Maa beta kahani मॉम की चूत का रस पीकर चुदाई 1 Real Sex Fun

मॉम की चूत का रस पीकर चुदाई Maa beta kahani

Maa beta kahani:मेरी मॉम बहुत कामुक हैं. वो ऐसे बन संवर कर रहती हैं कि जैसे सबको कह रही हों कि आओ मुझे चोदो. मैंने भी मॉम की चुदाई करना चाहता था. मॉम सेक्स की मेरी कहानी का मजा लें.

मेरा नाम समीर है और अभी मेरी उम्र 21 साल की है. मेरे पापा की दुबई में जॉब थी. मेरी मम्मी की उम्र करीब 42 साल की होगी, मगर वो देखने में 35 साल से ज्यादा की नहीं दिखती नहीं हैं.
मेरी मॉम का फिगर 34-30-36 का होगा. उनकी गांड लगभग पूरी तरह से बाहर निकली हुई है. मेरी मॉम हमेशा साड़ी ही पहनती हैं.

वो साड़ी कुछ इस तरह से बांधती हैं कि उनका न दिखने वाला जिस्म पूरी तरह से कुछ इस तरह से दिखे, जिसे देख कर देखने वालों के लंड में आग लग जाए. जैसे एक तो उनकी नाभि हमेशा ही साफ़ दिखती थी. चूचों के ऊपर साड़ी का पल्लू कुछ इस तरह से रखती थीं, जिससे उनकी चूचियां पूरी तरह से फूली हुई दिखती थीं

मॉम अपनी चूचियों की क्लीवेज कभी नहीं ढकती थीं, उनकी सिल्की चूचियों की गोरी दरार उनके गहरे गले वाले ब्लाउज में से साफ़ दिखती थी, उस पर मॉम की साड़ी का पल्लू उनकी चूचियों पर कुछ इस तरह से कसा हुआ होता था कि उनकी चूचियों में दो गुब्बारों में हवा भर कर गांठ बाँध दी गई हो.

उनको इस तरह से देख कर मैं उनको चोदने के बारे में ही सोचता रहता था. मुझे लगता था कि मेरी मॉम पापा के न रहने से संतुष्ट नहीं हो पाती हैं, इसीलिए वो इतनी कामुक दिखती हैं, ताकि अपने लिए वो लंड तलाश सकें.

एक दिन मॉम कपड़े बदल कर रही थीं, मैं चोरी से उन्हें देख रहा था. मॉम ने पहले अपनी साड़ी निकाली, उसके बाद पेटीकोट और ब्रा पेंटी उतार कर मॉम पूरी नंगी हो गईं. मैं दरवाज़े से झिरी से मॉम को नंगी होती हुई देख रहा था.
जैसे ही मेरी मॉम पूरी नंगी हुई, मेरा कलेजा हलक में आ गया. मैं अपने लंड को हिला रहा था और उनको देख रहा था.

Mom ki chut ka pani pi kar chudai - Maa beta Kahani

नंगी हो जाने के बाद उन्होंने तेल लिया और अपनी चूत पर लगाया. फिर चूचियों पर मला. मॉम ने अपनी चूचियों की थोड़ा सहलाया और अपने निप्पल पकड़ कर चुचों को आगे खींचते हुए अपनी आंखें बंद करके मजा लिया. इससे मुझे उनकी चुदास साफ़ दिख रही थी.

Maa beta kahani

तेल से मम्मों और चूत को घिसने के बाद मॉम ने एक नई फैंसी सी ब्रा और पेंटी निकाली. ये ब्रा पैंटी का सैट पीले रंग का था. उन्होंने बड़ी नफासत से उसको पहना, फिर आईने में घूम घूम कर पैंटी ब्रा को अपने मम्मों पर और गांड पर सैट करते हुए खुद को देखा. उसके बाद साड़ी पहन ली.

मुझे समझ आ गया कि मॉम किसी भी पल बाहर आ सकती हैं, इसलिए मैं लंड सहलाते हुए वहां से बाथरूम में चला गया. उधर जाकर मैंने मॉम के नाम की मुठ मारी और आकर टीवी देखने लगा.

मॉम ने मुझे आवाज देते हुए कहा- तुझे कुछ चाहिए हो तो बोल, मैं ज़रा बाजार जा रही हूँ.
मैंने कहा- नहीं, मुझे अभी कुछ नहीं चाहिए, आप कितनी देर में वापस आओगी?
मॉम ने कहा- एक घंटे में आ जाऊंगी.

मैंने ओके कहते हुए उनको जाने दिया. मॉम अपनी गांड हिलाते हुए चली गईं.

उसके बाद जब भी मुझे मौका मिलता, मैं मॉम को देखता और मुठ मार लेता.

एक बार मैं मुठ मार रहा था. मॉम ने मुझे ऐसा करते हुए देख लिया. मेरे हाथ में उनकी पेंटी थी, मैं उनकी चूत के पास वाले हिस्से को सूंघ रहा था और मज़े में मुठ मार रहा था.
उन्होंने मुझे ऐसा करते देखा और चिल्लाईं- ये क्या कर रहे हो?
मैं डर गया … मुझसे कुछ नहीं बोला गया.

उसके बाद मॉम ने मेरे करीब आते हुए मेरे हाथों से अपनी पेंटी खींची और चली गईं. मैं एकदम से घबरा गया था और उनसे नजरें नहीं मिला पा रहा था.

Maa beta kahani

दो दिन बाद मैंने उनसे बात की. मैंने उनसे माफ़ी मांगते हुए कहा- मॉम मुझसे ग़लती हो गई … आगे से ऐसा नहीं होगा.
उन्होंने नम्र स्वर में बोला- बेटे ऐसा नहीं करते … ये सब ग़लत है.
मैंने बोला- मॉम मेरा बहुत मन कर रहा था … इसीलिए किया था.
वो थोड़ा सोच कर बोलीं- हम्म … ये सब कभी कभी किया जाता है. रोज ऐसे करना गलत है.

मैं पहले तो चौंक गया कि क्या मॉम को मेरे रोज मुठ मारने की बात मालूम है. फिर भी मेरी हिम्मत नहीं हुई कि मैं मॉम से कुछ ज्यादा पूछूँ.
मैंने सर झुका कर बोला- ठीक है.
फिर मैं उधर से चला गया.

इस घटना के पांचवें दिन मैं फिर से मुठ मार रहा था. तभी मॉम फिर से आ गईं. मैं रुक गया. मॉम मेरे पास आईं और बोलीं कि इतना जल्दी जल्दी करेगा, तो तेरी सारी ताकत निकल जाएगी.
मैं लंड हाथ में पकड़े हुए था. मैं कुछ नहीं बोला.

उन्होंने एक अप्रत्याशित काम किया. मॉम ने मेरा लंड अपने हाथ में ले लिया और धीरे धीरे ऊपर नीचे करने लगीं. मैं एकदम से अवाक था. मेरी समझ में ही नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूं. मेरी खोपड़ी कुछ काम ही नहीं कर रही थी.

वो मेरे लंड को आगे पीछे करती रहीं. कुछ देर में मेरे लंड का लावा निकलने वाला था तो मैंने बोला- आह छूटने वाला है.
यह सुनकर मॉम रुक गईं.

फिर मैंने बिना डरे धीरे से उनके मम्मों पर हाथ रख दिया. हालांकि मेरी गांड फट रही थी, पर उन्होंने कुछ नहीं बोला. मैंने धीरे से मॉम के एक दूध को दबा दिया.
मॉम ने मेरी आंखों में वासना से देखा, तो मैं दोनों हाथों से उनके दोनों आमों को 2-3 बार दबा दिया.

Maa beta kahani

मुझे अपनी मॉम के दूध दबाने में बेहद मज़ा आने लगा था. मैंने मॉम के मम्मे दबाना चालू रखे. कभी मैं इस वाले को दबाता, कभी दूसरे वाले को. मम्मी भी मस्ती में लग रही थीं.

Mom ki chut ka pani pi kar chudai - Maa beta Kahani

फिर मॉम ने मेरा लंड हिलाना शुरू कर दिया. मैं मॉम के ब्लाउज के ऊपर से ही उनके दूध दबा रहा था. जब हम दोनों मस्ती में आ गए, तो मैंने धीरे से उनके बटन खोलने लगा. उसके बाद मम्मों के ऊपर से मॉम का ब्लाउज हटा दिया.

अब उनकी चूचियां मेरे सामने एक लाल रंग की ब्रा में थीं. ब्रा में मॉम की चूचियां बड़ी सेक्सी दिख रही थीं. उनकी चूचियां लगभग नंगी थीं, सिर्फ ब्रा ने उनको नीचे से सपोर्ट देते हुए उठाने के काम किया था.

मैं मॉम के मम्मों को मस्ती से दबा रहा था. तब तक मॉम के हाथ में मेरा लंड रोने लगा और उसका माल निकल गया.

उनके हाथों में मेरे लंड का पूरा माल लग गया. वो अब भी मेरी आंखों में देखते हुए मेरे लंड को आगे पीछे कर रही थीं. मैं भी आह कारते हुए उनकी तरफ देखते हुए उनकी चूचियों को दबाए जा रहा था.

एक मिनट बाद हम दोनों अलग हो गए. मॉम ने अपने ब्लाउज को बंद नहीं किया. उनकी चचियां यूं ही दिखती रहीं.

मैंने उनकी तरफ वासना से देखा, तो कुछ देर बाद मॉम बोलीं- आज के लिए बस इतना ही … मुझे काम है.

फिर उन्होंने ब्लाउज ठीक से बंद किया और चली गईं. आज मुझे बहुत आनन्द आया था. जो आज तक नहीं हुआ था, वो अचानक से हो गया था.

अब सब मस्त चलने लगा था. मैं रोज मॉम को देख कर उन्हें चोदने के बारे में सोचता था. मगर मैंने अपने मुँह से ये कभी नहीं कहा कि मुझे चुदाई करने का मन है. बस हफ्ते में एक बार मैं मॉम के सामने लंड सहलाने लगता था … तो मॉम मुझसे खुद ही हिलाने का इशारा कर देती थीं.

Maa beta kahani

फिर एक दिन घर में मैं और मम्मी थे. मैं मम्मी के पास गया और बोला- मम्मी आज फिर से आप कर दो ना!
मॉम बोलीं- क्या कर दूँ?
मैं बोला- वो ही.
वो बोलीं- नहीं.

मैंने बहुत रिक्वेस्ट की, तो वो मान गईं. मैंने पेंट निकाली, उसके बाद अंडरवियर भी हटा दी और पूरा नंगा हो गया.
मॉम बोलीं- पूरे कपड़े निकालने की क्या जरूरत थी?
मैं बोला- मुझे अच्छा लगता है. आप करिए न.
मैंने अपना लंड उनके हाथों में दे दिया.

उन्होंने बैठ कर लंड हिलाना शुरू किया. मैंने उनके गालों पर एक चुम्बन कर दिया. उसके बाद मैंने उनका ब्लाउज निकाल दिया. उसके बाद मैंने धीरे से पीछे से ब्रा का हुक भी खोल दिया.
मॉम नशीले अंदाज में बोलीं- ये क्या कर रहा है?

मैं कुछ नहीं बोला. उसके बाद मॉम के मम्मों को दबाता रहा. आज मॉम की नंगी चूचियां बड़ी मस्त लग रही थीं. उनके बड़े बड़े चूचे मेरे हाथ में ही नहीं आ रहे थे. मैं धीरे धीरे मॉम के मम्मों को भी चूमने लगा.

मॉम को भी अब मज़ा आ रहा था. उनके मुँह से भी ‘आआ … ययहह..’ की आवाज निकल रही थी. मॉम मेरा लंड हिला रही थीं, उसके बाद मॉम को मैंने बेड पर चलने बोला. मॉम झट से राजी हो गईं. हम दोनों उनके रूम में वैसे ही बेड पर आ गए.

उसके बाद मॉम मेरा लंड हिलाने में बिज़ी थीं. मैं उनके चुचे दबाए जा रहा था, कभी चूम भी रहा था. मॉम भी मज़े लेकर चूचे चुसवा रही थीं.

फिर मैंने मॉम को बेड पर लेटा दिया और उनको किस करने लगा. मैं उनको हर जगह चूमने लगा. कभी उनके होंठ पर, कभी गाल पर, कभी पेट पर, कभी चूचियां चूस रहा था.

मॉम के मुँह से कामुक सिसकारियां निकलने लगीं- अहहह … आहहाह..

Maa beta kahani

मैंने उनकी साड़ी उठाई, तो देखा उन्होंने पिंक रंग की पेंटी पहनी थी. मैंने पैंटी के ऊपर से ही मॉम की चूत को सहलाना शुरू कर दिया. मॉम बस ‘अहह अहह..’ कर रही थीं.

फिर मैंने पेंटी निकाल कर चूत पर एक किस किया … तो मॉम एकदम से अकड़ने लगीं. मैं ऐसा करता रहा, तो मॉम ने अपनी टांगें खोल दीं. मैं उनकी चूत को चाटने लगा. मॉम ने मेरा सिर को अपने हाथों से चूत पर दबाना शुरू कर दिया. मॉम मुझसे अपनी चूत चटवाने के मज़े ले रही थी.

Mom ki chut ka pani pi kar chudai - Maa beta Kahani

कोई 5 मिनट तक चूत चूसने बाद मैंने मॉम से बोला- मैं आपको चोदने वाला हूँ.
वो बोलीं- हां … चोद दे बेटा … आह आज अपनी मॉम की आग को भी ठंडा कर दे … अहहह.

मैंने अपने फनफनाते हुए लंड को 5-6 बार चूत पर घिसा और एकदम से अन्दर डाल दिया. मॉम की चूत बहुत गीली थी, तो मेरा लंड एकदम से अन्दर घुस गया. आधा लंड घुसते ही मॉम के कंठ से एक आह निकली और उसके बाद मॉम मादक सिसकारियां लेने लगीं.

“उम्म्ह… अहह… हय… याह… बहुत अच्छे.”

मैंने धीरे धीरे करके पूरा लंड चूत में डाल दिया. मेरी मॉम गांड उछाल उछाल कर चुदवा रही थीं.

कुछ देर मैं उनको ऊपर से चोदता रहा. फिर मैंने लंड निकाल लिया. मॉम ने मेरी तरफ गुस्से से देखा, तो मैंने उनसे घोड़ी बनने के लिए इशारा किया. मॉम झट से घोड़ी बन गईं.

Mom ki chut ka pani pi kar chudai - Maa beta Kahani

उसके बाद मैंने फिर से लंड को हाथ से पकड़ कर मॉम की चूत पर सैट किया और अन्दर डाल कर चुदाई शुरू कर दी. मॉम भी मज़े से चुद रही थीं. वो बोल रही थीं- आह और तेज चोदो मुझे … और तेज चोद बेटा … पूरा लंड पेल्ल्ल …

Maa beta kahani

मॉम लगभग 17-18 मिनट बाद झड़ गईं.
मैं भी झड़ने वाला था, मैंने मॉम से बोला- पोजीशन चेंज करना है.
मॉम ने हामी भर दी.

उसके बाद मैं मॉम को बेड के एक कोने पर लेकर गया. मैं नीचे खड़े होकर मॉम की चुदाई करने लगा. कुछ देर बाद मैंने मॉम की चूत में ही अपने लंड का पानी छोड़ दिया.
उसके बाद हम दोनों लेट गए.

थोड़ी देर बाद मैं उठा, तो मैंने देखा कि मॉम की चूत से रस बाहर निकल रहा था.

Mom ki chut ka pani pi kar chudai - Maa beta Kahani

मैं मॉम की चूत में मुँह लगा कर चाटने लगा.
मॉम बोलीं- बस कर … कितना करेगा …
मैंने मॉम की चूत चाट कर साफ़ कर दी. मैंने उनका पूरा रस खा लिया था.

उसके मैंने बोला- मॉम, एक बार और करना है.
मॉम बोलीं- अब बस बाद में कर लेना.
मैंने बोला- प्लीज़.
मॉम मान गईं.

हम दोनों की फिर से चुदाई चालू हो गई. मैंने उनको 35 मिनट तक चोदा. बाद में हम दोनों झड़ गए.
आज मुझे बहुत मज़ा आया था. मेरी मॉम को भी और मुझे भी.

Maa beta kahani

उसके बाद मॉम और मैं बाथरूम में गए. एक दूसरे को साफ़ करके हम दोनों ने कपड़े पहन लिए.

मॉम अपना काम करने लगीं. मैं उनके पास खड़ा हो गया. मॉम बोलीं- आज तूने बहुत मज़ा दिया बेटा … थैंक्स.
मैंने कहा- आपने भी मुझे खुश कर दिया मॉम.

फिर मॉम खाना बनाने लगीं और मैं बाहर घूमने निकल गया.

उसके बाद मैं मॉम को अब तक कई बार चोद चुका हूँ.
[email protected]

आपको मेरी यह सच्ची सेक्स घटना कैसी लगी मुझे Telegram पर ज़रूर बताये में आपके comment और message का इंतज़ार करूगा. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं.

Mom ki chut ka pani pi kar chudai - Maa beta Kahani

Read in English

Mom ki chut ka pani pi kar chudai – Maa beta Kahani

Maa beta Kahani: My mom is very sexy. She keeps on grooming as if she is telling everyone to come to fuck me. I also wanted to fuck Mom. Enjoy my story of mom sex.

My name is Sameer and I am 21 years old. My father had a job in Dubai. My mother’s age will be around 42 years, but she does not look more than 35 years old.
My mom’s figure will be 34-30-36. His ass is almost completely ejected. My mom always wears saris for Maa beta Kahani.

Those saris are tied in such a way that their unseen body looks completely in such a way, that after seeing it, the cocks of the watchers are set on fire. For example, his navel was always visible. The sari’s pallu was placed on the hips in such a way that her tits looked completely puffy and Maa beta Kahani.

Mom never covered the cleavage of her tits, the white crack of her silky nipples was visible from her deep-throated blouse, the pallu of Mom’s sari was tightened on her tits in such a way that two of her tits Lumps have been tied in air filled with balloons and Maa beta Kahani.

Seeing them in this way, I used to think about fucking them. I used to think that my mom is not satisfied with the absence of father, that is why she looks so sensual, so that she can find cocks for herself for Maa beta Kahani.

One day Mom was changing clothes, I was watching them secretly. Mom first took out her sari, after that mom became completely naked after taking off her petticoat and bra panty. I was watching Mom getting naked from the door the Maa beta Kahani.
As soon as my mom was completely naked, my heart broke. I was shaking my cocks and watching them.


After getting naked, he took oil and applied it on his pussy. Then rubbed on the pussy. Mom rubbed her nipples a bit and grabbed her nipple and pulled her nipples forward and closed her eyes and enjoyed it. It was clear to me that their sex.

Maa beta kahani After rubbing the mums and pussy with oil, Mom removed a new fancy bra and panty. This bra panty set was yellow. He wore it with great care, then wandered in the mirror and saw himself, setting panty bra on his mummies and ass the Maa beta Kahani. After that she wore a sari.

I understood that mom can come out at any moment, so I went to the bathroom from there rubbing cocks. On the other hand, I kicked the name of Mom and started watching TV on Maa beta Kahani.

Mom gave me a voice and said- If you want anything, say, I am going to the market.
I said – no, I don’t want anything right now, how long will you be back?
Mom said- I will come in an hour for Maa beta Kahani.

I let them go by saying ok. Mom went away shaking her ass.

After that whenever I had a chance, I would look at Mom and kill Muth for Maa beta Kahani.

Once I was beating my mouth. Mom saw me doing this. I had his panty in my hand, I was sniffing the part near his pussy and licking my mouth in fun with Maa beta Kahani.
They saw me doing this and shouted – what are you doing?
I was scared… I was told nothing.

After that Mom came close to me, pulled her panty with my hands and went away. I was very nervous and could not get my eyes on him.

Maa beta kahani
Two days later I talked to him. I apologized to him and said – Mom I made a mistake… it will not happen from now on.
He said in a humble voice – sons do not do this… This is all wrong.
I said – Mom was feeling very much for me… that’s why I did it Maa beta Kahani.
She said with a little thought – hmm… all this is done sometimes. It is wrong to do this every day.

At first I was shocked if Mom knew the matter of killing me every day. Still, I did not dare to ask Mom anything more.
I bowed my head and said – Okay.
Then I went from there.

On the fifth day of this incident, I was beating again. Then Mom came again. I stopped. Mom came to me and said that if I do it so soon, then all your strength will be released.
I was holding cocks in my hand. I said nothing the Maa beta Kahani.

He did an unexpected thing. Mom took my cock in her hand and slowly started going up and down. I was completely speechless. I could not understand what to do. My skull was not working at all.

cript>

She kept pushing my cock back and forth. After some time the lava of my cock was about to come out, so I said – ah gonna leave for Maa beta Kahani.
Mom stopped after hearing this.

Then without fear I slowly laid my hands on her mummies. Although my ass was bursting, he did not say anything. I slowly suppressed one of Mom’s milk the Maa beta Kahani.
Mom looked with lust in my eyes, then I pressed both of their mangoes 2-3 times with both hands.

Maa beta kahani
I started enjoying my mom’s milk very much. I kept on pressing mom’s mamma. Sometimes I used to press this one, sometimes the other one. Mom was also looking for fun.

Then Mom started shaking my cock. I was pressing her milk from over Mom’s blouse. When we both got into fun, I slowly started to open his buttons. After that, Mom’s blouse was removed from over Maa beta Kahani.

Now her cunts were in front of me in a red bra. Mom’s Tits looked very sexy in bra. Her Tits were almost naked, only Bra had done the job of supporting them from below the Maa beta Kahani.

I was suppressing mom’s mommy. By then my cock started crying in Mom’s hand and her goods went out.

The entire stock of my cocks was put in his hands. She was still looking my cock back and forth in my eyes. I was also sighing and looking at him, his tits were being pressed in Maa beta Kahani.

After a minute we both separated. Mom did not stop her blouse. His aunts continued to look like this.

I looked at him with lust, then after sometime Mom said – that’s all for today… I have work.

Then she closed the blouse properly and went away. I had a lot of fun today. What had not happened till date, it happened suddenly the Maa beta Kahani.

Now everything was going well. I used to think of Chodne after seeing Mom everyday. But I never said in my mouth that I want to fuck. Just once a week, I used to rub cocks in front of Mom… So Mom used to gesture to me to shake herself.

Maa beta kahani
Then I and my mother were at home one day. I went to my mother and said- Mother, do it again today!
Mom said – what should I do?
I said – that only.
She said no.

I requested a lot, so she agreed. I removed the paint, then removed the underwear and was completely naked the Maa beta Kahani.
Mom said – what was the need to remove the whole cloth?
I said – I like it. Do you
I gave my cock in their hands.

He started sitting and moving cocks. I put a kiss on his cheeks. After that I removed her blouse. After that I also slowly opened the bra hook from behind the Maa beta Kahani.
Mom said in an intoxicating manner – what is he doing?

I said nothing. After that, he kept pressing Mom’s mother. Today Mom’s naked boobs looked very cool. His big boobs were not coming in my hand. I slowly began to kiss Mom’s mother like Maa beta Kahani.

Mom was also having fun now. The sound of ‘Aaa … Yehhhh ..’ was coming out of his mouth too. Mom was shaking my cock, after that I told Mom to walk on the bed. Mom quickly agreed. We both came to the same bed in his room in Maa beta Kahani.

After that Mom was busy moving my cock. I was pressing his pussy, even kissing. Mom was also having fun with Maa beta Kahani.

Then I put Mom on the bed and started kissing them. I started kissing him everywhere. Sometimes on his lips, sometimes on the cheek, sometimes on the stomach, sometimes he was sucking teaspoons like Maa beta Kahani.

Erotic smiles started coming from Mom’s mouth- Ahhhh… Ahhhhh ..

Maa beta kahani
I picked her sari, then saw that she wore pink colored panties. I started caressing Mom’s pussy from above the panties. Mom was just doing ‘Ahh Ahhh ..’.

Then I took out the panty and did a kiss on the pussy… So Mom started suddenly strutting. If I kept doing this, Mom opened her legs. I started licking her pussy. Mom started pressing my head on the pussy with her hands. Mom was enjoying having her pussy licked by me.

After sucking pussy for 5 minutes, I told Mom – I am going to fuck you.
She said- Yes… Chod de son… Ah, cool your mom’s fire today too… Ahhhh.

I rubbed my cocks on my pussy 5-6 times and put it inside. Mom’s pussy was very wet, so my cock penetrated right away. As soon as half of the cocks entered, a sigh came out of Mom’s throat and after that Mom started taking alcoholic sizzlers.

“Ummh… Ahhh… Hahh… Yah… Very good.”

I slowly put the whole cocks in the pussy. My mom was fucking her ass bouncing.

For some time I kept fucking him from above. Then I took out the cocks. Mom looked at me angrily, so I asked her to become a mare. Mom quickly became a mare.

use
After that, I again grabbed the cocks by hand and set on Mom’s pussy and started fucking inside. Mom was also fucking fun. She was saying – Ah and Tej Chodo me… and Tej Chod son… full cock payll…

Maa beta kahani
Mom collapsed after about 17-18 minutes.
I was also going to fall, I said to Mom – have to change the position.
Mom agreed.

After that I took Mom to one corner of the bed. I stood down and started fucking Mom. After some time I left my cock water in Mom’s pussy.
After that we both lay down.

After a while I woke up, so I saw that the juice was coming out of Mom’s pussy.

I started licking Mom’s pussy.
Mom said – just do it… how much will I do…
I licked Mom’s pussy. I had eaten all their juice.

I said to him- Mom, have to do one more time.
Mom said- Now just do it later.
I said – please.
Mom agreed.

Fucking of both of us started again. I fuck them for 35 minutes. Later we both collapsed.
I had a lot of fun today. To my mom as well as me.

Maa beta kahani
After that Mom and I went to the bathroom. We cleaned each other and put on clothes.

Mom started doing her work. I stood up to him. Mom said- today you gave a lot of fun son… thanks.
I said – you also made me happy mom.

Then Mom started cooking and I went out for a walk.

After that, I have fuck Mom many times till now.
[email protected]

Read More Chudai Story –

Chudi ki khani मसाज करके मां की चुदाई 1 Real Family Sex Fun

Hindi sixy story पड़ोसन आंटी की चुदाई का मजा1 Fun With Aunty

Hindisexstory मॉम की चुदाई की प्यास बेटे ने बुझाई1 Fun Story

Leave a Comment

org/tools/popad.js">