Chudi ki khani मसाज करके मां की चुदाई 1 Real Family Sex Fun

मसाज करके मां की चुदाई Chudi ki khani

Chudi ki khani: यह सेक्स स्टोरी मेरी और मेरी मां की चुदाई की कहानी है. पिताजी शराबी थे और माँ घर के काम में थक कर मुझसे मालिश करवाती थी. नंगी माँ की मालिश करते करते …

हैलो फ़्रैंड्स, मेरा नाम दीपक है. यह सेक्स कहानी मेरी और मेरी मां की चुदाई की कहानी है.

मेरे परिवार में मेरी मां, पिताजी और मेरे दो भाई रहते हैं. पिताजी मज़दूरी करते हैं और मां घर पर रह कर घर के सारे देखभाल करती हैं. मेरे दोनों भाइयों की शादी हो चुकी है. वे दोनों शादी के बाद से ही दूसरे शहर में शिफ्ट हो गए हैं. मैं अभी 12 वीं क्लास में पढ़ रहा हूँ.

दोस्तो, ये तो हुआ मेरे परिवार के बारे में. अब हम मुख्य सेक्स कहानी की तरफ चलते हैं.

एक दिन की बात है, जब मैं और मेरी मां छत पर बिछौना बिछा कर लेटे हुए थे और बातें कर रहे थे. मां मुझसे बोलीं- बेटा तेरे पिता शराब बहुत पीते हैं, उनके लिए कुछ ऐसी दवाई ला, जिससे तेरे पिताजी शराब पीना छोड़ दें.
मैंने कहा- ठीक है मां.

हम दोनों बस इसी तरह की बातें कर रहे थे कि तभी कुछ समय बाद पिताजी भी आ गए. वे दारू पीकर आए थे. कुछ ही देर बाद वे मां से लड़ाई करने लगे.

मैंने जैसे तैसे उन्हें समझा कर सुला दिया. हम दोनों भी सो गए. अगले दिन पिताजी के लिए मैं नींद की गोलियां ले कर आ गया.

मैंने मां से कहा- मां इन गोलियों में से आप रोज एक गोली पिताजी की शराब में मिला दिया करो. तो पिताजी शराब पीने के बाद सो जाया करेंगे. वो सो जाएंगे, तो आपसे लड़ाई ही नहीं करेंगे.

मां ने वैसा ही किया. अब पिताजी शराब पीने के बाद कोई लड़ाई नहीं करते थे. बस खाना आदि खा कर जल्दी सो जाया करते थे.

Chudi ki khani

मैं दिन में कसरत किया करता था. मेरा शरीर बड़ा ही हष्ट-पुष्ट था. मेरी मां मुझे कसरत करते हुए देख कर बड़ा खुश होती थीं और वो मुझे ज्यादा से ज्यादा खिलाने पिलाने की कोशिश करती रहती थीं. मेरी भुजाओं पर हाथ फेर कर बड़ा गर्व महसूस करती थीं.

मुझे मालूम था कि हम लोग गरीब हैं और मां मुझे ज्यादा कुछ नहीं खिला सकती हैं, इसलिए मैं गांव में कुश्ती आदि लड़ कर इनाम वगैरह जीत लाता था. गांव के ही एक पहलवान जी मुझे दूध आदि पिला देते थे.

एक दिन शाम को सोते समय मेरी मां मुझसे कहने लगीं- बेटा, आज पूरा बदन दर्द कर रहा है, थोड़ा दबा दे.

तो मैंने कहा- मां, मैं आपकी मालिश कर देता हूँ.
इस पर मां बोलीं- मालिश बेटा रहने दे, तू थोड़ी कमर ही दबा दे, तुझे भी नींद आ रही होगी.
मैंने मां से कहा- मां मसाज करने से अच्छी नींद आती है.
इस पर मां कुछ नहीं बोलीं.

मैं रसोई से तेल ले आया और मैं मां से कहा- मां, आप अपने कपड़े थोड़े ऊंचे कर लो.

Masaaj kar ke maa ki chudai Chudi ki khani

मां ने अपनी साड़ी और पेटीकोट ऊपर कर लिए. मैंने उनकी कमर पर तेल डाल कर खूब मालिश की. मुझे इस दौरान अपनी मां की चिकनी जांघों आदि को देख कर बड़ा सेक्स सा जागने लगा था.

कुछ ही देर में मां को नींद आ गयी. मैंने देखा कि मां सो गयी हैं, तो मैं भी उनके बारे में सोचते हुए सो गया.

Chudi ki khani

अगले दिन शाम को जब शाम को सोने का टाइम हुआ तो हम दोनों रोज की तरह छत पर आ गए.

मां बोलीं- बेटा कल मुझे बड़ा चैन पड़ गया था. तू आज भी थोड़ी देर मालिश कर दे. कल की तेरी मालिश ने तो कमाल ही कर दिया था. मुझे बहुत ही बढ़िया नींद आ गई थी. मुझे कब नींद लग गयी थी, कुछ पता ही नहीं चला था.
मैंने कहा- ठीक है मां अभी कर देता हूँ.

आज मेरे दिमाग में कुछ खुराफात आ गई थी. मैं तेल लेने नीचे रसोई में गया और एक ग्लास दूध में नींद की एक गोली डालकर मैंने मां को दूध दे दिया. मैंने उनसे कहा- मां तुम ये दूध पी लो, इससे आपकी सारी थकान दूर हो जाएगी. मैं आपकी मालिश भी कर देता हूँ.

मां ने दूध पी लिया और मैं उनकी मालिश करने लगा. मैंने मां की कमर मालिश करने लगा.

कुछ देर बाद मां बोलीं- बेटा … थोड़ा जांघों की भी मालिश कर दे.
मैं उनकी चिकनी जांघों की मालिश करने लगा. इससे मां को नींद सी आने लगी थी.
मैंने कहा- मां आप सीधे सो जाओ और कपड़े थोड़े और ऊंचे कर लो.

मां ने पेटीकोट घुटनों से पूरा ऊपर उठा लिया और मां सीधे लेटकर सो गईं. मैंने मां की जांघों पर तेल टपकाया और जांघों पर मल कर मालिश करने लगा.

मालिश करते वक्त मां का पेटीकोट मुझे अड़ने लगा, तो मैंने मां को देखा. मां सो चुकी थीं, तो मैंने अपने हाथों से ही मां का पेटीकोट ऊपर को कर दिया और देखा कि मां ने अंडरवियर नहीं पहना था. झांटों से भरी माँ की चुत साफ़ दिखने लगी थी.

Chudi ki khani

ये देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया. मैंने अपने लंड पर तेल लगाया और थोड़ा सा मां की चुत पर तेल डाल दिया. फिर मैंने उनकी चुत पर हाथ फेरा और उनकी प्रतिक्रिया देखने लगा. मगर मां तो नींद की गोली के कारण गहरी नींद में सो चुकी थीं.

अब मैंने मां की चुत की खूब मालिश की और कुछ ही देर में मैं एकदम से गर्म हो गया. मां ने चुत की मालिश के समय अपनी टांगें पूरी तरह से खोल दी थीं.

Masaaj kar ke maa ki chudai Chudi ki khani

जिसे देख कर मैंने अपना छह इंच का खड़ा लंड अपनी मां की चुत पर रखा और अन्दर पेल दिया.

चूत लंड में तेल लगा के होने के कारण मेरा लंड एकदम से मां की चुत में घुसता चला गया. अब मैं मेरी मां की चुत की मालिश अपने लंड से करने लगा. मुझे अपनी मां चोदते समय बड़ा मज़ा आने लगा. मैंने खूब जमकर मां की चुत की चुदाई की.

कुछ देर बाद मैं झड़ने को हुआ, तो मैंने मां की चुत में ही सारा वीर्य खाली कर दिया. फिर चुदाई के बाद मैंने लंड बाहर निकाला और मां की चुत पोंछने के बाद उनके कपड़े ठीक करके सो गया.

अगले दिन सुबह मां नित्यक्रिया से फारिग होकर आईं और मुझसे कहने लगीं कि बेटा तेरे हाथों में तो जादू है, रात की मालिश से मुझको बड़ी बढ़िया नींद आई.

Chudi ki khani

मैंने कुछ नहीं कहा. मैं समझ गया कि मां की चुत चुदने से उनको हल्कापन महसूस हुआ है, जिस वजह से वो मस्त होकर गहरी नींद का मजा ले सकी थीं.

तभी मां ने मुझसे कहा- बेटा तू रोज मेरी ऐसी ही मालिश कर दिया कर.
मैंने कहा- ठीक है मां.

शाम होते ही हमने अपना बिछौना बिछाया और हम दोनों लेट गए.

मां कहने लगीं- बेटा आज तो मैं खुद ही तेल ले आई हूँ. तू सिर्फ़ मालिश कर दे.
मैंने कहा- ठीक है. मगर मैं पहले आपके लिए दूध लेकर आता हूँ.
मां बोलीं- बेटा तू मेरा कितना ख्याल रखता है.
मैंने कहा- आप मेरी मां हैं, तो मैं क्या मां के लिए इतना नहीं कर सकता हूँ.

मैं नीचे रसोई से दूध लेने चला गया. नीचे से ही दूध में गोली डालकर मां को गिलास दे दिया.

आज मां ने कहा- बेटा कपड़ों में तो बहुत गर्मी लगती है, तो मैं आज साड़ी निकाल देती हूँ.
मैंने मां से कहा- आप अपना ये पेटीकोट को भी थोड़ा ऊपर चढ़ा लिया करो. आपका पेटीकोट तेल में गंदा हो जाता है.
मां ने कहा- ठीक है, तू मालिश करने के तेल निकाल … तब तक मैं पेटीकोट निकाल देती हूँ. मालिश के बाद फिर से पहन लूँगी.
मैंने कहा- ठीक है.

मेरी मां ने अपना पेटीकोट निकाल दिया और वो सिर्फ कच्छी में ही लेट गईं.
मैंने कहा- मां पहले आप दूध पी लो, नहीं तो ठंडा हो जाएगा.

मां ने दूध पिया और चित लेट गईं. कुछ ही समय में मां को गहरी नींद लग गयी. फिर मैंने अपने हाथों से मां की चड्डी निकाली और मां की चुत को पहले खूब चाटा

Chudi ki khani

Masaaj kar ke maa ki chudai Chudi ki khani

और उनकी चुत से खूब सारा क्रीम निकाल दिया. मैं चुत से निकली पूरी क्रीम चाट गया. इसमें मुझे बड़ा मजा आया.

फिर मैंने मां की चुत पर तेल की बरसात से कर दी और अपने लंड को मालिश करके मां की चुत में अपना पूरा लंड पेल दिया. पूरा लंड पेल कर मैंने मां की चुत की खूब चुदाई की और कल के जैसे अपने लंड से माल चुत में ही निकाल कर सो गया.

अगले दिन मां उठीं, तो वो कल से ज्यादा आज खुश थीं. मैंने उनकी आंखों की तरफ देखा, तो मां मुस्कुरा रही थीं. मुझे पहले तो डर सा लगा कि कहीं मां को चुत चुदाई के बारे में मालूम तो नहीं चल गया है.

मगर मैंने मां की मुस्कान देखी तो सोचने लगा कि यदि मां को ये सब गलत लगता, तो शायद वो मुस्कुरा नहीं रही होतीं.
मैंने उनसे पूछा- मां, आप मुस्कुरा क्यों रही हैं?
मां ने कुछ नहीं कहा.

दिन निकल गया और रात हुई.

पिता जी रोज की तरह दारू ले कर आए और मां से चखना और पानी देने के लिए कहने लगे. मां ने उनके पानी के लोटे में नींद की दो गोलियां डालीं और कुछ नमकीन उनको देकर वहीं बैठ गईं.

पिता जी ने कहा- तू गिलास तो लाई ही नहीं. ऐसा आकर तू दो गिलास ले आ.
मां ने पूछा- दो गिलास क्यों?
पिताजी ने कहा- आज तू भी मस्त हो जा.

Chudi ki khani

मां ने कुछ नहीं कहा और वे दो गिलास ले आईं. मैंने देखा कि बापू ने दोनों गिलासों में दारू भरी और मां को भी दारू पीने के लिए कहने लगे.

पहले तो मां ने मना किया क्योंकि पानी में नींद की दवा मिली हुई थी. मगर कुछ देर की जिद के मां ने एक पैग पी लिया.

कुछ देर बाद बापू ने दो बड़े पैग लेकर बोतल खाली कर दी.
मां ने एक ही पैग लिया था. वो भी नशे में आ गई थीं.

मैं छत पर बिछौना बिछाए मां के आने का इन्तजार कर रहा था. कुछ देर बाद मां झूमती हुई आईं और मेरे सामने उन्होंने ब्रा पेंटी छोड़ कर अपने सारे कपड़े उतार दिए.

मां ने लगभग नंगी होकर मुझसे बोलीं- चल अब जल्दी से मेरी अन्दर तक वो मालिश कर दे जैसी तूने कल की थी.
मैं उनकी बात सुनकर समझ गया कि मां को अपनी चुत चुदाई की बात मालूम है, मगर वो कुछ कहती नहीं थीं. उनकी इस बात से मुझे ये भी समझ आ गया था कि जब मां को चुत चुदवाने की आग लग चुकी है, तो अब किस बात का डर.

मैंने मां को लेटने के लिए कहा, तो मां ने लेटते ही कहा कि मेरी चड्डी और अंगिया भी दिक्कत करे, तो तू उतार देना. मैं सो रही हूँ आज तेरे बापू ने मुझे भी दारू पिला दी है.

मैंने मां की बात समझ ली और उनकी टांगों की मालिश करने लगा. मां ने ब्रा खोलते हुए कहा- तू चड्डी खींच कर निकाल दे और आज बिना किसी डर के मुझे चोद दे. वैसे भी तू मुझे रोज चोदता तो है ही.

मैंने मां की चड्डी निकाली तो आज कमाल हो गया था. मां ने अपनी चुत को सफाचट कर लिया था. उनकी मदमस्त चुत देख कर मुझे बड़ा अच्छा लगा और मैं उनकी चुत देखने लगा.

तभी मां ने अपनी चुत पर अपना हाथ फेरा और कहा- देखा आज चिकनी चमेली है न … अब तू देर न कर बस जल्दी से मेरी चुत चाट कर मुझे मजा दे दे.

Chudi ki khani

मैंने एक पल की भी देर नहीं की और उनकी चुत पर झपट पड़ा. मैंने मां की चुत खूब चाटी और उनकी चुचियों का भी मजा लिया.

मां अब तक नींद की गोली के वजह से ऊंघने लगी थीं.
उन्होंने कहा- अब देर न कर इधर आ … मुझे तेरा लंड चूसना है.

मैंने मां के मुँह में अपना लंड दे दिया.
मां ने मेरे लंड को एक मिनट तक चूसा और बोलीं- अब चुत में पेल दे.

मैंने पोजीशन बनाई और उनकी चुत में लंड पेल दिया.

दस मिनट की धकापेल चुदाई के बाद मैं मां की चुत में ही झड़ गया और उनकी चूचियों से खेलने लगा.

मां सो चुकी थीं, मैंने एक चादर से मां के जिस्म को ढक दिया और खुद भी उनके साथ नंगा ही चिपक कर सो गया.

रात को दो बजे मां उठीं और मुझे जगा कर फिर से चुदाई के लिए कहने लगीं. अब हम दोनों होश में थे और खुल कर चुत चुदाई का मजा लेने लगे थे. मेरी मां मुझसे बड़ी खुश थीं.

अब मैं हर रोज अपनी मां की चुत की चुदाई और मालिश कर देता हूँ.

Chudi ki khani

दोस्तो, जिस चुत से जन्म लिया, जिस चुत से हम सब निकले, उस चुत को चोदने, चाटने में कोई बुराई नहीं है. बस दोनों की रजामंदी होना चाहिए. मैं आशा करता हूँ कि आपको मेरी मां की चुदाई की कहानी पसंद आई होगी.

अपने मेल भेज कर मुझे बताएं कि आपको सेक्स कहानी कैसी लगी.
[email protected]

आपको मेरी यह सच्ची सेक्स घटना कैसी लगी मुझे Telegram पर ज़रूर बताये में आपके comment और message का इंतज़ार करूगा. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं.

Masaaj kar ke maa ki chudai Chudi ki khani

Read in English

Masaaj kar ke maa ki chudai Chudi ki khani

Chudi ki khani: This sex story is the story of my mother and my mother’s fuck. Dad was an alcoholic and my mother used to get tired of doing housework and give me a massage. Massaging the naked mother…

Hello Friends, My name is Deepak. This sex story is the story of my mother and my mother’s fuck like Chudi ki khani.

My mother, father and my two brothers live in my family. Father works as a laborer and mother stays at home and takes care of the house. Both of my brothers are married. Both of them have shifted to another city since their marriage. I am currently studying in class 12th.

Friends, this happened about my family. Now we go to the main sex story and Chudi ki khani.

It is a matter of a day, when my mother and I were lying on the terrace laying and talking. Mother told me – son your father drinks a lot of alcohol, bring some medicine for him, so that your father should stop drinking alcohol.
I said – okay mother.

Both of us were just talking like that, after some time Dad also came. He came after drinking liquor. Shortly afterwards he started fighting with his mother then Chudi ki khani.

I put them to sleep as soon as I understood. We both also slept. The next day I came for Dad with sleeping pills.

I told the mother, mother, mix one tablet out of these pills daily in Dad’s liquor. So Dad will go to sleep after drinking alcohol. If they fall asleep, they will not fight you for Chudi ki khani.

Mother did that. Now Dad did not fight after drinking alcohol. Used to sleep early just by eating food etc.

cript>

Chudi ki khani
I used to exercise during the day. My body was very strong. My mother was very happy to see me exercising and she kept trying to feed me as much as possible. She used to take great pride in turning my arms.

I knew that we are poor and mother cannot feed me much, so I used to win wrestling etc. in the village and win the prize. A wrestler from the village used to give me milk etc then Chudi ki khani.

One day while sleeping in the evening my mother started telling me – son, today the whole body is hurting, suppress it a little.

So I said- Mother, I massage you for Chudi ki khani.
On this, the mother said- Let the massage son, you suppress your waist, you must be feeling sleepy too.
I told my mother- I get good sleep by massaging my mother.
Mother did not say anything on this.

I brought oil from the kitchen and I said to the mother- Mother, you raise your clothes a little higher like Chudi ki khani.

Mother put on her sari and petticoat. I put oil on her waist and massaged her. During this time, I started waking up with a big sex after seeing my mother’s smooth thighs etc the Chudi ki khani.

The mother fell asleep in a while. I saw that my mother is asleep, so I slept thinking about them.

Chudi ki khani
The next day, when it was time to sleep in the evening, we both came to the terrace as usual.

Mother said- Son, I was relieved yesterday. Give me a little massage even today. Yesterday your massage did wonders. I had a very good sleep. When I was sleepy, nothing was known.
I said – okay mother, I will do it now the Chudi ki khani.

Today, there was some panic in my mind. I went downstairs to take oil and put a sleeping pill in a glass of milk and I gave milk to my mother. I told him, mother, drink this milk, it will relieve all your fatigue. I also massage you and Chudi ki khani.

Mother drank milk and I started massaging them. I started massaging my mother’s waist and Chudi ki khani.

After some time the mother said – son… give a little massage to the thighs.
I started massaging her smooth thighs. Due to this, the mother started getting sleepy.
I said, mother, you sleep straight and make your clothes a little higher of Chudi ki khani.

Mother lifted her petticoat completely above her knees and mother lay down and fell asleep. I dripped oil on the mother’s thighs and started massaging with a stool on her thighs like Chudi ki khani.

During the massage, the mother’s petticoat started to hit me, so I saw the mother. My mother was asleep, so I put the mother’s petticoat up with my hands and saw that the mother was not wearing underwear. Mother’s pussy was full of pimples.

Chudi ki khani
Seeing this, my cock became erect. I applied oil on my cock and put a little oil on my mother’s pussy. Then I turned my hand to his pussy and started watching his reaction. But the mother had slept deeply due to sleeping pills.

Now I massaged my mother’s pussy and within a short time I became absolutely hot. The mother had fully opened her legs during the massage of Chut and Chudi ki khani.

Seeing this, I placed my six-inch erect cocks on my mother’s pussy and poured in the Chudi ki khani.

Due to the oil being applied in the pussy cocks, my cock went straight into the mother’s pussy. Now I started massaging my mother’s pussy with my cock in Chudi ki khani. I started having great fun while fucking my mother. I fuck my mother’s pussy very fiercely.

After some time I happened to fall, so I emptied all the semen in my mother’s pussy. Then after the fuck, I took out the cocks and after wiping the mother’s pussy, she got her clothes fixed and slept and Chudi ki khani.

The next morning, the mother came away from the routine and started telling me that son is magic in your hands, I got a very good sleep through the night massage.

Chudi ki khani
I did not say anything. I understood that she felt lightheadedness due to the mother’s pussy, due to which she was able to enjoy deep sleep.

Then mother said to me – son, you give me such massage every day.
I said – okay mother and Chudi ki khani.

In the evening, we laid our bed and we both lay down.

Mother started saying – son, today I myself have brought oil. You just give massage.
I said – okay. But I bring milk for you first of Chudi ki khani.
Mother said- Son, how much do you take care of me.
I said – you are my mother, so I can not do so much for my mother.

I went downstairs to get milk from the kitchen. Pouring milk in milk from below gave the mother a glass then v

Today the mother said – son clothes feel very hot, so today I remove the saree.
I told my mother – you put your petticoat up a little. Your petticoat gets dirty in oil.
Mother said- Okay, you remove the massage oil… Till then I remove the petticoat. Will wear it again after massage.
I said – okay.

My mother removed her petticoat and she lay down only in Kutchhi.
I said, mother, drink milk first, otherwise it will be cold for Chudi ki khani.

Mother drank milk and lay down. In a short time, the mother was fast asleep. Then I removed my mother’s tights from my hands and licked my mother’s pussy first.

Chudi ki khani
And removed a lot of cream from his pussy. I licked the whole cream that came out of the pussy. I enjoyed it very much.

Then I did oil rains on the mother’s pussy and after massaging my cock, gave my full cock in mother’s pussy. After paying full cocks, I gave a lot of fuck to the mother’s pussy and went to sleep by removing the goods from my cock just like yesterday and Chudi ki khani.

Mother woke up the next day, so she was happier today than yesterday. When I looked at his eyes, mother was smiling. At first, I felt afraid that my mother had not known about sex for Chudi ki khani.

But when I saw the mother’s smile, I started thinking that if the mother thought it wrong, she might not have been smiling.
I asked him- mother, why are you smiling?
Mother did not say anything.

Day passed and night happened.

The father brought the liquor like daily and asked the mother to taste it and provide water. The mother put two sleeping pills in their water pot and sat down there giving them some snacks in the Chudi ki khani.

Father said – You have not brought the glass. In this way, you get two glasses.
Mother asked – why two glasses?
Father said – today you too be cool.

Chudi ki khani
Mother did not say anything and she brought two glasses. I saw that Bapu filled the liquor in both the glasses and also asked the mother to drink the liquor.

At first, the mother refused because sleep medicine was found in the water. But for some time, Jid’s mother drank a peg.

After some time, Bapu emptied the bottle with two big pegs.
Mother had taken only one peg. She was also drunk.

I was waiting for the mother to come laying on the terrace. After some time, the mother came swinging and in front of me she left her bra panty and removed all her clothes.

Mother almost nakedly said to me – Come on, give me that massage as fast as you did yesterday.
After listening to her, I understood that mother knew about her sex, but she did not say anything. I also understood from his talk that when the fire has been started to fuck my mother, then what is the fear.

I asked my mother to lie down, so the mother said while lying down that my trunks and camisole also face problems, then you take off. I am sleeping today, your father has given me a drink.

I understood the mother and started massaging her legs. Opening the bra, the mother said – You pull out the tights and give me a chod today without any fear. Anyway, you do fuck me everyday.

It was amazing today when I took out my mother’s tights. Mother had wiped her pussy. I liked seeing his sweet pussy and I started seeing his pussy.

Then the mother turned her hand on her pussy and said- Saw today there is smooth jasmine, no… Now you don’t delay, just lick my pussy quickly and give me fun.

Chudi ki khani
I did not delay for a moment and pounced on his pussy. I licked my mother’s pussy and enjoyed her pussy as well.

Mother was still sleeping due to sleeping pills.
He said – Now do not delay here… I have to suck your cock.

I put my cock in mother’s mouth.
Mother sucked my cock for a minute and said- Now give it in the pussy.

I made a position and put cocks in his pussy.

After ten minutes of banging, I fell into my mother’s pussy and started playing with her pussy.

The mother was asleep, I covered the mother’s body with a sheet and slept naked with herself.

Mother woke up at two o’clock in the night and woke me up and started asking for sex again. Now both of us were in our senses and started to enjoy openly. My mother was very happy with me.

Now everyday I fuck and massage my mother’s pussy.

Chudi ki khani
Friends, there is no harm in fucking and licking the pussy from which we were born. Both should be agreed. I hope you liked my mother’s story.

Send me your mail and tell me how you liked the sex story.
[email protected]

Read more chudai story –

Hindisexstory मॉम की चुदाई की प्यास बेटे ने बुझाई1 Fun Story

Desi xxx kahani जवान भतीजी की सील तोड़ी 1 Best Sex Story

Hindisexstoris मौसेरी दीदी की चूत चुदाई Real Sex 1 Fun Story

Leave a Comment

org/tools/popad.js">