talks, I came to know that aunt does not quench her thirst for pussy. So what did i do?

Hi friends, I am a yogi from Amritsar, Punjab. This is the story of me and my aunt and me Antarvasna story.

My aunt is very beautiful and sexy in appearance, her name is Sushma. Her hips size was 40, waist 34 and her boobs were like Bhojpuri actress Monalisa. His height is also 5 feet 9 inches as much as my height, he was around 35 years old. What should I say, let anyone’s heart shake.
It was a month ago when my aunt came to visit my house from Delhi. My mother hugged me when she came to our house. I bowed to him Antarvasna story.

Aunt came in, mother sat and gave them water.

Our house was very big, so the mother told me to go take the bag of aunt to the room next to your room the Antarvasna story.

So I put the bag of aunt in the room next to my room. Then my aunt went to the room and washed her bath and started to relax in Antarvasna story.

Then in the evening the aunt got up fresh and came to the hall where I was sitting and watching TV Antarvasna story. My aunt is very hot. The throat of his blouse is very deep always… due to which his cleavage is clearly visible. Aunt came and sat next to me. His cleavage was clearly visible to me, I was looking at his cleavage with a skewed eye.

Antarvasna story
Then mother came, both of them started talking among themselves.

At night, we went to sleep. I was not able to sleep… I was missing the boos of the aunt again and again and I slept and slept.

The next morning I went to college but I came back from college early in memory of aunt.
On coming home, I called my mother, she might not hear my voice but Antarvasna story.

Then when I went to the mother’s room, my mother and aunt were talking; Chudai too.
I started listening near the door in the Antarvasna story.

My mother started telling me about my father that if my father often stays outside the house, then my father would not be able to fuck more and Antarvasna story.
So my aunt said – that’s why you are so young.

Then aunt too started crying her little fuck. Aunt was calling my mother – what should I do, sister-in-law as well? Earlier my husband used to fuck me a lot. But nowadays I do not know what happened. Maybe my husband has an affair with our maid! One day I saw him touching her hip but I could not say anything. Then I also dissuaded I will also fuck another man like Antarvasna story.

I was happy to listen to aunt and my cock stood like a rod. I went to the bathroom and killed.

Antarvasna story
Then when we were having dinner, when I was looking at his nipple, he saw it. I started eating food with my head down. Then aunt also understood that her nephew’s attention is towards her aunt’s big breasts.

We all dined and went to our respective rooms then Antarvasna story.

At night, when I came out to drink water, there was a sound from my aunt’s room ‘Shes hah ah ummh’!
When I looked into Bua’s room, putting a hand inside a thong ie small panty, Bua was fingering her pussy and rubbing her pussy. I was mad after seeing Bua’s body naked like this. My cock was dive on the seventh sky.

Now I had decided to lick my lust with the water of my aunt’s pussy.

Then I started thinking how do I get inside Bua’s room? However, in the afternoon, I could immediately offer sex to her after listening to her mother and aunt’s talk. But there was also fear that she is my aunt then Antarvasna story.
I thought that I would go on the pretext of asking for cold oil.

Then I pushed hard and opened the door of aunt’s room, I went to aunt’s room and said – aunt, wanted oil for Antarvasna story.
And I did a drama like nothing.

Then I said – Aunt, what are you doing?
He immediately covered his body with a sheet.

Antarvasna story
I said sorry mother… I had to come inside the door knocking.
So aunt said – Never mind son, it is my fault… My pussy is on fire. I forgot to close the door in order to quench its thirst.

Then, taking advantage of the opportunity, hearing such things from their mouths, I said – in my presence you will not have trouble with anything; I will quench your thirst the Antarvasna story.
She came up to me, hugged me.

I was also thirsty for aunt for a long time, so today my wish was going to be fulfilled. I started sucking his juicy lips with his lips.

Then aunt said – little patience sweetheart! Now you will kill my pussy everyday. I will see you in front of your mother!

After listening to aunt’s words, I got mad. After removing his clothes and leaving only the tights, he slammed his aunt on the bed and started kissing her like crazy. She was also supporting me.

Then I kissed aunt’s whole body. My aunt was going mad. Then I started licking aunt’s pussy. She fell in my mouth after a short time.

Then I told him – I had heard about you and my mother this afternoon. And I did not come here to take oil, you had to come and extract your oil.
Then she said – I saw your eyes, that’s why I kept the door open.

Antarvasna story
After speaking so much, my aunt started sucking my cock wildly. He said – your cock is very big.
Soon my goods were removed, they grabbed all my juice.

After a while, my cock was erect again. Then as soon as I put my cock in her pussy, she groaned with pain ‘Ummh… Ahhh… Hahh… Yah… ’because my cock was bigger than a puffa.
This is what Bua said and not for a long time.

Then I slowly started to increase the speed of the bumps and then the aunt also started abusing loudly and saying – Chod Madarchod… make your aunt’s pussy Bhosda.
I was also pushing very vigorously.

She was also helping me by raising her ass. The sound of Fachafch was coming in the whole room. Aunt was enjoying a lot. After some time, both of us nephew got into a fight together.

Then after some time, both of us once again fuck hard.
Likewise, we fuck all night. I also killed aunt of aunt and… then I came to my room and slept.

Then the aunt would chudwa whenever she got a chance. I used to watch TV occasionally and suck cocks with them, even in the afternoon when my mother was working in the kitchen.

Antarvasna story
One day, in the same way, my mother saw us naked in the afternoon and fucking in her room. My mother slept in the afternoon, both of us were intentionally going to her room and fucking her… so she woke up and saw us.
That day we were caught in the habit of doing something different.

[email protected]
How did you like my aunt’s story to quench the thirst of pussy, I will definitely wait for your comment and message on Telegram. Apart from this, you can also give your opinion by commenting on the story below.

Read more Sex Story –

Buaa ki chudai बुआ को चोदा शादी से पहले Fun 1 Real Sex stori

Bua ki chudai बड़ी बुआ की चूत चुदाई का मज़ा 1 Real Sex Story

cript>

xxxhindistory बुआ की चुदाई कर 1 बच्चा किया Real Fun Sex

Leave a Comment

org/tools/popad.js">