Mosi Sex 1 मौसी माँ की रसीली चूत की चुदाई best sex story

मौसी माँ की रसीली चूत की चुदाई Mosi Sex indiansexstories hindi

Mosi Sex indiansexstories hindi: मैं शुरू से ही अपनी मौसी के पास रहता हूं, उन्हें मम्मी ही बोलता हूं. मम्मी की जवानी … उनका गोरा बदन … मैं रोज उनको देख मुठ मारता हूं. मैंने मौसी मम्मी की चुदायी कैसे की?

नमस्कार दोस्तो, मैं 19 साल का एक साधारण लड़का हूँ, मेरा नाम अमन है. मैं पटना का रहने वाला हूँ और मैं शुरू से ही अपनी मौसी के पास रहता आ रहा हूं. अब मैं उन्हें मम्मी ही बोलता हूं. भगवान कसम उनकी जवानी एक बार कोई देख ले, तो देखता रह जाए. एक तो मेरी मौसी का गोरा बदन, ऊपर से सेक्सी माल जैसी महिला. कसम से वो एक मीठा जहर लगती हैं. मैं तो रोज उनको देख कर मुठ मार लेता हूं.

उनका फिगर 34-30-34 का है, ये बात मैंने उन्हें चोदते समय उनसे ही पूछा था.

मैंने इस साल ही 12 वीं पास की है. मेरे दसवीं क्लास में रहने तक, वो अक्सर मेरे सामने ही अपने कपड़े बदल लेती थीं, लेकिन उस वक्त मैं उनकी निगाह में छोटा था. वो समझती थीं कि मुझे कोई फीलिंग ही नहीं होती होगी. मगर मुझे ये सब देख कर मजा आता था. मैं खुद को बुद्धू बना रहना देना चाहता था. यदि मैं उन्हें देख कर कुछ भी रिएक्ट करता, तो शायद मुझे ये लाइव फैशन शो देखना मिलना बंद हो जाता.

मैं उन्हें पेलने की फिराक में रहता था मगर कभी मौका नहीं मिला. उनकी चूचियां इतनी बड़ी हैं कि यूं समझो दो बड़े साइज़ के टाईट खरबूजे लगे हों. मौसी की चूचियां बहुत ज्यादा गोरी हैं. सच में सामने जब मौसी अपनी ब्रा पहनने से पहले अपनी चूचियों में क्रीम मलती थीं, तो मेरा मन करता था कि दौड़ कर मौसी की चूचियों को मुँह में लेकर चूमता और चूसता ही रहूं.

मैंने बाथरूम में जाकर उनकी पैंटी पर कई बार मुठ मार कर वीर्य गिराया है.

फिर बारहवीं पास करने के बाद मैं घर में फ्री रहता था. मेरी अभी छुट्टियां चल रही थीं. रिजल्ट आने का इन्तजार था.

उन्हीं दिनों की घटना है. हमने एक दूसरे घर में कुछ दिनों पहले ही शिफ्ट किया था. इस घर के बाथरूम के दरवाजे नीचे से पानी से गले हुए होने के कारण टूटे हुए थे, जिससे जब वो नहाती थीं … तब मैं अपने मोबाइल से उनकी नंगी वीडियो बना लेता था. बाद में उसी वीडियो को देख कर मुठ मार लेता था.

जबसे इस दूसरे मकान के बाथरूम में मैंने उनकी वीडियो बनाई है, तब से ही मैंने उनको कई बार में अपनी चूत में उंगली करते हुए भी देखा था जिससे मैं समझ गया था कि वो पापा (मौसा) से खुश नहीं हो पाती हैं. पापा उनको संतुष्ट नहीं कर पाते हैं.

उनको चुत में उंगली करते देख कर मैं समझ गया था कि मौसी को एक अच्छे और मोटे लंड की जरूरत है.

अब मुझे मौके की तलाश थी. मौसी अभी भी मेरे सामने कपड़े चेंज करती हैं लेकिन अब वो पूरी नंगी होकर नहीं करतीं. वे तौलिया से अपने बदन को छिपाने का ड्रामा करतीं लेकिन मुझे उनकी चूचियां और गांड की गोलाई दिख ही जाती थीं. मेरी मौसी की चूत बहुत गुलाबी है. उनकी चुत देख कर तो मेरा मन करता था कि चाटता ही रहूं और चाट कर चूत का सारा रस पी लूं.

जब मैंने मौसी को बाथरूम में चुत में उंगली करते देखा, तो मेरी खोपड़ी चलने लगी. मैंने दिमाग लगाया कि मम्मी को और भी गरम किया जाए और कुछ ऐसा किया जाए … जिससे उनका ध्यान मेरी तरफ चला जाए.

घर से सभी के चले जाने के बाद ही मम्मी नहाने जाती थीं. मैं फ्री होने के कारण घर में ही रह जाता था. अब जब भी मम्मी बाथरूम में जातीं, मैं मोबाइल में पोर्न फिल्म को चालू कर देता. वो भी फुल साउंड में चलाने लगता ताकि वो चुदाई की आवाजें सुन सकें.

इस तरह से मैं उन्हें भी जोश दिलाना चाहता था. मैं बाथरूम के बगल वाले रूम में पोर्न चालू करके बाथरूम के छेद से उनको नहाते हुए देखने लगता था.

एक दो दिन तो कुछ नहीं हुआ, तीसरे दिन मैंने देखा कि नल बंद था और वो भी चुदाई की आवाजें सुनकर अपनी चुत में उंगली करके मुठ मार रही थीं.

उन्हें मुठ मारते देखा, तो मैंने भी अपना लंड निकाल लिया और उन्हें देखते हुए मुठ मारने लगा.

पांच दिन तक ऐसा ही चला. वो भी बाथरूम से निकल कर मुझसे कुछ भी नहीं पूछती थीं, तो मैं भी खुश रहता था और दिन भर उन्हें ताड़ता रहता था. ये शायद मम्मी ने भी महसूस कर लिया था कि मैं उनको देखता रहता हूँ. मगर उनकी तरफ से कुछ भी ऐसा नहीं हुआ, जिससे मुझे ये लगे कि वो मुझसे चुदने के लिए राजी हैं.

इसी के साथ मैंने एक चीज और नोट की कि अब वो घर में हमेशा बिना पैंटी के ही रहने लगी थीं. ये मुझे ऐसे मालूम हुआ था कि वो जब भी किसी काम के लिए झुक कर उठती थीं, तब उनकी नाइटी पीछे से उनकी गांड की दरार में घुस जाती थी. पहले पैंटी पहने रहने से मैक्सी गांड की दरार में नहीं घुसती थी. मम्मी घर में हमेशा नाइटी पहने ही रहती थीं.

जब इतने से कुछ नहीं हुआ, तो मैंने सोचा कि इतने से काम नहीं बनने वाला है. मुझे तो उनको खुल कर चोदना था, तो मैंने आगे बढ़ने का प्रयास किया.

अब जब भी वो किसी काम के लिए झुकतीं, मैं अपना खड़ा लंड उनकी गांड में रगड़ देता. इससे मुझे तो मजा आता ही था, वो भी मुझे देखने लगती थीं. मैं उनको देखता हुआ हंस कर चला जाता था.

फिर वो जब भी मेरे पास बैठतीं या मेरे पास से गुजरतीं, मैं अपना लंड खड़ा करके उन्हें दिखाने लगता. मैंने भी अब अंडरवियर पहनना बंद कर दिया था. वो भी मेरे खड़े लंड को देखती थीं लेकिन नजर नहीं मिलाती थीं. मुझे उस वक्त डर लगता था. कुछ दिन ऐसा चला तो मैंने भी डरना बंद कर दिया.

एक दिन सुबह उस समय मुझे सूसू लगी थी. जब वो बाथरूम से नहा कर बाहर निकल रही थीं. उसी समय उनका तौलिया हाथ से छूट गया और मैं नंगी मौसी मम्मी को देखता रह गया.
ये क्या गलती से हुआ था या उनकी हरकत थी. मुझे ये समझने में कोई रूचि नहीं थी, बस उन्हें नंगी देख कर मेरा लंड एकदम से तन्ना गया.

वो मेरे खड़े लंड को देखते हुए मुस्कुरा कर कमरे में चली गईं.

उस वक्त में जन्नत में था. मम्मी का पूरा नंगी और गोरा शरीर देख कर मेरी बुद्धि भन्ना गई थी. मैं मम्मी की चूचियों और चिकनी चूत देख कर बाथरूम के अन्दर चला गया. पहले खुद को हल्का किया फिर लंड की मुठ मार कर माल झड़ा दिया.

इसके दूसरे दिन असली मजा आया. मैं और मम्मी घर में अकेले थे. घर में एक डब्बा लीक करने से पानी बह रहा था. वो उसे पौंछने के लिए बाथरूम से सिर्फ पेटीकोट में निकलीं. वो भी गीले पेटीकोट में निकली थीं. इसमें से उनकी पूरी नंगी जवानी मेरे सामने थी.

मम्मी ने मुझे बुला कर कहा- जल्दी से इसे हटाओ . … लीक कर रहा है.

वो मुझसे काम के लिए बोल रही थीं और मैं उनका छेद देख रहा था.

वो मुस्कुरा कर बोलीं- पहले इसे हटाओ, बाद में देख लेना.

उनकी इस बात को सुनकर मैं अपने आपको रोक नहीं पाया. मैंने हाफ पैंट उतार कर उनको पकड़ लिया और पेटीकोट के ऊपर से ही लंड रगड़ने लगा. उन्होंने खुद को छुड़ाने की कोशिश भी लेकिन मैं लंड रगड़ता चला गया.

मैं इतना अधिक उत्तेजित हो गया था कि मैंने कुछ ही मिनट में उनके पेटीकोट के ऊपर मुठ गिरा दिया.

वो मेरे लंड का रस अपने पेटीकोट पर देख कर हैरत से मुझे देखने लगीं.

मैं अब तक ढीला हो चुका था. मैं बोला- प्लीज़ मम्मी, पापा को ये सब मत बताना.
मेरे कहने पर वो बोलीं- ठीक है, नहीं बोलूंगी.

इससे मुझे भी पता चल गया था कि उन्हें भी मुझसे चुदने का मन हो गया था.

फिर उसी दिन शाम में जब मेरे भाई बहन क्लास गए थे, मैं सोया हुआ था. अचानक से मेरी नींद खुली, तो मैंने देखा कि मेरा लंड कोई सहला रहा था. मैंने आंख खोली, तो देखा कि मेरी मम्मी मेरा लंड सहला रही थीं.

मैं मुस्कुरा दिया. मम्मी ने भी आंख दबा दी. बस फिर क्या था. मैंने मम्मी के ऊपर एकदम से झपट पड़ा. मैं भी उनकी चूत सहलाने लगा. मैं धीरे धीरे मम्मी की चूत में उंगली करने लगा. वो भी गर्म सिसकारियां भरने लगीं.

मौसी माँ की रसीली चूत की चुदाई Mosi Sex indiansexstories hindi
Mosi Sex indiansexstories hindi

एक हाथ से मैं उनकी नाइटी उतारने लगा. मम्मी ने भी झट से अपनी नाइटी उतार दी और एकदम नंगी हो गईं. मैं उनकी बड़ी बड़ी चूचियों को बारी बारी से चूसने लगा.

मौसी माँ की रसीली चूत की चुदाई Mosi Sex indiansexstories hindi
Mosi Sex indiansexstories hindi

आह … आज मैं जन्नत में था … क्या मस्त मजा आ रहा था. आज मैं अपनी मम्मी को चोदने वाला था. मैंने उनको कसके पकड़ लिया और उनके होंठों पर किस करने लगा. मम्मी भी मुझसे खुद को रगड़ कर मजा लेने लगीं.

मैं उनके नंगे बदन को चूमते हुए उनकी चुत पर पहुंच गया और जोर जोर से चुत चाटने लगा.

mausee maan kee raseelee choot kee chudaee Mosi Sex indiansexstories hindi
Mosi Sex indiansexstories hindi

वो भी ‘आह आह उइ मम्मी आ … अअ अ … मर गयी रे … और जोर से चाट आह … और जोर से.’ कहने लगीं. मैं भी पूरे जोश में आ गया और जोर जोर से चुत चाटने लगा. मैं पहली बार चूत चाट रहा था, मुझे बहुत मजा आ रहा था.

मम्मी ने मेरे सिर को पकड़ कर अपनी चूत में दबा दिया और चिल्लाने लगीं- आह और जोर से … आह … मैं गई.
अब वो झड़ने वाली थीं … वो मेरे मुँह में ही झड़ गईं. मैंने उनके रस को चाटा, तो मजा आ गया … वाह क्या नमकीन पानी था … मैं सारा का सारा चुतरस पी गया.

कुछ देर बाद मैं खड़ा हुआ और अपना लंड उनके मुँह पर ले गया. वो लंड चूसने से मना करने लगीं. मैंने उनका सिर पकड़ा और लंड को मुँह में डाल कर अन्दर बाहर करने लगा. कुछ देर में वो भी मेरा साथ देने लगीं.

पूरा रूम पच पच की आवाजों से गूंज रहा था. मैं तो एकदम खुश था कि मेरा लंड मेरी मम्मी चूस रही हैं.

mausee maan kee raseelee choot kee chudaee Mosi Sex indiansexstories hindi
Mosi Sex indiansexstories hindi

कुछ देर बाद मेरा मुठ गिरने वाला था. मैंने उनसे पूछा- मुँह में गिरा दूँ?
वो बोली- नहीं.

मैंने लंड का वीर्य उनकी गोरी गोरी चूचियों पर गिरा दिया.

हम दोनों एक पल के लिए एक दूसरे से लिपटे रहे … फिर से चूमाचाटी शुरू हो गई. मैं उनकी चूत फिर से चाटने लगा. जल्दी ही मम्मी गर्म हो गईं. मेरा लंड भी खड़ा हो चुका था.

अब मैंने लंड को उनकी चूत पर रखा और चुत की फांकों में फंसा दिया. मम्मी ने नीचे से अपनी गांड उठाई और मेरा लंड अन्दर कर लिया. उनकी एक हल्की सी आह निकली और चुदाई शुरू हो गई.

मैं मम्मी को जबरदस्त पेलने लगा. वाह क्या चुत थी उनकी … पूरी फूली हुई.

कुछ ही देर में वो जोर जोर से सिसकारियां लेने लगीं. मैं और जोर से झटका देने लगा. बीच बीच में मैं उन्हें चूम भी रहा था. उनकी चुचियां चाटने लगता. वो भी पूरे मजे में गांड उठा उठा कर चुत दे रही थीं.

उनकी बड़ी मस्त गांड है … गोरी गोरी उभरी हुई. मुझे उनकी गांड मारने का मन करने लगा. मैं मम्मी की गांड पर किस करने लगा. मम्मी समझ ही न सकीं. मैंने मम्मी की चुत से लंड निकाल कर उनकी गांड के छेद में सैट कर दिया.
वो मुझे मना करने लगीं. वो बोलीं- मेरी गांड अभी तक नहीं चुदी … इसे मत चोदो … फट जाएगी.
मैं बोला- फाड़ना ही तो है.

वो मना करती रहीं मगर मैंने उनकी एक नहीं सुनी. मैंने कहा- एक बार गांड चुदवा कर तो देखो … कितना मजा आता है.
मैंने गांड को थोड़ा चाट कर गीला किया और लंड अन्दर डालने की कोशिश करने लगा. उनकी गांड काफी टाइट थी. मेरा मोटा लंड अन्दर जा ही नहीं रहा था.

मैंने सुपारा फंसा कर एक तेज झटका दिया और लंड का सुपारा अन्दर चला गया.

इतने से ही मेरी मम्मी जोर से चिल्ला पड़ीं- आह निकालो … बहुत दर्द कर रहा है.

मैंने देखा कि उनकी गांड से खून की हल्की सी धार निकलने लगी थी … लेकिन मेरा लंड तो खड़ा था. मैंने एक और जोर से झटका दिया और लंड अन्दर डाल दिया. वो बहुत ज्यादा और जोर से आवाजें निकाल रही थीं, इसलिए मैं उनके होंठों पर किस करने लगा ताकि वो उनकी आवाज बाहर नहीं जा पाए.

मैं मम्मी की चुत में झटके देता रहा. कुछ ही देर में वो भी मजे लेने लगीं और अपनी गांड उठा उठा कर मेरा साथ देने लगीं. अब तो मम्मी बेहद कामुक हो गई थीं और लंड के मजे लेते हुए बीच बीच में बोल रही थीं.

मम्मी- आह साले … तू चोद दे अपनी सेक्सी रसीली मम्मी को … चोद दे मादरचोद … आंह तेरा बाप आज तक मेरी प्यास नहीं मिटा पाया … तू बुझा दे मेरी प्यास … आंह तुम्हें अपने पास बचपन से रखने का कोई तो फायदा हो … आह उइ उइ … उम्म उम्म … क्या मस्त चोदता है तू … सच में गांड चुदवाने में भी बहुत मजा आ रहा है आ आ … …उम्म उम्म. तेरा लंड बहुत मस्त है रे.
मैं बोला- हां मम्मी मैं रोज आपकी प्यास इसी तरह बुझाऊंगा.
वो- आह अब साले तूने मेरी गांड का मजा ले लिया हो … तो फिर से मेरी चुत चोद दे.

मैंने झट से लंड गांड से खींच कर मम्मी की चूत में डाल दिया. उनकी चूत में मेरा लंड पानी की तरह फिसल कर जा रहा था. उनका शरीर अकड़ रहा था, वो झड़ने वाली थीं.

मैं पेलता रहा. जब मम्मी झड़ीं, तो मेरे लंड में बहुत गर्म गर्म महसूस हुआ. आह … मुझे मम्मी की चुत चोद कर मजा आ गया था. अब मैं भी झड़ने वाला था.

मैंने भी उनकी चुत के अन्दर ही लंड झाड़ दिया. मैं चुदाई से इतना अधिक थक गया था कि मेरे में उठने तक की ताकत नहीं बची थी.

कुछ देर बाद हम दोनों उठे और 69 की पोजीशन में आ गए. अब वो मेरा लंड और मैं उनकी चुत चाटने लगा. हम दोनों ने एक दूसरे के लंड चुत चाट कर साफ किए और नहाने चले गए.

बाथरूम में आज मैं उनको नहला रहा था … वो मुझे पानी से नहला रही थीं.
जल्दी ही हम दोनों फिर से गर्म हो गए.
वो बोलीं- फिर एक बार से चोद दे.
मैं बोला- नहीं मम्मी अभी मेरे में एनर्जी नहीं बची और मेरी भी बहनों के भी आने का टाइम भी हो गया है.

मम्मी ये सुनते ही चुप हो गईं. हम दोनों नहा कर बाहर आ गए और अपने अपने कपड़े पहन लिए.
हमने उस दिन रात में फिर से सेक्स किया.
अब हमें जब भी मौका मिलता है, चुदाई का मजा लेने लगते हैं. मैं उनको पूरा नंगा करके चोदता हूँ.

दोस्तो, ये मेरी बिल्कुल सच्ची घटना है … कोई झूठी सेक्स कहानी नहीं है. आप प्लीज कमेंट करके जरूर बताएं कि आपको चुदाई की कहानी कैसी लगी? इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं. और सेक्स विडियो और new कहानी पढने के लिये telegram ग्रुप join कर सकते है.
[email protected]

mausee maan kee raseelee choot kee chudaee Mosi Sex indiansexstories hindi

Read in English

mausee maan kee raseelee choot kee chudaee Mosi Sex indiansexstories hindi

Mosi Sex indiansexstories hindi: main shuroo se hee apanee mausee ke paas rahata hoon, unhen mammee hee bolata hoon. mammee kee javaanee … unaka gora badan … main roj unako dekh muth maarata hoon. mainne mausee mammee kee chudaayee kaise kee?

namaskaar dosto, main 19 saal ka ek saadhaaran ladaka hoon, mera naam aman hai. main patana ka rahane vaala hoon aur main shuroo se hee apanee mausee ke paas rahata aa raha hoon. ab main unhen mammee hee bolata hoon. bhagavaan kasam unakee javaanee ek baar koee dekh le, to dekhata rah jae. ek to meree mausee ka gora badan, oopar se seksee maal jaisee mahila. kasam se vo ek meetha jahar lagatee hain. main to roj unako dekh kar muth maar leta hoon Mosi Sex indiansexstories hindi

unaka phigar 34-30-34 ka hai, ye baat mainne unhen chodate samay unase hee poochha tha.

mainne is saal hee 12 veen paas kee hai. mere dasaveen klaas mein rahane tak, vo aksar mere saamane hee apane kapade badal letee theen, lekin us vakt main unakee nigaah mein chhota tha. vo samajhatee theen ki mujhe koee pheeling hee nahin hotee hogee. magar mujhe ye sab dekh kar maja aata tha. main khud ko buddhoo bana rahana dena chaahata tha. yadi main unhen dekh kar kuchh bhee riekt karata, to shaayad mujhe ye laiv phaishan sho dekhana milana band ho jaata Mosi Sex indiansexstories hindi

main unhen pelane kee phiraak mein rahata tha magar kabhee mauka nahin mila. unakee choochiyaan itanee badee hain ki yoon samajho do bade saiz ke taeet kharabooje lage hon. mausee kee choochiyaan bahut jyaada goree hain Mosi Sex indiansexstories hindi sach mein saamane jab mausee apanee bra pahanane se pahale apanee choochiyon mein kreem malatee theen, to mera man karata tha ki daud kar mausee kee choochiyon ko munh mein lekar choomata aur choosata hee rahoon.

mainne baatharoom mein jaakar unakee paintee par kaee baar muth maar kar veery giraaya hai.

phir baarahaveen paas karane ke baad main ghar mein phree rahata tha. meree abhee chhuttiyaan chal rahee theen. rijalt aane ka intajaar tha Mosi Sex indiansexstories hindi.

unheen dinon kee ghatana hai. hamane ek doosare ghar mein kuchh dinon pahale hee shipht kiya tha. is ghar ke baatharoom ke daravaaje neeche se paanee se gale hue hone ke kaaran toote hue the, jisase jab vo nahaatee theen … tab main apane mobail se unakee nangee veediyo bana leta tha. baad mein usee veediyo ko dekh kar muth maar leta tha Mosi Sex indiansexstories hindi.

jabase is doosare makaan ke baatharoom mein mainne unakee veediyo banaee hai, tab se hee mainne unako kaee baar mein apanee choot mein ungalee karate hue bhee dekha tha jisase main samajh gaya tha ki vo paapa (mausa) se khush nahin ho paatee hain. paapa unako santusht nahin kar paate hain Mosi Sex indiansexstories hindi.

unako chut mein ungalee karate dekh kar main samajh gaya tha ki mausee ko ek achchhe aur mote land kee jaroorat hai.

ab mujhe mauke kee talaash thee. mausee abhee bhee mere saamane kapade chenj karatee hain lekin ab vo pooree nangee hokar nahin karateen. ve tauliya se apane badan ko chhipaane ka draama karateen lekin mujhe unakee choochiyaan aur gaand kee golaee dikh hee jaatee theen. meree mausee kee choot bahut gulaabee hai. unakee chut dekh kar to mera man karata tha ki chaatata hee rahoon aur chaat kar choot ka saara ras pee loon Mosi Sex indiansexstories hindi.

jab mainne mausee ko baatharoom mein chut mein ungalee karate dekha, to meree khopadee chalane lagee. mainne dimaag lagaaya ki mammee ko aur bhee garam kiya jae aur kuchh aisa kiya jae … jisase unaka dhyaan meree taraph chala jae Mosi Sex indiansexstories hindi.

ghar se sabhee ke chale jaane ke baad hee mammee nahaane jaatee theen. main phree hone ke kaaran ghar mein hee rah jaata tha. ab jab bhee mammee baatharoom mein jaateen, main mobail mein porn philm ko chaaloo kar deta. vo bhee phul saund mein chalaane lagata taaki vo chudaee kee aavaajen sun saken Mosi Sex indiansexstories hindi.

is tarah se main unhen bhee josh dilaana chaahata tha. main baatharoom ke bagal vaale room mein porn chaaloo karake baatharoom ke chhed se unako nahaate hue dekhane lagata tha.

ek do din to kuchh nahin hua, teesare din mainne dekha ki nal band tha aur vo bhee chudaee kee aavaajen sunakar apanee chut mein ungalee karake muth maar rahee theen Mosi Sex indiansexstories hindi.

unhen muth maarate dekha, to mainne bhee apana land nikaal liya aur unhen dekhate hue muth maarane laga.

paanch din tak aisa hee chala. vo bhee baatharoom se nikal kar mujhase kuchh bhee nahin poochhatee theen, to main bhee khush rahata tha aur din bhar unhen taadata rahata tha. ye shaayad mammee ne bhee mahasoos kar liya tha ki main unako dekhata rahata hoon. magar unakee taraph se kuchh bhee aisa nahin hua, jisase mujhe ye lage ki vo mujhase chudane ke lie raajee hain Mosi Sex indiansexstories hindi.

isee ke saath mainne ek cheej aur not kee ki ab vo ghar mein hamesha bina paintee ke hee rahane lagee theen. ye mujhe aise maaloom hua tha ki vo jab bhee kisee kaam ke lie jhuk kar uthatee theen, tab unakee naitee peechhe se unakee gaand kee daraar mein ghus jaatee thee. pahale paintee pahane rahane se maiksee gaand kee daraar mein nahin ghusatee thee. mammee ghar mein hamesha naitee pahane hee rahatee theen Mosi Sex indiansexstories hindi.

jab itane se kuchh nahin hua, to mainne socha ki itane se kaam nahin banane vaala hai. mujhe to unako khul kar chodana tha, to mainne aage badhane ka prayaas kiya.

ab jab bhee vo kisee kaam ke lie jhukateen, main apana khada land unakee gaand mein ragad deta. isase mujhe to maja aata hee tha, vo bhee mujhe dekhane lagatee theen. main unako dekhata hua hans kar chala jaata tha Mosi Sex indiansexstories hindi.

phir vo jab bhee mere paas baithateen ya mere paas se gujarateen, main apana land khada karake unhen dikhaane lagata. mainne bhee ab andaraviyar pahanana band kar diya tha. vo bhee mere khade land ko dekhatee theen lekin najar nahin milaatee theen. mujhe us vakt dar lagata tha. kuchh din aisa chala to mainne bhee darana band kar diya Mosi Sex indiansexstories hindi.

ek din subah us samay mujhe soosoo lagee thee. jab vo baatharoom se naha kar baahar nikal rahee theen. usee samay unaka tauliya haath se chhoot gaya aur main nangee mausee mammee ko dekhata rah gaya Mosi Sex indiansexstories hindi.
ye kya galatee se hua tha ya unakee harakat thee. mujhe ye samajhane mein koee roochi nahin thee, bas unhen nangee dekh kar mera land ekadam se tanna gaya Mosi Sex indiansexstories hindi.

vo mere khade land ko dekhate hue muskura kar kamare mein chalee gaeen.

us vakt mein jannat mein tha. mammee ka poora nangee aur gora shareer dekh kar meree buddhi bhanna gaee thee. main mammee kee choochiyon aur chikanee choot dekh kar baatharoom ke andar chala gaya. pahale khud ko halka kiya phir land kee muth maar kar maal jhada diya Mosi Sex indiansexstories hindi.

isake doosare din asalee maja aaya. main aur mammee ghar mein akele the. ghar mein ek dabba leek karane se paanee bah raha tha. vo use paunchhane ke lie baatharoom se sirph peteekot mein nikaleen. vo bhee geele peteekot mein nikalee theen. isamen se unakee pooree nangee javaanee mere saamane thee Mosi Sex indiansexstories hindi.

mammee ne mujhe bula kar kaha- jaldee se ise hatao . … leek kar raha hai.

vo mujhase kaam ke lie bol rahee theen aur main unaka chhed dekh raha tha.

vo muskura kar boleen- pahale ise hatao, baad mein dekh lena.

unakee is baat ko sunakar main apane aapako rok nahin paaya. mainne haaph paint utaar kar unako pakad liya aur peteekot ke oopar se hee land ragadane laga. unhonne khud ko chhudaane kee koshish bhee lekin main land ragadata chala gaya Mosi Sex indiansexstories hindi.

main itana adhik uttejit ho gaya tha ki mainne kuchh hee minat mein unake peteekot ke oopar muth gira diya.

vo mere land ka ras apane peteekot par dekh kar hairat se mujhe dekhane lageen.

main ab tak dheela ho chuka tha. main bola- pleez mammee, paapa ko ye sab mat bataana.
mere kahane par vo boleen- theek hai, nahin boloongee.

isase mujhe bhee pata chal gaya tha ki unhen bhee mujhase chudane ka man ho gaya tha Mosi Sex indiansexstories hindi.

phir usee din shaam mein jab mere bhaee bahan klaas gae the, main soya hua tha. achaanak se meree neend khulee, to mainne dekha ki mera land koee sahala raha tha. mainne aankh kholee, to dekha ki meree mammee mera land sahala rahee theen Mosi Sex indiansexstories hindi.

main muskura diya. mammee ne bhee aankh daba dee. bas phir kya tha. mainne mammee ke oopar ekadam se jhapat pada. main bhee unakee choot sahalaane laga. main dheere dheere mammee kee choot mein ungalee karane laga. vo bhee garm sisakaariyaan bharane lageen Mosi Sex indiansexstories hindi.

ek haath se main unakee naitee utaarane laga. mammee ne bhee jhat se apanee naitee utaar dee aur ekadam nangee ho gaeen. main unakee badee badee choochiyon ko baaree baaree se choosane laga.

aah … aaj main jannat mein tha … kya mast maja aa raha tha. aaj main apanee mammee ko chodane vaala tha. mainne unako kasake pakad liya aur unake honthon par kis karane laga. mammee bhee mujhase khud ko ragad kar maja lene lageen Mosi Sex indiansexstories hindi.

main unake nange badan ko choomate hue unakee chut par pahunch gaya aur jor jor se chut chaatane laga.

vo bhee ‘aah aah ui mammee aa … aa a … mar gayee re … aur jor se chaat aah … aur jor se.’ kahane lageen. main bhee poore josh mein aa gaya aur jor jor se chut chaatane laga. main pahalee baar choot chaat raha tha, mujhe bahut maja aa raha tha Mosi Sex indiansexstories hindi.

mammee ne mere sir ko pakad kar apanee choot mein daba diya aur chillaane lageen- aah aur jor se … aah … main gaee.
ab vo jhadane vaalee theen … vo mere munh mein hee jhad gaeen. mainne unake ras ko chaata, to maja aa gaya … vaah kya namakeen paanee tha … main saara ka saara chutaras pee gaya Mosi Sex indiansexstories hindi.

kuchh der baad main khada hua aur apana land unake munh par le gaya. vo land choosane se mana karane lageen. mainne unaka sir pakada aur land ko munh mein daal kar andar baahar karane laga. kuchh der mein vo bhee mera saath dene lageen.

poora room pach pach kee aavaajon se goonj raha tha. main to ekadam khush tha ki mera land meree mammee choos rahee hain Mosi Sex indiansexstories hindi.

kuchh der baad mera muth girane vaala tha. mainne unase poochha- munh mein gira doon?
vo bolee- nahin.

mainne land ka veery unakee goree goree choochiyon par gira diya.

ham donon ek pal ke lie ek doosare se lipate rahe … phir se choomaachaatee shuroo ho gaee. main unakee choot phir se chaatane laga. jaldee hee mammee garm ho gaeen. mera land bhee khada ho chuka tha Mosi Sex indiansexstories hindi.

ab mainne land ko unakee choot par rakha aur chut kee phaankon mein phansa diya. mammee ne neeche se apanee gaand uthaee aur mera land andar kar liya. unakee ek halkee see aah nikalee aur chudaee shuroo ho gaee.

main mammee ko jabaradast pelane laga. vaah kya chut thee unakee … pooree phoolee huee Mosi Sex indiansexstories hindi.

kuchh hee der mein vo jor jor se sisakaariyaan lene lageen. main aur jor se jhataka dene laga. beech beech mein main unhen choom bhee raha tha. unakee chuchiyaan chaatane lagata. vo bhee poore maje mein gaand utha utha kar chut de rahee theen.

unakee badee mast gaand hai … goree goree ubharee huee. mujhe unakee gaand maarane ka man karane laga. main mammee kee gaand par kis karane laga. mammee samajh hee na sakeen. mainne mammee kee chut se land nikaal kar unakee gaand ke chhed mein sait kar diya.
vo mujhe mana karane lageen. vo boleen- meree gaand abhee tak nahin chudee … ise mat chodo … phat jaegee Mosi Sex indiansexstories hindi.
main bola- phaadana hee to hai.

vo mana karatee raheen magar mainne unakee ek nahin sunee. mainne kaha- ek baar gaand chudava kar to dekho … kitana maja aata hai.
mainne gaand ko thoda chaat kar geela kiya aur land andar daalane kee koshish karane laga. unakee gaand kaaphee tait thee. mera mota land andar ja hee nahin raha tha Mosi Sex indiansexstories hindi.

mainne supaara phansa kar ek tej jhataka diya aur land ka supaara andar chala gaya.

itane se hee meree mammee jor se chilla padeen- aah nikaalo … bahut dard kar raha hai.

mainne dekha ki unakee gaand se khoon kee halkee see dhaar nikalane lagee thee … lekin mera land to khada tha. mainne ek aur jor se jhataka diya aur land andar daal diya. vo bahut jyaada aur jor se aavaajen nikaal rahee theen, isalie main unake honthon par kis karane laga taaki vo unakee aavaaj baahar nahin ja pae Mosi Sex indiansexstories hindi.

main mammee kee chut mein jhatake deta raha. kuchh hee der mein vo bhee maje lene lageen aur apanee gaand utha utha kar mera saath dene lageen. ab to mammee behad kaamuk ho gaee theen aur land ke maje lete hue beech beech mein bol rahee theen.

mammee- aah saale … too chod de apanee seksee raseelee mammee ko … chod de maadarachod … aanh tera baap aaj tak meree pyaas nahin mita paaya … too bujha de meree pyaas … aanh tumhen apane paas bachapan se rakhane ka koee to phaayada ho … aah ui ui … umm umm … kya mast chodata hai too … sach mein gaand chudavaane mein bhee bahut maja aa raha hai aa aa … …umm umm. tera land bahut mast hai re.
main bola- haan mammee main roj aapakee pyaas isee tarah bujhaoonga.
vo- aah ab saale toone meree gaand ka maja le liya ho … to phir se meree chut chod de.

mainne jhat se land gaand se kheench kar mammee kee choot mein daal diya. unakee choot mein mera land paanee kee tarah phisal kar ja raha tha. unaka shareer akad raha tha, vo jhadane vaalee theen Mosi Sex indiansexstories hindi.

main pelata raha. jab mammee jhadeen, to mere land mein bahut garm garm mahasoos hua. aah … mujhe mammee kee chut chod kar maja aa gaya tha. ab main bhee jhadane vaala tha.

mainne bhee unakee chut ke andar hee land jhaad diya. main chudaee se itana adhik thak gaya tha ki mere mein uthane tak kee taakat nahin bachee thee Mosi Sex indiansexstories hindi.

kuchh der baad ham donon uthe aur 69 kee pojeeshan mein aa gae. ab vo mera land aur main unakee chut chaatane laga. ham donon ne ek doosare ke land chut chaat kar saaph kie aur nahaane chale gae.

baatharoom mein aaj main unako nahala raha tha … vo mujhe paanee se nahala rahee theen.
jaldee hee ham donon phir se garm ho gae.
vo boleen- phir ek baar se chod de Mosi Sex indiansexstories hindi.
main bola- nahin mammee abhee mere mein enarjee nahin bachee aur meree bhee bahanon ke bhee aane ka taim bhee ho gaya hai.

mammee ye sunate hee chup ho gaeen. ham donon naha kar baahar aa gae aur apane apane kapade pahan lie.
hamane us din raat mein phir se seks kiya.
ab hamen jab bhee mauka milata hai, chudaee ka maja lene lagate hain. main unako poora nanga karake chodata hoon Mosi Sex indiansexstories hindi.

dosto, ye meree bilkul sachchee ghatana hai … koee jhoothee seks kahaanee nahin hai. aap pleej kament karake jaroor bataen ki aapako chudaee kee kahaanee kaisee lagee? isake alaava aap kahaanee par neeche kament karake bhee apanee raay de sakate hain. aur seks vidiyo aur naiw kahaanee padhane ke liye tailaigram grup join kar sakate hai.
[email protected]

Read more chudai Story-

Real Mosi Sex Story 1 मोसी भान्जे की सच्ची सेक्स स्टोरी fun

antarvasna mosi | मौसी की गाण्ड मारी छत पे 1 hindisexstory

Cudai khaniya मेरी मामी की वासना और चुदाई 1 Free Sex Story

Leave a Comment