मेरी Sexy चालू मॉम की चुत चुदाई 1 Fun Antarvasna Kahani

मेरी Sexy चालू मॉम की चुत चुदाई 1 fun antarvasna kahani

Fun Antarvasna kahani: ये हिंदी में चुदाई की कहानी उस समय की है.. जब मैं कॉलेज में पढ़ता था। उस वक्त मेरी उम्र 20 साल की थी जबकि मेरी सौतेली माँ 35 साल की थीं।

मेरी मॉम एक बहुत ही सेक्सी महिला थीं.. उनके जिस्म का एक-एक हिस्सा बिल्कुल तराशा हुआ था और अंग-अंग से मादकता टपकती थी। मैं कई बार उन्हें बाथरूम में सम्पूर्ण नग्नावस्था में देख चुका था। एक बार तो पापा उन्हें पूरा नंगा करके चोद रहे थे, तब भी उनकी मचलती जवानी को देखा था। जिस दिन पापा मॉम को चोद रहे थे, उसी दिन मेरा मन मॉम को चोदने के लिए मचल उठा था।

एक रात पापा शहर से बाहर गए हुए थे, मैं अपने बेडरूम में था। लेकिन मन में उत्तेजना के कारण मुझे नींद नहीं आ रही थी, सो मैंने मॉम की चूचियों को याद करते हुए मुठ मारनी चालू कर दी। कुछ ही देर में मेरी उत्तेजना और अधिक बढ़ गई तो मैंने गोल तकिया को अपनी टांगों में फंसा लिया और उसे ही मॉम समझ कर चोदना शुरू कर दिया।

उसी समय मेरी मॉम ने मेरे बेडरूम का दरवाजा खोला और मेरे कमरे में आ गईं।

दरवाजा खुलने की आवाज़ से मैं घबराकर रुक गया लेकिन मैं तकिए के ऊपर था। फिर मैंने मॉम को देखा तो मैं तकिए के बगल में लेट गया।

मॉम ने पूछा- क्या हुआ.. क्या कर रहे थे?
मैंने कहा- नींद नहीं आ रही है, कुछ बेचैनी सी है।
फिर मैंने मॉम से पूछा- क्या आपको भी नींद नहीं आ रही है?
वो बोलीं- हाँ मुझे भी नींद नहीं आ रही है।
मैंने कहा- आप भी यहीं लेट जाओ न।

फिर वो मेरे पास बैठ गईं।

मैंने फिर कहा- यहीं सो जाओ ना, मेरे पास।
वो सीधी लेट गईं। कुछ देर बाद मैंने पूछा- नींद नहीं आ रही है.. तो कोई कहानी पढ़ लेते हैं।

उन्होंने सर हिला कर हामी भरी तो मैंने पापा की किताब की रेक से एक सेक्सी कहानी की बुक निकाली और कहा- इसको पढ़ते हैं।
मॉम बोलीं- ये कौन सी किताब है?
मैंने कहा- कहानी की किताब है, इसकी कहानी पढ़ने में बहुत मजा आएगा, इसको पढ़ने से बहुत गुदगुदी भी होती है।

फिर मैंने किताब को हम दोनों के बीच में रखकर पढ़ने लगा। ऐसे में मॉम को पढ़ने में जरा दिक्कत हो रही थी तो मैंने कहा- चलो मैं पढ़कर सुनाता हूँ..

मैं उनको सेक्सी कहानी पढ़कर सुनाने लगा। इसमें एक लड़की का दूसरे मर्द के साथ सेक्स का किस्सा था। ये सेक्स स्टोरी बहुत डिटेल में थी।

मॉम बोलीं- ये सब क्या है?
मैंने कहा- अल्मारी में रखी थी।
वो बोलीं- इसमें बड़ों की गन्दी बातें लिखी हैं। तुमको इसे नहीं पढ़ना चाहिए।
मैंने कहा- फिर आपकी और डैड की अल्मारी में क्यों रखी है? एक बार पढ़ते हैं, सुनो ना!

फिर मॉम को भी मज़ा आने लगा। वो भी गरम होने लगीं। मॉम बीच-बीच में अपनी बुर खुजला रही थीं।

मैंने कहा- कहो गुदगुदी हो रही है ना।

मॉम ने स्माइल दे दी।

मैंने अपने लंड पर हाथ फेरते हुए कहा- मेरे भी इसमें और सारे बदन में बहुत गुदगुदी हो रही।
फिर मैंने कहा- अब आप पढ़िए।

अब वो पढ़ने लगीं.. वो बहुत गरम हो गई थीं। तभी मॉम ने किताब बंद करके रख दी और बिस्तर पर अपने पैर पसार कर चित्त लेट गईं।

मैंने पूछा- क्या हुआ?
तो वो बोलीं- बहुत बेचैनी हो रही है, नीचे बदन में कुछ खुजली भी हो रही है।
मैंने पूछा- शायद पावडर बदन पर लगाने से आराम मिल जाएगा।
वो बोलीं- हाँ ठीक है.. तुम पावडर ही लगा दो।

मैं बगल वाले रूम से पावडर लेकर आया।

मैंने देखा कि मॉम पेट के बल लेट गई थीं।

मॉम बोलीं- कमर में लगा दो।

मैंने देखा उन्होंने अपने ब्लाउज के बटन खोले हुए थे और ब्रा भी खोल दी थी।

मैं पावडर कमर पर लगाते हुए ब्लाउज के अन्दर हाथ डालकर मलने लगा। उनका कोई विरोध नहीं हुआ तो फिर मैं आहिस्ता-आहिस्ता पूरी कमर पर पावडर मलते हुए सीधे ही उनके मम्मों को मसलने लगा। मॉम को मम्मे मिंजवाने में मजा आ रहा था। वे मजा लेने लगीं तो मैंने सीधे ही उनके मम्मों पर पावडर लगाया और मम्मों को मसलने लगा।

अब उनको मजा आ रहा था।
फिर मैंने कहा- मॉम जरा आपकी गर्दन के पास भी पाउडर लगा देता हूँ।
वो घूमीं तो ब्लाउज के बटन खुले हुए थे और बूबस- पूरे नंगे दिखने लगे थे।
मॉम के बड़े-बड़े चूचे बहुत सेक्सी लग रहे थे।

मैंने उनकी गर्दन पर पावडर लगाने लगा। अब तो मैं सामने से मॉम के मम्मों को मसल रहा था और वो कुछ नहीं बोल रही थीं।

मेरी Sexy चालू मॉम की चुत चुदाई 1 fun antarvasna kahani

फिर मैंने मम्मे मसलते हुए हाथ नीचे पेट पर फिराया और नाभि को मसला। मॉम की आह निकली तो मैंने धीरे से उनके पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया और अपना हाथ अन्दर डालकर जांघ पर फेरते हुए उनकी बुर पर भी पावडर लगाने लगा।

वो कामुक आवाज में बोलीं- उह.. ये क्या कर रहे हो?
मैंने कहा- ठीक से लगा देता हूँ.. फिर नींद भी ठीक से आ जाएगी।

मॉम कुछ नहीं बोलीं तो मैं अपने हाथ को उनके गोल-गोल चूतड़ों पर फेरने लगा। सच में बड़ा मज़ा आ रहा था।

मेरी Sexy चालू मॉम की चुत चुदाई 1 fun antarvasna kahani

मैंने पूछा- मॉम क्या मज़ा आ रहा है.. आराम मिल रहा है?
अब मैं मॉम के चूतड़ों पर हाथ फेरते-फेरते उनके ऊपर चढ़ गया और बोला- इससे आपका बदन भी दब जाएगा।

मॉम भी मेरे मजे लेने लगीं।

मैंने कमर के नीचे से मॉम के चूचे पकड़ कर जोर-जोर से दबाने लगा।
अब तो मॉम पूरी तरह से चुदास से तड़फ रही थीं।

मैंने कहा- किताब वाला सीन करते हैं।
मेरे बदन में जोर-जोर से गुदगुदी हो रही है।

फिर अचानक से मॉम को कुछ याद आया और वे बोलीं- ये क्या कर रहे हो?
मैंने कहा- दरवाजा बंद है, किसी को पता नहीं चलेगा, मैं भी किसी से नहीं कहूँगा, तुम्हारी कसम मॉम आपको मज़ा भी आ जाएगा, प्लीज़ मना मत करो।

मॉम ने कुछ नहीं कहा।

मैंने फिर से उनसे कहा- कहानी की तरह मज़ा करते हैं मॉम।

मैंने अपना पजामा खोल दिया और उनकी जाँघों पर बैठ गया।

अब मॉम ने मेरा लंड पकड़ कर लंड पर हाथ फेरते हुए कहा- मुझसे वादा करो कि तुम किसी से कभी भी नहीं कहोगे।
मैंने कहा- वादा।

और फिर क्या था.. उन्होंने अपने सारे कपड़े बदन से अलग कर दिए।

मैंने कहा- आप जैसे बोलेंगी.. मैं वैसे ही करूँगा।
उन्होंने कहा- हाँ जैसा कहानी में पढ़ा था.. वैसे ही करते रहो। मैंने उनके एक चुचे को चूसना शुरू किया.. दूसरे चूचे को दबा भी रहा था।

फिर वो भी मेरे लंड पर हाथ फेरने लगीं। मैंने भी एक हाथ की उंगली से मॉम की बुर को दबाने लगा और उंगली चुत के अन्दर कर दी।

मेरी Sexy चालू मॉम की चुत चुदाई 1 fun antarvasna kahani

फिर वो मुँह से ‘शह्ह.. उह्हह..’ आवाज निकालने लगीं।

मैंने उनसे किताब के सीन की तरह उनसे डॉगी स्टाइल में बैठने को कहा। जैसे ही मेरी मॉम कुतिया के जैसे बनीं मैंने अपने लंड को पीछे से उनकी बुर के छेद के पास ले जाकर सुपारे को फेरने लगा। साथ ही मैं दोनों हाथों से मम्मों भी दबा रहा था। सच में बड़ा मज़ा आ रहा था।

अचानक ही लंड फिसला और झटके के साथ बुर में घुस गया, क्योंकि उनकी बुर का छेद चुदवाते चुदवाते कुछ तो बड़ा हो गया था।

उनके मुँह से भी और मेरे मुँह से भी जोर की ‘शह्हह.. आह..’ की आवाज निकलने लगी।

मेरी Sexy चालू मॉम की चुत चुदाई 1 fun antarvasna kahani

मैंने अब धक्का लगाना शुरू किया, धीरे-धीरे धक्के की स्पीड भी बढ़ा रहा था। सच में क्या मस्त मज़ा आ रहा था।
मॉम भी बोलीं- और जोर से चोद.. और जोर से पेल.. आह मजा आ रहा है।
मैंने मॉम के मम्मों को जोर से दबाकर निप्पलों को खींचा और धक्के लगाने लगा।

‘अह.. उह.. ओह.. सुपरब.. श्शश.. और और जोर से.. क्या बात है और झटका दूँ मॉम?’
‘हाँ पेलता रह..’

मैंने अपना लंड बाहर निकाला और वो बेड पर सीधी लेट गईं।

मैंने धीरे-धीरे उनके कामुक बदन पर हाथ फेरा, फिर बुर में उंगली घुसेड़ कर भीतर के पॉइंट को सहलाने लगा।

ये उनका जी-स्पॉटस था, वो बहुत जोर से हिल गईं और उनकी जोर से ‘आअ.. आअ.. श्शश.. उह..’ की आवाज निकल गई।

मैंने अब लंड को उनके मम्मों पर फिराना शुरू किया और ऊपर से नीचे की तरफ़ लंड लाने लगा। फिर उन्होंने मेरा मुँह अपने मुँह के पास खींचकर जोर से किस किया। मैं भी जोर-जोर से किस करने लगा और अपनी जीभ भी उनके मुँह पर फेरने लगा। उनकी जीभ को चूसने में मज़ा आ रहा था। वो साथ-साथ मेरे लंड को एक हाथ से जोर-जोर से सहला रही थीं।

मैं भी बोला- बहुत मज़ा दे रही हो।

फिर उन्होंने मेरे को जोर से अपनी तरफ़ खींचकर बांहों में जकड़ लिया। मैंने भी उनको भींच लिया, उनके चूचे मेरी छाती से चिपक कर दब रहे थे।

आह क्या रगड़ सुख मिल रहा था।

फिर उन्होंने अपनी जांघें फैलाईं और कहा- अब जल्दी-जल्दी जोर से यहाँ लंड ले आओ।

मैंने लंड को उनकी बुर में घुसेड़कर धीरे-धीरे हिलने लगा।

फिर वो बोलीं- आअह ऐसे नहीं चलेगा.. जोर-जोर से झटके लगाओ।

मैंने जोर से चोदना शुरू कर दिया।

क्या मस्त चुदाई का आनन्द आ रहा था। मॉम भी चुदाई का मजा ले रही थीं- शह.. शह आ.. क्या बात है आह.. आ.. शह.. अह्हह.. ओह्हह.. और जोर जोर से धक्के लगाओ.. बहुत मज़ा आ रहा है।

मैं भी पूरी ताकत से लंड को भीतर तक ठोकने लगा। चुदाई पूरी स्पीड पर थी और अब मैं झड़ने लगा था। मेरा रस झड़ने लगा और मैं ढीला होकर उनके नंगे बदन से जोर से लिपट गया। मॉम के गुदगुदे बदन पर मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था।

फिर वो बोलीं- चलो हटो.. बहुत देर हो गई है.. अब सोते हैं।
वो अपने कपड़े पहनने लगीं। फिर बोलीं- ये राज ही रखना, किसी से कभी मत कहना।

मैंने हाँ कहते हुए उनके मम्मों को दबाकर किस कर लिया और बुर को दबाते हुए कहा- फिर कभी गुदगुदी होगी तो..?
वो हंसने लगीं.. मैं भी समझ गया।
मॉम बोलीं- बदमाश हो गए हो, चलो अब सो जाओ।

वो अपने कमरे में सोने चली गईं।

मैं अपनी मॉम के साथ चुदाई की इस कहानी को कभी नहीं लिखना चाहता था.. पर अब मुझे अच्छा लग रहा है।

आपको मेरी यह सच्ची सेक्स घटना कैसी लगी मुझे Telegram पर ज़रूर बताये में आपके comment और message का इंतज़ार करूगा. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं.

मेरी Sexy चालू मॉम की चुत चुदाई 1 fun antarvasna kahani

Read in English

Fun antarvasna kahani: This is the story of Chudai in Hindi .. when I was in college. At that time, I was 20 years old while my stepmother was 35 years old.

My mom was a very sexy woman .. Every part of her body was perfectly cut and her body was drunken. I had seen him several times in the bathroom in complete nudity. Once, the father was stripping him completely naked and had also seen his twitching youth. The day Papa was fucking Mom, the same day my mind was excited to fuck Mom fun antarvasna Kahani.

One night Papa was out of town, I was in my bedroom. But I was not able to sleep due to excitement in my mind, so I turned on Muth while remembering Mom’s Tits. In a while, my excitement increased further, so I stuck the round pillow in my legs and started fucking it as Mom fun antarvasna Kahani.

At the same time, my mom opened my bedroom door and entered my room.

I stopped panicking at the sound of the door opening but I was on the pillow. Then I saw Mom, I lay down next to the pillow.

Mom asked- what happened .. what were you doing?
I said – I am not sleepy, there is some discomfort.
Then I asked Mom – are you not sleepy too?
She said yes I am not sleepy either.
I said, you too lie down here and fun antarvasna Kahani.

Then she sat down with me.

I then said – sleep here, I have.
She lay down straight. After some time I asked – I am not sleepy .. So let’s read a story.

When he nodded his head, I pulled out the book of a sexy story from the father’s book rake and said – read it.
Mom said – which book is this?
I said – it is a story book, it will be fun to read its story, reading it also makes it very tickling like fun antarvasna Kahani.

Then I put the book in between us and started reading. In such a situation, there was a problem in reading mom, so I said – let me read it ..

I started reading them a sexy story. There was a story of a girl having sex with another man. This sex story was very detailed.

Mom said – what is this all about?
I said – was kept in the wardrobe.
She said – dirty things of elders have been written in it. You should not read it.
I said – Then why have you and Dad kept it in the cupboard? Once you read, listen! fun antarvasna Kahani.

Then Mom also started having fun. She also started getting hot. Mom was intermittently weeping.

I said – say it is tickling, isn’t it.

Mom gave a smile.

Turning my hand on my cock, I said – I am getting very tickled in this and all my body too.
Then I said – now you read.

Now she started reading .. She was very hot. Then Mom closed the book and spread her legs on the bed and lay down fun antarvasna Kahani.

I asked – what happened?
So she said – there is a lot of discomfort, there is some itching in the body below.
I asked- maybe applying the powder on the body will help.
She said – yes, okay .. you apply the powder.

I brought the powder from the next room.

I saw Mom lying on her stomach.

Mom said – Put it in the waist fun antarvasna Kahani.

I saw that he had opened the button of his blouse and also opened the bra.

I put the powder on the waist and put my hand inside the blouse and rubbed it. There was no opposition to them, then I slowly and gently rubbed the powder on the waist and started rubbing their mums directly. Mom was enjoying Mamma Minjwane. When she started having fun, I directly put powder on her mums and started mmmming them fun antarvasna Kahani.

Now they were enjoying it.
Then I said – Mom just apply powder near your neck.
When she turned around, the buttons of the blouse were open and boobus – she was looking completely naked.
Mom’s big boobs looked very sexy fun antarvasna Kahani.

I started putting powder on his neck. Now I was mouthing mom’s mom from the front and she was not saying anything.

Then I stuck the hands down on the stomach and mashed the navel. When Mom’s ah came out, I slowly opened the pulse of his petticoat and put his hand in, and began to put a powder on his bur, while turning on the thigh fun antarvasna Kahani.

She spoke in an erotic voice – uh .. what are you doing?
I said – I put it properly .. Then sleep will come properly.

Mom did not say anything, then I began to turn my hand on their round and round pussy. It was really fun.

I asked- Mom is having fun .. Finding comfort?
Now I climbed on top of Mom and her hands on the fists and said – this will also suppress your body fun antarvasna Kahani.

Mom also started enjoying me.

I pressed Mom’s cock from below the waist and started pressing harder.
Now Mom was completely upset with Chudas.

I said – do the scene of the book.
My body is tickling loudly.

Then suddenly Mom remembered something and she said – what are you doing?
I said – the door is closed, no one will know, I will not tell anyone, I swear you will enjoy it too, please do not refuse fun antarvasna Kahani.

Mom did not say anything.

I told him again- Mom like the story is fun.

I opened my pajamas and sat on their thighs.

Now Mom grabbed my cock and ran her hand over the cocks and said- Promise me that you will never tell anyone.
I said – promise fun antarvasna Kahani.

And what was it then .. They stripped off all their clothes.

I said like you will speak .. I will do like that.
He said – Yes, as you read in the story .. Keep doing it. I started sucking one of his balls .. was also pressing the other one.

Then she too started turning her hand on my cock. I also started pressing Mom’s burr with the finger of one hand and put the finger inside the pussy fun antarvasna Kahani.

Then she started to say ‘Shehh .. Uhhhh ..’ from the mouth.

I asked him to sit in doggy style like a book scene. As soon as my mom became like a bitch, I moved my cocks from behind to the hole of her bur and started turning the betel nut. At the same time, I was also suppressing Mmmon with both hands. It was a really fun antarvasna Kahani.

Suddenly Lund slipped and jerked into Burr, because his Burr’s hole had become bigger than Chudwate Chudwate.

The sound of ‘Shehhhh … ah ..’ started coming out of his mouth as well as from my mouth.

I started pushing now, gradually increasing the speed of the blow. What was really fun.
Mom also spoke – and loud Chod .. and loud pel .. Ah is enjoying.
I pressed the mother’s mums hard and pulled the nipples and started to bang fun antarvasna Kahani.

“Ahh .. uhhh .. ohh .. superb .. shhhhhh .. more loudly .. what’s the matter and jerk me mom?”
‘Yes, keep paying ..’

I took my cock out and she lay down on the bed.

I slowly turned my hand on his sensual body, then inserted a finger into Burr and started caressing the inner point fun antarvasna Kahani.

This was her g-spot, she was very loud and her voice shouted ‘Aaa … aaa ..

I now started licking the cocks on their mummies and started bringing cocks from top to bottom. Then they pulled my mouth close to their mouth and kissed loudly. I also started kissing loudly and my tongue also started turning on his mouth. I was enjoying sucking his tongue. She was simultaneously stroking my cock loudly with one hand fun antarvasna Kahani.

I also said – you are giving a lot of fun.

Then they pulled me harder and held them in their arms. I also caught them, their cocks were pressing on my chest.

Ah, what a pleasure it was getting.

Then he spread his thighs and said- Now bring the cocks here very quickly.

I pushed the cocks in their bur and started moving slowly fun antarvasna Kahani.

Then she said – Aaah, it won’t work like this .. Shock loudly.

I started fucking loudly.

Was you enjoying the fun. Mom was also enjoying Chudai- Shah .. Sheh aaa .. What is the matter ah .. Come .. Sheh .. Ahhhh .. Ohhhhh .. and shout loudly .. Enjoying a lot.

I also started pushing the cocks deep inside with full force. Fucking was at full speed and now I started falling. My juice started falling and I loosened and clung vigorously to his bare body. I was having a lot of fun on Mom’s padded body fun antarvasna Kahani.

Then she said – Let’s move .. It’s too late .. Now let’s sleep.
She started wearing her clothes. Then said – keep this secret, never tell anyone.

Saying yes, I kissed her mummies, and while suppressing the bur, she said – will it tickle again sometime ..?
She started laughing .. I also understood.
Mom said- You have become a crook, let’s go to sleep now fun antarvasna Kahani.

She went to sleep in her room.

I never wanted to write this story of Chudai with my mom .. but now I feel good.

How did you like my true sex incident, tell me on Telegram, I will wait for your comment and message. Apart from this, you can also give your opinion by commenting on the story below.

Read more Maa chudai Stories

माँ बेटे की सुहागरात की कहानी 1 best New Mom Sex Story

माँ बेटे का चुदाई वाला प्यार 1 best xxx story ma beta

Mom Chudai चुदक्कड़ मां की चूत चुदाई-2 xxx hindi kahani free

3 thoughts on “मेरी Sexy चालू मॉम की चुत चुदाई 1 Fun Antarvasna Kahani”

Leave a Comment