Follow my blog with BloglovinHindisexstoris जेठ जी ने की मेरी चुदाई 1 Best Sex Fun Story

Hindisexstoris जेठ जी ने की मेरी चुदाई 1 Best Sex Fun Story

जेठ जी ने की मेरी चुदाई Hindisexstoris

Hindisexstoris: मेरे पति विदेश में हैं. एक दिन मैं और जेठजी घर में अकेले थे. टीवी पर गर्म दृश्य देखकर मेरी अन्तर्वासना उफान पर थी. तो मैंने अपने जेठ जी को सेक्स के लिए कैसे उकसाया?

नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम अनिता है, मैं MastHindiStory की नियमित पाठिका हूँ। मेरी उम्र 27 साल है और मेरा फिगर 34-26-36 है। मेरा रंग एकदम दूध से गोरा है और मेरे पति थोड़े से साँवले हैं।
बात को ज़्यादा ना खींचते हुए मैं सीधे कहानी पे आती हूँ। यह कहानी मेरी अपनी सच्ची कहानी है।

मेरे घर में मैं, मेरे बच्चे, मेरी जेठानी, जेठ जी और उनकी एक बेटी साथ में रहते हैं। ससुर जी का बैंक में जॉब था तो वो मेरी सास के साथ घर से दूर सहारनपुर में रहते थे और मेरे पति डेढ़ साल से विदेश में थे।

कहानी मेरे और मेरे जेठ की चुदाई की है।

उन दिनों शादियों का सीजन चल रहा था और मेरी जेठानी के भाई की शादी तय हो गयी थी जो 10 दिन बाद होने वाली थी।
अप्रैल-मई का महीना था तो बच्चों के स्कूल भी बंद थे.

हुआ ये कि मेरी जेठानी दो दिन बाद अपने मायके जा रही थीं, तो मैंने कहा- बच्चों को भी साथ लेते जाइये और मैं दो दिन बाद आऊंगी क्योंकि मेरी ब्लाउज अभी तैयार नहीं है और दर्ज़ी ने चार दिन का वक्त मांगा है.
तो वो मान गयीं और दो दिन बाद अपनी बेटी और मेरे बच्चों के साथ वो चली गईं।

जेठ जी उनके साथ नहीं गए क्योंकि वो जिस कम्पनी में काम करते थे वहां से उनको छुट्टी भी नहीं मिली थी।
एक बात बता दूं कि मेरे जेठ जी बहुत ही शर्मीले किस्म के इंसान हैं।
तो मैंने सोचा कि उनके साथ ही चली जाऊंगी जब वो जाएंगे.

Hindisexstoris

इत्तेफाक से उस दिन बहुत ज़ोर की बारिश हो रही थी. मैंने रात का खाना बनाया और बैठ कर टीवी देखते देखते जेठ जी का इंतज़ार करने लगी ताकि वो आएं और हम साथ में डिनर करें।

चूँकि बारिश तेज़ थी तो थोड़ी ठंड भी लग रही थी, मैं अंदर से एक शॉल लेकर आई और बैठ कर टीवी देखने लगी।

उस वक्त ज़िस्म मूवी आ रही थी और रोमांटिक दृश्य चल रहा था. अब मेरे बदन में गर्मी होने लगी और शॉल को हटाकर दूर रख दिया और मैं वासना से मचलने लगी. मैं अपनी चूचियों को आपस में मसलने लगी और जांघों और पेट को भी सहलाने लगी।

मैं एकदम गर्म हो चुकी थी क्योंकि मेरे पति भी डेढ़ साल से विदेश में ही थे और कितने दिन हो गए थे मैं चुदी भी नहीं थी. और ऊपर से बारिश भी हो रही थी।

सच पूछिए तो उस वक़्त मेरे मन था कि किसी को भी बुलाकर चुदवा लूं. लेकिन जैसे तैसे मैंने अपने आप को संभाला, उठकर साड़ी को भी ठीक किया. उस दिन मैंने हल्के गुलाबी रंग की पतली सी साड़ी पहन रखी थी और मैचिंग लिपस्टिक भी लगा रखी थी.

रात के 9 बज चुके थे और जेठ जी के आने का समय भी हो गया था।
थोड़ी देर बाद घर की घण्टी बजी, मैंने दरवाजा खोला तो जेठ जी थे. वो एकदम भीग चुके थे.

मैंने कहा- आप चेंज कर लीजिए, मैं तौलिया लेकर आती हूँ फिर खाना खाएंगे।
मैं तौलिया लेने चली गयी और वो अपने कमरे में जाकर चेंज करने लगे. शायद वो दरवाज़ा बन्द करना भूल गए और ऐसे ही कपड़े बदलने लगे।

तौलिया लेकर उनके कमरे में मैं आयी तो देखा कि उन्होंने अपना शर्ट और पैंट निकल दिया था और सिर्फ चड्डी में थे. उनके पूरे शरीर पर बाल थे, एकदम हट्टा-कट्टा शरीर, मैं तो बस उन्हें ही देखे जा रही थी।
फिर मैं थोड़ी साइड में हो गयी और दरवाजा खटखटाया और साइड से ही तौलिया देकर चली आयी।

Hindisexstoris

वो नज़ारा मेरी आँखों में घूमने लगा, मेरा मन फिर से मचलने लगा.

तभी वो बाहर आये और बोले- सॉरी, वो मैं दरवाज़ा बन्द करना भूल गया था।
मैन कहा- कोई बात नहीं।

फिर हम बैठ के खाना खाने लगे. खाते वक़्त मेरा ध्यान उनकी तरफ ही जा रहा था. उन्होंने एक शार्ट निक्कर और एक टीशर्ट डाल रखी थी।

जेठ जी खाना खाकर आपने रूम में चले गए और लैपटॉप पे काम करने लगे।

मैंने भी अपना काम खत्म किया और दूध लेकर जेठ जी के कमरे गयी तो देखा कि वो काम करते करते टेबल पे ही सर रख के सो गए थे।
मैंने झुककर धीरे से उनकी कान में आवाज़ लगाई- जेठ जी!

वो अचानक से उठे तो उनकी कोहनी मेरी चुचियों से टच हो गयी, उन्होंने तो सॉरी बोला लेकिन मुझे बहुत अच्छा लगा और ‘कोई बात नहीं’ बोलकर दूध रखकर बाहर आ गयी।

अब मेरी वासना जाग गयी और जेठ जी से चुदने के लिए सोचने लगी कि क्या करूँ कि उनका ध्यान मेरी तरफ आये।

थोड़ी देर बाद मैं फिर उनके कमरे की तरफ गयी तो देखा कि अब तक वो लैपटॉप पे ही थे. रात के 11 बज चुके थे, मैं उनके पास गई और ज़बरदस्ती उनका लैपटॉप बन्द किया और बोला- इतनी रात हो गयी और आप अब तक काम कर रहे हैं.

Hindisexstoris

मैंने उनका हाथ पकड़ा और बिस्तर की तरफ खींचने लगी. तभी मैं जानबूझकर लड़खड़ाते हुए उनके बिस्तर पर गिर गयी और ऐसे खींचा कि वो मेरे ऊपर ही आ गिरे.

अब जेठ जी पूरी तरह से मेरे ऊपर थे।
वो उठने ही वाले थे कि उसी वक़्त बिजली कड़की और मैंने डर के मारे उनको फिर से अपनी बांहों में जकड़ लिया।

थोड़ी देर मैं उनसे ऐसे ही लिपटी रही और मेरी सांसें गर्म होने लगी। मेरा पूरा बदन गर्म हो चुका था.

तभी मैंने महसूस किया कि उनका लन्ड भी तन गया और मेरी जांघों में चुभने लगा।
उन्होंने मेरा हाथ छुड़ाया और खड़े हो गए।

तभी फिर से बिजली कड़की और मैं उनसे फिर लिपट गयी।
उन्होंने मेरा चेहरा पकड़ा और बोला- कोई बात नहीं, डरो मत, मैं हूँ ना!
मेरी आँखें बंद थी.

फिर मैंने आंखे खोली और उनकी आंखों में देखने लगी और इससे पहले वो मुझसे दूर होते, मैंने अपने होंठ उनकी होंठों पर रख दिया और किस करने लगी।
उन्होंने मुझे छुड़ाया और बोला- क्या कर रही हो, तुम मेरे भाई की बीवी हो, ये गलत है।

मैंने उन्हें फिर अपनी तरफ खींचा और बोली- जेठ जी मुझे पता है कि ये गलत है, लेकिन इस वक़्त मैं बहुत ही प्यासी हूँ, मेरी प्यास बुझा दीजिये प्लीज!
और ऐसा कहकर मैंने फिर से अपने होठों को उनके होंठों पे रख दिया और किस करने लगी.

Hindisexstoris

अब वो भी मेरा साथ देने लगे.

हम किस करते हुए बिस्तर पर गिर गए. लगभग 10 मिनट किस करने के बाद हम अलग हुए और उन्होंने मेरे कपड़े उतारे और मैंने उनके।

अब हम पूरी तरह से नंगे थे, मैंने उनका लन्ड देखा और बोली- आपका ये कितना लम्बा और मोटा है.
मेरे जेठ जी का लंड लगभग 8″ लम्बा और 3″ मोटा था जो कि मेरे पति के मुकाबले ज्यादा था।

मैंने उनका लन्ड पकड़ा और अपने मुंह में डाल कर चूसने लगी। करीब 5 मिनट चूसने के बाद मैं फिर से किस करने लगी।

Hindisexstoris

अब उन्होंने मुझे अलग किया और मेरी पैंटी उतारकर मेरी चूत चूसने लगे, जब उन्होंने मेरी चूत पर अपने होंठ को रखा मैं सिहर गयी और मैं ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ करने लगी।
उनकी गर्म सांसें मेरी चूत पर एक अलग ही अहसास दिला रही थी।

चूत चूसने के बाद उन्होंने अपना लन्ड मेरी चूत के मुंह पे रखा और एक हल्का सा धक्का मारा। मेरे मुंह से ‘उइ माँ मर गयी’ निकल गया. जेठ जी ने मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिये और धक्के मारने लगे।

Hindisexstoris

करीब पांच मिनट चोदने के बाद उन्होंने मुझे मेरी पोजिशन बदली और मेरी टांग को कंधे पे रख के मुझे चोदने लगे।

Hindisexstoris

लगभग आधा घंटा चोदने के बाद उन्होंने अपना लन्ड मेरी चुत से निकाला और मुझे उल्टा लिटाकर मेरी गांड में लंड घुसाने लगे.
मैं मना करने लगी क्योंकि इससे पहले मैंने गांड नहीं मरवाई थी.
लेकिन वो भी पूरे जोश में थे और नहीं माने, उनका लन्ड मेरी गांड में नहीं घुस रहा था क्योंकि मेरी गांड एकदम टाइट थी।

फिर उन्होंने मेरी गांड की छेद पर थूक लगाया और एक जोर के झटके के साथ पेल दिया.
मेरी जान निकल गयी और मैं बहुत जोर से चीखी. मुझे बहुत दर्द हुआ था.

Hindisexstoris

उन्होंने हाथ से मेरा मुँह बन्द कर दिया और ऐसे ही 2 मिनट पड़े रहे ताकि मेरा दर्द कम हो जाए।
थोड़ी देर में मैं शांत हो गयी और मेरा दर्द भी कम हो गया।

अब वो धीरे-2 अपने लन्ड को अंदर बाहर करने लगे, मुझे भी मज़ा आने लगा और मैं भी अपनी गांड उठा कर उनका साथ देने लगी।

करीब दस मिनट चोदने के बाद मुझे पलटकर एक बार फिर से मेरी कमर के नीचे तकिया लगाया और मेरी चुत पे लन्ड टिकाकर एक ही झटके में पूरा अंदर डाल कर अंदर बाहर करने लगे।
इस जेठ बहू की चुदाई के दौरान मैं दो बार झड़ चुकी थी लेकिन उनका अभी बाकी था. जेठ जी पिछले चालीस मिनट से वो मुझे पोजिशन बदल कर चोद रहे थे।

मैं उनके स्टेमिना की दीवानी हो चुकी थी। अब मेरी चुत में दर्द होने लगा था लेकिन उस दर्द में भी मुझे मज़ा आ रहा था।

Hindisexstoris

लगभग एक घंटे चोदने के बाद उनकी स्पीड बढ़ने लगी और दस बारह झटकों बाद अपना लन्ड निकाल कर मेरे मुंह में दे दिया और अपना पूरा वीर्य मेरे मुंह में उड़ेल दिया.
मेरा पूरा मुँह भर गया और मैंने भी उनके वीर्य की एक भी बूंद बाहर नहीं जाने दी और मैं गट गट करके उनका पूरा वीर्य पी गयी।

आह … उनका गर्म वीर्य बहुत ही स्वादिष्ट था। मैंने उनका लन्ड पूरा चाट के साफ किया और वो मेरे बगल में लेट गए।

अभी हमारे पास दो दिन का वक़्त था और इन दो दिन में हमने पांच छह बार चोदा चोदी की.

उसके बाद हम शादी में चले गए. वहां पर भी हम दोनों का नैन मटक्का चालू रहा.

वहां से लौटने के बाद भी जब भी हमें मौका मिलता हम खूब मज़े करते।


आपको मेरी यह सच्ची सेक्स घटना कैसी लगी मुझे Telegram पर ज़रूर बताये में आपके comment और message का इंतज़ार करूगी. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं.
[email protected]

Read in English

Jeth ji ne ki meri chudai Hindisexstoris

Hindisexstoris: My husband is abroad. One day, Jethji and I were alone at home. Seeing the hot scenes on TV, I was in a boom. So how did I provoke my brother-in-law for sex?

Hello Friends, My name is Anita, I am a regular student of MastHindiStory. I am 27 years old and my figure is 34-26-36. My complexion is blond with milk and my husband is a bit darker.
I do not draw much of the matter directly to the story. This story is my own true story in Hindisexstoris.

In my house, I, my children, my daughter-in-law, Jethji and their one daughter live together. When father-in-law had a job in the bank, he lived away from home in Saharanpur with my mother-in-law and my husband was abroad for one and a half years for Hindisexstoris.

The story is about me and my elder brother.

Those days the wedding season was going on and my Jethani’s brother’s wedding was fixed which was going to be 10 days later.
It was April-May, then children’s schools were also closed the Hindisexstoris.

It happened that my Jethani was going to her maternal home after two days, so I said – Take the children along and I will come after two days because my blouse is not ready yet and the tailor has asked for four days in Hindisexstoris.
So she agreed and two days later she left with her daughter and my children.

Jethji did not accompany him because he was not even discharged from the company in which he worked the Hindisexstoris.
Let me tell you one thing that my brother-in-law is a very shy person.
So I thought I would leave with them when they leave.

Hindisexstoris
Incidentally, it was raining heavily that day. I made dinner and sat watching TV and waited for Jethji so that he would come and we would have dinner together.

Since the rain was strong, it was feeling a little cold too, I brought a shawl from inside and sat watching TV.

At that time, Zism movie was coming and the romantic scene was going on. Now my body started getting hot and removed the shawl and kept it away and I started to lick with lust. I started rubbing my nipples and rubbing thighs and stomach in Hindisexstoris.

I was very hot because my husband was also abroad for one and a half years and how many days had passed, I was not even gay. And it was also raining from above the Hindisexstoris.

To be honest, at that time it was in my mind to call anyone and take a kiss. But as soon as I handled myself, I got up and corrected the sari too. That day I was wearing a light pink sari and also had matching lipstick like Hindisexstoris.

It was already 9 o’clock in the night and it was time for Jethji to come.
After a while the house bell rang, when I opened the door, Jethji was there. He was completely wet.

I said – Change you, I bring a towel and then I will eat food then Hindisexstoris.
I went to get the towel and he went to his room and started changing. Perhaps they forgot to close the door and started changing clothes like that.

I came to his room with a towel and saw that he had removed his shirt and pants and was only in tights. He had hair all over his body, absolutely ridiculous body, I was just looking at him.
Then I moved to the side a little and knocked on the door and walked away from the side with a towel.

Hindisexstoris
That sight began to spin in my eyes, my mind started to revolve again.

Then he came out and said – Sorry, I forgot to close the door.
Man said- Never mind.

Then we sat down and started eating. My attention was going towards them while eating. He put a short nicker and a t-shirt.

Jeth ji after having his food, you went to the room and started working on the laptop but Hindisexstoris.

I also finished my work and went to Jeth ji’s room with milk and saw that he was asleep with his head on the table while working.
I bowed down and put a voice in his ear – Jethji!

When he woke up suddenly, his elbow touched my fingers, he said sorry but I felt very good and after saying ‘no problem’ came out with milk.

Now my lust woke up and started thinking to Chudha jith ji that what should I do if his attention came to me.

After a while I went to his room again and saw that till now he was on the laptop. It was 11 o’clock in the night, I went to him and forcibly closed his laptop and said – It has been so late and you are still working.

Hindisexstoris
I grabbed his hand and started pulling him towards the bed. Then I deliberately stumbled and fell on his bed and drew him so that he fell on me.

Now Jethji was completely on me.
He was about to get up at the same time that lightning struck and I held him again in my arms due to fear the Hindisexstoris.

For a while I clung to him like this and my breath started heating up. My whole body was warm.

Then I realized that his body was also tanned and stinged in my thighs.
They released my hand and stood up.

Then lightning struck again and I hugged him again.
He grabbed my face and said- Never mind, don’t be afraid, I am!
My eyes were closed the Hindisexstoris.

Then I opened my eyes and started looking into their eyes and before they were away from me, I put my lips on their lips and started kissing.
He rescued me and said – what are you doing, you are my brother’s wife, this is wrong.

I again pulled them towards me and said- Jeth ji I know this is wrong, but at this time I am very thirsty, please quench my thirst!
And after saying this, I again put my lips on their lips and started kissing.

Hindisexstoris
Now they also started supporting me.

We fell on the bed while kissing. After kissing for about 10 minutes we parted and they took off my clothes and I took them then Hindisexstoris.

Now we were completely naked, I saw his land and said – how long and thick is your.
My jeth ji’s cock was about 8 ″ long and 3 ″ thick which was more than my husband the Hindisexstoris.

I caught his lund and put it in my mouth and started sucking. After sucking for about 5 minutes, I started kissing again.

Hindisexstoris
Now he separated me and took my panty off and started sucking my pussy, when he put his lips on my pussy, I shuddered and I started doing ‘Ummh… Ahhh… Hah… Yah…’.
His hot breath was giving a different feeling on my pussy.

After sucking pussy, he put his lund on my pussy and hit it a little bit. ‘My mother died’ came out of my mouth. Jeth ji placed his lips on my lips and started hitting me.

Hindisexstoris After about five minutes Chodne, he changed my position and put my leg on my shoulder and started fucking me.

Hindisexstoris After fucking for about half an hour, he removed his land from my pussy and licked me upside down and started licking my ass.
I started to refuse because I had not killed my ass before.
But they were also full of enthusiasm and did not agree, their land was not entering my ass because my ass was very tight then Hindisexstoris.

Then they spit on my ass hole and pelted with a loud shock.
I lost my life and I screamed very hard. I was in a lot of pain.

Hindisexstoris
He closed my mouth with his hand and stayed for 2 minutes so that my pain would ease.
In a short while I became calm and my pain also reduced.

Now he slowly started to take out his land inside, I also started enjoying it and I also started picking up my ass and supporting him but Hindisexstoris.

After fucking for about ten minutes, I turned back and once again put a pillow under my waist and started licking on my pussy and putting it inside in one stroke for Hindisexstoris.
During the fuck of this elder daughter-in-law, I had fallen twice, but she was still left. Jeth ji, for the last forty minutes, he was changing my position and fucking me.

I was addicted to his stamina. Now my pain was starting to ache but I was also enjoying that pain.

Hindisexstoris After about an hour, his speed started increasing and after ten and twelve shakes, he took his lund out and gave it to my mouth and poured all his semen into my mouth.
My whole mouth was full and I did not let even a single drop of his semen out and I gutted and drank his entire semen.

Ah… His hot semen was very tasty. I cleaned their land with full licking and they lay down next to me then Hindisexstoris.

Now we had two days and in these two days, we have done five times six times.

After that we went to the wedding. Even there, both of us had Nan Matka.

Even after returning from there, whenever we got a chance we would have a lot of fun.

Read More Chudai Story –

Desi antarvasna 1 भाभी की चुदाई उनके मायके में जाकर Best Sex

Kamvasna hindi story 1 चचेरी बहन की चुदाई का मजाReal Sex Fun

Maa beta kahani मॉम की चूत का रस पीकर चुदाई 1 Real Sex Fun

Leave a Comment