Kamuk stories 1 टीचर के साथ चुदाई की क्लास Sexy Fun

टीचर के साथ चुदाई की क्लास Kamuk stories

Kamuk stories: मेरी मैथ्स टीचर का भरा गोरा बदन, बड़े बड़े चूचे और जबरदस्त कूल्हे! बहुत सेक्सी थी वो! मुझे बहुत अच्छी लगती थी वो! मैडम के साथ मेरी सेक्स की क्लास कैसे लगी?

दोस्तो, मेरा नाम शिवम् है, उत्तर प्रदेश रहने वाला हूं, दिखने में औसत से ऊपर, कद 5’8″ और सांवला रंग। मैं कुछ समय से MastHindiStory का नियमित पाठक हूं और यहां लिखी कहानियों का लुत्फ लेता रहता हूं।

कुछ दिनों से अपने साथ हुए एक मीठे अहसास को आप सभी के साथ बांटना चाहता था। यह घटना कुछ साल पहले की है जब मैं 19 साल का था. फिलहाल मैं 26 साल का एक आकर्षक युवक हो चुका हूं।
चलिए अब अपने अनुभव की ओर ले चलता हूं आपको।

बात उस समय की है जब मैं स्कूल में कक्षा बारहवीं का छात्र था।
मैं शुरू से ही पढ़ाई में काफी तेज़ था और हमेशा अपनी क्लास में फर्स्ट आता था जिसकी वजह स्कूल के सारे टीचर्स मुझे बहुत मानते थे। एक मैम हमको मैथ्स पढ़ाती थीं जिनका नाम प्रीति था। उम्र में लगभग 38 की शादीशुदा और एक 7 साल की बेटी की मां थी। भरा भरा गोरा बदन, बड़े बड़े चूचे और जबरदस्त कूल्हे की मालकिन थी वो!

पर चूंकि मुझे इस उम्र तक सेक्स का इतना ज्ञान तो था पर कभी प्रैक्टिकल नहीं किया था, मैंने हमेशा उनको इज्जत और एक स्टूडेंट की नजर से ही देखा था।

जब मैं कक्षा ग्यारहवीं में गया तो वो हमारी क्लास टीचर बना दी गईं। मैं बहुत खुश हुआ क्यूंकि वो मुझे बहुत अच्छे से जानती थीं और बहुत मानती थीं। मुझे बस इसी बात की खुशी थी कि अब मैथ्स में तो मैं ही टॉप करूंगा पर इसके साथ साथ और जो खुशी मिलने वाली थीं उसका मुझे अंदाज़ा ही नहीं था।

मैम के हसबैंड बिजनेसमैन थे जिसकी वजह से वो अक्सर शहर बाहर टूर पर जाया करते थे, बेटी भी बोर्डिंग स्कूल में थी। मैम का घर जिस एरिया में था वो थोड़ा सुनसान था तो जब भी उनके हसबैंड बाहर जाते थे तो वो हमारे स्कूल की ही एक 12वीं क्लास की स्टूडेंट, जिसका नाम निधि था, को अपने घर रात रुकने के लिए बुला लेती थी।
क्योंकि निधि मैम से ट्यूशन लेती थी इसलिए कभी कभी वहीं रुक जाती थी।

Kamuk stories

अगस्त का महीना था जब हमारे अर्धवार्षिक परीक्षा शुरू होने वाली थी. तब मैम को काफी सारा सलेबस पूरा करवाना था और रिवीजन भी करवाना था। उसी टाइम पर उनकी तबीयत भी कुछ खराब रहने लगी जिसकी वजह से असाइनमेंट्स भी नहीं चेक कर पाईं।

एक दिन उन्होंने मुझे स्कूल की छुट्टी के बाद रोका और बोली- शिवम्, काफी सारा असाइनमेंट्स चेक करना है और मेरे हसबैंड भी बाहर गए हुए हैं. मेरी तबीयत भी ठीक नहीं लग रही तो क्या तुम शाम मेरे घर आकर कॉपीज चेक करने में मेरी हेल्प कर दोगे?
मैंने कहा – क्यों नहीं मैम, आप टाइम बता दो, मैं जाऊंगा।

शाम को करीब 5 बजे मैं मैम के घर पहुंचा, मैंने बेल बजाई, मैम ने दरवाजा खोला, उन्होंने काले रंग की मैक्सी पहन रखी थी।

यह पहली बार था जब मेरे मन में हवस की भावना जगी … वो भी अपनी टीचर के लिए। एक पल लिए मैं अकबका सा गया क्योंकि वो बला की खूबसरत लग रही थी.
मेरा तो मन हुआ कि मैं उनके होंठों को चूम लूं पर फिर किसी तरह मैंने अपने आप को सम्भाला और गुड इवनिंग बोलते हुए अन्दर आ गया.

चूंकि शाम का समय था मैम ने मुझे चाय के लिए पूछा और मैंने हां कर दी.
वो चाय बनाने रसोई में चली गई।

तब तक मैंने टी वी ऑन किया और मूवी देखने लगा।

जब वो चाय लेकर वापस आयी तब मूवी में एक गरमागरम सीन चल रहा था. जैसे ही मैंने उनको आते हुए देखा मैंने चैनल बदल दिया पर प्रीति मैम ये देख चुकी थीं।

Kamuk stories

चाय पीते हुए हम यूं ही इधर उधर की बातें करते रहे.
फिर उन्होंने मुझसे कहा कि कॉपीज चेक करने में मैं उनकी हेल्प करूँ.
हम दोनों कॉपी चेक करने लगे और बातचीत भी चलती रही.

अचानक से वो मुझसे बोली- शिवम् तुम टीवी पर कौन सी मूवी देख रहे थे?
मैंने कहा- मुझे नाम नहीं पता!
तो वो बोली- उस मूवी का नाम मर्डर है. और तुमको अभी वो मूवी नहीं देखनी चाहिए.
इस पर मैंने उनसे पूछा- क्यों नहीं देखनी चाहिए?
तो उन्होंने कहा- वो बड़े लोगों के देखने वाली फिल्म है.

मासूमियत से अनजान बनते हुए मैंने कहा- मैं भी बड़ा हूं।
मेरी इस बात पर प्रीति मैम हंसने लगी और उन्होंने मेरा गाल खींच लिया।

ये पहली बार था जब अपने से उम्र में इतनी बड़ी किसी औरत से इस तरह बात रहा था. इससे पहले सिर्फ आंटी कह कर या रिस्पेक्ट से ही बात की थी। मैम तो मुझसे मेरे दोस्तों की तरह बातें कर रही थी।

यूं ही हम बातें करते करते कॉपीज चेक कर रहे थे।

मैंने बात को आगे बढ़ाने के लिए उनसे पूछा- आपको कैसे फिल्म का नाम मालूम है?
तो वो बोली- मैंने फिल्म देख रखी है।
मैंने आगे पूछा- क्या है फिल्म में?

वो जवाब देने ही वाली थी कि तभी बाहर हल्की हल्की बारिश शुरू हो गई। मैम जल्दी बाहर लॉन में कपड़े लेने लिए भागी जो सुखाने को डाले थे। मैं भी बिना कुछ सोचे समझे उनके पीछे गया. पर जब तक सारे कपड़े उतार पाते, हम दोनों ही काफी भीग चुके थे।

Kamuk stories

कमरे में वापस आकर मैम ने मुझसे कपड़े बदलने को कहा. पर मेरे साइज़ के कपड़े उनके पास नहीं थे तो मैं उनके हसबैंड की लुंगी पहन कर बैठ गया।
मैम अन्दर जाकर एक ढीला सा गुलाबी रंग का गाऊन पहन के बाहर आयी।

मैं बस उनको देखता ही रह गया। शर्तिया उन्होंने अन्दर ब्रा नहीं पहनी थी क्योंकि उनके चूचे रोज की अपेक्षा कुछ ज्यादा ही बड़े दिख रहे थे और हिल भी रहे थे।
मेरा ध्यान अब दोबारा कॉपी चेक करने में नहीं लग रहा था।

बारिश में भीगने की वजह से मैम बाल भी खोल कर आई जो कि और भी आग में घी का काम कर रहे थे।
मैं उनकी नजर बचा के उनके कभी उनके होंठ देखता तो कभी उनके चूचे।

मैम ने शायद मुझे ये सब करते देख लिया था पर वो कुछ बोली नहीं।
कुछ देर बाद वो खुद ही बोली- आज के लिए बस करते हैं, चलो टीवी पर कुछ देखते हैं।
हम टीवी देखने लगे और वो इधर उधर की बातें मुझसे करने लगी।

देखते ही देखते 9 बज गए तो मैंने घर वापस जाने की बात की तो प्रीति मैम ने मुझसे कहा- शिवम्, तुम रात को मेरे घर ही रुक जाओ। मेरे हसबैंड बाहर गए हैं और अकेले मुझे डर लगता है।
इस पर मैंने उनसे कहा- मैंने घर पर बताया नहीं है।
वो बोली कि वो मेरी मम्मी से बात कर लेंगी.
और वो मेरी मम्मी को फोन करने अन्दर चली गई.

वापस आकर बोली- मैंने तुम्हारे घर पर बात कर ली है, तुम यहां रुक जाओ।
मैंने कहा- ठीक है पर मेरे कपड़े?
उन्होंने मुझे अपने हसबैंड की शोर्ट्स और टीशर्ट दे दी।

इसके बाद हम लोग डिनर करने लगे और उसके बाद मैंने मैम से पूछा- मैं कहा सोऊंगा?
तो उन्होंने मुझे गेस्ट रूम दिखा दिया.

Kamuk stories

मैं गुडनाईट बोल कर सोने के लिए जाने लगा तो वो बोली- इतनी जल्दी सो जाओगे क्या?
मैंने कहा- घर पर तो इसी टाइम पर सोता हूं।
इस पर वो बोली- कुछ देर टीवी देखते हैं, फिर सो जाना।
मैंने कहा- अच्छा आइडिया है।

फिर हम दोनों मैम के बेडरूम में जाकर बेड पे बैठ कर एक मूवी देखने लगे.
तभी प्रीति मैम ने मुझसे पूछा- तुमने क्या सच में वो मूवी नहीं देखी है?
मैंने अनजान बनते हुए कहा- कौन सी मूवी मैम?
वो बोली- वही जो दिन में देख रहे थे … मर्डर!
मैंने कहा- हां वो तो नहीं देखी है।

मैम ने कहा- देखनी है क्या?
मैंने एक्साइटेड होते हुए कहा- हां।
इस पर वो बोली- इसके बारे में किसी को बताना मत. ओके?
मैंने कहा- प्रॉमिस।

फिर वो मर्डर मूवी की डीवीडी लेकर आई और प्ले किया। कुछ देर तक तो नॉर्मल सब चलता रहा फिर अचानक किसिंग सीन्स शुरू हुए, मेरा लन्ड धीरे धीरे सख्त होने लगा।
मैम ने पूछा- कैसी लग रही है मूवी?
मैंने कहा- अच्छी है, बहुत अच्छी!
वो बोली- मम्मी से शिकायत कर दूंगी कि ये फिल्में देखते हो.

मैं थोड़ा डर गया. फिर हिम्मत करके बोला- आप भी तो देखती हो?
तो वो हंसने लगी और बोली- मैं देख सकती हूं।

Kamuk stories

हम मूवी देखते रहे और मेरी नज़रे अब मैम की चुचियों पर फिर से जाने लगी अब धीरे धीरे फिर से मेरा लन्ड खड़ा होने लगा मैम भी थोड़ा थोड़ा मूवी के खुमार में आ चुकी थीं।
मैंने मौका देखते ही मैम के हाथ पर अपना हाथ हल्के से रख दिया.
मैम ने पूछा- क्या हुआ?
मैंने कहा- प्रीति मैम, आय लव यू।
इस पर वो बोली- व्हाट?
मैंने कहा- मैं आपसे प्यार करता हूं।

वो हंसने लगी और बोली- पता भी है क्या होता है प्यार?
मैंने कहा- हां पता है।
उन्होंने पूछा- क्या होता है बताओ?

मैंने उनके होंठ चूम लिए और बोला- ये होता है।
इस पर मैम कुछ देर चुप रहीं.
मेरी हालत खराब होने लगी कि कहीं बात उल्टी ना पड़ जाए.

कुछ देर बाद वो बोली- शिवम् तुम मेरे फेवरेट स्टूडेंट हो क्योंकि तुम पढ़ाई में सबसे अच्छे हो! पर इस फील्ड में भी तुमको इतनी जानकारी है, यह नहीं पता था।
ये बोल कर उन्होंने मुझे अपनी ओर खींच लिया और कहा- आय अल्सो वांट टू ट्राय समथिंग विथ माय फेवरेट स्टूडेंट! (मैं भी अपने पसंदीदा छात्र के साथ कुछ करना चाहती हूँ.)

Kamuk stories

यह बोलते ही उन्होंने अपने रसीले होंठ मेरे होंठों पर रख दिए और जोर जोर से चूसने लगी, मैं भी पूरे जोश से उनके रसीले होंठ चूसने लगा।
मेरे हाथ उनके चूचों पर जा पहुंचे और हल्के हल्के हाथों से मैंने उनके दोनों कबूतरों को मसाज देना शुरू कर दिया। जल्दी ही दोनों कबूतर सख्त होने लगे और निप्पल सख्त होने लगे.

अब मेरा एक हाथ उनके चूचे पर और दूसरा उनके बालों में था।
मैंने उनके गले को चूमना शुरू तो वो मानो पागल सी हो गई।
उनकी गर्दन उनका उत्तेजना का केंद्र था।

वो उम्मह … उउम्मह… करने लगी, गले को चाटने के बाद मैं कानों को जीभ से सहलाने लगा और वो और भी एक्साइटेड होने लगी- ओह शिवम् … लव मी बेबी … लव मी … करने लगी।

मैंने अपने हाथ उनके गाऊन मे डाल दिए, मेरा शाम का शक सही था उसने अन्दर ब्रा नहीं पहनी थी, सीधे मेरे हाथों में उसके बड़े बड़े दूध आ गए। मैंने उसके दूध से खेलना शुरू किया, पहले हल्के हल्के हाथों से और फिर जोर जोर से मसलना शुरू किया।

Teacher Ke Saath Sex ki Class Kamuk stories

वो पूरी तरह अब काम वासना में जलने लगी थी और मादक आवाजें निकालने लगी।

मैंने उसका हाथ पकड़ कर अपने लन्ड पर रख दिया और वो शॉर्ट्स के ऊपर से ही मेरे लंड को सहलाने लगी. मेरा लन्ड पूरी तरह सख्त हो गया।

अब मैंने मैम के गाऊन की डोरी खोल दी और मेरी आंखों के सामने उनके दोनों बड़े बड़े बूब्स आ गए. मैंने झट से अपना मुंह कान से हटाया और जीभ से बूब्स चाटने लगा।

मैं जीभ को निप्पल के आस पास गोल गोल घुमाने लगा जिससे उसके निप्पल बहुत कड़क हो गए साथ ही साथ मैं उसके बूब्स को जोर जोर से दबा भी रहा था।

इधर मैम ने भी मेरे शॉर्ट्स के अंदर हाथ डाल दिया और मेरे बाल्स और हल्की हल्की उगी हुई झांटों से खेलने लगी। साथ ही साथ मेरे लन्ड को स्ट्रोक भी कर रही थी। मैंने उसका गाऊन पूरा उतार के उसको नंगी कर दिया।

Kamuk stories

अब उसके बदन पर सिर्फ़ एक काली रंग की पैंटी बची थी, मैंने अपना हाथ उसकी चूत पर पैंटी के ऊपर से ही फिराना शुरू किया।
उसकी चूत पर हल्के हल्के घुंघराले बाल मैं पैंटी के ऊपर से ही महसूस कर पा रहा था।

मैम सिसकारियां लेते हुए बोलीं- स्सस … उम्मह … शिवम् लव मी बेबी … लव मी.
मैंने अपना हाथ उसकी पैंटी में डाल दिया और चूत को सहलाने लगा। उनकी चूत अब तक काफी गीली हो चुकी थी और मैं उसका गीलापन अपनी उंगलियों पर महसूस कर रहा था।
इधर मैम ने मेरा शॉर्ट्स उतार दिया था और मेरे लन्ड को जोर जोर से झटके दे रही थी।

मेरा लन्ड पूरी तरह तैयार हो चुका था.
तभी वो बोली- पहले हाथ से मुझे ओर्गैस्म करवाओ.

मैंने उसकी चूत में एक उंगली डाल दी और अन्दर बाहर करने लगा. उनकी चूत के पानी से काफी आसानी से मेरी उंगली अंदर बाहर चल रही थी। फिर मैंने दूसरी उंगली भी अंदर डाल दी और तेज़ी से अंदर बाहर चलाने लगा।
वो पूरी तरह पागल होने लगी और मादक आवाजें निकालने लगी- उम्म्ह… अहह… हय… याह…

Teacher Ke Saath Sex ki Class Kamuk stories

कुछ देर उसकी चूत रगड़ने से वो अपना माल छोड़ने ही वाली थी कि मैंने अपनी उंगलियां उसकी चूत से बाहर निकाल ली और हल्के हल्के हाथ से उसकी चूत पर थपकी देने लगा जिससे वो पूरी लाल हो गई।

फिर मैंने थोड़ा और ज़ोर से चांटा मारना शुरू किया उनकी चूत पर जिससे वो और भी एक्साइटेड हो गई और बोलने लगी- प्लीज़ बेबी… मेक मी कम शिवम् … प्लीज़ … मेक मी कम.
मैंने झट से उंगलियां चूत में डाल दी और तेज़ी से अंदर बाहर करने लगा और जल्दी ही उसने अपना पूरा माल मेरे हाथ पर छोड़ दिया। मैंने टिश्यू पेपर से मैम की चूत साफ की.
अब उसकी बारी थी मुझे मजे देने की।

Kamuk stories

और फिर वो मेरे लन्ड को हाथ में लेकर खेलने लगी।
खेलते खेलते उसने मेरे लन्ड पर किस करना शुरू किया और फिर लंड के टोपे को जीभ से चाटने लगी, कुछ देर तक चाटने से मेरा लन्ड पूरा टाइट हो चुका था उसकी कोमल जीभ मुझे बहुत आनन्द दे रही थी।

फिर उसने पूरा लन्ड चाटना शुरू किया और अपने थूक से पूरा लन्ड गीला कर दिया।

Teacher Ke Saath Sex ki Class Kamuk stories

मैम बड़ी ही अभ्यस्त तरीके से मेरा लंड चूसने लगी और साथ ही साथ हाथ से लंड को रगड़ भी रही थी।
मैं भी उसकी चूचियां दबाने में लगा हुआ था.

जैसे ही उसने जोर जोर से अपनी जीभ का जादू मेरे लन्ड पर चलाया, मैं चरम आनंद के करीब आता जा रहा था। कुछ ही देर मेरे लन्ड का लावा बाहर आ गया। मैं मैम के मुंह में ही छोड़ना चाहता था पर वो अनुभवी थी इसलिए जल्दी से मेरा लंड मुंह से बाहर निकाल लिया और अपने बड़ी बड़ी चूचियों पर सारा माल गिरा लिया।

फिर उसने टिश्यू पेपर से अपने चूचे साफ किए और हम दोनों थोड़ी देर के लिए वैसे ही नंगे बाते करने लगे।
मैम ने मुझसे पूछा- शिवम्, क्या ये तुम्हारा पहली बार था?
मैंने कहा- हां मैम।

इस पर वो बोली- मैम स्कूल में, यहां मैं तुम्हारे लिए प्रीति हूं.
फिर वो बोली- आज पहली बार के लिए इतना काफी है. बाकी चीज़े धीरे धीरे ट्राय करेंगे.
और मुझसे कॉफी के लिए पूछा।
मैंने हां में जवाब दिया.
और वो बिना पैंटी के सिर्फ़ गाऊन डालकर कॉफी बनाने चली गईं।

मेरा मन तो हुआ कि अभी ही इसको चोद लूं पर जल्दबाजी करना ठीक नहीं लगा. वैसे भी सब मज़े एक साथ खत्म हो जाते, मैं तो आराम सब ट्राय करना चाहता था।

Kamuk stories

कुछ देर में वो कॉफी लेकर आई और हमने काफी एन्जॉय की.

इसके बाद हम दोनों ने एक लंबा लिप लॉक किया और दूसरे को प्यार से गुडनाईट बोल कर अपने अपने कमरे में सोने चले गए।

आपको मेरा टीचर के साथ सेक्स का पहला अनुभव कैसा लगा जरूर बताएं।
आप के विचारों और सुझावों का स्वागत है। [email protected] पर सम्पर्क करें।

आपको मेरी यह सच्ची सेक्स घटना कैसी लगी मुझे Telegram पर ज़रूर बताये में आपके comment और message का इंतज़ार करूगा. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं.

Teacher Ke Saath Sex ki Class Kamuk stories

Read in English

Teacher Ke Saath Sex ki Class Kamuk stories

Kamuk stories: My math teacher’s full blond body, big boobs and tremendous hips! She was very sexy! I loved it very much! How did I get my sex class with Madam?

Friends, my name is Shivam, hailing from Uttar Pradesh, above average in appearance, 5’8 ″ and dark complexion. I am a regular reader of MastHindiStory for some time and enjoy the stories written here in the Kamuk stories.

Wanted to share with you all a sweet feeling that has happened to you since few days. This incident happened a few years back when I was 19 years old. At the moment, I am a charming young man of 26 years.
Now let me take you towards my experience in the Kamuk stories.

It was at that time that I was a student of class XII in school.
I was very fast in studies from the beginning and always came first in my class, due to which all the teachers of the school considered me very much. One mother used to teach us maths named Preeti. Married at age 38 and was the mother of a 7-year-old daughter. She was the mistress of a full blond body, big boobs and a huge ass in Kamuk stories.

But since I had so much knowledge of sex up to this age but had never practiced it, I had always seen him with respect and the eyes of a student but Kamuk stories.

When I went to class XI, she was made our class teacher. I was very happy because she knew me very well and believed in her very much. I was just happy that now I will top maths, but I did not know the happiness that would come with it in Kamuk stories.

Mam’s husband was a businessman due to which he used to go on out-of-town tours often, daughter was also in boarding school. The area where Mam’s house was in was a little deserted, so whenever his husband went out, he would call a 12th class student of our school, named Nidhi, to stay overnight at his house the Kamuk stories.
Because Nidhi used to take tuition from MAM, she sometimes stayed there.

Kamuk stories
The month of August was when our half-yearly examination was about to begin. Then Mam had to complete a lot of celebrations and get revision done. At the same time, his health also started to deteriorate due to which he could not check the assignments for Kamuk stories.

One day he stopped me after school leave and said- Shivam, I have to check a lot of assignments and my husband has also gone out. If my health is not feeling well, will you come to my house in the evening and help me in checking the copy?
I said – why not ma’am, tell me the time, I will go for Kamuk stories.

cript>

At about 5 in the evening I reached Mam’s house, I rang the bell, Mam opened the door, he was wearing a black maxi and Kamuk stories.

This was the first time I had a feeling of lust in my mind… that too for my teacher. For a moment I went to Akbaka because she looked like a lot of trouble the Kamuk stories.
I felt like kissing their lips, but then somehow I managed myself and came in speaking good evening.

Since it was evening, Mam asked me for tea and I said yes.
She went to the kitchen to make tea then Kamuk stories.

By then I turned on TV and started watching movies for Kamuk stories.

When she came back with tea, a hot scene was going on in the movie. As soon as I saw them coming, I changed the channel but Preity Mam had seen it.

Kamuk stories
We continued talking here and there while drinking tea.
Then he asked me to help him in checking the copies.
We both checked the copy and the conversation continued.

Suddenly she said to me – Shivam which movie were you watching on TV?
I said – I do not know the name!
So that quote – the name of that movie is Murder. And you should not watch that movie right now.
I asked him why he should not watch it the Kamuk stories.
So he said – it is a film for big people to watch.

Being ignorant of innocence, I said- I am also big.
Preity Maam started laughing at me and she pulled my cheek.

This was the first time when I was talking to a woman so much older than myself. Earlier, he had spoken to the aunt only or to the prospect. Mam was talking to me like my friends.

Just as we were talking, we were checking copies for Kamuk stories.

I asked him to take the matter forward – how do you know the name of the film?
So she said – I have seen the film.
I further asked – what is in the film?

She was about to answer that only then light rain started outside. Mam quickly ran out into the lawn to take clothes that had been put to dry. I also followed them without thinking anything. But by the time all the clothes were removed, both of us were quite wet.

Kamuk stories
Returning to the room, Mam asked me to change clothes. But he did not have clothes of my size, so I sat down wearing his husband’s lungi.
Mam went inside and came out wearing a loose pink colored gown on Kamuk stories.

I just kept looking at him. Bet he did not wear a bra inside because his feet looked much bigger than the daily and were moving in Kamuk stories.
My attention was no longer in checking the copy again.

Due to the soaking in rain, mam hair also opened, which was also working like ghee in the fire.
I avoided his eyes and sometimes he would see his lips and sometimes he cried for Kamuk stories.

Mam may have seen me doing all this, but she did not say anything.
After some time, he himself said – let’s do it for today, let’s see something on TV.
We started watching TV and she started talking to me here and there like Kamuk stories.

As soon as it was 9 o’clock, I talked about going back home, then Preeti Maam told me – Shivam, you stay at my house at night. My husband has gone out and I am scared alone.
I told him on this – I have not told at home.
She said that she will talk to my mother.
And she went inside to call my mother in Kamuk stories.

He came back and said- I have spoken at your house, you stay here.
I said – okay but my clothes?
They gave me their husband’s shorts and t-shirts for Kamuk stories.

After this we started having dinner and after that I asked maam – where will I sleep?
So they showed me the guest room.

Kamuk stories
When I started going to sleep speaking Goodnight, then she said- Will you sleep so soon?
I said – I sleep at home at this time.
He bid on it – watch TV for a while, then go to sleep.
I said – good idea.

Then we both went to Mam’s bedroom and sat on the bed and started watching a movie.
Then Preeti Maam asked me – Have you not really seen that movie?
I said unknowingly – which movie ma’am?
He said – what he was seeing during the day… Murder!
I said – yes she has not seen it the Kamuk stories.

Mam said- what to see?
I said while excited – yes.
He bid on it – do not tell anyone about it. Okay?
I said – Promise.

Then she brought the DVD of the Murder Movie and played it. For a while, the normal things continued, then suddenly kissing scenes started, my land slowly started to harden.
Mam asked- how is the movie looking?
I said – good, very good!
She will complain to her mother that she watches movies.

I got a little scared. Then said boldly- You also see?
So she started laughing and said- I can see.

Kamuk stories
We kept watching the movie and my eyes now started going again on Maam’s fingers, now slowly my land started to stand again, Mam had also come into the hang of the movie.
On seeing the opportunity, I put my hand lightly on Mam’s hand.
Mam asked- what happened?
I said – Preity ma’am, I love you for Kamuk stories.
She bid on it – what?
I said – I love you.

She started laughing and said- Do you even know what is love?
I said yes you know.
He asked- what happens?

I kissed her lips and said – this happens.
Mam kept quiet for a while like Kamuk stories.
My condition started deteriorating so that the matter does not vomit.

After some time she said- Shivam, you are my favorite student because you are the best in studies! But even in this field you have so much information, it was not known.
Saying this, he pulled me towards him and said – I also want to try something with my favorite student! (I also want to do something with my favorite student.)

Kamuk stories
As soon as he said this, he put his juicy lips on my lips and started sucking hard, I too started sucking his juicy lips with full enthusiasm.
My hands reached his feet and with light hands I started massaging both of their pigeons. Soon both pigeons started hardening and the nipples started hardening for Kamuk stories.

Now I had one hand on his cock and the other in his hair.
When I started kissing his throat, he became as crazy.
His neck was the center of his excitement in Kamuk stories.

She started doing ummah… ummm… after licking the throat, I started rubbing my ears with tongue and she started to get excited even more – oh Shivam… Love me baby… Love me….Kamuk stories.

I put my hands in their gown, my evening doubt was right, she did not wear bra inside, her big milk came directly in my hands. I started playing with his milk, first with light hands and then with great vigor.

Hindi xxx khani
She was now completely ablaze in sexual sensuality and started to get intoxicating voices.

I held her hand and put it on my land and she started caressing my cock from the top of the shorts. My land became completely hard on Kamuk stories.

Now I opened the lanyard of ma’am’s gown and in front of my eyes both their big big boobs came. I quickly removed my mouth from the ear and started licking the boobs with the tongue.

I started to turn my tongue around the nipple which made her nipples very hard as well as I was pressing her boobs very hard.

Here ma’am also put my hand inside my shorts and started playing with my balls and lightly raised jaunts. At the same time I was also stroking my land. I removed her gown completely and stripped her.

Kamuk stories
Now there was only one black panty left on her body, I started to move my hand over her pussy from above the panty.
I was able to feel light curly hair on her pussy from the top of the panty.

Maam Siskariya said while taking – Sss… Ummh… Shivam love me baby… Love me.
I put my hand in her panties and started caressing her pussy. His pussy was quite wet by now and I was feeling his wetness on my fingers in the Kamuk stories.
Here Mam had removed my shorts and was jerking my land very hard.

My land was completely ready.
Then she said – first make me orgasm.

I put a finger in her pussy and started going out. With my pussy water, my finger was moving in and out very easily. Then I also put the second finger in and started running out fast.
She started going completely crazy and started to get intoxicating voices- Ummh… Ahhh… Hahh… Yah…

After rubbing her pussy for some time, she was about to give up her goods that I took my fingers out of her pussy and started slapping her pussy with light hand which made her completely red.

Then I started slapping a little harder on her pussy, which made her even more excited and started speaking – please baby… make me cum Shivam… please… make me cum on the Kamuk stories.
I quickly put my fingers in her pussy and started to move in and out quickly and soon she left all her goods on my hand. I cleaned Mam’s pussy with tissue paper.
Now it was his turn to enjoy me.

Kamuk stories
And then she started playing with my hand in my hand.
While playing, he started kissing on my lund and then started licking the top of the cocks with the tongue, after licking for a while my lond was completely tight, his soft tongue was giving me great pleasure.

Then he started licking the whole land and wetting the whole land with his spit.

xxx khaniya – mosi sex story – real chudai stories
Mam used to suck my cock in a very habitual way, as well as rubbing the cocks by hand.
I was also engaged in pressing her boobs.

As he thrust his tongue out of my tongue, I was getting closer to extreme pleasure. Shortly the lava from my land came out. I wanted to leave in Mam’s mouth but she was experienced so quickly took my cock out of her mouth and dropped all the goods on her big boobs.

Then he cleaned his boobs with tissue paper and we both started talking like that for a while.
Ma’am asked me- Shivam, was this your first time?
I said yes ma’am.

On this she said – in ma’am school, here I am love for you.
Then he said- Today is enough for the first time. Will try the remaining things slowly.
And asked me for coffee and enjoy Kamuk stories.
I answered yes.
And she went to make coffee with only gown without panties.

I felt that it was not right to hurry up to Chod Lun yet. Anyway, all the fun would have ended together, I wanted to try all the rest.

Kamuk stories
In a while she brought coffee and we enjoyed a lot.

After this, both of us locked a long lip and went to sleep in our respective rooms by speaking goodnight to the other.

Tell me how you felt about your first experience of sex with my teacher.
Your thoughts and suggestions are welcome. Contact [email protected]

Read More Chudai Story –

Teacher sex story 1कुंवारी चूत की सील तोड़कर दी Sexनॉलेज nice

Hindi xxx khani इंस्टाग्राम पर मिली 1 टीचर की चुदाई Fun sex

Sex with teacher story टीचर की चूत की चटाई 1 Best Story

Teacher ki chudai story 1 कॉलेज टीचर को घोड़ी बना किया Sex

Leave a Comment

org/tools/popad.js">