Maa ki chudai | मौसी की चुदाई करते समय गलती से माँ को चोदा

गलती से माँ को चोदा Maa ki chudai

Maa ki chudai: आज जो कहानी मैं सुनने ज़रहा हूँ वोह मेरे साथ बीती हुई साची कहानी हैं एह वाक़या आज से क़रीब एक महीने पहले की हैं

सबसे पहले मैं आप को मेरे परिवार से परिचित करा दूं ताकि आप मेरी सत्या कथा का आनाद ले सके

मैं अपने मा बाप का एक्लॉता बेटा हूँ अभी मेरी उमर 19 साल की हैं और मैं स्य ब्कों का एक्शम दिया है मेरा सरीर हटता काटता बलिस्ट हैं पैर मेरा रंग सांवला हैं हम मुंबई के चाल मे सिंगल रूम मैं रहते हैं जब मैं 5 साल का था पिताजी का स्वार्ग्वस हो गया था.

मेरी मा अब जो की 38 साल की हैं और सरीर सवाला और मोटा हैं जिसके कारण जब वोह चलती है तो उसके चूतड़ काफ़ी हिलते हैं उन्होने फाकटोरय मैं काम कर कर मेरी पड़ाई लिखाई कर रही थी और पिछले 2 साल से मैं एक प्रिवते कोंपँय मैं पार्ट टीमे computer पेरटोर का काम करता हूँ और कॉलेज भी जाता हूँ

हमारे घर मैं अब केवल 3 सदस्या रहते हैं मैं मेरी मा और मेरी मौसी. मेरी मौसी की उमर 36 साल की हैं और वोह भी विधवा हा. उनके पति का देहांत क़रीब 3 साल पहले हूवा था और उनकी कोई औलाद नही थी. इसलिए मा ने मौसी को अपने पास बुला लिया और दोनोत साथ साथ फाकटोरय मैं काम करने लगे.

Maa ki chudai

एक ही रूम होने के कारण हम तीनो साथ साथ सोते थे.

मेरे बाजू मैं मौसी सोती थी, मौसी के बगल मैं मा सोती थी. सोते समय मा और मौसी अपने ब्रा और लेहंगा उतर कर केवल निघटय पहनते थे (वोह दोनो निघटय उसे नहीं करते थे. दिन मैं सारी ब्लौसे और इननेर गारमेंट्स मैं ब्रा और लेहंगा पहनते थे.) और मे केवल लूंगी और उंडेर्वेआर पहनकर सोता था

एक दिन अचानक क़रीब 12:30 बजे रात को मेरी नींद खुली क्यों की मुज़े पेसब लगी थी पैर मैने देखा की मौसी की निघटय कमर तक उठी हुई थी वोह दीरे दीरे आाााहह्हहा उईई की आवाज़े निकल रही थी और वोह अपने दाहिने हाथ की उंगलियों से अपने चूत के अंदर बाहर कर रही थी और उनका बयान हाथ मा की चूत को सहला रहा था.

एह देखते ही मेरा लंड तन कर 6 इंच लंबा और क़रीब 2.75 इंच मोटा हो गया था. कुछ देर के बाद मौसी सो गयी थी सायद उनका पानी झड गया था और वो सो गयी थी. लेकिन मुज़े नींद नहीं आरही थी और बार बार मौसी की हरकत मेरे नज़ारो के सामने नाच रहा था. खेर कुछ देर बाद उठ कर मैं पेसब करने चला गया और ना जाने कब नींद आगाईी.

आब मैं मौसी को वासना की नज़रों से देखता था. अगले दिन शनिवार था मैं मा से कहा की मा शाम को चिकन बनाना मा ने कहा ओफ़्फ़िसे से आते समय चिक्केन ले आना. मैने कहा ठीक हैं मा.

एक बात मैं आप को बताना भूल गया की 1-2 महीने मैं मा और मौसी कभी कभी विस्की 1-1 पग पीते थे. एक दिन मैं दोस्तो के साथ होटेल मैं पी कर घर आया तो मा ने आते हे पूच्छा “बेटा क्या तुमने शराब पी हैं मैने कहा “हाँ मा, एक दोस्त मुज़े होटेल लेगाया और वहाँ हम लोगो ने विस्की पी” मा के कहा बेटा आब तू बड़ा हो गया है और अगर तुज़े पीना है तो घर पैर पीया करो क्यों की बाहर पीने से पैसे ज़्यादा लगते हैं और आदत भी ख़राब होती हैं मैने कहा “ठीक हैं मा, आब से मैं घर मैं ही पीया करूँगा”

Maa ki chudai

उस दिन के बाद जब भी मेरा मान 1-2 महीने मैं पीने का होता हैं तो मैं घर पैर हि विस्की पिया करता हूँ और पीते समय मा और मौसी भी मेरा साथ देती हैं

सनीवार को साम को ओफ़्फ़िसे से आते समय मैं चिक्केन लाया और साथ मैं विश्कय की बोतले भी लाया. क़रीब 09:30 बजे मा ने आवाज़ दी चलो खाना त्यार है आज़ाओ.

मौसी 3 ग्लस्स और विस्की ले आई और हम तीनो पीने लगे मा और मौसी केवल 1-1 पेग पीए और मैने 3 पेग पयी.

खाना खाने के बाद मा और मौसी ने सब काम ख़तम करके सोने की तेयारी करने लगी रोज़ाना की तरह हम तीनो सो गये

रात क़रीब 1:15 बजे मैं पेशाब करने उठा तो देखा की मौसी, मा की तरफ़ करवत करके लेती थी और उनका दाहिना पैर मा के पैर पैर था और मा की निघटय घुटनो के थोड़े उपर उठी हुई थी जबी मौसी की निघटय चुतड़ से थोड़ी नीचे तट सर्की हुई थी. मैं ने बिना आवाज़ किया पेशाब करके लॉता तो देखा की दोनो गहरी नींद मैं सोए थे शायद विश्कय के असर से उन्हे गहरी नींद अगयी थी.

Maa ki chudai

मैने धीरे से मौसी की निघटय तो कमर थे उठा दिया. अब मौसी की झांतू से भारी चूत साफ़ नज़र आ रही थी. मौसी का दाहिना पैर मा के पैर पैर होने के कारण मौसी की चूत की दोनो काली फ़ंके फैली थी और अंदर का गुलाबी भाग साफ़ नज़र आ रहा था.

उनकी छूट को देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया और उंडेर्वेआर से बाहर आ गया.

मुझेसे रहा नहीं गया और सोचा की मौसी की छूट मैं लंड पेल दूं पैर हिमत नही हो रही थी.

फिर मैने मौसी की तरफ़ करवत करके सोने का नाटक करने लगा और मैने मेरा लंड हाथ से पकड़ कर मौसी के छूट के पास रख दिया.

अंधरे की वजह से मैं लंड को उनकी छूट मैं घूसा नही सका क्यों की अगर मौसी जाग जाए गी तो शायद नाराज़ हो कर मा से सिकायत कर देगी. इसलिए लंड को छूट के पास लगा कर धीरे धीरे लंड को रगड़ने लगा ऐसा करते हुवे कुछ देर के बाद मेरे लंड ने बहुत सारा विर्य मौसी की छूट पैर और झांटो पर जा गिरा.

सुबह सुंदय होने के कारण मैं क़रीब 11 बजे उठा. तो मुज़े मौसी और मा को धीमे आवाज़ मैं बात करते सुना.

मुज़े लगा शायद मौसी मेरी शिकायत मा से कर रही हो इसलिए मैं ध्यान लगाकर उनकी बातें सुनने लगा.

मौसी: दीदी पता है रात को क्या हूवा

Maa ki chudai

मा: क्या हूवा?

मौसी: रात जब मैं क़रीब 2:30 बजे पेशाब के लिए उठी तो देखा की दिनू बेटा का लंड बाहर निकला हूवा था

मा: शायद उसका उंडेर्वेआर ढीला होगा इसलिए उसकी नूनी बाहर निकल आई होगी ?

मौसी: दीदी अब उसकी नूनी, नूनी नही रही, अब तो मर्कीदों तरह लंड बन चुका है

मा: अच्छा, तब तो उसकी शादी की तैयारी करनी पड़ेगी. खेर एह बताओ कितना बड़ा लंड था उसका.

मौसी: उसका सिकुड़ा हूवा लंड ही काफ़ी बड़ा लग रहा था

मा: अस्चर्या से “अच्छा, तब तो जब उसका लंड खड़ा होगा तो काफ़ी बाद होगा”

मौसी: और दीदी मैं जब पेशाब करके उठी और छूट को साफ़ करने लगी तो मेरे हथेली पैर झांतू से और चूत की फ़ानको से कुछ चिपचिप लग गया. शायद नींद मैं बेटे का लंड का पानी गिरा होगो.

मा: इसलिए कहती हूँ रात मैं नींद मैं अपनी निघटय का ख़याल रखना छैइए तुज़े. क्यों की अक्सर मैं देखती हूँ तेरी निघटय कमर थे आ जाती हैं

अब मैं समझ गया की रात को जो कुछ भी मैने किया उसका मौसी ने बूरा नहीं माना. और मैं उठ कर नहा धोकर नास्ता का वैट करने लगा. इतने मैं मा नी मौसी से कहा, दिनू को नास्ता डेडो मैं कपड़े सूखने जा रही हूँ.

मौसी मेरे लिया नास्ता लेके आई और पास हे बैठ गयी रात की घटना के बाद मैं मौसी को कमुक निगाहों से देखता था.

जब मेरी नज़र उनकी चूचि पैर पड़ी, तो उन्होने पूच्छा क्या देख रहे हो बेटा मैने कहा मौसी आज आप ख़ूबसूरत लग रही हो. मौसी हँसी और उठकर चली गयी

Maa ki chudai

रात को खना खने के बद हुम सब सोने कि तयरि मैन लग गये। पर मुज़े निनद नहि आरहि थि मैन केवल सोने का नतक कर रहा था अयर मौसि को कैसे चोदा यह प्लानिग बना रहा था।

करिब 12:45 को मैन आँख खोल कर देखा तो मौसि आज रात भी कल रात कि तरह सोयी थि लेकिन आज उनकी निघती पुरि कमर के उपर थि और उनकि चूत मुज़े सफ़ नज़र आ रहि थि।

उनकि चूत देख कर मेरा लनद खड़ा हो कर चोदने के लिये तेयार हो चूका था इतने मैन मेरे दिमाग में एक आइडीया आया

मैने उठ कर लाईट बनद कर दि और मेरे लंड पर ढेर सरा तेल लगा के आया।

अब मैन मौसि कि और करवत कर कल रत कि तरह उनकि चूत के मुख पर लंड रख दिया।

मेरा लंड का सुपदा चिकना होने के करन थोदा मौसि कि चूत मै चला गया। मुज़े मौसि कि चूत का एहसस लंड पर महसूस हुवा जिस करन मैन और उतेजित हो गया और धीरे से जोर लगा कर आदा सुपदा मौसि कि चूत मैदाल दिया।

आदा सुपड़ा जते हि मौसि के सरिर मैन कुच हरकत हुयी मैने सोचा शयद मौसि जग गयी होगि इसलिये कुछ देर तक ऐसे हे सोने का नाटक करने लगा।

जब कुछ देर तक मेरे शरीर से कुछ हरकत ना होने पर मौसि ने थोड़ी गांड मेरि और सरका दि जिस करन मेरा पुरा सुपदा उनकि चूत मै घूस गया।

मै समज नहि पया कि मौसि ने यह हरकत कि या जनभूज़ कर, मैने हिमत जुटाई और एक हाथ उनकि बूब पर रख दिया और होले होले दबाने लगा।

इतने मौसि सिधि होकर सोगयी जिस करन मेरा लंड चूत से बहर निकल गया। थोदि देर बद मैने मौसि का हथ मेरे लंड पर महसूस किया।

वोह मेरे लंड को पकड कर अगे पिछे कर रहि थि मैन भि एक हथ से उनके बूबस दबा रहा था और दुसरे हथ से उनकि चूत सहला रहा था।

यह करिया हुम लोग करिब 5 मिनत तक करते रहे फिर मौसि ने मेरे कन मे कहा बेटा तुम मेरि चूत कि और मुहा रख कर मेरि चूत को चुसो मैन तुमरा लंड चुसुगी।

अब हम 69 कि पोजीशन मै हो कर एक दुरे का चूत और लंड चुमने चाटने लगे। मैन जब अपनि जिभ से उनकि चूत के फ़नको रगड़ी तथा तो वहो आआआआह्हह्हह्हह्हह्हह ऊऊऊऊईईईई माआआआ कि धीरे धीरे अवजे करति थि।

कुच देर बद उनकि चूत से सफ़ेद पनि अगया और उस वकुअत उनहोने मेरा सिर पुरि तरह से चूत पर दबा रका था जिस करन मेरे मुहा पर पुरा चूत का पनि लग गया।

फिर मौसि ने मुज़े अपनि तरफ़ करते हुवे कहा बेता अब रहा नहिन जता है जलदि से तुमहर येह मोटा लंड मेरि चूत मैन डाल दू।

Maa ki chudai

मैन भि जोश मै आगया था और मौसि कि चूतर के निचे तकिया रख कर उनकि चूत को थोडा उथा दिया और अपने लंड का सुपरा चूत के मुहा पर रख कर एक जोरदर धका लगया, एक हि दक्के मैन मरा अधा लंड उनकि चूत मै चला गया था और जोरदर दक्के के करन उनकि मुहा से हलकि सि चिख निकल गयी।

family ki chudai - hindi saxy story - Maa ki chudai

ऊऊउईईई माआआआआआअ धीईईईईईएरीईईईए दाआआआअल्ललूऊऊऊ।।।। उनकि हलकि चिख सुन कर मा जग चुकि थि लिकिन अनधेरा होने के करन वोह हमे या हमरे चुदै को देख नसकि और पुछा कया हुवा, मौसि ने दीमे से मा के कन मैन कहा कुच नहि मैन अपनि चूत मैन उनगलि दल कर अनदर बहर कर रहि थिस कि मुज़से रहा नहिन गया और मैन हलकि चिख उथि।

मा ने कहा थिक है अवज़ धीरे करो कयोकि बगल मै दिनु सोया है। हलकि उन दोनो ने इतनि धीमि अवज़ मैन बात चित करि फिर फि रात होने के करन मुज़े उनकि बातचित सुन पा रहा था।

अब मैन कुछ देर रुख गया था मेरा आदा लंड अभि भि मौसि कि चूत मै घूसा था।

थोदि देर बद मैन मौसि के होटो को चूसना शुरु किया और फ़िर से एक जोरदर धका मरा तो मेरा लुनद पुरा चूत मैन चला गया। मेरा लुनद जद तक घूसते हि मौसि चिलने कि कोसिस लकिन मेरा मुह मौसि के मुह मैन था इसलिये वोह चिला ना सकि।

थोदि देर बद मैन अपना लुनद अनदर बहर करने लगा जिस से मौसि को जोश आगया और धीरे धीरे ऊऊऊऊउईईई ऊऊऊऊफ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़ और चोदो मुज़े कहने लगि मैन करिब 20 मिनुतेस तक उनहे चोदता रहा इसि बिच मौसि 4 बर झर चुकि थि जब मेरा पनि निकलने वला था मैन अपना लुनद उनकि चूत से निकल कर मुह दे दिया और मेरा पनि मौसि के मुह मैन पुरा भर गया और वोह मेरे पनि तो गटगट पिने लगि।

फिर मैन मौसि के बगल मै अकर लेट गया।

कुच देर बद मैने मौसि हथ मैन अपना सिकुड़ा हुवा लंड पकदा दिया।

मौसि मेरे लुनद को सहलने लगि और पूछा कि अभि भि पेट भरा नहिन कया मुज़े चोद कर ?

मैने कहा मौसि मैन अब आप कि गांड भी मरना चहता हुन। उनोहने कहा बेता मैने आज तक गांड नहि मरवै और तुमहरा लंड भि कफ़ि बड़ा और मोटा है मुज़े तकलिफ़ होगि। मैने कहा डरो मत मैन आहिसता आहिसता डालोगा तो मौसि बोलि बेटा पहले अपने लंड पर और मेरि गांड मै ढेर सरा तेल लगलो तो लंड आसानी से गांड मै चला जयेगा। मैने कहा ठीक है मैन तेल कि बोत्तल ले के आता हुन तुम पेट के बल अपनि गांड फैला कर रखना और मैन तेल लेने चला गया।

अनदेरा होने के करन मुज़े तेल कि शिशि नहिन मिल रहि थि तेल कि शिशि जब लेकर आया तो कफ़ि समय लग गया तो देखा कि मौसि पेत के बल लेति हुयी थि मैने कहा अपने दोनो हथोन से अपनि गांड फैला दो तकि मैन गांड मैअछि तरहा से तेल लगा सकु। उनोहोने कुच नहि कहा और अपने दोनो हथोन से चूतड़ पकड़ कर गांड फ़ैला दी, मैने अपनि हथेलि पर धेर सरा तेल दल कर उसकि गांड के छेद मैन तेल लगने लगा जब ढेर सरा तेल लगा चुका तो मैने अपनि एक उनगलि उनकि गांड मैन दाल दि।

Maa ki chudai

उनगलि मैन तेल लगा होने के करन मेरि बिच कि उनगलि आसानी से अन्दर घूस गयी लेकिन उनहोने मेरा हथ पकद कर बहर खिचा जिस वजहा से मेरि उनगलि गाड़ से बहर निकल आयी शयद उनको दरद हुवा होगा।

अब मैन अपने लंड पर भि कफ़ि तेल लगा लिया था मेरे लंड के सुपडे पर भि कफ़ि तेल लगा लिया था तकि सुपडा असनि से उनकि गांड मै जा सके।

अब मैन उनसे कहा कि अपने दोनो हथो से चूतड़ को फ़ैला लो तकि गांड मै लंड डालने मे असनि हो जयेगि।

उसने अपने दोनो हथो से अपनि चूतड़ उथा कर फ़ैला दी। अब मैन अपने लंड का सुपडा उनकि गांड कि छेद पर रख कर हलका सा पुश किया थोदा सा सुपडा जते हि उनहोने अपनि गांड को सिकोड़ लि जिस करन मेरा सुपडा गांड से बहर निकल गया।

मैने पुचा गांड कयोन सिकोड़ी, कया दरद होरहा हैन उनहोने केवेल अपना सिर हिला कर हान का जवब दिअय। मैने कहा आप अपने मुहा मैन निघत का कुच हिशा दबले तकि दरद होगा तो अवज़ नहि निकलेगि वरना अवज़ सुनकर मा जग जयेगि।

उनोहोने उपने मुह मैन निघती का कुच भग दल दिया, अब मैने दोबरा उनसे चूतर फ़ैलने को कहा और उनकि गांड कि छेद पर लंड का सुपदा लगा कर एक जोरका दक्का मरा मेरा लंड का सुपदा पुरा गांड मै घूस गया और उनके मुह से घून घून कि अवज़ आने लगि कयोन कि मुह मैन कपडा दबा हुवा था।

कुच देर बद मैन फिर से एक जोरदर दक्का मरा मेरा पुरा लंड गांड मै घूस गया था और दरद के मरे उनका सरिर काप रह था।

अब मैन अपने लंड तो अनदर बहर करने लगा।

Maa ki chudai

अभि गांड मरते हुवे मुज़े 10 मिनट हि हुवे थे कि अचना किसि ने लिघत जला दि और रोशनि मैन मैने देखा मौसि कि जगह मा लेति हुयी थी और मैन मा कि गांड मर रहा था अनद लिघत जलने वलि मौसि पस्स हे ननगि खदि मुज़े मा कि गांड मरते हुवे देख रहि थि।

अचनक मा को देख कर मैने अपने लनद मा कि गांड से निकल लिया, और मा ने भि अपने मुह से कपदा निकल लिया और कहने लगि फिर से मेरि गांड मरो जब तुमने गांड मै पुरा लंड दल दिया था तो अब कया करता मा से मैने फिर अपना लंड मा कि गांड मैन घूसा दिया और मा कि गांड मरने लगा।

मै जब मा कि गांड मर रहा था मा कहा रहि थि बेता आज तुमे मा कि गाड़ कि सील तोड़ दि। और जोर जोर से अनदर बहर करो अपना येह घोड़े जैसा लंड। अब मैन मा से पुचा अछा मा येह तो बतो तुम मौसि कि जगह कैसे आगयी।

उनहोने कहा : दिनु जब तुम मौसि को चोद रहे थे तब मुज़े कुच शक होगया कयोन कि तुमहरि मौसि के मुह से ऊऊऊऊउईईईइ म्मम्मम्माआआआअ कि अवजे निकल रहि थि और जब तुम तेल लेने गये तम तुमहर मौसि ने मुज़े सब बता दिया इसतरह मौसि कि जगह मैं आगयी तुमसे गांड मरवने। चल जलदि से अब मेरि चूत मैन अपना लुनद पेल दे अब रहा नहिन जता।

मैने तुरनत हे अपना लुनद निकल कर मा कि चूत मै दल कर पेलने लगा और जब मैन मा को चोद रहा था मौसि मा कि मुह पर अपनि चूत रख कर रगर रहि थी करिब 20 मिनट के बद मैने अपना विरया मा कि चूत मै दल दिया इसी दरमियन मा 3 बर झर चुकि थि।

अब 2 महिने से मैन मा और मौसि को रोज़ रोज़ नयी नयी स्टाइल में चोदता हू।

Sorry दोस्तों मुझे हिंदी कम आती है इस लिये मुझे माफ़ करना हो, आपको यह कहानी केसी लगी मुझे जरूर बताण

Read in english

maa aur mosi ki chudai

Maa ki chudai: The story I want to hear today is the true story that has passed with me, it is about a month ago from today.

First of all let me introduce you to my family so that you can enjoy my truth story

I am the only son of my father, now my age is 19 years old and I have given the right amount of money, my body is cut, the ballist is the leg, my color is dark, we live in a single room in Mumbai, when I was 5 years old. Father was sworn in.

My mother, who is 38 years old, and she is very fat and fat, due to which she moves quite a lot when she walks, she was working in Faktoray and writing my footsteps and for the last 2 years I have been a Previte Konpany I Part. I work as a computer computer and go to college

I now have only 3 members in our house, my mother and my aunt. My aunt’s age is 36 years old and she is also widowed. Her husband died about 3 years ago and had no children. So Ma called Mausi to himself and both started working together in Faktoray.

Maa ki chudai
We used to sleep together because of the same room.

My aunt used to sleep beside me, I used to sleep next to my aunt. At bedtime, Ma and Mausi used to wear their bra and lehenga only to wear a nightcloth (both of them did not wear it. I used to wear bra and lehenga all the blouse and inner garments.) And I used to sleep only in loongi and underviewer

One day suddenly, at around 12:30, I woke up in the night, because I felt like I was feeling the feet. She was making out inside the pussy and her statement was caressing Ma’s pussy.

On seeing this, my cock had become 6 inches long and about 2.75 inches thick. After some time, her aunt had fallen asleep, her water had fallen and she had fallen asleep. But I was not sleepy and my aunt’s movements were dancing in front of my eyes again and again. After a while, I got up and went to payab and did not know when to sleep Maa ki chudai.

Now I used to look at my aunt with lust. The next day was a Saturday, I asked Ma to cook chicken in the evening, Ma said to bring Chikken while coming from Ofice. I said ok mother

One thing I forgot to tell you is that Ma and Mausi used to drink whiskey 1-1 every 1-2 months. One day when I came home after drinking the hotel with friends, Ma came and asked “Son, are you drunk, I said” Yes Ma, a friend Mujhe Hotel is taken and there we said whiskey “Ma said son Ab Tu Has grown up and if you want to drink then drink the feet at home, because drinking outside costs more money and habits also get worse. I said, “Ok Ma, I will drink home from you”

Maa ki chudai
After that day, whenever I am drinking for 1-2 months, I drink whiskey at home and while drinking, Ma and aunt also support me.

On Saturday, while bringing Sama from Ofice, I brought Chikken and I also brought a bottle of Vishkay. At around 09:30, Ma gave the voice, “Let’s eat food, come on.”

Auntie brought 3 glasses and whiskey and we all started drinking Ma and aunt only drink 1-1 pegs and I got 3 pegs. Maa ki chudai.

After eating food, Ma and aunt finished their work and started preparing for gold, like the three of us went to sleep.

At around 1:15 in the night, I woke up to pee and saw that Auntie used to turn towards Maa and her right leg was Maa’s feet and Maa’s niggling was slightly raised above the knees while a little below aunt’s tight pussy. The coast was circled. When I urinated without voice, I saw that both of them had slept deeply, perhaps due to the effect of the world, they had led them to deep sleep.

Maa ki chudai
I slowly lifted my aunt’s neck down. Now Aunty’s Jantu was able to see huge pussy clearly. Due to Maa’s right leg being Maa’s leg, both the black pieces of aunt’s pussy were spread and the pink part of the inside was clearly visible. Maa ki chudai.

Seeing their relaxation, my cock got erected and came out of the UNDERWAR.

I could not stay away and thought that I was not getting snow due to my aunt’s relaxation.

Then I started pretending to sleep by sleeping towards my aunt and I held my cock by hand and kept it near aunt’s exemption.

Because of the darkness, I could not get my cock cleared, because if my aunt wakes up, she will probably be angry with her mother. Therefore, by putting the cocks near the rebate, slowly started rubbing the cocks, after doing this, after some time, my cocks fell on the legs and jaunts of a lot of aunt’s exemption. Maa ki chudai.

Being up in the morning, I woke up around 11 am. So I heard Aunty and Ma talking in a slow voice.

I felt that my aunt was complaining to my mother, so I started meditating and listening to her.

Aunt: Didi know what happened at night

Maa ki chudai
Ma: What happened? Maa ki chudai.

Aunt: When I woke up to pee at around 2:30 pm, I saw that Dinu’s son’s penis was out.

Ma: Maybe his UNDERVAR will be loose so his Nuni must have come out?

Aunt: Didi is no longer her Nuni, Nuni, now Lund has become like Marquido

Ma: Okay, then she will have to prepare for her wedding. Tell me, how big was his cock.

Aunt: Her shrinking cocks seemed too big.

Ma: Indiscriminately, “Well, then when his cock is erect, it will be a lot later”

Aunt: And when I woke up after urinating Didi and started clearing the relaxation, then my palm legs felt somewhat sticky with Jhantu and pussy pranks. Maybe I will fall asleep with son’s cocks.

Ma: That’s why I say sleep in the night, take care of your sleep. Because often I see that your waist is low Maa ki chudai.

Now I understood that whatever I did on the night, my aunt did not consider it bad. And after getting up, I took a bath and started taking VAT. So I said to ma ni aunty, I am going to dry clothes on the day.

My aunt came with me and took a nasta and sat down, after the incident of the night, I used to look at my aunt with a blank look. Maa ki chudai.

When my eyes fell on her legs, what did she look like, son? I said, auntie, you look beautiful today. Aunt laughed and got up

Maa ki chudai
At night, all of us turned to sleep, and all the sleeping men were engaged. But I did not sleep, nor the living man was only sleeping gold, how was Choada making my aunt this plan.

Karib opened his eyes on 12:45 and the aunt slept like last night, but today his sleeping man was above the waist and his pussy was looking clean. Maa ki chudai.

Seeing their pussy, my flower was ready to stand and fuck it, so many men came to my mind an idea

I got up and made a light and put a lot of oil on my cock and came.

Now the man’s aunt and karvat put the cocks on his face like yesterday.

My cocks are being smooth, but I left my pussy. I felt the pussy of my aunt on the cock, which Karan Man and Utejit became, and by pushing slowly, Ada Supada aunty gave her pussy.

Ada Supra jate hai maas ki sarir man kuch kuchta hai ko ki bhi hai, I thought my heart was awake, so for some time I started pretending to sleep.

When there was no movement from my body for some time, my aunt gave me a little filthy and shrugged, due to which my whole supra got bitten by her pussy.

I could not understand that the aunt did this action or I did it, I gathered the snow and put one hand on her boob and started suppressing the Holle Holle.

After being so lucky, my wife got out of her pussy. After a while I felt my aunt’s hand on my cock.

While holding my cock back and forth, the man was also pressing his boobs with one hand and was stroking his pussy with the other hand.

People kept doing this for 5 minutes, then my aunt said to me, son, you have my pussy and my mouth kept kissing my pussy.

Now we are in 69 position and started licking and kissing one another’s pussy and cocks. When the man rubbed his pussy with his tongue and then he came slowly, he came down slowly.

Some of the time they took a white pan from their pussy and they had their head pressed on the pussy in the same way, due to which, my mouth was covered with full pussy. Maa ki chudai.

Then the aunt said on my behalf, “Betta is no longer alive, you will put your fat cocks in my pussy.”

Maa ki chudai
Man, I was on fire and put a pillow under the chatter of my aunt and bit her pussy and put her cock on the supine pussy of the cock and hit it hard, a clown man was dead. And due to Jardar Decca, his mouth got out of his mouth.

Oooooeeaaaaaaa. After listening to him, I was awake because of being dark but he looked at me or asked me and asked me, my aunt said to me that I am not a man, but my pussy man is going out in the way. That I did not get lost and man lightly choked me.

Ma said, do not slow down because I have slept in the armpit. However, both of them talked about it and then they were able to listen to their conversation.

Now, the man had gone for some time, he was in my pussy.

After a while, the man started sucking the aunt’s aunt and then got hit by a loud blow, so my lunad was gone. My Lunds used to bribe me as long as my mind was crying, but my mouth was the mouth of my aunt, so it could not be cured.

For a while, the bad man began to disguise himself, which caused the aunt to get excited and slowly started saying uuuuuuuuuuuuuuuuuuuuuffe and chodo muzhe man karib for 20 minutes. Lund got out of her pussy and gave her mouth and my wife was full of aunt’s mouth, and she started drinking guts. Maa ki chudai.

Then I lay down next to my aunt.

Kuch dard bad i mausi haath man caught my shrinking cocks.

My aunt started caressing my lunad and asked if she is not full of stomach.

I said aunt man, now you want to die ass too. He said, “I have not yet got my ass and my cock is very big and thick, I will be inconvenienced.” I said, do not be afraid, if you will put the Ahista Ahisata, then the mother says son first put oil on your cock and in my ass, then the cock will easily run in the ass. I said, okay, with the bottle of man oil, you come and put your ass on your stomach and the man went to take oil. v.

Due to being unseen, when I brought the oil oil, it took a lot of time when I brought the oil oil, I saw that it was lying on my forehead, I said, spread your ass with both your hands, so that man ass oil from the best way Could apply He said nothing and grabbed the ass with both his hands and spread the ass, I put a lot of oil around my palace and started smearing his ass hole with the oil. When he had applied a lot of oil, I gave him one of his ass man pulses.

Maa ki chudai
Due to the unguly man’s oil, I was bothered that the Ungali easily got bribed inside but he grabbed my hand and pulled out the way, from which my Ungali came out of the car, the martyr would have given him.

Now the man had also applied oil on his cock, he had also applied oil on the surface of my cock so that the supada could go to his ass from the house.

Now the man told them to spread the bum with both hands so that it would be easy to put cocks in the ass.

He spread his butt with both his hands. Now the man put his lump on the ass hole and pushed it a little bit, he shuffled his ass a little, due to which my supada got out of the ass.

I pucha ass Kyon sikodi, kaaaaaaaaaaaa. I said that if you will fall under the pressure of your mouth man, then it will not be bad, otherwise I will wake up after listening to Avaz.

He gave up a lot of his mouth man nigthi, now I asked him to spread the chutra to him and after putting a piece of cocks on his ass hole, a thick slit of my cocks got sucked in the whole ass and roasted with his mouth. Avon started coming because the man was clothed.

Kuch dard bad man again, a loud boy died, my whole lund was bribed in the ass and his head was dead. Maa ki chudai.

Now the man started to dislike his cocks.

Maa ki chudai
It was 10 minutes before Abhi Gand was dying that Achana Kissi burnt the light and the lighted man I saw had taken the place of death and man that the ass of the mother was dying. Stayed watching while dying.

Seeing Achanak Ma, I got out of the ass of my mother, and Ma also took the cloth out of his mouth and started saying, “Let me die again. When you gave me all the cocks in the ass, what would you do with me again?” Ma’s ass man punched his cock and Ma’s ass started dying.

When I said that my ass was dying, I said that it was today that you broke the seal of the cart. And out loud, disarm your own cocks like horses. Now ask the mother, good mother, tell me how you set fire to your aunt’s place.

He said: When I was fucking my aunt, I would feel sorry that you were coming out of the mouth of my aunt. To ass you. Now, my dear man, give me my lunad, now I am not feeling comfortable. Maa ki chudai.

I immediately came out of my luncheon and I started sucking it in the pussy, and when I was fucking my mother, my mother was lying on her mouth with her pussy, after 20 minutes, I gave her my mother’s pussy. During the course of the 3rd century, the waterfall was

Now, for 2 months, Man Ma and Mausi are chodta everyday in new style.

Sorry guys, I know Hindi very little, so I have to forgive, how can you tell me this story?

Read more chudai story-

पड़ोस आँटी की लड़की की टाईट गाँड मारी | Gand ki kahani -xxx desi kahani

दोस्त की मम्मी -Padosi Dost Ki Maa ki chudai – antarvasna maa

मौसी की गाण्ड मारी छत पे | antarvasna mosi-hindisexstoris-mosi antarvasna

Follow On