Antarvasna2 पापा ने छत पर अपनी बेटी को चोदा Best Sex

पापा ने छत पर अपनी बेटी को चोदा Antarvasna2

Antarvasna2: सब कहते हैं कि मैं बहुत खूबसूरत हूँ. मेरे पापा दो बार मेरी चूत की चुदाई कर चुके थे. मेरी तीसरी चुदाई पापा ने रात को खुली छत पर कैसे की? पढ़ कर मजा लें.

मेरे प्यारे दोस्तो. आप सब कैसे हो. मैं सोनिया रावत उम्मीद क़रती हूँ कि आप सब अपने अपने लंड हिला रहे होंगे.

मेरी पिछली कहानी थी
मेरे भाई ने चोदा मुझे सड़क किनारे

MastHindiStory पर ये मेरी तीसरी और सच्ची सेक्स स्टोरी है. यह कहानी एक जवान लड़की की है जिसे मैंने लिखा है. मुझे आशा है कि आप सभी इस सेक्स कहानी को पसंद करेंगे.

तो मजा लें.

मेरा नाम रंजीता है और मेरी उम्र 19 साल है. मैं भावनगर गुजरात से हूँ. हमारे परिवार में 6 सदस्य हैं. मम्मी-पापा, मैं, दीदी, भाई और दादी. परिवार में सबसे ज्यादा सेक्सी मेरी दीदी हैं.
पर दीदी मेरे लिए कहती हैं कि मैं भी किसी से कम नहीं हूँ. मेरे छोटे छोटे नुकीले चूचे और टाइट चूत वास्तव में मुझे बड़ी मजबूती देती है. मेरी चूत पर अभी हल्के हल्के बाल आना शुरू हुए हैं पर मेरी चुत है बहुत गोरी.

मेरे चूचे भी एकदम बब्बूगोशा जैसे गोल मटोल और आगे से नुकीले हैं. बब्बूगोशा से तो आप समझ गए होंगे. ये एक नाशपाती की फैमिली का फल होता है और बहुत मीठा होता है. मैंने इसीलिए बब्बूगोशा कहा है, वैसे लोग इसे बग्गूगोशा भी कहते हैं, लेकिन बब्बू कहने में बुब्बू का अहसास अन्दर तक सनसनी कर देता है न … इसलिए बब्बूगोशा लिखा है. दूध के बाद मेरी नाभि सबसे अधिक सेक्सी है.

दोस्तो, अपने पापा के साथ मेरी ये तीसरी चुदाई की कहानी है. पापा के साथ मेरी पहली और दूसरी चुदाई की कहानी भी मैं आपके साथ जरूर शेयर करूंगी, पर मेरे लिए ज्यादा यादगार यही है … इसीलिए मैं इस कहानी को पहले लिख रही हूँ.

Antarvasna2

वो जुलाई का महीना था. उस महीने की 18 तारीख को मेरा जन्मदिन होता है. उस दिन शाम को पहले हम सबने जन्म दिन मनाया … खूब इंजॉय किया. फिर 11 बजे खाना खाने के बाद हम सब सोने की तैयारी करने लग गए. इतने में लाइट चली गयी.

मैंने मम्मी पापा से कहा कि मैं छत पर सोने जा रही हूँ, मुझे नीचे गर्मी में नींद नहीं आएगी.
मम्मी ने कहा- बेटा, अकेले कैसे सोएगी … जा अपनी दीदी को भी बोल दे उसे भी साथ ले जा.
मैंने दीदी से कहा, पर दीदी ने मना कर दिया.

इतने में पापा बोले- चल मैं तेरे साथ चलता हूँ.
मैं अपने पापा के साथ दो बार चुदाई कर चुकी थी, पर ये बात मम्मी को मालूम नहीं थी. पापा होने के नाते माँ ने कोई शक नहीं किया. अब मैं और पापा छत पर चले गए. हमने छत पर ही बिस्तर लगाया और लेट गए.

कुछ देर बाद पापा ने धीरे से एक पैर मेरे ऊपर रखा और कहा- बेटी, क्या ख्याल है?
मैंने कहा- पापा क्या ख्याल होगा … मैं मना करूंगी, तो कौन सा आप कुछ नहीं करोगे. कुछ करने के लिए ही तो आप छत पर आए हो.
पापा हंसने लग गए और कहा- मेरी बिटिया तो समझदार हो गयी.
यह कहते हुए पापा ने मेरे चुचे दबा दिए.

Antarvasna2

मैंने एक छोटी सी आह्ह्ह भरी. मैंने उस दिन ब्लैक वाइट रंग की स्कर्ट पहन रखी थी. पापा मेरी स्कर्ट ऊपर करके कच्छी के ऊपर से ही मेरी चूत सहलाने लग गए. मुझमें मदहोशी छाने लग गयी … मैं गर्म होने लगी.

पापा के साथ दो बार चुदाई के बाद मेरी शर्म खत्म हो चुकी थी. गर्म होने के बाद मैं पापा के ऊपर चढ़ गई और उनके होंठ चूसने में लग गयी. जैसे ही मैं पापा के होंठ चूस रही थी, वैसे मैंने देखा कि मेरे पेट पर कुछ महसूस हो रहा है. शायद पापा का लंड खड़ा हो गया था.

Antarvasna2

फिर मैं पापा को किस करने लगी मैं कभी उनके गले पर, तो कभी सीने पर चुम्मी करके उनके पेट से होते हुए नीचे आ गयी. पहली बार की चुदाई में मुझे पापा का लंड चूसना अजीब सा लगा था. पर दूसरी चुदाई में मैंने लंड खूब चूसा था … और अब तो मुझे लंड एक कुल्फी लगने लगा था.

मैंने पापा के लंड को उनके कच्छे से बाहर निकाला. उनका लंड मैंने कभी नापा तो नहीं था, पर 7 इंच का तो होगा ही … और मोटा भी खूब है. क्योंकि जब मैंने अपनी सील अपने पापा से तुड़वाई थी, तो पूरे 15 दिन तक मेरी चूत में दर्द होता रहा था.
ये उनके मोटे और लम्बे लंड को लेने की वजह से हुआ था. दूसरी बार उनके लंड से चुदाई में मुझे कुछ मजा आया था. पर बस जब पापा ने मेरी चूत में अपना लौड़ा डाला था … मुझे पता है कि आज भी लंड अन्दर जाने वाला है.

अब मैं पापा का लंड बड़े मजे से चूस रही थी. पापा मस्ती में अपनी आंखें बंद करके कहे जा रहे थे- आह रंजू बेटा और चूस … आह अपने पापा का लंड चचोर ले. … आह मजा आ रहा है बेटा … बस ऐसे ही चूसती रह.

Antarvasna2

मैं भी पूरी शिद्दत से अपने पापा का लंड चूसती रही. कुछ ही देर में हम दोनों पूरी तरह से गर्म हो चुके थे. फिर पापा ने मुझे नीचे गिराया और मेरी स्कर्ट ऊपर करके मेरी कच्छी को नीचे कर दिया.

मैंने स्कर्ट के ऊपर कमीज पहन रखी थी. पापा ने एक एक करके उसके बटन खोले और कमीज को उतार दी. अब मैं ब्रा और स्कर्ट में थी. वो स्कर्ट मुझे मेरी बुआ ने दी थी और ब्रा पापा खुद लाये थे.

पापा कहने लगे कि मेरी रंजीता बिटिया ब्रा और स्कर्ट में कितनी सेक्सी और हॉट लगती है. दुनिया की सबसे ज्यादा हॉट लौंडिया.
मैंने कहा- पापा मैं जैसी भी हूँ … बस अब तुम्हारी हूँ.

पापा मेरी गांड सहलाते हुए कहने लगे- मेरी रंजू बिटिया की गोरी गोरी जांघें कितनी चिकनी हैं … गोल गोल नुकीले चुचे.
ये कहते हुए पापा नेम मेरे निप्पल मींज दिए.
मैंने बस ‘आह्ह्ह्ह..’ भर दी.

अब पापा मेरी चूत चाटने में लग गए. मैंने टांगें हवा में उठा दीं. पापा मेरी बुर चाटे जा रहे थे …

Antarvasna2

और मैं गांड उठा कर पापा को अपनी चुत में घुसेड़ लेना चाहती थी. मुझे इतनी अधिक उत्तेजना बढ़ गई थी कि मैं कुछ ही पलों में झड़ गयी. पापा ने मेरी चूत का सारा गर्म गर्म रस पी लिया.

Antarvasna2

‘आःह्ह’ सच में अपने पापा से अपनी चुत चुसवाने में कितना मजा आया था.
पापा ने मेरी बुर का गर्म रस चाटने के बाद भी मेरी चुत को चुसना नहीं छोड़ा. इससे हुआ ये कि मेरी जवान चूत जल्दी ही फिर से चुदासी हो गई.

अब मैंने पापा से कहा- पापा अब मुझसे रहा नहीं जा रहा है, आप जल्दी से मेरी चूत में अपना लंड डाल दो.
पापा ने मेरी चूचे मसलते हुए कहा- क्या हुआ मेरी रंडी … चुत में चींटियां काट रही हैं क्या?
मैं- हां पापा, आपकी रांड बिटिया की चूत अपने पापा का लंड लेने के लिए मचल रही है.
पापा ने मुझसे पूछा- तू ऊपर से आ कर लंड लेना चाह रही है या नीचे से मैं ही लंड पेलूँ?

मैंने कहा- पापा मुझे नीचे से मजा आता है … आप ही मेरे ऊपर चढ़ जाओ … आप ऊपर से जमकर चोदते हो.
पापा ने कहा- ठीक है … तू अपनी टांगें खड़ी कर दे और अपने हाथ से लंड को चूत में लगा दे.

मैंने ऐसे ही किया. पापा का लंड हाथ में लेकर अपनी चूत के मुँह पर लगा दिया … और पापा ने एक झटके में लंड अन्दर ठेल दिया. तीसरी बार लंड लेने पर अभी मेरी चुत पूरी तरह से लंड लेने की अभ्यस्त नहीं हुई थी. इसलिए मुझे पापा का लंड लेते ही चुत में दर्द होने लगा. हालांकि इस बार दर्द कम हुआ था. जितना पहली और दूसरी चुदाई में हुआ था … इस बार उतना दर्द नहीं था.

जल्द ही पापा ने अपना पूरा लंड मेरी चुत की जड़ तक पेल दिया और अब वो धीरे धीरे धक्के मारने लगे थे.

Antarvasna2

आज मैं खुली छत पर अपने पापा से चुद रही थी. मुझे बड़ा मजा आ रहा था. हम दोनों के बदन गर्मी के चलते पसीने में लथपथ होने लगे थे.

इतने में बारिश होने लगी.
बारिश की बूंदों ने मेरी गर्मी को मस्ती देना शुरू कर दिया था. मैंने अपनी दोनों टांगें हवा में उठा रखी थीं और पापा मेरी चुत को भोसड़ा बनाने की जुगत में जोरदार धक्के मार रहे थे. उनका लंड मेरी चुत में इंजिन का पिस्टन जैसा चल रहा था.

Antarvasna2

मैंने पापा से कहा- उम्म्ह… अहह… हय… याह… पापा बड़ा मजा आ रहा है … आप रुकना मत … आज ऐसे ही बारिश में अपनी रंजीता की चूत बजाते रहो. आपकी रंजू बारिश में भीगते हुए ही चुदना चाहती है.

पापा को पानी बूंदों से मजा आ रहा था. वो बारिश की ठंडी बूंदों में अपने लंड और मेरी चुत की आग को बुझाने में लग गए और उनकी रफ्तार पहले से तेज हो गई. पापा का लंड मेरी चुत में पूरे अन्दर जाकर मेरी बच्चेदानी पर चोट मार तरह था.

पापा मेरी ताबड़तोड़ चुदाई करने में लगे हुए थे. जैसे जैसे पापा की रफ्तार बढ़ रही थी, वैसे वैसे बारिश और तेज होती जा रही थी. ऐसा लग रहा था मानो बारिश की बूंदों और पापा के धक्कों में कम्पटीशन हो रहा हो.

पापा ने मुझे चोदते हुए कहा- आह … मेरे साथ बारिश में नंगी होकर डांस करेगी?
मैंने हामी भर दी.

हम दोनों खड़े हुए और बारिश में डांस करने लग गए. हम दोनों बाप बेटी बिल्कुल नंगे थे. डांस करते करते मैं बीच बीच में पापा का लंड चूस लेती. अब पापा ने मुझे गोद में उठाकर डांस करने लगे. वो डांस करते करते मुझे एक कोने में ले गए और मेरी एक टांग दीवार पर टिका कर वहीं खड़े खड़े मेरी चूत में लंड डाल दिया. लंड अन्दर पेलते ही पापा मेरी चुत में जोर जोर से धक्के मारने लगे. अब मेरा आनन्द आसमान पर था. मुझे पापा से खड़े खड़े चुदने में बहुत मजा आ रहा था. मैं भी इस चुदाई की मस्ती में अपने पापा से ना जाने क्या क्या बोल रही थी.

मैं कहने लगी- वोह्ह मेरे पापा … चोदो ना अपनी रांड बिटिया को … आज से मैं आपकी रखैल हूँ.
पापा ने कहा- ये तुम और आप बोलना छोड़ … और मुझे तू अबे बोल … गाली दे भैन की लौड़ी छिनाल साली लंडखोर!
मैंने भी उनकी बात मान ली और बोलने लगी- आज से ये रंजीता तेरी रांड बेटीचोद … जब मर्जी चोदना मुझे भोसड़ी वाले … आह्ह ऊह्ह्ह कुत्ते … आज रगड़ दे अपनी नाजुक छिनाल बिटिया को … मसल दो अपने लंड से आज मुझे … आह्ह्ह.

Antarvasna2

पापा वहीं खड़े खड़े बारिश में मेरी चूत बजाए जा रहे थे. मेरी चुत को दुनिया का हर सुख दे रहे थे.

मैंने पापा से कहा- आज मैं तेरी पत्नी बन गई हूँ … चोदो मेरे राजा … फाड़ दो आज अपनी पत्नी रंजीता की चूत … आज से मैं तेरी सब कुछ हूँ … रांड भी, रखैल भी, बिटिया भी, गर्लफ्रेंड भी और पत्नी भी … आज पूरा निचोड़ दो अपनी जान को. आहह पापा. मेरे पापा … आह्ह्ह पापा … बना दो आज अपनी बिटिया को माँ … चोद चोद कर फाड़ दो आज मेरी चूत …

इस पर पापा भी बोलने लग गए- ले कुतिया. … साली … मेरी रंजीता रांड … हां आज से मैं तेरा खसम हूँ … अब हर रात तेरे साथ तेरी चूत बजाऊंगा … भैन की लवड़ी खा अपने बाप का लौड़ा!
ये कहते हुए पापा के लंड के धक्कों की स्पीड तेज हो गयी … और मेरी आवाज भी.

मैं बोलने- माँ के लौड़े हरामी साले … आज तू पूरा बेटीचोद बन गया … तू मेरा राजा और मैं तेरी रानी … चोद मेरे राजा … आह्ह्ह.

पापा अब मुझे पूरी ताकत और जोर से चोदने लगे थे. मैं भी चरम सीमा पर आ गई थी. मैं झड़ने वाली थी.

इतने में पापा ने अपने लंड का गर्म गर्म वीर्य में मेरी चूत के अन्दर ही छोड़ दिया. उसके बाद पापा ने लंड बाहर निकाला और मैंने मुँह से पापा का लंड चूसकर साफ़ कर दिया.
अब बारिश भी कम हो गयी थी. ये रात मेरे लिए बहुत यादगार थी.

अपने पापा से अपनी चुत चुदाई की कहानी में अभी बस इतना ही लिख रही हूँ. आप मुझे मेल करके जरूर बताएं कि मेरी ये सेक्स कहानी आपको कैसी लगी … ताकि मुझे अगली सेक्स स्टोरी लिखने की हिम्मत मिले.

Antarvasna2

मेरी चुदाई की कहानी आपके लिए हमेशा आती रहेंगी. आपके मेल आने तक के लिए आपका धन्यवाद.
[email protected]

Join Telegram and send your message

Antarvasna2

Read in English

Papa ne chet pr mujhe choda Antarvasna2

Antarvasna2: Everyone says that I am very beautiful. My father had fucked my pussy twice. How did my third fuck father on the open terrace at night? Read and enjoy

My dear friends how are you all. I hope Sonia Rawat that you all will be shaking your cocks.

My previous story was
My brother fuck me on the road
This is my third and true sex story on MastHindiStory. This story is of a young girl whom I have written. I hope you all like this sex story then Antarvasna2

So have fun

My name is Ranjita and I am 19 years old. I am from Bhavnagar Gujarat. There are 6 members in our family. Mom, Dad, I, Sister, Brother and Grandmother. My sister is the most sexy in the family.
But sister says to me that I am not less than anyone. My tiny little nipples and tight pussy really gives me great strength. Mild hair has started coming on my pussy right now, but my pussy is very fair for Antarvasna2.

My hands are also very chubby like babugosha and pointy from the front. You must have understood from Babugosha. It is the fruit of a pear family and is very sweet. That is why I have called Babugosha, by the way people also call it Buggugosha, but the feeling of Bubbu in saying Babloo makes a sensation deep inside… so Babbugosha is written. My navel is the most sexy after milk like Antarvasna2.

Friends, this is the story of my third sex with my father. I will also share my first and second sex story with my father, but this is more memorable for me… That is why I am writing this story first.

Antarvasna2
It was the month of July. My birthday is on the 18th of that month. In the evening that day, first of all we celebrated the birth day… enjoyed a lot. Then after eating food at 11 o’clock we all started preparing for sleep. Light went on in this.

I told my father that I am going to sleep on the terrace, I will not sleep in the heat below.
Mother said- Son, how will you sleep alone… Go and speak to your sister as well.
I told Sister, but Sister refused the Antarvasna2.

In this way, my father said – Let me go with you.
I had fuck with my father twice, but mother did not know this. Being a father, the mother made no doubt. Now my father and I went to the terrace. We put a bed on the roof and lay down then Antarvasna2.

After some time Papa gently put one foot on me and said- Daughter, what is the idea?
I said – Dad, what will be the idea… If I refuse, which one you will not do anything. You have come to the roof to do something and Antarvasna2.
My father started laughing and said – My daughter has become sane.
Saying this, father suppressed my cock.

Antarvasna2
I sighed a little I was wearing a black white skirt that day. Papa started rubbing my pussy from above Kutchhi after putting my skirt up. I started getting drunk… I started getting hot.

After fucking with dad twice my shame was over. After getting hot, I climbed over Dad and started sucking his lips. As I was sucking Papa’s lips, I noticed that I felt something on my stomach. Perhaps Papa’s cock was erected the Antarvasna2.

Then I started kissing my father, sometimes on his neck, sometimes on the chest, he came down through his stomach. It was a strange feeling to suck my father’s cock for the first time. But in the second fuck, I had sucked a lot of cocks… and now I had started feeling a cock and Antarvasna2.

I took my father’s cock out of his bag. I had never measured his cock, but it will be 7 inches… and it is also very thick. Because when I broke my seal with my father, for the whole 15 days, my pussy was in pain and Antarvasna2.
This was due to taking their thick and long cocks. The second time I had some fun with his cock. But just when the father had put his Aloda in my pussy… I know that even today the cock is going to go inside.

Now I was sucking my father’s cock with great fun. Papa was closing his eyes in fun and saying – Ah Ranju son and suck… Ah take your father’s cock. … Ah Enjoying son… just keep on sucking like that.

Antarvasna2
I also kept sucking my father’s cock with full devotion. In a while we were both completely hot. Then my father dropped me down and lifted my skirt up and lowered my skirt.

I was wearing a shirt over the skirt. Father opened his buttons one by one and removed the shirt. Now I was in bra and skirt. My skirt was given to me by my aunt and the bra father himself like v

Papa started saying how sexy and hot my Ranjita girl looks in bra and skirt. World’s hottest hot Claudia then Antarvasna2.
I said – Father, whatever I am… I am yours now.

Papa started caressing my ass and said – My Ranju Batiya’s fair white thighs are so smooth….
Saying this, my father gave me nipple balls.
I just filled ‘ahhhhh ..’.

Now my father started licking my pussy. I lifted my legs in the air. My father was licking my bur…

Antarvasna2 And I wanted to lift my ass and put Papa in my pussy. I was so excited that I fell in a few moments. Papa drank all the hot juice of my pussy.

Antarvasna2
‘Ahhhhh’ was really fun in kissing my father with his cock.
Papa did not stop licking my pussy even after licking the hot juice of my bur. It happened that my young pussy soon became Chudasi again.

Now I told my father – Papa is no longer going with me, you quickly put your cock in my pussy.
Papa said while stroking my cock – what happened to my scrubber… Are ants biting in the pussy?
I – yes, father, your rand daughter’s pussy is going to make a mess to take her father’s cock.
Papa asked me – Are you trying to get cocks from above or will I get cocks from below?

I said- Papa, I enjoy it from below… You climb on top of me… You fuck me hard from above.
Papa said – okay… you put your legs and put the cocks in the pussy with your hand then Antarvasna2.

That’s what i did Dad took his cock in his hand and put it on the mouth of his pussy… and Papa put the cock inside in one stroke. After taking cocks for the third time, my pussy was not used to taking cocks completely. Therefore, I started having pain in my pussy as soon as I took my father’s cock. Although this time the pain was lessened. As much as it happened in the first and second chudai… This time there was not as much pain for Antarvasna2.

Soon, Dad gave his whole cock to the root of my pussy and now he was slowly starting to bang.

Antarvasna2
Today I was fucking my father on the open terrace. I was enjoying it very much. Both of our bodies were soaked in sweat due to heat.

It started raining a lot.
The raindrops had started enjoying my summer. I had raised both my legs in the air and my father was beating me vigorously to make my pussy Bhosda. His cock was moving like a piston of engine in my pussy.

Antarvasna2
I said to my father- Ummh… Ahhh… Hahh… Yah… Papa is enjoying a lot… Don’t you stop… Keep playing Ranjita’s pussy in the rain like this today. Your Ranju wants to fuck you while wet in the rain.

cript>

Dad was enjoying water drops. They started to extinguish the fire of their cocks and my pussy in the cool drops of rain and their speed became faster than before. Papa’s cocks went all the way into my pussy and hit my baby girl and Antarvasna2.

My father was engaged in fucking me. As Papa’s speed was increasing, so was the rain becoming more intense. It seemed as if there was competition in raindrops and father’s bumps.

Papa said to me while fucking- Ah… will dance with me naked in the rain?
I agreed

We both stood up and started dancing in the rain. Both our father and daughter were absolutely naked. While dancing I would suck my father’s cock in between. Now my father picked me up and started dancing. While doing the dance, he took me to a corner and put one of my legs on the wall standing there and put cocks in my pussy then Antarvasna2. As soon as the cocks got inside, my father started banging my pussy very hard. Now my joy was in the sky. I was enjoying standing by my father. I also did not know what my father was saying in the fun of this fuck.

Antarvasna2
Today I was fucking my father on the open terrace. I was enjoying it very much. Both of our bodies were soaked in sweat due to heat.

It started raining a lot.
The raindrops had started enjoying my summer the Antarvasna2. I had raised both my legs in the air and my father was beating me vigorously to make my pussy Bhosda. His cock was moving like a piston of engine in my pussy.

Antarvasna2
I said to my father- Ummh… Ahhh… Hahh… Yah… Papa is enjoying a lot… Don’t you stop… Keep playing Ranjita’s pussy in the rain like this today. Your Ranju wants to fuck you while wet in the rain.

Dad was enjoying water drops. They started to extinguish the fire of their cocks and my pussy in the cool drops of rain and their speed became faster than before. Papa’s cocks went all the way into my pussy and hit my baby girl the Antarvasna2.

My father was engaged in fucking me. As Papa’s speed was increasing, so was the rain becoming more intense. It seemed as if there was competition in raindrops and father’s bumps and Antarvasna2.

Papa said to me while fucking- Ah… will dance with me naked in the rain?
I agreed

We both stood up and started dancing in the rain. Both our father and daughter were absolutely naked. While dancing I would suck my father’s cock in between. Now my father picked me up and started dancing and Antarvasna2. While doing the dance, he took me to a corner and put one of my legs on the wall standing there and put cocks in my pussy. As soon as the cocks got inside, my father started banging my pussy very hard. Now my joy was in the sky. I was enjoying standing by my father. I also did not know what my father was saying in the fun of this fuck.

I started saying – oh my father… Chodo na apni rand bitiya… from today I am your mistress.
Papa said – you and you stop speaking… and speak to me Abe… Abuse Bhain’s cluttered sister-in-law Lankhor!
I too obeyed him and started speaking – from today, this Ranjita Teri Rand Beti Chod… When I will free Chodna Bhosadi… Ahhh ohhhhhhhh… Dog rub your delicate cheek bitch today… Mash me with your cock today… Ahhhh.

Antarvasna2
Dad was standing there, my pussy was being played in the rain. Giving my pussy all the happiness of the world.

I told my father- Today I have become your wife… Chodo my king… Tear me today, my wife Ranjitha’s pussy… Since today I am your everything… Rand too, concubine, daughter and girlfriend and wife too… today Squeeze your life completely. Ahh Papa My father… Ahhhh father… make me your mother today… tear me apart and fuck my pussy today…Antarvasna2.

On this, the father also started speaking – Le Bitch. … Sister… My Ranjitha Rand… Yes, from today onwards, I am your Khasam… Now every night I will play your pussy with you… eat your father’s aloda!
Saying this, the speed of Papa’s cocks bounced… and my voice too then Antarvasna2.

I speak – Mother’s returned bastard … Today you have become a full daughter … You are my king and I am your queen … My God my king … Ahhh.

Dad, now I started fucking with full force and strength. I had also come to the climax. I was about to fall and Antarvasna2.

In this way, Papa left his cock in the hot semen inside my pussy. After that, the father took out the cocks and I sucked my father’s cock out of the mouth and cleaned it.
Now the rain had also reduced. This night was very memorable for me and Antarvasna2.

I am writing just this much in the story of my love with my father. You must tell me by mailing me how you liked my sex story… so that I get the courage to write the next sex story.

Antarvasna2
The story of my fuck will always come for you. Thank you for your mail.
[email protected]

Read Chudai more Chudai Story-

Kamvasna hindi story 1 चचेरी बहन की चुदाई का मजाReal Sex Fun

Baap beti xxx story बाप बेटी की चुदाई 1 lovely Sex stories

Hindisexstoris जेठ जी ने की मेरी चुदाई 1 Best Sex Fun Story

Leave a Comment

org/tools/popad.js">