Seaxy story अम्मी की चुदाई का नजारा देखा 1 free Sex Story

अम्मी की चुदाई का नजारा देखा Seaxy story

Seaxy story: इस चुदाई कहानी में मेरी अम्मी की गैर मर्दों के साथ चुदाई का नजारा है. ये सेक्स स्टोरी सच्ची है. मैंने मेरी अम्मी की चूत चुदाई मेरे फूफा और उनके बेटे से देखी.

दोस्तो, मेरा नाम इकरार खान है, मैं अब जवान हो गया हूँ. ये कहानी उस वक्त से शुरू होती है, जब मैं पढ़ता था.

इस चुदाई कहानी में मेरी अम्मी की गैर मर्दों के साथ चुदाई की कहानी का रस भरा हुआ है. ये सेक्स कहानी एक सच्ची घटना पर आधारित है.

मैं समझता था कि मेरी अम्मी एक पतिव्रता औरत हैं, उनकी उम्र अभी 41 साल की है. मगर उनकी फिगर देख कर कोई नहीं कह सकता था कि वो 30 साल से ज्यादा की नहीं हैं.

मेरे अब्बू एक कम्पनी में काम करते थे और उनकी आमदनी कोई बहुत ज्यादा नहीं थी. शाम को अक्सर देसी अब्बू दारू पीकर आते और अम्मी से पैसों को लेकर लड़ झगड़ कर खाना आदि खा कर सो जाते.

उस समय मेरी बुआ का लड़का, जिसका नाम शकील था. वो एक टैक्सी ड्राइवर था. हमारे शहर की एक कॉलोनी में उनका एक अच्छा मकान बन गया था. वो अपने अम्मी अब्बू के साथ रहता था. शकील अक्सर मेरे घर आया करता था क्योंकि वो इस शहर में आने से पहले से ही हमारे घर में रहता आया था.

उसके अब्बू यानि मेरे फूफा जी एक सरकारी कर्मचारी थे, परन्तु अब फूफा जी ने वीआरएस ले लिया था और वो रिटायर हो चुके थे. उन्होंने इसी शहर में अपना मकान बना लिया था. जिसमें वो शकील और अपनी बीमार बीवी के साथ रहते थे.

फूफा जी भी हमारे यहां आते रहते थे. फूफा जी जब भी घर आते, उनके लिए अच्छे-अच्छे पकवान बनाए जाते और अम्मी अब्बू भी उनसे बहुत खुश रहते थे. क्योंकि वह पैसों के मामले में हमारी काफी मदद करते थे. फूफा की उम्र लगभग 50 साल थी और शकील की उम्र लगभग 26 साल थी. वो बड़ा ही हट्टा कट्टा मर्द था.

Seaxy story

शकील जब भी घर आता था, तो वो मेरी अम्मी के कमरे में ही सोता था. अम्मी के कमरे में मैं और मेरी छोटी बहन अलग चारपाई पर सोया करते थे. चूंकि शकील बचपन से ही यहीं रहता आया था … इसी वजह से उसकी अम्मी के साथ लेटने की बात से मुझे नासमझी के कारण अजीब नहीं लगती थी.

कई बार ठंड की वजह से वो अम्मी की रजाई में लेट जाता था और हंसी मजाक करता रहता था. वहीं फूफा जी जब भी आते, तो वो अलग कमरे में सोया करते थे, जो कि अम्मी के कमरे के पास में ही था.

अब्बू हमेशा बाहर बरामदे में सोया करते थे जो एक खुली जगह थी. अम्मी अब्बू के साथ नहीं सोती थीं, ये बात मेरी समझ में बाद में आई. अब्बू देसी दारू पीते थे, जो अम्मी को पसंद नहीं था.

पहले मुझे ये सब नॉर्मल लगता था लेकिन उम्र बढ़ने साथ साथ मुझे अब धीरे धीरे शक होने लगा था. क्योंकि जब शकील अम्मी के पास होता और हम बाहर होते, तो शकील और अम्मी फुसफुसा कर बातें करते थे.

समझ आने के बाद से मुझे यह बहुत अजीब लगने लगा, मैं सोच रहा था कि बात कुछ और है. इसलिए मैंने उनकी बातों को सुनने के लिए कोशिश करना शुरू कर दीं.

अब जब भी अम्मी और शकील पास बैठते थे, तो मैं अम्मी के फोन में वॉइस रिकॉर्डिंग लगा कर ऑन कर देता था.

ऐसे ही एक दिन उनकी बातों को रिकॉर्ड किया और बाद में वो रिकॉर्डिंग सुनी, तो मैं हैरान रह गया.

उसमें अम्मी बोल रही थीं- शकील क्या कर रहे हो … छोड़ दो, कोई देख लेगा. मुझे जांघों में गुदगुदी हो रही है.

मतलब शकील रजाई में से अपना हाथ अम्मी की जांघों में फिरा रहा था. अम्मी उसको कई बार पकड़ कर बोल रही थीं कि मान जाओ यार … हाथ बाहर निकालो.

Seaxy story

दूसरी आवाज शकील की आई. वो अम्मी को बोल रहा था- आज तो आपको देनी ही पड़ेगी.
अम्मी- नहीं मुझे कमर में दर्द हो रहा है.
वो उससे कमर दर्द का बहाना बना रही थीं.

शकील बोला- कोई बात नहीं … मेरे पास आपकी कमर का इलाज है. आज मैं आपकी चुदाई के साथ कमर का इलाज भी कर दूंगा.

अब अम्मी और शकील अपनी मस्तियां करने लगे … उनकी चुम्मियों आदि की आवाजों के साथ ‘उंह आंह … लगती है … टांग तो उठाओ यार … आंह..’ ये सब आवाजें सुनाई दे रही थीं.

इस बीच कई बार शकील की आवाज आई. उसने अम्मी से कहा- आप अपनी कोई सहेली पटवा दो.
उसकी बात का उत्तर देते हुए अम्मी कह रही थीं- अपने आप पटा लो … मुझसे ये सब नहीं होता.

उनकी ये सब रिकॉर्डिंग सुन कर मुझे सारी कहानी समझ आ गई कि शकील और मेरी अम्मी का जिस्मानी रिश्ता है.

शकील के अलावा फूफा जी पर भी मुझे कई बार शक हुआ. मैंने अम्मी और फूफा को एक बार बाथरूम में से एक साथ निकलते हुए देखा था. मुझे यह बात पहले अजीब लगी, बाद में मैंने सोचा कि क्यों ना इनको मजे करने दिया जाए. क्योंकि अब्बू काम की वजह से व्यस्त रहते थे. अम्मी की अपनी जरूरतें हो सकती हैं. ये तो अच्छा है कि वे ये सब घर में ही करती हैं … यदि बाहर किसी के साथ ये सब करतीं, तो शायद बदनामी भी हो सकती थी.

एक बार फूफा जी घर आए हुए थे. यह उस दिन की घटना थी, जब सर्दियों के मौसम में मेरे स्कूल में छुट्टी चल रही थीं.

Seaxy story

उस दिन फूफा जी दिन के चार बजे ही घर पर आ गए थे. शकील के टैक्सी चलाने की वजह से उनको अपने परिवार की ज्यादा फिक्र नहीं रहती थी. हालांकि उस दिन शकील भी शाम को टैक्सी लेकर सीधा हमारे घर ही आ गया.

फूफा और शकील को दोनों को नहीं पता था कि उनका अकाउंट एक ही बैंक में है. मतलब वे दोनों एक ही ब्रांच में अपना डालना निकालना करते थे. मेरी अम्मी उन दोनों को ही अपने शरीर से खेलने दे रही थीं.

मैं उन दोनों को देख कर बहुत खुश था कि आज इन दोनों की चुदाई देखूंगा. मैंने अपने दोस्त से एक एफएम पर सुनाई देने वाला रिकॉर्डर मांगा. ये डिवाइस काफी सस्ती आती है और कॉर्डलैस होती है. मैंने उसको अम्मी के बिस्तर के पास सैट कर दिया. इसके बाद मैं कान में इयरफोन लगा कर अपने बिस्तर में घुस गया. मैंने एफ एम चालू करके उन दोनों की आवाजों को सुनना शुरू कर दिया. सब कुछ मेरे प्लान के अनुसार ठीक था.

रात को सबने खाना खाया और सोने की तैयारी करने लगे. उस दिन सब जल्दी सो गए. लेकिन अम्मी शकील को फूफा तीनों जागे हुए थे क्योंकि तीनों असमंजस में थे. शकील को लग रहा था कि फूफा उसे पकड़ ना लें, वहीं फूफा शकील की फिक्र कर रहे थे. अम्मी इस बात को लेकर असमंजस में थीं कि वह किसको पहले दें.

फिर अम्मी ने तरकीब निकाली.

जब अम्मी फूफा जी को दूध देने गईं, तो उनको हल्की आवाज में बोला कि शकील आया हुआ है, आज लेन देन नहीं हो पाएगा.
फूफा जी ने कहा- मैं तुम्हारा इंतजार करूंगा … थोड़ी देर से आ जाना.

इतना सुनकर अम्मी अपने कमरे में आ गईं. अब उनके पास एक ही विकल्प था या तो शकील से बहाना बनाएं या शकील से चुदवाकर उसे जल्दी सुला दें और फिर बाद में फूफा से चुदाई करवा लें.

Seaxy story

अम्मी ने दूध में नींद की गोली डाली और अपने गिलास बिस्तर के पास रख लिया.

मैं सोने का नाटक करने लगा और कंबल के छेद में से मुझे सब दिखने लगा. शकील अम्मी को रजाई के अन्दर सहला रहा था. उसका हाथ नहीं दिख रहा था लेकिन ऐसा लग रहा था मानो वो अम्मी की रानें दबा रहा हो. उन दोनों को लग रहा था कि मैं सो चुका हूं.

अम्मी ने कहा कि आज रहने दे कमर अकड़ी हुई है. तेरे लिए दूध का गिलास रखा है … दूध पी ले और सो जा. आज तेरे अब्बू भी आए हैं … कहीं कोई दिक्कत न हो जाए.

शकील बोला- पहले आपके दूध चूस लूं … फिर चुदाई के बाद दूध पी लूंगा.
अम्मी बोलीं- मेरी कमर दर्द हो रही है.
शकील ने कहा- आज मैं आपकी कमर की मालिश ऐसे करूंगा कि सब जोड़ खुल जाएंगे.

इस पर अम्मी हंसने लगीं.

इसके बाद शकील ने अपना हाथ अम्मी की चुत पर रख दिया, जिसे अम्मी की सिसकारी निकल गई. वो जोर जोर से अम्मी की चुत में उंगली कर रहा था.

अम्मी की चुदाई का नजारा देखा Seaxy story

अम्मी ने कहा- इधर बच्चे सो रहे हैं … उधर चलो, रसोई में चलते हैं.

इस बात पर दोनों उठकर रसोई में चले गए. अम्मी के कमरे की खिड़की रसोई का नजारा साफ़ दिखता था. मैंने देखा अम्मी रसोई की स्लैब पर हाथ रख कर झुक कर खड़ी हो गईं. शकील ने अपना हाथ आगे करके अम्मी की सलवार का नाड़ा खोला दिया तो अम्मी की सलवार निचे गिर गई. अम्मी ने पैंटी नहीं पहनी थी.

Seaxy story

अपनी पेंट और चड्डी उतार दी थी और वो कमर के नीचे पूरा नंगा था.

फिर शकील ने अपना लंड बाहर निकाला और पीछे से अम्मी की चुत में डाल दिया. लंड लेते ही अम्मी की हल्की सी चीख निकल गई.

शकील ने अम्मी को चोदना चालू कर दिया. वो कुछ ही देर में मेरी अम्मी को ताबड़तोड़ चोद रहा था और मेरी अपनी कुहनियों के बल रसोई की स्लैब से अपने आपको टिकाए हुए खड़ी थीं. उनकी दोनों टांगें फैली हुई थीं. उनकी दूधिया टाँगें बड़ी सेक्सी लग रही थीं. शकील की गांड आगे पीछे होने से साफ़ मालूम चल रहा था कि वो अम्मी की चुत में पूरे अन्दर तक लौड़ा पेल कर चुत चुदाई कर रहा था.

कोई 5 मिनट की धकापेल के बाद शकील के लंड का पानी अम्मी की चुत में निकल गया. वो थक कर हांफने लगा. अम्मी ने बड़बड़ाते हुए अपनी चूचियों को रसोई की स्लैब पर ही रख दिया था और उनके ऊपर से शकील ने अपना वजन रख दिया था.

अम्मी कह रही थीं- आजकल तू जल्दी क्यों झड़ जाता है … मेरी तो प्यास ही नहीं बुझी.

कोई एक मिनट बाद वो दोनों अलग हो गए.

टैक्सी ड्राइवर होने की वजह से शकील शराब पिया करता था, जिसकी वजह से वो ज्यादा देर तक सेक्स नहीं कर पाता था.

हालांकि अम्मी प्यासी रह गई थीं … लेकिन तब वो आज कोई रिस्क नहीं लेना चाहती थीं. इसलिए अम्मी ने शकील से कहा कि अब तू सो जा … सोने से पहले दूध पी ले.
शकील बोला- आप लंड चूस कर खड़ा कर दो … एक बार और करूंगा.

अम्मी ने मना किया.
लेकिन उसने कहा- मेरा मन तो कर रहा है … तुम ऐसे करो कि चुत नहीं दो … अपने मुँह में लंड ले कर मजा दे दो.

Seaxy story

अम्मी उसकी यह बात सुनकर राजी हो गईं. इससे शकील का मूड फिर से बन गया और उसने देर ना करते हुए अम्मी को घुटनों के बल बैठाकर अपना लंड अम्मी के गले में उतार दिया. अम्मी शायद पहली बार किसी का लंड मुँह में ले रही थीं, इसमें उन्हें बड़ी तकलीफ हो रही थी.

अम्मी की चुदाई का नजारा देखा Seaxy story

शकील तो मानो जन्नत में था. वो अपने चूतड़ों को हिला कर अम्मी के गले में अपना लंड ठूंस रहा था. देखते ही देखते उसने फिर से अपने वीर्य से अम्मी का मुँह भर दिया और हांफने लगा.

चुदाई के बाद शकील बाथरूम में चला गया और अपने लंड को साफ किया.

वे दोनों कमरे में आ गए. अम्मी बिस्तर पर लेट गईं और शकील दूध पीकर अम्मी के बाजू में सो गया.

अम्मी ने एक बार शकील को देखा, वह खर्राटे लेने लगा था.

कुछ देर बाद अम्मी बाथरूम में गईं. वहां पर एक सरसों के तेल की बोतल रखी रहती थी. अम्मी ने थोड़ा सा सरसों का तेल अपने कूल्हों और गांड में लगाया क्योंकि फूफा को गांड मारने का बहुत ज्यादा शौक था. ये मुझे बाद में मालूम हुआ.

Seaxy story

अम्मी ने बाहर निकल कर कमरे का दरवाजा बंद किया और फूफा जी के कमरे में पहुंच गई. उनके कमरे में अन्दर जाकर बिना आवाज किए दरवाजा बंद कर लिया. दरवाजा बंद होते ही फूफा जी की आंख खुल गई, वे खड़े हुए और उन्होंने अम्मी को पकड़ लिया.

मैंने भी बाहर आकर खिड़की की झिरी से देखना शुरू कर दिया था. कमरे के अन्दर एक जीरो वाट का बल्व जल रहा था.

फूफा जी ने अम्मी को अपनी बांहों में भरा और उनके होंठों से होंठों को मिला दिया. वो अम्मी को चूमने लगे, साथ ही अपने दोनों हाथों से अम्मी की गांड को सलवार के ऊपर से मसलने लगे.

उन्होंने अम्मी को किस करते हुए एक हाथ से अम्मी की सलवार का नाड़ा खोल दिया और एक हाथ अम्मी की सलवार के अन्दर डाल दिया ताकि उनके टाइट चूतड़ों का मजा लिया जा सके.

अम्मी उनका लंड पजामे के ऊपर से ही सहलाने लगीं और फूफा जी अम्मी के चूतड़ों को मसलने लगे. तेल लगे होने के कारण अम्मी के कूल्हे काफी चिकने थे.

फूफा जी ने चिकने चूतड़ महसूस करते ही कहा- लगता है तुम्हें गांड मराने में मजा आने लगा है.
इतना सुनकर अम्मी हंस पड़ीं.

फूफा जी ने पूछा- शकील सो गया?
अम्मी ने कहा- हां, तभी तो मैं आई हूं.

इसके बाद फूफा ने अम्मी को नंगा किया और अपने कपड़े भी उतार दिए. फूफा जी ने अम्मी को फर्श पर घोड़ी बना दिया और अम्मी की तेल लगी हुई गांड में अपना लंड रगड़ने लगे.

Seaxy story

अम्मी ने गांड फैला ली थी. उसी समय एक ही झटके में फूफा जी ने अपने लंड को अम्मी की फूलों की खाई में उतार दिया.

अम्मी की चुदाई का नजारा देखा Seaxy story

एक मीठी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ के साथ फूफा जी लंड अम्मी की पहाड़ियों के बीच की गुफा में कहीं खो गया. अम्मी की गांड चुदाई का खेल जोरों शोरों से चलने लगा. धकापेल चुदाई के बाद फूफा जी ने लंड का रस अम्मी की गांड में ही छोड़ दिया था.

इसके बाद फूफा जी ने जेब से दो गोलियां निकालीं. एक गोली उन्होंने खुद खा ली और दूसरी अम्मी को खिला दी.

कोई दस मिनट में ही दोनों में फिर से जोश भर गया था. दुबारा से चुदाई का खेल शुरू हो गया था. इस बार फूफा ने अम्मी की चुत में लंड पेला और सटासट अन्दर बाहर करने लगे.

रात भर में फूफा ने अम्मी की एक बार गांड मारी और 4 बार चुत चुदाई की.

रात में चुदाई के बाद अम्मी अपने कमरे में आ गईं और सो गईं.

सुबह अम्मी से उठा तक नहीं जा रहा था.

शकील सुबह ही उठ गया था और वो अम्मी के मम्मों के बीच में दो हजार रुपए का एक गुलाबी नोट फंसा कर कमरे से निकल गया. वो अपनी टैक्सी लेकर चला गया था. उसके बाद फूफा जी भी अम्मी को पांच हजार रूपए देकर चले गए.

उस दिन मैंने अम्मी के पैरों की और कमर की मालिश की क्योंकि उनको बहुत तेज दर्द हो रहा था.

Seaxy story

आपको मेरी अम्मी की चुदाई की कहानी कैसी लगी … प्लीज़ मुझे मेल करें.
[email protected]

आपको मेरी अम्मी की चुदाई की सच्ची सेक्स घटना कैसी लगी मुझे Telegram पर ज़रूर बताये में आपके comment और message का इंतज़ार करूगा. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं.

cript>

Join Telegram Group

अम्मी की चुदाई का नजारा देखा Seaxy story

Read in English

Ami ki chudai Dekhi Seaxy story

Seaxy story: In this chudai story, my mother’s view of sex with non-men is visible. This sex story is true. I saw my mother’s pussy fuck with my uncle and his son.

Friends, my name is Iqrar Khan, I am young now. This story starts from the time I used to read.

In this Chudai Kahani, the story of Chudai with my non-men is full of juice. This sex story is based on a true incident and Seaxy story.

I used to think that my mother is a loving woman, she is 41 years old. But seeing her figure, no one could say that she is not more than 30 years old.

My father worked in a company and his income was not very high. In the evening, Desi Abbu would often drink and go to sleep after fighting with Ammi for money and Seaxy story.

At that time my aunt’s son, whose name was Shakeel. He was a taxi driver. He had a nice house in a colony in our city. He lived with his mother Ammi Abbu. Shakeel used to come to my house often because he had lived in our house before coming to this city and enjoy Seaxy story.

His father was my government employee, but now Fufa ji had taken VRS and he had retired. He had built his house in this city. In which he lived with Shakeel and his ailing wife but Seaxy story.

Fufa Ji also used to come here. Whenever he came home, good dishes were made for him and Ammi Abbu was also very happy with him. Because he used to help us a lot in terms of money. Fufa was around 50 years old and Shakeel was around 26 years old. He was a very tough guy.

Seaxy story Whenever Shakeel used to come home, he used to sleep in my mother’s room. Me and my younger sister used to sleep on separate cots in Ammi’s room. Since Shakeel had lived here since childhood… That is why I did not feel awkward due to his senselessness of lying with his mother for Seaxy story.

At times, due to the cold, he used to lie down in Ammi’s quilt and used to laugh and laugh. Whenever Fufa ji used to come, he used to sleep in a separate room, which was near Ammi’s room and got Seaxy story.

Abbu always slept outside in the verandah which was an open space. Ammi did not sleep with Abbu, it came to my understanding later. Abbu used to drink Desi Daru, which Ammi did not like Seaxy story.

Earlier I used to think of this as normal, but with aging, I was slowly starting to get suspicious. Because when Shakeel was near Ammi and we were out, Shakeel and Ammi used to talk in whispers in Seaxy story.

After I understood this I started feeling very strange, I was thinking that the matter is something else. So I started trying to listen to his words.

Now whenever Ammi and Shakeel used to sit nearby, I used to turn on Ammi’s phone with a voice recording the Seaxy story.

One day I recorded his words and later heard that recording, so I was surprised.

Ammi was speaking in it – what are Shakeel doing… Leave it, someone will see. I am getting tickles in the thighs about Seaxy story.

Meaning Shakeel was flinging his hand in Ammi’s thighs from the quilt. Ammi was holding him several times and saying, “Come on, man… Get out your hands.

Seaxy story
The second voice came from Shakeel. He was speaking to Ammi – today you have to give it.
Ammi- No, I have a backache.
She was making excuses for backache from him the Seaxy story.

Shakeel said- Never mind… I have a treatment for your waist. Today I will also treat the waist with your fuck the Seaxy story.

Now Ammi and Shakeel started doing their masts… with the voices of their kisses etc. ‘Uhh ahhhhh… lage hai toh leng yaar… aanh ..’ All these voices were heard the Seaxy story.

Meanwhile, Shakeel’s voice came many times. He said to Ammi – Give your friend some patwa.
Answering her words, Ammi was saying – get yourself up… I don’t do all this for Seaxy story.

After listening to all these recordings, I understood the whole story that Shakeel and my mother have a physical relationship the Seaxy story.

Apart from Shakeel, I also doubted Fufa ji many times. I saw Ammi and Fufa once walking out of the bathroom together. I found this thing strange at first, later I thought why not let them have fun. Because Abbu was busy because of work the Seaxy story. Ammi may have her own needs. It is good that she does all this at home… If she used to do all this with someone outside, then there could have been slander too.

Once Fufa ji came home. It was an incident of the day when my school was on vacation in the winter season for Seaxy story.

Seaxy story
That day Fufa ji came home at four o’clock in the day. Because of Shakeel’s driving a taxi, he did not care much about his family. However, that day Shakeel also came to our house with a taxi in the evening.

Both Fufa and Shakeel did not know that their account is in the same bank. Meaning they both used to remove their pours in the same branch. My mother was letting both of them play with her body in Seaxy story.

I was very happy to see both of them that today I will see their sex. I asked my friend for an FM-recorder. This device comes very cheap and is cordless. I set her near Ammi’s bed. After this I got earphones in my ear and entered my bed. I started FM and started listening to the voices of both of them. Everything was fine as per my plan like Seaxy story.

Everyone ate food at night and started preparing to sleep. Everyone slept early that day. But all three were awake to Ammi Shakeel because all three were confused. Shakeel felt that the uncle would not catch him, while the uncle was worrying about Shakeel. Ammi was confused about whom she should give first and will be Seaxy story.

Then Ammi figured out the trick.

When Ammi went to give milk to Fufa ji, he said to her in a soft voice that Shakeel has arrived, the transaction will not be done today, Seaxy story.
Fufa Ji said – I will wait for you… Come a little late.

Ammi came to her room after hearing this. Now they had only one option, either make excuses with Shakeel or put them to sleep quickly after getting them sucked by Shakeel and then get them fuck with Fufa.

Seaxy story
Ammi put a sleeping pill in milk and kept her glass near the bed.

I started pretending to sleep and I started seeing everything from the blanket hole. Shakeel was rubbing Ammi inside the quilt. His hand was not visible, but it seemed as if he was suppressing Ammi’s rant. Both of them felt that I had slept then enjoy Seaxy story.

Ammi said that the waist is stiff today. You have a glass of milk… drink milk and go to sleep. Today your father has also come… Let there be no problem for Seaxy story.

Shakeel said – first suck your milk… then after drinking I will drink milk.
Ammi said- My back is hurting the Seaxy story.
Shakeel said- Today I will massage your waist in such a way that all the joints will be opened.

Ammi started laughing at this.

After this Shakeel put his hand on Ammi’s pussy, which came out of Ammi’s sob. He was thrusting finger into Ammi’s pussy in Seaxy story.

Ammi said – Here the children are sleeping… Let us go to the kitchen inSeaxy story.

Both of them got up and went to the kitchen. The window of Ammi’s room was visible in the kitchen. I saw Ammi leaning on the kitchen slab and stood up. When Shakeel opened his hand and opened the pulse of Ammi’s salwar, Ammi’s salwar fell down. Ammi did not wear panties.

Seaxy story He had removed his paint and tights and he was completely naked below the waist.

Then Shakeel took his cock out and put it in Ammi’s pussy from behind. Ammi’s slight scream came out as soon as she took the cocks like a Seaxy story.

Shakeel started fucking Ammi. He was fucking my mother in a short while and with her elbows she was standing on her own from the kitchen slab. Both his legs were spread. His milky legs looked very sexy. Due to Shakeel’s ass going back and forth, it was clear that he was licking the Aloda in Ammi’s pussy all over the Seaxy story.

After a 5-minute scuffle, the water of Shakeel’s cocks came out in Ammi’s pussy. He started tired and panting. Ammi grumblingly placed her nipples on the kitchen slab and Shakeel had put his weight on top of them.

Ammi was saying – Why do you fall fast nowadays… My thirst did not quench.

After a minute, both of them separated.

Being a taxi driver, Shakeel used to drink alcohol, due to which he could not have sex for a long time.

Although Ammi was thirsty… but then she did not want to take any risk today. So Ammi told Shakeel that now you go to sleep… drink milk before sleeping.
Shakeel said – You suck cock and make it stand… I will do it one more time.

Ammi refused.
But he said – I feel like… do it in such a way that don’t give a kiss… Enjoy it by taking cocks in your mouth.

Seaxy story
Ammi agreed to hear this. This made Shakeel’s mood again and while not delaying, he made Ammi sit on his knees and took his cock in Ammi’s neck. For the first time Ammi was taking someone’s cock in her mouth, in which she was suffering a lot.

Shakeel was as if in heaven. He was shaking his cocks and thrusting his cock in Ammi’s neck. On seeing this, he again filled Ammi’s mouth with her semen and started panting.

After the fuck Shakeel went to the bathroom and cleaned his cock.

They both entered the room. Ammi lay down on the bed and Shakeel slept on Ammi’s side after drinking milk.

Once Ammi saw Shakeel, he was snoring.

After some time Ammi went to the bathroom. A bottle of mustard oil was kept there. Ammi applied a little mustard oil to her hips and ass because Fufa was very fond of ass. I came to know this later.

Seaxy story
Ammi stepped out and closed the door of the room and reached into Fufa Ji’s room. He went inside his room and closed the door without making a sound. As soon as the door closed, Fufa ji’s eyes opened, he stood up and caught Ammi.

I too came out and started looking through the window. A zero watt bulb was burning inside the room.

Fufa Ji filled Ammi in her arms and mixed her lips with her lips. He started kissing Ammi, as well as rubbing Ammi’s ass over Salwar with both her hands.

While kissing Ammi, she opened the pulse of Ammi’s salwar with one hand and put one hand inside Ammi’s salwar so that her tight fists could be enjoyed.

Ammi started rubbing their cocks on top of pajamas and Fufa ji started rubbing Ammi’s pussy. Ammi’s hips were very smooth due to the oil.

Fufa Ji said as soon as he felt smooth butts- you seem to be enjoying killing ass.
Ammi laughed after hearing this.

Fufa Ji asked- Shakeel fell asleep?
Ammi said- Yes, then only I have come.

After this Fufa stripped Ammi and removed her clothes. Fufa ji made Ammi a mare on the floor and started rubbing his cock in Ammi’s oiled ass.

Seaxy story
Ammi had spread ass. At the same time, in one stroke, Fufa Ji removed his cock in Ammi’s flower ditch.

With a sweet ‘Ummh… Ahhh… Hahh… Yah… ’Fufa ji lund got lost somewhere in the cave between the hills of Ammi. Ammi’s assfucking game started running with loud noise. After the banging, Fufa ji left the juice of cocks in Ammi’s ass.

After this Fufa Ji took out two bullets from the pocket. He ate one bullet himself and fed the other to Ammi.

In just ten minutes, both of them were full again. The game of sex was started again. This time Fufa started licking cocks and satassat inside Ammi’s pussy.

Throughout the night, Fufa asshole Ammi once and fuck 4 times.

After sex in the night, Ammi came to her room and fell asleep.

I was not going to get up from Ammi in the morning.

Shakeel had woken up in the morning and he left the room, stuck a pink note of two thousand rupees in the midst of Ammi’s mums. He had gone with his taxi. After that, Fufa Ji also went to give Ammi five thousand rupees.

That day, I massaged Ammi’s legs and waist because she was in severe pain.

Read more chudai Story –

Maa beta kahani मॉम की चूत का रस पीकर चुदाई 1 Real Sex Fun

Chudi ki khani मसाज करके मां की चुदाई 1 Real Family Sex Fun

Hindisexstory मॉम की चुदाई की प्यास बेटे ने बुझाई1 Fun Story

Leave a Comment

org/tools/popad.js">