Besthindisexstories पोर्न जैसी चुदाई की भाभी के साथ1 fun sex

पोर्न जैसी चुदाई की भाभी के साथ Besthindisexstories

Besthindisexstories: मैं पोर्न का शौकीन हूँ. ब्लू-फिल्म के जैसे सेक्स करने का मन करता था मेरा … मैंने कई लड़कियाँ चोदी लेकिन वैसा मजा नहीं मिला. फिर मैंने एक भाभी को पटाया तो …

हैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम जोगेंद्र शर्मा है. मैं उदयपुर राजस्थान का रहने वाला हूँ. मेरी उम्र बाईस वर्ष है. Mast Hindi Story पर कई सारी सेक्स कहानी पढ़ कर लंड हिलाया है. इसमें प्रकाशित कुछ सेक्स कहानियां काल्पनिक जरूर लगती हैं, लेकिन रसभरी हैं. बाकी जो कहानी सही लगीं, उनको पढ़ कर तो समझो … मस्ती ही चढ़ गई थी.

आज मैं अपने बारे में जो आप सभी को बताने जा रहा हूँ, वो एकदम सही है.

मैं जब 19 साल का था, तभी से पोर्न देखने का शौकीन रहा हूँ. मैं ब्लू-फिल्म में जिस तरह से सेक्स होता देखता था, मेरा उसी के जैसे सेक्स करने का मन करता था.

फिर इसी लालसा के चलते एक लड़की मेरी गर्लफ़्रेंड बनी. मैंने उस गर्लफ़्रेंड को चोदा … बहुत चोदा … मगर मैं जिस तरह के सेक्स का मज़ा लेना चाहता था, वो उससे नहीं मिला. लिहाज़ा मैंने उस लड़की के बाद कई सारी हमउम्र लड़कियों से सम्बंध बनाए … मगर न जाने क्यों मैं अपने मन को तृप्त नहीं करवा पाया.

उसके बाद मैंने अपना ध्यान लड़कियों से हटा कर भाभी, आंटियों पर लगाना शुरू किया. मेरे घर के बगल में एक भाभी अपने सास ससुर और अपने दो बच्चों के साथ रहती थीं. उनके पति मुंबई में नौकरी करते थे. वो कभी कभार ही घर आ पाते थे. यहां मैं उन भाभी के भरोसे को नहीं तोड़ सकता, इसलिए आपको उनका नाम नहीं बता सकता.

उन भाभी की मेरी बहन से अच्छी दोस्ती थी, तो उनका मेरे घर पर आना जाना था. मैं लड़कियों से निराश होने के बाद उन भाभी को चोदने के बारे में सोचने लगा.

मैंने अपनी बहन के फ़ोन से उनका नम्बर निकाल लिया और उनको वाट्सऐप पर मैसेज किया. चूंकि भाभी हमारे घर आती जाती थीं, तो मेरी भी उनसे बात होती थी. उन्होंने मुझसे वाट्सऐप पर भी सामान्य बात की.

Besthindisexstories

उसके दो दिन बाद ही मैंने उनको पूछ लिया कि भाभी आपके पति इतने दिन बाहर रहते हैं, तो आपको उनकी याद नहीं आती. आपको भी उनके साथ वहीं चले जाना चाहिए.
भाभी ने जवाब दिया- याद तो आती है पर क्या कर सकते हैं, यहां भी सास ससुर अकेले हैं और बच्चों का स्कूल भी चल रहा है, तो मुझे तो यहीं रहना पड़ेगा.
मैंने उनको लिखा- हां, आपकी ये बात तो सही है.

इसके बाद ही उनका मैसेज आया- ये आज आपको अचानक क्या हो गया है … आपने ऐसी बात पहले तो कभी नहीं पूछी, ना ही कभी मुझसे ऐसी कोई बात की.
मैंने कहा- कोई ख़ास बात नहीं है भाभी, बस अज अचानक दिमाग में आ गया, सो आपसे यूँ ही पूछ लिया.

मैंने अपनी तरफ से बड़ी कोशिश की थी कि भाभी के मन में मेरी इस बात को लेकर कोई बात घर न कर जाए, या वे मेरी बात का बुरा न मान जाएं, मगर ये भी सच था कि भाभी मेरे अन्दर की बात को जान गई थीं.

अगले दिन हमारी बात सामान्य बातों से शुरू हुई. मगर मैंने बाद में उन्हें बोल दिया.

मैं- भाभी बच्चे कहां हैं?
भाभी- दोनों स्कूल गए हैं.
मैं- और आपके सास ससुर?
भाभी- वो मेरी सासु माँ के साथ उनके पीहर गए हैं.
मैं- अभी घर पर कौन है?
भाभी- मैं अकेली हूँ, क्यों क्या हुआ?
मैं- भाभी मैं आपसे कुछ कहना चाहता हूँ … अगर आप बुरा ना मानो तो!
भाभी- हां बोलो न.

Besthindisexstories

मैं- भाभी मुझे आपसे फ़्रेंडशिप करनी है.
भाभी- ये क्या बोल रहे हो, तुम्हारी तो गर्लफ़्रेंड है न.
मैं- हां भाभी … पर मुझे आप पसंद हो. आपकी और मेरी उम्र में भी बहुत फ़र्क़ है … तो किसी को शक भी नहीं होगा.

इसके बाद भाभी का कोई जवाब नहीं आया. अगले दिन उन्होंने मुझे मैसेज किया कि जब तुम्हारे घर पर कोई नहीं हो, तब मुझे फोन करना.

दिन में पापा मम्मी बहन आदि सभी जा चुके थे. मैंने उनको फ़ोन किया.

थोड़ी देर में भाभी मेरे घर में आ गईं. मैं उनको अपने रूम में ले गया. अन्दर जाते ही मैंने उनको हग किया और पोर्न फ़िल्मों के जैसे किस करने लगा.
भाभी बोली- जोग्गी, मैं रात भर तुम्हारे बारे में सोचती रही … तब मैंने तुमसे दोस्ती करने की बात मानी है … मगर तुम अपनी ये बात किसी और को मत बता देना.
मैंने उनको भरोसा दिलाया कि भाभी मैं किसी को नहीं कहूँगा.

भाभी मुझसे लिपट गईं और मुझे किस करने लगीं. उनकी गर्मागर्म सांसें मुझे एकदम से कामुक किए दे रही थीं. मेरी भी समझ में आ गया था कि भाभी ने मेरे साथ दोस्ती करने से पहले सारी स्थितियों पर विचार कर लिया है और मैं उनकी प्यास बुझाने के लिए सबसे सुरक्षित मर्द था. वे मेरे घर आती थीं और उनके आने जाने से किसी को कोई शक भी नहीं होने वाला था. हालांकि ये सब मैंने भी सोचा था, तभी मैंने भाभी से दोस्ती करने की बात करते हुए उनको ये कह दिया था कि आपके और मेरे बीच के उम्र के फर्क के कारण भी कोई शक नहीं करेगा.

मेरी ये बात भाभी को जम गई थी और वो बड़ी आसानी से मेरे साथ सैट होने को राजी हो गई थीं.

Besthindisexstories

मैंने भाभी से पूछा- मेरा साथ आपको कैसा लग रहा है.
भाभी ने कहा- सच में मुझे इस बात का अहसास ही नहीं था कि मेरी प्यास बुझाने के लिए तुम मेरी मदद कर सकते हो. वो तो जब तुमने फोन पर मुझसे कहा, तभी मुझे तुम्हारा ख्याल आया.
मैंने कहा- भाभी आपसे क्या छिपाना मुझे कुंवारी लड़कियों में मजा नहीं आया, इसलिए मैंने अपनी गर्लफ्रेंड को ज्यादा नहीं चोदा है.

मेरे मुँह से चोदा शब्द सुनकर भाभी एकदम से खुल गईं और मेरे लंड को पकड़ कर कहने लगीं कि चलो आज तुमको चुदाई का मजा देने का मौका मुझको मिला है, तुम मुझे चोद कर बताना कि अपनी भाभी से चुदाई करने में मजा मिला कि नहीं.

भाभी ने मेरे लंड को पकड़ा, तो मेरे जोश में एकदम से तेजी आ गई और मैं भाभी पर लगभग टूट पड़ा. मैं उनकी साड़ी के ऊपर से उनके मम्मों को दबाने लगा. मुझे भाभी के मम्मों को दबाने में काफ़ी मज़ा आ रहा था. क्योंकि उनसे पहले मेरी जितनी भी गर्लफ्रेंड्स रही थीं, सब मेरी हम उम्र की ही थीं और उनके चूचे इतने बड़े नहीं थे.

मैंने भाभी को बेड पर पटक कर उनके सारे कपड़े उतार दिए. भाभी पोर्न मूवी की गर्म एक्ट्रेस की तरह मेरा पूरा साथ दे रही थीं. जब भाभी ने मेरा लंड बाहर निकाला, तब लंड देखते ही वो मस्त हो गईं.

उन्होंने बोला कि अरे वाह तुम्हारा लंड तो बड़ा मस्त है.
मैंने कहा- मस्त है मतलब क्या हुआ भाभी? लंड तो मस्त होता ही है.
भाभी- अरे नहीं यार … तुम मुझसे उम्र में छोटे हो, इसलिए मैं यही सोच रही थी कि न जाने तुम्हारा लंड कैसा होगा. मगर ये तो मेरे पति के लंड से काफ़ी बड़ा और मोटा है.

Besthindisexstories

भाभी के मुँह से ये सुन कर मुझे अपने लंड पर बड़ा नाज हुआ और मैंने उनकी चुत में उंगली करना शुरू कर दी.

पोर्न जैसी चुदाई की भाभी के साथ Besthindisexstories

भाभी बोलीं- जोग्गी … आज पहले एक बार तुम मुझे क्विकी वाली चुदाई कर दो. मेरी चुत में बड़ी आग लगी है. बाकी का खेल हम दोनों अगले राउंड में कर लेंगे.

मुझे भी भाभी की चुदाई करने की जल्दी मची थी. मैंने भी भाभी से ओके कह कर उनको सीधा चित लिटाते हुए उनकी दोनों टांगें चौड़ी करते हुए फैला दीं. भाभी ने अपनी दोनों टांगों को न केवल फैला लिया था, बल्कि हवा में उठाते हुए अपनी चुत पर अपनी हथेली फेरते हुए मुझे आंख मार दी.

भाभी का इशारा मिलते ही मैं उनकी दोनों टांगों के बीच में आ गया और अपना लंड हाथ से सहलाता हुआ उनकी चूत के छेद को देखने लगा.

फिर मैंने लंड का सुपारा भाभी की चुत के छेद में फंसाया और एक ही झटके में ही उनकी चुत में अपना लंड डाल दिया. चूंकि भाभी बहुत दिनों से नहीं चुदी थीं, इसलिए उनको थोड़ा दर्द हुआ … उनकी हल्की सी आह निकल गई.

पोर्न जैसी चुदाई की भाभी के साथ Besthindisexstories

हालांकि भाभी दो बच्चों की माँ बन चुकी थीं … इसलिए उन्होंने अगले कुछ पलों में ही मेरे लंड को जज्ब कर लिया.

मैंने उनकी चूचियों को मसलते हुए उनके होंठों को अपने होंठों में दबा लिया और उनकी चुत में लंड पेलने लगा. भाबी को लंड की रगड़ से चुत की दीवारों की खुजली मिटती सी महसूस हो रही थी, इसलिए उन्होंने अपनी दोनों टांगों को मेरी कमर से बाँध लिया और गांड उठाते हुए लंड को अपने अन्दर तक लेने लगीं.

मैं भी अपने दोनों हाथ उनके दोनों तरफ टिका कर पूरी ताकत से लंड को अन्दर बाहर कर रहा था. मेरा पूरा लंड बाहर आता और एकदम से अन्दर गर्भाशय तक चोट मार रहा था.
भाभी की मस्त सीत्कारें निकल रही थीं ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’
वो दांत भींचे हुए अपनी चुदास शांत करवा रही थीं.

Besthindisexstories

मैंने काफ़ी देर तक उन्हें चोदा. भाभी नीचे से अपनी गांड काफी ऊंची उठा उठा कर मेरा पूरा साथ दे रही थीं.

मेरी पोर्न फ़िल्मों जैसे सेक्स करने की ख़्वाहिश आज पूरी हो गई थी. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.

कुछ देर बाद भाभी अकड़ गईं और आवाज करते हुए निढाल हो गईं. उनकी चुत का रस छूट गया था. चुत के पानी की गर्मी से मेरे लंड का हौसला भी पिघल गया और मैं भी भाभी की चुत में ही झड़ गया. हम दोनों एक दूसरे से चिपक कर लेट गए.

भाभी ने सेक्स के बाद कहा- यार, तुम बड़ा मस्त चोदते हो … तुमने मेरी अन्दर तक की नसें ढीली कर दीं.
मैंने भाभी की चूची के निप्पल को अपनी दो उंगलियों के बीच में दबा कर मींजते हुए कहा- मेरा लंड कैसा लगा?
भाभी- तुम्हारा लंड मेरी चुत के लिए एकदम पर्फ़ेक्ट है.
मैंने उनसे कहा- तो एक बार फिर से हो जाए.
भाभी बोलीं- कुछ समय तो दे दो यार.

मैंने भी ओके कहा और उनके साथ लेटे हुए खेलने लगा. हम दोनों प्यार भरी बातें करते हुए चिपके थे और एक दूसरे को सहला रहे थे. इसके बाद मैंने भाभी से 69 का कहा, तो भाभी राजी हो गईं.

पोर्न जैसी चुदाई की भाभी के साथ Besthindisexstories

हम दोनों ने एक दूसरे के लंड चुत को खूब चूसा. आधा घंटे बाद चुदाई का दूसरा दौर शुरू हो गया.

पूरे दो घंटे मस्ती करने के बाद भाभी अपने कपड़े पहन कर अपने घर जाने लगी तो मैंने उनसे पूछा- आज रात का क्या प्लान है?
भाभी बोलीं- अपन लोग मैसेज से तय कर लेंगे.

मैंने भी भाभी को अपने सीने से लगा कर चूमा और उनको जाने दिया.

Besthindisexstories

उसके बाद हम दोनों को चुदाई का चस्का लग गया था. मेरे या उनके घर, कहीं भी हम दोनों मिलते और हार्ड फ़क यानि पलंगतोड़ चुदाई का मजा करते.

इस वाकिये के बाद मेरी लड़कियों में कोई दिलचस्पी नहीं रही … क्योंकि चुदाई का मज़ा … जो एक भाभी या आंटी दे सकती है, वो मजा लड़की नहीं दे सकती.

इसके बाद मैंने भाभी की मदद से ही अपने पड़ोस की दो भाभियों को और चोदा. अब जब भी में बाहर निकलता हूँ, तो मेरी नज़र लड़कियों पर कम … और भाभियों पर ज़्यादा पड़ने लगी है.

दोस्तो, कैसी लगी आपको मेरी यह सच्ची चुदाई की कहानी. मुझे Telegram पर ज़रूर बताये में आपके comment और message का इंतज़ार करूगा. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं. और सेक्स विडियो और new कहानी पढने के लिये telegram ग्रुप join कर सकते है.
[email protected]

पोर्न जैसी चुदाई की भाभी के साथ Besthindisexstories

Read in English

Pron Jesa Sex Bhabhi ki saath Besthindisexstories

Besthindisexstories: I am fond of porn. I used to feel like having sex like a blue-film… I fuck many girls but did not get the same. Then I patted a sister-in-law…

Hello friends, my name is Jogendra Sharma. I am a resident of Udaipur Rajasthan. I am twenty two years old. Having read many sex stories on Mast Hindi Story, he has shaken cocks. Some of the sex stories published in it seem imaginary, but are raspberries. Read the rest of the story which is true, understand it… the fun had gone on Besthindisexstories.

Today, what I am going to tell you all about myself is absolutely correct.

I have been fond of watching porn ever since I was 19 years old. The way I used to see sex in blue-film, I used to feel like having sex like Besthindisexstories.

Then due to this longing, a girl became my girlfriend. I fuck that girlfriend… very fucking… but I did not get the kind of sex I wanted to enjoy. So after that girl I made connections with many girls of our same age… But I do not know why I could not satisfy my mind on Besthindisexstories.

After that, I shifted my focus from girls to sister-in-law and started focusing on the aunts. Next to my house a sister-in-law lived with her mother-in-law and her two children. Her husband used to work in Mumbai. He was rarely able to come home. Here I cannot break the trust of those sisters-in-law, so I cannot tell you their names on Besthindisexstories.

Those sisters-in-law had a good friendship with my sister, so they had to come to my house. After getting frustrated with the girls, I started thinking about fucking them like Besthindisexstories.

I took out their number from my sister’s phone and messaged them on WhatsApp. Since sister-in-law used to come to our house, I used to talk to her. He also talked to me on WhatsApp.

Besthindisexstories
Only two days after that I asked them that your husband stays outside for so many days, so you don’t remember him. You should also go there with them.
Sister-in-law replied – I remember, but what can I do, here also the father-in-law is alone and the children’s school is also running, so I will have to stay here.
I wrote to him- Yes, this is true of you about Besthindisexstories.

After this, his message came – what has happened to you suddenly today… You have never asked such a thing before, nor have you ever talked to me for Besthindisexstories.
I said- there is nothing special, sister-in-law, suddenly Aj came to mind, so I asked you just like this.

I had tried very hard on my behalf that in the mind of the sister-in-law, no one should talk about this matter, or they should not mind my talk, but it was also true that the sister-in-law had come to know about me. .

The next day our conversation started with the usual things. But I later told them Besthindisexstories.

I – Where are the children in law?
Sister-in-law have both gone to school.
Me- and your mother-in-law in law?
Sister-in-law has gone to her mother-in-law’s house.
Me- Who is at home now?
Sister-in-law, I am alone, what happened?
Me- I want to say something to you… if you don’t mind!
Sister-in-law, say yes.

Besthindisexstories
Me- I want to friendship with you.
Sister-in-law, what are you saying, is your girlfriend?
I – yes sister-in-law… but I like you. There is a lot of difference between you and my age… so no one will be suspicious.

After this there was no response from sister-in-law. The next day he messaged me that when there is no one at your house, then call me.

During the day, father and mother were all gone. I called them like Besthindisexstories.

Sister-in-law came to my house in a while. I took them to my room. I hugged them as soon as I went in and kissed them like porn movies.
Sister-in-law said, Joggi, I kept thinking about you throughout the night… Then I have agreed to befriend you… but do not tell this thing to anyone else.
I assured him that I will not tell anyone on Besthindisexstories.

Sister-in-law hugged me and started kissing me. His hot breaths were making me absolutely sensual. I had also understood that the sister-in-law had considered all the situations before befriending me and I was the safest man to quench her thirst. She used to come to my house and no one was going to have any doubt about her coming. Although I had also thought of all this, then, while talking about friendship with sister-in-law, I had told her that no one would doubt because of the age difference between you and me like Besthindisexstories.

This thing was fixed to my sister-in-law and she readily agreed to set up with me.

Besthindisexstories
I asked sister-in-law how do you feel with me.
Sister-in-law said- I really did not realize that you can help me to quench my thirst. When you told me on the phone, then I thought about you.
I said – sister-in-law what to hide from you I did not enjoy virgin girls, so I have not fuck my girlfriend much in Besthindisexstories.

Hearing the words Choda from my mouth opened immediately and grabbed my cock and started saying that today I have got a chance to give you fun of fuck, you can tell me whether it was fun to fuck with my sister for Besthindisexstories.

Sister-in-law grabbed my cock, so my excitement quickly increased and I almost broke down on her. I started pressing her mummies on top of her sari. I was having a lot of fun in suppressing her mother-in-law. Because all the girlfriends I had before them, I was all of my age and their boobs were not so big like Besthindisexstories.

I slammed the sister-in-law on the bed and removed all her clothes. Bhabhi was supporting me like a hot actress in a porn movie. When the sister-in-law took my cock out, then she got excited on seeing the cocks on Besthindisexstories.

He said that hey wow your cock is very big.
I said – what do you mean by law? Lund is always fun then Besthindisexstories.
Sister-in-law, oh no man… you are younger than me, so I was wondering what your cock would be like. But this is much bigger and thicker than my husband’s cock.

Besthindisexstories
Hearing this from the mouth of sister-in-law, I felt very proud of my cock and I started to finger her pussy.

Sister-in-law said – Joggi… Today, once before you give me a quickie fuck. There is a big fire in my pussy. We will do the rest of the game in the next round the Besthindisexstories.

I too was in a hurry to fuck her. I also said to her by saying OK to the sister-in-law and spread her two legs wide by widening them. The sister-in-law had not only spread both her legs, but raised her in the air and turned her palm on her pussy and hit me

As soon as I received the gesture of sister-in-law, I came in between her two legs and started looking at her pussy hole while stroking my cock with her hand on the Besthindisexstories.

Then I stuck the supara of the cocks in the hole of the sister-in-law’s pussy and put my cock in her pussy in one stroke. Since the sister-in-law had not been fucking for a long time, so she got a little pain… her slight sigh came out.

I pressed his lips in his lips and rubbed his cunt and started licking his cock. Bhabi was feeling the itching of the walls of the pussy with the rubbing of the cocks, so she tied both her legs to my waist and started taking the cocks up to her inside while lifting her ass.

I too, with both my hands on both sides, was pulling the cocks in and out with full force. My whole cock would come out and was hurting inside the uterus the Besthindisexstories.
Sister-in-law was getting excited ‘Ummh… Ahhh… Hahh… Jah… ’
She was soothing her teeth with her teeth.

cript>

Besthindisexstories
I fucking them for a long time. Sister-in-law lifted her ass very high from below and was giving me full support.

My desire to have sex like porn movies was fulfilled today. I was having a lot of fun like Besthindisexstories.

After some time the sister-in-law swagger and slumber away while making a sound. His pussy juice was left. The heat of the water of the pussy melted my cock and I too fell in the law. We both clung to each other and lay down.

Sister-in-law said after sex- Dude, you are very cool Chodte… You have loosened my veins.
I pressed the nipple of the sister-in-law’s nipple between my two fingers and said – how was my cock?
Sister-in-law, your cock is perfect for my pussy for Besthindisexstories.
I told him – then it will happen once again.
Sister-in-law said, give me some time, friend.

I also said OK and started playing with them while lying down. Both of us were sticking to love and talking to each other. After this, I told my sister-in-law of 69, then the law agreed the Besthindisexstories.

We both sucked each other’s cock. Half an hour later, the second round of sex began.

After full two hours of fun, sister-in-law started going to her house wearing her clothes, so I asked her – what is the plan tonight?
Sister-in-law said – your people will decide with the message.

I also kissed sister-in-law with her chest and let her go.

Besthindisexstories
After that, both of us got hooked. Me or their house, anywhere, both of us would meet and enjoy the hard fuck.

After this sentence, my girls were not interested… because the fun of sex… which a sister or aunt can give, she cannot give fun to a girl.

After this, with the help of sister-in-law, I chose two sisters-in-law in my neighborhood. Now whenever I go out, my eyes are less on girls… and more on sisters.

Friends, how did you like my true sex story. I will definitely wait for your comment and message on Telegram. Apart from this, you can also give your opinion by commenting on the story below. And to read sex videos and new story, telegram group can join.
[email protected]

Read more chudai Story –

Desi Bhabhi Story चुपके से लंड दिखा, की 1 भाभी की चुदाई fun

Bhabhi ki hot story भाभी की नरम नरम चूत को चाटा 100 real sex

bhabhi xxx kahani पड़ोसन भाभी ने मुझे Sex करना सिखाया 1stटाइम

Leave a Comment

org/tools/popad.js">