माँ बेटे की सुहागरात की कहानी 1 best New Mom Sex Story

New Mom Sex Story माँ बेटे की सुहागरात की कहानी

New Mom Sex Story: हमारे परिवार पर ईश्वर की बड़ी कृपा थी, सब कुछ अच्छा चल रहा था कि तभी एक दुर्घटना में पापा चल बसे. उसके बाद मेरी शादी हुई तो बीवी से झगड़ा हो गया. वो चली गयी.

कक्षा 12 उत्तीर्ण करने के बाद मैं अपने पापा के साथ दुकान पर बैठने लगा. कानपुर के एक मार्केट में हमारी कपड़े की दुकान थी. घर में तीन प्राणी थे, मैं, मम्मी और पापा. 22 साल का होते ही मेरी शादी तय हो गई.
हमारे परिवार पर ईश्वर की बड़ी कृपा थी, सब कुछ बहुत अच्छा चल रहा था कि तभी एक मार्ग दुर्घटना में पापा चल बसे. डेढ़ महीने बाद मेरी शादी थी. सभी रिश्तेदारों के कहने पर हमने शादी टाली नहीं और सादगी के साथ मेरा विवाह हो गया.

मेरी पत्नी अनु काफी खूबसूरत थी जिसको पाकर मैं खुद को भाग्यवान समझने लगा. मेरी दुल्हन अनु ने मुझे सुहागरात को जन्नत के दीदार करा दिये. शादी के तीन महीने तक मैंने अनु की जमकर चुदाई की.

तभी भाग्य ने एक बार फिर करवट ली और किसी मामूली सी बात पर मम्मी से झगड़ा करके अनु अपने मायके चली गई. मेरे समझाने पर मानना तो दूर, उसने तो तलाक की नोटिस भिजवा दी.
मेरा दिन तो दुकान पर कट जाता था लेकिन रात को बिस्तर पर जाते ही अनु की याद आने लगती और मेरा लण्ड टनटनाने लगता. लगभग रोज ही मैं मुठ मारकर अपने लण्ड को शांत करने लगा.

भाग्य ने एक बार फिर करवट ली.
हुआ यूं कि इतवार का दिन था और दुकान बंद होने के कारण मैं घर पर था. सुबह के घर के काम निपटा कर लगभग 11 बजे मम्मी नहाने चली गईं और मैं टीवी देख रहा था.

तभी मम्मी के फोन की घंटी बजी. मैं फोन उठाता, उससे पहले ही घंटी बंद हो गई.
मैंने देखा, रेखा आंटी का फोन था.

रेखा आंटी मम्मी की बचपन की दोस्त थीं और मुम्बई में रहती थीं. रेखा आंटी की मिस्ड कॉल के साथ व्हाट्सएप पर उनके मैसेज भी दिखाई दिये तो मैंने व्हाट्सएप खोल दिया. व्हाट्सएप खोलते ही मेरी आँखें फटी रह गईं, रेखा आंटी मम्मी को न्यूड सेक्स क्लिप्स भेजती थीं और यह सिलसिला सालों से चल रहा था. चुदाई के क्लिप्स देखकर मेरा लण्ड टनटनाने लगा.

तभी मम्मी नहाकर आ गईं. अब मम्मी मुझे मम्मी नहीं बल्कि चुदाई का सामान दिखने लगीं.

मैंने मम्मी को चुदाई की नजर से देखा तो पाया कि 5 फुट 5 इंच कद, गोरा चिट्टा रंग, भरा बदन, मस्त चूचियां, मोटे मोटे चूतड़. चुदाई के लिए और क्या चाहिए?

मम्मी अपने कमरे में चली गईं और मैं चुदाई का तान बाना बुनने लगा. मैं मम्मी के कमरे में पहुंचा तो मम्मी पेटीकोट, ब्लाउज पहने हुए ड्रेसिंग टेबल के सामने अपने बाल संवार रही थीं. शीशे में दिख रही मम्मी की चूचियां और साक्षात दिख रहे चूतड़ों ने मेरा दिमाग खराब कर दिया. मन में आया कि यहीं बेड पर गिरा कर चोद दूं लेकिन हिम्मत नहीं पड़ी.

मैं थोड़ा सब्र से काम लेना चाहता था इसलिए मैंने मम्मी को सिनेमा चलने के लिए राजी कर लिया. हम लोग दोपहर का खाना घर से खाकर निकले और रात को बाहर खाकर आयेंगे, यह तय हो गया.

अनिल कपूर व श्री देवी की फिल्म मिस्टर इंडिया का रिमेक दो दिन पहले ही रिलीज हुई थी, दो टिकट लिये और हॉल में जा बैठे.

शिफॉन की झीनी सी साड़ी पहने भीगी हुई
‘काटे नहीं कटते ये दिन ये रात’
गाती श्री देवी को देखकर मैंने मम्मी से कहा- मॉम, श्री देवी भी आपकी तरह हॉट है.
मम्मी ने चौंकते हुए गुस्से से कहा- मेरी तरह?

मैंने हंसते हुए कहा- ओह सॉरी, आपसे कम.
और हम दोनों हंस दिये.

फिल्म खत्म होने के बाद हम रेस्तराँ गये और खाना खाकर घर आ गये.

कपड़े चेंज करके मम्मी सोने लगी तो मैंने कहा- मॉम, दो कमरों में रात भर ए.सी. चलता है, क्यों न हम एक ही कमरे में सोया करें.
मॉम ने कहा- सो सकते हैं, आइडिया बुरा नहीं है.

मेरा बेडरूम बेहतर है इसलिए उसमें दोनों लोग सो गये.

मम्मी का तो मुझे पता नहीं लेकिन मुझे रात भर नींद नहीं आई. मम्मी दो बार पेशाब करने के लिए बाथरूम गईं और मैं बाथरूम में उनको पेशाब करने की कल्पना करके, उनकी चूत के बारे में सोचकर अपना लण्ड सहलाता रहा.

दो दिन ऐसे ही चला, तीसरे दिन आधी रात को मैं पेशाब करने के लिए उठा तो मम्मी गहरी नींद में सो रही थीं. कमरे में एक लाइट जलाकर सोना हम लोगों की आदत है.

मैं जब पेशाब करके लौटा तो मम्मी का बदन निहारने लगा. गुलाबी रंग के गाऊन में मम्मी का गदराया बदन मेरी आँखों में नशा भरने लगा.
घुटनों तक उठे गाऊन से बाहर दिखतीं मम्मी की गोरी गोरी टांगें देखकर उनकी जांघों और चूत के बारे में सोचते सोचते मेरा लण्ड टनटना गया.

एक बार मम्मी की जांघें ही देख लूं तो बाथरूम जाकर मुठ मार लूंगा. ऐसा सोचकर घुटनों के बल बैठकर मम्मी की गाऊन उचकाकर अंदर झांका तो सन्न रह गया, मम्मी ने पैन्टी नहीं पहनी थी और उनकी चिकनी चूत देखकर अंदाजा लगा कि दो चार दिन पहले ही मम्मी ने अपनी झांटें साफ की हैं.

मुठ मारने से अच्छा है कि मम्मी के चूतड़ों पर लण्ड रगड़कर डिस्चार्ज कर लूं, ऐसा सोचकर मैं मम्मी के बगल में लेट गया. मम्मी अपनी बायीं ओर करवट लेकर सोई थीं और मैं उनके पीछे. लोअर के अंदर टनटनाता हुआ लण्ड मैंने मम्मी के चूतड़ों से सटा दिया. लण्ड को सेट करते हुए मम्मी के दोनों चूतड़ों के बीच सेट करके हौले हौले से रगड़ने लगा.

New Mom Sex Story माँ बेटे की सुहागरात की कहानी

मैं जैसे जैसे लण्ड रगड़ रहा था, मेरा जिस्म बेकाबू होता जा रहा था.

तभी मम्मी के शरीर में हलचल हुई, शायद वो जाग गई थीं. मैं नींद का बहाना बनाते हुए सोने का नाटक करने लगा.

मम्मी उठीं और बाथरूम चली गईं. मुझे लगा कि वो पेशाब करने के लिए जगी होंगी. थोड़ी देर बाद मम्मी बाथरूम से निकलीं और कमरे की लाइट बंद करके बेड पर आ गईं. बाहर से स्ट्रीट लाइट की छनकर आती रोशनी में दिख रहा था कि मम्मी फिर से अपनी बायीं ओर करवट लेकर सो गई थीं.

कुछ देर तक कोई हरकत नहीं हुई तो मुझे लगा कि मम्मी सो गई हैं. मैंने धीरे से अपना लण्ड मम्मी के चूतड़ों से सटा दिया. चूंकि लाइट ऑफ थी इसलिए मैंने अपना लण्ड लोअर से बाहर निकाल लिया था. मुझे अब पहले की अपेक्षा बेहतर लग रहा था क्योंकि पहले लण्ड और चूतड़ों के बीच मेरा लोअर और मम्मी का गाऊन था और अब सिर्फ मम्मी का गाऊन था, वो भी पतला सा.

कुछ देर तक लण्ड को चूतड़ों के बीच सटाये रखने के बाद मैंने सोचा अगर मम्मी का गाऊन ऊपर सरका दूं तो लण्ड सीधे चूतड़ों के सम्पर्क में आ जायेगा. ऐसा करने के लिए मैंने मम्मी का गाऊन धीरे धीरे उनकी कमर तक उठा दिया और अपना लण्ड मम्मी के चूतड़ों से सटा दिया.

ये मन भी कितना हरामी है, कहीं ठहरता नहीं. जब नंगे चूतड़ों पर लण्ड रगड़ने लगा तो मन में आया कि मम्मी तो सो ही रही है, अगर लण्ड और चूत की एक बार चुम्मी हो जाये तो मजा आ जाये. बस यही सोचकर मैं अपना लण्ड चूतड़ों के बीच खिसकाते हुए चूत तक पहुंचाने की कोशिश करने लगा.

तभी मेरे भाग्य ने पलटी मारी और मम्मी ने भी.
करवट में सो रही मम्मी सीधी हो गईं, अपनी टांगें चौड़ी कर दीं और मेरा लण्ड अपनी मुठ्ठी में पकड़कर मुझे अपने ऊपर आने का इशारा किया.

मैं खट से मम्मी के ऊपर आ गया और अपना मूसल सा लण्ड मम्मी की चूत में पेल दिया.

New Mom Sex Story माँ बेटे की सुहागरात की कहानी

मम्मी की चूत भी काफी गीली हो चुकी थी और धक्का मुक्की में मैं भी जल्दी ही डिस्चार्ज हो गया. मेरे लण्ड से निकला वीर्य मम्मी की चूत में भर गया था.
मैंने अपना लण्ड मम्मी के गाऊन से पोंछा और चुपचाप सो गया.

सुबह देर से उठा, मम्मी रसोई में थीं. मैं नहाकर तैयार हुआ और नाश्ता करके दुकान चला गया.

रात को घर लौटा, हाथ मुंह धोकर खाना खाया और चुपचाप टीवी देखने लगा. मम्मी से नजर मिलाने की हिम्मत नहीं हो रही थी और मम्मी भी नजरें चुरा रही थी.
जो होना था, हो चुका था अब क्या हो सकता था.

कुछ देर तक टीवी देखने के बाद मैं बेडरूम में चला गया और सोने की कोशिश करने लगा, मम्मी रसोई समेट रही थीं. साढ़े ग्यारह बज चुके थे, वही हुआ जिसका मुझे डर था, मम्मी मेरे बेडरूम में नहीं आई.

रात के ठीक बारह बजे मम्मी ने मेरे मोबाइल पर कॉल की और पूछा- नींद नहीं आ रही है ना? आ जाओ, मेरे बेडरूम में. तुम्हारी दुल्हन तुम्हारा इन्तजार कर रही है.

मैं उठा, मम्मी के बेडरूम में पहुंचा तो दंग रह गया. मम्मी का बेडरूम फूलों से सजा हुआ था. सुहाग की सेज पर मम्मी लाल साड़ी पहनकर बैठी थीं.

मैंने मम्मी का चेहरा देखने के लिए घूंघट उठाया तो मेरी आँखें फटी रह गईं. पूरे मेकअप में मम्मी श्री देवी को मात कर रही थीं. मम्मी का हाथ अपने हाथों में लेकर उसको चूमते हुए मैं बोला- आई लव यू, रेनू.
मम्मी कुछ नहीं बोलीं.

मैंने मम्मी का घूंघट हटाकर उनके माथे को चूमा, और उनके होठों पर अपने होंठ रख दिये. मम्मी के होंठ दहक रहे थे.
मम्मी को अपने आलिंगन में लेकर उनकी चूचियां सहलाते हुए मैंने पूछा- मॉम, मैं आपको रेनू कहकर बुला सकता हूँ?
“हाँ, मेरे सोनू, मेरे राजा.” इतना कहकर मम्मी मेरी बांहों में झूल गईं.

मैंने मम्मी की साड़ी उतारी, फिर पेटीकोट और ब्लाउज उतारा. ब्लैक कलर की ब्रा और पैन्टी में मम्मी और ज्यादा गोरी लग रही थीं.
अपनी टीशर्ट उतारकर बालों से भरी अपनी छाती से मम्मी को सटाकर मैंने अपना हाथ मम्मी की पैन्टी पर रख दिया और पैन्टी के ऊपर से मम्मी की चूत सहलाते हुए मम्मी के होंठ चूसने लगा.
कुछ देर बाद मैंने मम्मी की ब्रा उतार दी और बीस बाईस साल के अंतराल के बाद आज फिर मम्मी की चूची मेरे मुंह में आ गई. पैन्टी पर हाथ फेरते फेरते मैंने मम्मी की पैन्टी उतार दी.

मम्मी ने आज ही अपनी चूत शेव की थी. मम्मी की चूत पर हाथ फेरते फेरते मैंने अपनी ऊंगली मम्मी की चूत में डाली तो मम्मी नजाकत से चिहुंक उठी.
मैंने मम्मी की चूत के होठों को खोलकर अपने होंठ उस पर रख दिये और अपनी जीभ मम्मी की चूत में फेरने लगा.

New Mom Sex Story माँ बेटे की सुहागरात की कहानी

जीभ की चोंच बनाकर मम्मी की चूत के अन्दर डाला तो मम्मी ने मेरा लण्ड अपनी मुठ्ठी में दबोच लिया और फुर्ती से मेरा लोअर नीचे खिसका दिया. अब मैं मम्मी की चूत चाट रहा था और मम्मी मेरा लण्ड सहला रही थी.

जब मेरा लण्ड टनटना कर मूसल जैसा हो गया और मम्मी की चूत भी अच्छी तरह से गीली हो गई तो मैंनें एक तकिया मम्मी के चूतड़ों के नीचे रखा और मम्मी की टांगों के बीच आ गया.

मम्मी की चूत के लबों को खोलकर अपने लण्ड का सुपाड़ा मम्मी के चूत के मुखद्वार पर सेट करके मैं आगे की ओर झुका और मम्मी की दाहिनी चूची अपने दोनों हाथों से पकड़कर चूसने लगा. मम्मी ने चूतड़ उचकाकर जाहिर कर दिया कि वो अब चुदवाने के लिए बेताब हैं.

अपनी मम्मी की चूची चूसते चूसते मैंने अपना लण्ड मम्मी की चूत में धकेला तो धीरे धीरे पूरा लण्ड मम्मी की चूत में समा गया. मम्मी की चूत कल की अपेक्षा आज टाइट लग रही थी. या तो आज मेरा लण्ड ज्यादा टनटनाया हुआ था या चूतड़ों के नीचे तकिया रखने से मम्मी की चूत टाइट हो गई थी.

मेरा लण्ड मम्मी की चूत के अन्दर था और मम्मी की चूची मेरे मुंह के अन्दर.

मेरे बालों में उंगलियां चलाते हुए मम्मी बोलीं- सोनू, मेरे राजा, मेरी जान मुझे रेनू कहकर बुलाओ, मैं तुम्हारी रेनू हूँ. मुझसे अश्लील भाषा में बात करो, मुझे चोदो, मेरी चूत की धज्जियां उड़ा दो, मेरी चूचियां नोचो, काटो. मेरे साथ दरिंदगी करो, मैं बरसों की प्यासी हूँ, तेरे पापा कुछ नहीं कर पाते थे, मैं बहुत तड़पी हूँ. मुझे चोदो, जमकर चोदो, गंदी गंदी बातें सुनाते हुए चोदो.

अपना लण्ड आधा बाहर निकालकर जोर से अन्दर ठोंकते हुए मम्मी की दोनों चूचियां अपनी मुठ्ठियों में दबोचते हुए मैंने कहा- रेनू डार्लिंग, मेरी जान, मेरी गुलो गुलजार मैं तुम्हें जमकर चोदूंगा, मेरा लण्ड जब अपनी रफ्तार पकड़ेगा तो तुम्हारी नाभि के भी परखच्चे उड़ा देगा. तुम मुझसे चुदवाने के लिए ही पैदा हुई हो और तुमने मुझे इसीलिए पैदा किया था कि मैं तुम्हारी चूत की आग बुझा सकूं. लो झेलो, अब मेरे लण्ड की ठोकरें.

इतना कहकर मैंने मम्मी की चूचियां छोड़ दीं, मम्मी की टांगें अपने कंधों पर रख लीं और अपना लण्ड मम्मी की चूत में अन्दर बाहर करना शुरू किया.

दो तीन बार धीरे धीरे करने के बाद जब दो तीन शॉट जोर से मारे तो मम्मी चिल्ला पड़ी.
मैंने हंसते हुए कहा- रेनू मैडम, अब चिल्लाने से कुछ नहीं होगा, चुदाई ऐसे ही होगी और रातभर होगी.

राजधानी एक्सप्रेस की स्पीड से पड़े धक्कों से मम्मी हाँफने लगी और हाथ जोड़कर रुकने का निवेदन किया. मैं रूका तो मम्मी ने अपनी टांगें मेरे कंधों से उतार लीं और अपनी सांस सामान्य करने लगीं.

मैंने मम्मी को पलटाकर घोड़ी बना दिया और उनके पीछे आकर चूत का मुंह फैला कर अपने लण्ड का सुपारा रख दिया. दोनों हाथों से मम्मी की कमर पकड़कर जोर का झटका मारा और पूरा लण्ड पेल दिया.

पैसेंजर ट्रेन की रफ्तार से शुरू हुई चुदाई जब राजधानी एक्सप्रेस की स्पीड तक पहुंची तो मेरा लण्ड अकड़ने लगा. मम्मी की टांगें दर्द करने लगी थीं. उनके बार बार कहने पर उनको सीधा करके पीठ के बल लिटा दिया.

इस बार उनके चूतड़ों के नीचे दो तकिये रखे जिससे चूत का मुंह आसमान की तरफ हो गया. लण्ड को मम्मी की चूत में डालकर मैं मम्मी के ऊपर लेट गया और मम्मी की चूचियां पकड़कर रेनू रेनू कहते हुए चोदने लगा.

जब डिस्चार्ज का समय नजदीक आया तो मम्मी के होंठ अपने होंठों में दबाकर मैंने लण्ड की स्पीड बढ़ा दी. डिस्चार्ज होने के बाद भी कुछ देर तक मैं मम्मी के ऊपर ही लेटा रहा.

जब मैं हटा तो मम्मी बोलीं- सोनू, तुम लोटा भरकर डिस्चार्ज करते हो, मेरी पूरी चूत भर दी.

उस रात मैंने मम्मी को तीन बार चोदा. अब यह रोज का काम हो गया.

करीब बीस दिन बाद भाग्य ने फिर करवट ली. रात को खाना खाने के बाद हम बेडरूम में आ गये, लेटते ही मैंने अपना हाथ मम्मी की चूचियों पर फेरना शुरू किया तो मम्मी ने मेरा हाथ पकड़कर चूचियों से हटा दिया और अपने पेट पर रखते हुए बोलीं- सोनू, तुम्हारा छोटा सोनू मेरे पेट में पल रहा है.

मैंने मम्मी को बांहों में भरकर चूमते हुए कहा- रेनू, मेरी जान, मेरे बच्चे की मम्मी, आई लव यू.

इसके बाद मैंने अनु से तलाक ले लिया. अपनी दुकान और मकान बेच दिया और हम लोग कानपुर से सैकड़ों किलोमीटर दूर भुवनेश्वर में आकर बस गये, जहां हमें कोई नहीं जानता था. अब इस घर में तीन प्राणी हैं. मैं, मेरी पत्नी रेनू और हमारा बेटा मोनू. आपको मेरी यह सच्ची सेक्स घटना कैसी लगी मुझे Telegram पर ज़रूर बताये में आपके comment और message का इंतज़ार करूगा. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं. [email protected]

New Mom Sex Story माँ बेटे की सुहागरात की कहानी

Read in English

Mother son’s honeymoon story – New Mom Sex Story

New Mom Sex Story: God was very kind to our family, everything was going well that only when the father died in an accident. After that I got married and got into a fight with wife. She left

After passing class 12, I started sitting in the shop with my father. We had a clothes shop in a market in Kanpur. There were three beings in the house, I, Mom and Dad. My marriage was fixed as soon as 22 years old New Mom Sex Story.
God was very kind to our family, everything was going so well that the father died in a road accident. I was married after a month and a half. At the behest of all the relatives, we did not postpone the wedding and I got married with simplicity.

My wife Anu was very beautiful, after getting whom I started thinking of myself as lucky. My bride, Anu, gave me the honeymoon of paradise. For three months of marriage, I fuck Anu fiercely New Mom Sex Story.

Just then, fate once again took a turn and Anu went to her maternal house after quarreling with her mother on some minor matter. Far from agreeing with my explanation, he sent a notice of divorce.
My day used to be cut at the shop, but when I went to bed at night, I used to remember Anu and my LND started taunting. Almost everyday, I started silencing my LND by beating my mouth New Mom Sex Story.

Luck once again took a turn.
It happened that it was Sunday and I was at home due to the closure of the shop. After finishing the housework in the morning, at around 11 am, the mother went to take a bath and I was watching TV New Mom Sex Story.

That’s when the mother’s phone rang. The bell went off before I picked up the phone.
I saw, Rekha was aunt’s phone.

Rekha was a childhood friend of Auntie Mummy and lived in Mumbai. With Rekha Aunty’s missed call, her message also appeared on WhatsApp, so I opened WhatsApp. My eyes were torn as soon as I opened WhatsApp, Rekha used to send nude sex clips to Aunty Mummy and this was going on for years. Seeing clips of Chudai, my LND started taunting New Mom Sex Story.

Then the mother took a bath. Now mother, I started seeing stuff like fuck, not mom.

When I looked at the mother with a fuck, I found that 5 feet 5 inches in height, fair complexion, full body, cool boobs, thick fat butts. What else is needed for sex?

Mummy went to her room and I started weaving. When I reached Mummy’s room, Mummy was dressing her hair in front of the dressing table wearing a petticoat, blouse. Mummy’s Tits looking in the mirror and the looking dirty men spoiled my mind. It was in my mind that I would drop Chod here on the bed but I did not have the courage New Mom Sex Story.

I wanted to have a little patience, so I persuaded my mother to go to the cinema. We decided to eat lunch and come out of the house and would come out after eating at night.

The remake of Mr. Anil Kapoor and Mr. Devi’s film Mr. India was released two days ago, took two tickets and sat in the hall New Mom Sex Story.

Clad in a chiffon sari
‘These days do not cut
Seeing Shri Devi singing, I told my mother- Mom, Shri Devi is also hot like you.
Mummy said with shocking anger- Like me?

I laughingly said- Oh sorry, less than you.
And we both gave a laugh New Mom Sex Story.

After the film was over, we went to the restaurant and came home after having dinner.

After changing clothes, my mother started sleeping, I said – Mom, A.C. in two rooms overnight. Let’s go, why don’t we sleep in the same room.
Mom said – can sleep, the idea is not bad New Mom Sex Story.

My bedroom is better so both people slept in it.

I do not know the mother but I did not sleep all night. Mother went to the bathroom to urinate twice and I kept on licking my pussy, thinking of her urinating in the bathroom New Mom Sex Story.

It went on like this for two days, on the third day, at midnight, I woke up to urinate while my mother was fast asleep. Sleeping a light in the room is a habit of us.

When I returned after urinating, I started staring at my mother’s body. My mother’s body in a pink gown began to fill my eyes with intoxication.
Seeing the mother’s white blonde legs looking out of the gown up to her knees, thinking about her thighs and pussy, I went to LND New Mom Sex Story.

Once I see my mother’s thighs, I will go to the bathroom and kill her. Thinking like this, sitting on her knees, she was stunned by peeking out the mother’s gown, the mother did not wear panty and after seeing her smooth pussy, it was estimated that two to four days ago, the mother has cleared her flanks New Mom Sex Story.

It is better to rub the lund on Mummy’s lits and kill it, thinking that I lay down next to my mother. Mummy slept on her left side and I followed her. Inside the lower LND, I littered with mummy’s fists. Setting LND, he started rubbing it softly between the two mums of the mother New Mom Sex Story.

cript>

As I was rubbing LND, my body was becoming uncontrollable.

Then there was a stir in Mummy’s body, perhaps she was awake. I started pretending to sleep while pretending to sleep.

Mom got up and went to the bathroom. I thought she would wake up to pee. After a while, the mother came out of the bathroom and switched off the lights of the room and came to bed. It was seen in the light coming out of the street light from the outside, that the mother again fell asleep on her left side New Mom Sex Story.

If there was no movement for some time, then I thought that the mother was asleep. I slowly separated my Lund from Mummy’s fists. Since the light was off, I had taken my LND out of the lower. I was feeling better now than before because I used to have a low and mummy gown between LND and Cuddles and now there was only Mummy’s gown, that too was a bit thin New Mom Sex Story.

After keeping the lund between the fishes for a while, I thought that if the mother’s gown shines up, the lond will come directly into contact with the fawns. To do this, I slowly lifted the mother’s gown up to her waist and tied my Lund with Mummy’s fists New Mom Sex Story.

This mind is so bastard, it does not stop anywhere. When LND started rubbing on the bare fists, it came to mind that the mother is sleeping, if Lund and pussy kisses once, then enjoy it. Thinking just this, I started trying to reach my pussy by moving my LND between the fawns New Mom Sex Story.

Then my fate overturned and my mother too.
Mummy sleeping on the side, straightened, widened her legs, and holding my LND in her fist, indicated me to come on top of herself New Mom Sex Story.

I came over the mummy with a bed and poured my pestle into the pussy of Lund Mummy.

Mummy’s pussy was also very wet and I was soon discharged in a push. The semen that came out of my LND was filled in Mummy’s pussy.
I wiped my LND mummy’s gown and slept quietly New Mom Sex Story.

Woke up late in the morning, mother was in the kitchen. I took a bath and got ready and went to the shop after having breakfast.

Returned at night, washed my hands and ate food and quietly watched TV. Mummy was not daring to look at him and mother was also stealing eyes.
What had to happen, had happened, what could have happened now New Mom Sex Story.

After watching TV for a while, I went to the bedroom and started trying to sleep, mother was covering the kitchen. It was half past eleven, that is what I was afraid of, Mommy did not come to my bedroom.

Right at twelve o’clock in the night, my mother called me on my mobile and asked- I am not sleepy, right? Come on, to my bedroom. Your bride is waiting for you New Mom Sex Story.

I woke up and was stunned when I reached my mother’s bedroom. Mummy’s bedroom was decorated with flowers. The mother was wearing a red sari on Suhag’s SEZ.

When I lifted the veil to see the face of my mother, my eyes were torn. Mother was outplaying Shri Devi in ​​full makeup. Taking my mother’s hand in my hand, kissing her, I said – I love you, Renu.
Mom did not say anything New Mom Sex Story.

I removed my mother’s veil and kissed her forehead, and placed my lips on her lips. Mummy’s lips were shaking.
Taking my mom in her hug and stroking her pussy, I asked- Mom, can I call you as Renu?
“Yes, my sonu, my king.” After saying this, my mother swung in my arms New Mom Sex Story.

I removed my mother’s sari, then petticoat and blouse. Mummy looked more white in black colored bra and panty.
After taking off my T-shirt, I put my hand on the mother’s panty, with my hair full of hair, and started sucking the lips of the mother while rubbing the top of the panty.
After some time, I removed my mother’s bra and after a gap of twenty two years, today again the mother’s teat came in my mouth New Mom Sex Story.

Turning my hand on the panty, I removed my mother’s panty. Mother had shaved her pussy today. Turning my hand on my mother’s pussy, I put my finger in my mother’s pussy, then the mother woke up with a smile.
I opened the lips of the mother’s pussy and put my lips on it and started turning my tongue in the pussy of the mother New Mom Sex Story.

After making the tongue of the tongue and putting it inside the mother’s pussy, the mother grabbed my LND in her fist and quickly pushed my lower down. Now I was licking Mummy’s pussy and Mummy was caressing my LND New Mom Sex Story.

When my LND became like a pestle by tipping and the mother’s pussy was also well wet, I placed a pillow under the mummy’s pussy and came between the legs of the mother.

Opening the lips of the mother’s pussy and setting my Lund’s supada on the mouth of the mother’s pussy, I bowed forward and started sucking and holding the right teat of the mother’s mother with both my hands. Mummy revealed that she is now desperate to fuck New Mom Sex Story.

While sucking my mother’s nipple, I pushed my Lund into Mummy’s pussy, then slowly the whole Lund got covered in Mummy’s pussy. Mummy’s pussy looked tighter than yesterday. Either today my LND was very taut or it was the mother’s pussy got tight due to placing the pillow under the fists New Mom Sex Story.

My Lund was inside Mummy’s pussy and Mummy’s teat was inside my mouth.

While walking fingers in my hair, the mother said – Sonu, my king, call my life as Renu, I am your Renu. Talk to me in obscene language, fuck me, blow my pussy, nipple my nipples, bite. Be cruel with me, I am thirsty for years, your father could not do anything, I am very sad. Fuck me, fuck me, fuck me, fuck me New Mom Sex Story.

Taking out his LND half and pushing it in loudly, while holding both of my mother’s cunts in my fist, I said – Renu Darling, my darling, my gulo guljar, I will fuck you fiercely, when my LND will catch your speed, it will blow your navel too. . You were born only to fuck me and you had created me so that I could extinguish your pussy. Oh dear, now my LND’s dusting New Mom Sex Story.

After saying this, I left my mother’s pussy, put mother’s legs on my shoulders and started putting my LND in mother’s pussy.

After doing it two or three times slowly, when two three shots hit hard, the mother screamed.
I said with a laugh- Renu Madam, nothing will happen by shouting now, the fuck will be like this and it will be overnight New Mom Sex Story.

Mommy began to gasp at the speed of Rajdhani Express and requested to stop with folded hands. When I stopped, my mother took her legs off my shoulders and started normalizing her breath.

I turned the mummy into a mare and came after them and spread the mouth of her pussy and kept her Lond supra. Holding the mother’s waist with both hands, he hit a loud blow and pelted the whole lot New Mom Sex Story.

Chudai started at the speed of the passenger train when my speed reached the speed of Rajdhani Express, my LND started fluttering. Mother’s legs started hurting. On his repeated saying, he straightened them and laid them on the back New Mom Sex Story.

This time, they put two pillows under their fists, which made the pussy’s mouth face up. Putting LND in Mummy’s pussy, I lay on top of my mother and grabbed her mother’s pussy and started calling me Renu Renu New Mom Sex Story.

When the time for discharge came near, I increased the speed of LND by pressing Mummy’s lips in my lips. Even after being discharged, I lay on my mother for some time New Mom Sex Story.

When I removed, my mother said- Sonu, you fill the lota and discharge, filled my entire pussy.

That night I fucking mother three times. Now it becomes a daily job.

After about twenty days, fate again took a turn. After dinner, we came to the bedroom, as soon as I started to lay my hand on my mother’s pussy, my mother took my hand and removed it from me and said, Sonu, your little sonu in my stomach Is happening New Mom Sex Story.

I kissed my mother in full arms and said – Renu, my life, my baby’s mother, I love you.

After this I divorced from Anu. We sold our shops and houses and we settled in Bhubaneswar, hundreds of kilometers away from Kanpur, where no one knew us. Now there are three beings in this house. I, my wife Renu and our son Monu New Mom Sex Story. How did you like my true sex incident, tell me on Telegram, I will wait for your comment and message. Apart from this, you can also give your opinion by commenting on the story below. [email protected]

Read more new mom sex story

माँ बेटे का चुदाई वाला प्यार 1 best xxx story ma beta

Maa Sex Story 1 माँ ने अपने बेटे के लंड की तोड़ी सील best sex

Maa ki Chudai Bete se मां की चुदाई की इच्छा 1 बेटे से fun

Leave a Comment

org/tools/popad.js">