टयूशन पढ़ाने वाले घर की भाभी की चूत मारी 1 fun kamuk stories

टयूशन पढ़ाने वाले घर की भाभी की चूत मारी 1 fun kamuk stories antarvasna bhabhi

kamuk stories antarvasna bhabhi: भाभी ने सेक्स की गोली खिलाकर चूत चुदवा ली मुझसे. मैंने उसके घर मैं ट्यूशन देने जाता था, एक दिन उसका पति घर पर नहीं था तो उसने मुझे रोक लिया और …

हमारा नाम राजपाल है. घर में हमको रामू कहते हैं. मेरा उम्र 22 साल के करीब है. हम बिहार का रहने वाला हूं. मेरा हाइट 6 फीट 1 इंच है. ये तो हुई हमारी बॉडी की बात. अब जरा हमारे लंड के बारे में भी बात कर लेते हूँ.

मेरा जो लंड है न, वो बहुत मोटा है और हमारे लंड की लम्बाई भी बहुत है ज्यादा है. हम आपको जो कहानी बताने जा रहा हूं वो उन दिनों की बात है जब हम अपने कॉलेज में दाखिला लेने वाले थे. हमारी परीक्षाएं खत्म हो गई थीं और हम घर पर बैठ कर मक्खी मार रहे थे.

करने को कुछ था नहीं इसलिए घर पर ही टाइम हम अपना पास कर लेते थे. मैं कभी टीवी देख लेता था तो कभी बाहर घूमने निकल जाता था. मगर ज्यादा दिन हम खुद को ऐसे बहला नहीं पाये और फिर मैंने सोचा कि क्यों न टाइम पास के लिए कोई ट्यूशन ही पढ़ाने का काम कर लिया जाये.

यहां घर पर बैठे-बैठे मेरा दिमाग खराब रहता था और जेब में पैसा भी नहीं रहता था. हम यही सोचे कि ट्यूशन पढ़ाएंगे तो टाइम पास के साथ ही कुछ पैसा भी आने लगेगा जिसको हम कालेज की पढाई में भी लगा सकूंगा.

संजोगबस मेरे ही मोहल्ला में एक फैमिली किराये पर मकान लेकर रह रही थी. उसमें एक भाभी अपने पति और बेटी के साथ रह रही थी. मेरे कहने पर मेरी मां ने उनसे बात किया और हम उसकी लड़की को पढ़ाने लगे. जिस स्टूडेंट को हम पढाते थे उसकी मां बहुत अच्छी थी.

हमको बहुत मानती थी उसकी मां. उसके पति दूसरे शहर में रहते थे. एक दिन कि ये हुआ कि मेरी मां मेरे नाना जी को देखने नानी के यहां चली गयी. हमारे पिता जी उन दिनों काम से बाहर गये हुए थे. वो गोवा में थे और कई दिन के बाद आने वाले थे.

उस दिन हमारे घर पर केवल हम ही था. मेरे जो भाई लोग हैं न वो हॉस्टल में रह रहे थे. तो उस दिन हम उसके यहां ट्यूशन पढ़ाने के लिए गये. संजोगबस उसके पति भी उस दिन घर पर नहीं थे. भाभी को उसी समय बाजार जाना था तो वो हमसे कहके गई कि रामू तुम बाद में जाना. मैं अभी बाजार जा रही हूं.

फिर वो चली गई. जब वो हमारी नजर के सामने से गुजरी तो हम उसकी गांड को देखते ही रह गये. वो भाभी बहुत ही सेक्सी लग रही थी. हमारा लंड उसको देखते ही फुदकने लगा. किसी तरह हम खुद को कंट्रोल किये और फिर उसकी बेटी को ट्यूशन पढाने लगे.

जब हम उसकी बेटी को पढ़ा दिये तो हम भाभी जी के आने का इंतजार करने लगे. ऐसे ही करते-करते रात के 9 बज गये. जैसे ही वो आयी हम उनसे कहे कि हम अपने घर जा रहे हैं.
फिर वो कहने लगी कि रामू खाना यहीं पर खाकर जाना, तुम्हारे घर पर भी कोई नहीं है. तुम अकेले वहां क्या बनाओगे?

हम ऐसे ही जाने का नाटक करते रहे मगर हम दिल से भाभी जी के पास ही रुकना चाह रहे थे. फिर बहुत कहने के बाद हमने उनको हां कह दिया. खाना खाते हुए हमको बहुत देर हो गई. रात के 10 बजे से भी ज्यादा का टाइम हो गया.

जब हम जाने के लिए बोले तो भाभी जी ने कहा कि रामू अब तो बहुत रात हो गई है. तुमने खाना तो खा ही लिया है तो फिर तो तुम यहीं पर सो जाओ. बिटिया के पापा भी घर पर नहीं है. हम लोगों को भी डर नहीं लगेगा.

भाभी जी ने जब हमसे रात में रुकने के लिए कहा तो हमारा लंड टाइट होना शुरू हो गया. हम तो चाह ही रहे थे कि हमको उनके पास रुकने का कोई बहाना मिल जाये. फिर उन्होंने खुद ही कह दिया तो हम भी झट से मान गये.

उनके घर पर रुकने से मुझे भी सही था क्योंकि हम रात में अकेले अपने घर में नहीं सो सकते थे. हमको भूत से बहुत डर लगता था. इसलिए भाभी जी के कहने पर हमने तुरंत हां कह दिया. फिर हम बैठ कर वहीं पर गप लगाने लगे. ऐसे ही रात के 11 बजे गये.

जब उसकी बेटी को नींद आ गयी तो फिर हमने भी भाभी जी से कहा कि हमें भी नींद आ रही है.
भाभी जी बोली कि हम तुम्हारे लिये बिस्तर लगा देती हूं.
जब वो बिस्तर लगा रही थी तो हमें भाभी जी के गोल तरबूज दिख पड़े.
हमारा लंड खड़ा होने लगा.

बेड लगाने के बाद हम उस पर लेट गये और भाभी जी को गुड नाइट बोल कर सोने लगे.
वो कहने लगी- अभी ऐसी भी क्या जल्दी है रामू, आपसे रोज रोज बात तो कर नहीं पाती हूं. कुछ देर बतिया लो. उसके बाद सो जाना.

भाभीजी के कहने पर हम बातें करने लगे.
ऐसे ही बातों में वो पूछने लगी कि रामू तुम्हारी तो गर्लफ्रेंड भी होगी?
हमने कहा कि हां है.
फिर वो बोली- तो फिर उसके साथ तो तुमने ‘वो’ भी किया होगा.
हमने कहा- क्या मतलब भाभीजी, हम कुछ समझे नहीं.

हम भाभी जी की बात का सब मतलब समझ गया था मगर हम नाटक कर रहे थे.
फिर भाभी जी बोली- क्या तुम अपनी गर्लफ्रेंड के साथ सेक्स भी किये हो?
मैं बोला- नहीं भाभी जी, हम उसके साथ सेक्स तो नहीं किये हैं कभी.

भाभी बोली- तुम्हारा मन तो करता होगा सेक्स के लिए, या फिर वो तुमको करने नहीं देती?
भाभी की बात सुन कर हमारा लंड हमारी पैंट में तन गया था.
मैं बोला- भाभीजी मन तो बहुत करता है, मगर अभी हमारी नई नई दोस्ती हुई है उसके साथ इसलिए हमने कुछ नहीं किया है.

वो बोली- तो फिर हमारे साथ करोगे क्या?
हम भाभी की तरफ हैरानी से देखने लगा. वो एकदम से सेक्स बात कहने लगी तो हमको अंदाज ही नहीं हुआ कि ये भाभी अपने मुंह से हमारे साथ सेक्स करने की बात बोल रही है.

हमारा लंड तो पहले से ही तना हुआ था. भाभी ने मेरा लंड पर हाथ रख दी. हम भी जोश में आ गया. लंड जोर से फड़कने लगा. भाभी हमारे पास में आ गयी और हम दोनों एक दूजे को किस करने लग पड़े. भाभी जोर से मेरा होंठ पकड़ कर अपने होंठ से चूस रही थी.

टयूशन पढ़ाने वाले घर की भाभी की चूत मारी 1 fun kamuk stories antarvasna bhabhi

मैं भी भाभी के मुंह में जीभ डाल कर उसका रस का मजा लेने लगा. भाभी के चूचियों पर हमारे हाथ अपने आप ही चले गये थे. हम उनकी चूची को जोर से दबाने लगा. उनकी चूचियों को दबाते हुए हमको बहुत मजा मिल रहा था.

हम दोनों काफी देर एक दूजे को चूमे और फिर भाभी कहने लगी कि रामू मैं तुम्हारे लिये दूध लेकर आती हूं. वो अंदर चली गई और जब वापस आई तो हम उसको देखते ही रह गये. वो अपनी नाइटी निकाल दी थी. हमारे सामने वो केवल ब्रा और पैंटी में मटकती हुई चली आ रही थी.

भाभी को इस रूप में देख कर हम पगला उठे. उनका फीगर 40-32-38 का रहा होगा. वो दूध लेकर हमारे पास बैठ गई. उसकी चूचियों को देख कर हमसे रहा नहीं जा रहा था. हमने जल्दी से सारा दूध गटक लिया और भाभी को अपनी तरफ खींचने की कोशिश किये.

वो बोली- अपने कपड़े नहीं उतारियेगा?
हम बोले- जरूर भाभी, लेकिन आप ही उतार दीजिये न.
फिर भाभी हमारे कपड़े को उतारने लगी.
पहले उसने हमारी बुशट (शर्ट) को खोला और फिर हमारी पैंट को खोल दी.

कच्छे में हमारा लंड एकदम से फनफना रहा था. हम भाभी की चूत चोदने के लिए मरे जा रहे थे. मगर अभी भाभी को गर्म करना था. मैं भाभी की ब्रा को उतार दिया और उसके दूधों को पीने लगा. उसके दूध बहुत मोटे थे. भाभी के निप्पल गहरे भूरे रंग के थे जो उसके दूधों के बीच में बहुत ही जबरदस्त लग रहे थे.

अब हम भाभी की चूत की तरफ मुंह कर दिये. मैं भाभी की बुर को चाटना चाह रहा था. हमने भाभी की पैंटी को उतार दिया. उसकी बुर को देख कर हम खुश हो गये. भाभी ने चूत के बाल साफ करके उसको बिल्कुल चिकनी कर दी थी.

उसकी चूत को देख कर हमने कहा कि भाभीजी हमको आपका चूत चाटना है. हमारी गर्लफ्रेंड सेक्स नहीं करने दी थी इसलिए हमारा बहुत मन है चूत को चाटने का.
भाभी बोली- हां रामू, तुम्हारे लिये ही तो मैंने इसको साफ किया है.

ऐसे बोल कर वो हमारे सामने अपनी चूत को खोल बैठी और चाटने के लिए बोली. हमने उसकी चूत पर किस किया. उसकी चूत पर किस करते ही हम चूत चाटने के लिए पगला गये. हम उसकी चूत को तेजी से चूसने लगे.

टयूशन पढ़ाने वाले घर की भाभी की चूत मारी 1 fun kamuk stories antarvasna bhabhi

बहुत मजा आ रहा था चूत को चाटने में हमको. बहुत देर तक हम भाभी की चूत को चाटा तो भाभी हमारे मुंह में ही झर गई. मेरा मुंह पर भाभी की चूत का रस पूरा फैल गया था. हम उसकी चूत के रस को जीभ से साफ कर दिये.

फिर वो बोली कि तुमने मेरी तो चाट ली मगर तुम्हारा मन नहीं कर रहा है अपना ये हथियार मेरे मुंह में देने के लिए?
हम लंड की ओर देखे तो वो तन कर पूरा खड़ा था. हमने कहा कि भाभी आपको पसंद हो तो कर दो.
वो बोली- हां, तुमने मुझे इतना मजा दिया है तो मैं भी तुमको ऐसे ही मजा दूंगी.

वो एकदम से घुटनों पर जा बैठी और मेरा लंड को मुंह में भर ली. फिर वो उसको अंदर लेकर चूसने लगी.

टयूशन पढ़ाने वाले घर की भाभी की चूत मारी 1 fun kamuk stories antarvasna bhabhi

हमको बहुत मजा दे रही थी भाभी. हमने पहले कभी अपना लंड किसी के मुंह में नहीं दिया था. हम तीन-चार मिनट में ही पानी छोड़ देते थे, आज नहीं आ रहा था. दस मिनट तक भाभी लंड को चूसती रही.

हम देख रहे थे कि वो थकने लगी है. हमने अब खुद ही उसके मुंह को चोदना शुरू किया. तेजी से उसके मुंह में लंड को घुसेड़ने लगा. वो पूरे लंड को अंदर तक ले रही थी. हमें गजब का मजा आ रहा था. इतना मजा हमें कभी नहीं मिला था.

तीन-चार तक मिनट तक भाभी के मुंह को हमने चोदा तो भाभी परेसान हो गई. अब वो अपने हाथ से हमारे लंड की मुठ मारने लगी. साथ ही वो लंड को अंदर लेकर चूस भी रही थी. अब उसके नर्म हाथ और गर्म मुंह का मजा हमको मिलने लगा. हम तेजी से उसके मुंह में गांड हिला कर लंड को दिये रहे. फिर दो मिनट में ही भाभी के मुंह में पानी निकाल दिये.

भाभी लंड का सारा पानी पी गयी. फिर वो मुझे दूसरे कमरे में ले गयी. वो कमरा बेडरूम था. वहां पर ले जाकर वो बतायी कि इसमें मेरे पति मेरी चूत को चोदते हैं. मैं तुमसे भी इसी कमरे में अपनी चूत को चुदवाऊंगी.

फिर वो मेरे सामने ही बेड पर चूत को फैला कर लेट गई. उसकी चूत में से अभी भी हल्का पानी लगा हुआ था. वो अपनी चूत को मसलने लगी. मैं भी उसके ऊपर चढ़ गया. उसकी चूचियों को दबाने लगा. उसके होंठों को पीने लगा.

अब वो फिर से गर्म होना सुरू हो गई थी. धीरे-धीरे हमें भी मजा आता जा रहा था. हमारा लंड टाइट बनने लगा था. हम उसकी चूत पर लंड को लगाना चालू किये तो लंड एकदम से खड़ा हो गया. हमारां लंड अब तन गया था.

फिर हमने भाभी की बुर में उंगली करना चालू किया. उसकी फुद्दी से अब फिर से रस चूना चालू हो गया. हम तेजी से उसकी चूत में उंगली करते रहे और वो बहुत ज्यादा गर्म होकर हमें पीठ में नाखून गड़ाने लगी. हम जान गये कि यह अब चुदाई के लिए रेडी है.

हमने उसकी टांगों को फैला दिया. उसकी गांड के नीचे तकिया रखे और अपने मोटे, काले लंड को उसकी चूत पर टिका दिये.

टयूशन पढ़ाने वाले घर की भाभी की चूत मारी 1 fun kamuk stories antarvasna bhabhi

वो बोली- आह्ह रामू, घुसेड़ दो इसको. बहुत खुजली कर रही है ये.
मैं बोला- हां भाभी, इस लंड में भी आपकी चूत के लिए बहुत दिनों से खुजली हो रही थी. आपकी प्यास को हम खूब बुझाएंगे अभी.
यह बोल कर हमने भाभी की चूत पर लंड को एक दो बार रगड़ा और फिर उसकी चूत में लंड को घुसा दिया.

हमारा मोटा लंड भाभी की चूत में घुस गया. वो एकदम से चिल्लाई तो हमने उसके मुंह पर हाथ से ढक दिया. फिर उसकी चूचियों को पीने लगे. हमारा लंड अभी आधा भी नहीं गया था.

थोड़ा रुक कर हम उसकी चूत में एक और धक्का लगाये तो उसकी आंख से पानी बह निकला. अब हम उसके होंठों को पीने लगे और उसकी चूचियों को दबाने लगे. धीरे-धीरे अब हमने पूरा लंड भाभी की चूत में घुसेड़ दिया.

फिर उसकी चूत में लंड को घुसा कर उसे गालों पर किस किया. अब वो हमको प्यार देने लगी. हम उसकी चूचियों को दबाते रहे और वो हमारे गालों पर चूमती रही. फिर वो अपने आप ही गांड को उठा कर हमारे लंड की तरफ धकेलने लगी.

हम जान गये कि उसकी चूत अब दर्द नहीं कर रही है. उसके बाद हमने उसकी चूत में लंड को धकेलना शुरू कर दिया. उसकी चूत में लंड को धकेलते हुए हम चूत को चोदने लगे. अब वो भी मजा लेने लगी.

भाभी की चूत में लंड पूरा अंदर जाकर फिर से बाहर आ रहा था. चूत से पच-पच होने लगी थी. मैं बहुत मजे में था. वो भी अपने मुंह से मस्ती में आवाज कर रही थी. आह्ह रामू … मेरी चूत को चोदो, और जोर से चोदो रामू, मैं बहुत दिन से लंड नहीं ली थी. ऐेसे बोल कर वो अपनी चूत को चुदवा रही थी.

हम भी ताबड़तोड़ उसकी चूत को पेलने में लगे थे. फिर वो अचानक ही हमसे लिपटने लगी. उसकी चूत से गर्म पानी छोड़ दिया. उसकी चूत का पानी हमें अपने लंड पर महसूस किया. फिर वो आराम से लेट गई. मगर हम नहीं रुके.

आधे घंटे तक उसकी चूत को हमने बजाया. हम भी हैरान थे कि इतनी देर तक हम उसकी चूत को रगड़ रहा था. फिर हमारा पानी निकलने के लिए आ गया. हमने उसकी चूचियों को पकड़ लिया और उनको दबाते हुए उसकी चूत में कई शॉट मारे और फिर अंदर ही झर गये.

हमारा पानी उसकी चूत में चला गया. वो भी आराम से लेटी रही. हम उसके ऊपर पड़े रहे. उसके बाद हम अलग हुये तो देखा कि उसकी चूत हमारा सफेद पानी निकल रहा था.

टयूशन पढ़ाने वाले घर की भाभी की चूत मारी 1 fun kamuk stories antarvasna bhabhi

उसने उठ कर अपनी चूत को कपड़ा लेकर साफ किया.

उसके बाद हम नंगे ही लेट गये. रात को एक बार फिर से हमने उसकी चूत को बजाया. मगर अबकी बार हम दस मिनट में ही झर गये. हमें समझ नहीं आया कि अबकी बार हम भाभी की चुदाई ज्यादा देर तक क्यों नहीं कर सका.

सेक्स की गोली

फिर सुबह हम अपने घर जाने लगे तो भाभी ने बताया कि रात को दूध में उसने सेक्स की गोली मिला दी थी. हम तब जाने कि भाभी ने चालाकी से हमारे दूध में वो दवाई मिलाई थी. भाभी बहुत चुदक्कड़ थी. उसके बाद कई दफा हमने भाभी की चूत की चुदाई की.

कुछ महीने के बाद वो लोग वहां से चले गये. हमारे पड़ोस में दूसरी फैमिली आ गयी थी. मगर वो पहले वाली पड़ोसन भाभी की चुदाई मुझे आज भी याद आती है.
यह मेरी कहानी आप लोगों को पसंद लगी हो तो दोस्तो मुझे बताना कि आपको कैसी लगी मेरी कहानी.

नीचे मेल आईडी पर अपना मैसेज छोड़ देना. मेरी सेक्स की गोली से चुदाई कहानी पर कमेंट करके भी बताना. मैं फिर कभी दोबारा अपने बिहार की सेक्स स्टोरी लाऊंगा. मैं आपके मैसेज और कमेंट का इंतजार करूंगा. आपको मेरी यह सच्ची सेक्स घटना कैसी लगी मुझे Telegram पर ज़रूर बताये में आपके comment और message का इंतज़ार करूगा. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं.
[email protected]

टयूशन पढ़ाने वाले घर की भाभी की चूत मारी 1 fun kamuk stories antarvasna bhabhi

Read in English

tayooshan padhaane vaale ghar kee bhaabhee kee choot maaree kamuk stories antarvasna bhabhi

kamuk stories antarvasna bhabhi: Sister-in-law fed me a sex pill and took me away. I used to go to her house to give tuition, one day her husband was not at home, so she stopped me and…

Our name is Rajpal. At home, we are called Ramu. I am close to 22 years old. I am a resident of Bihar. My height is 6 feet 1 inch. This is the matter of our body. Now let me also talk about our cocks fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

My cock is not very thick, and the length of our penis is also very high. The story that I am going to tell you is a matter of those days when we were about to enroll in our college. Our exams were over and we were sitting at home and flying fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

There was nothing to do, so we used to pass our time at home. I used to watch TV sometimes and would go out for a walk. But for a long time we were not able to entertain ourselves like this and then I thought that why not do any tuition for the time pass fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Here, sitting at home, my mind was bad and there was no money in my pocket. If we think that we will teach tuition, then with the time pass, some money will also come, which we will be able to invest in college fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Sanjogbus was living in my own locality with a family house on rent. A sister-in-law was living with her husband and daughter. At my behest, my mother talked to him and we started teaching her girl. The mother of the student we used to study was very good fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Her mother used to respect us very much. Her husband lived in another city. One day it happened that my mother went to my grandmother to see my grandfather. Our father had gone out of work those days. He was in Goa and was to come after several days fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

We were the only ones at our house that day. My brothers who are people were not staying in hostels. So that day we went to her to teach tuition. Her husband Sanjogbus was also not at home that day. Sister-in-law had to go to the market at the same time, so she told us that Ramu, you should go later. I am going to the market now fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Then she left. When he passed in front of our eyes, we were left staring at his ass. She looked very sexy. Our cock started whipping on seeing it. Somehow we controlled ourselves and then started teaching tuition to her daughter fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

When we read her daughter, we started waiting for her sister-in-law. It was 9 o’clock in the night while doing this. As soon as she came, we would tell them that we are going to our house.
Then she started saying that eating Ramu food and going here, there is no one at your house. What would you make there alone?

We kept pretending to go like this, but we wanted to stop with sister-in-law sincerely. Then after saying a lot, we said yes to them. We were very late while eating food. It was over 10 o’clock in the night fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

When we asked to go, sister-in-law said that Ramu has become very late. You have already eaten food, then you sleep here. The daughter’s daughter is also not at home. We will not be afraid either fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

When law asked us to stay in the night, then our cocks started getting tight. We were wishing that we could find an excuse to stay with him. Then he himself said, then we also agreed quickly fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

I was also right to stay at his house because we could not sleep alone in our house at night. We were very afraid of ghosts. Therefore, at the behest of sister-in-law we immediately said yes. Then we started sitting there and gossiping there. Just went at 11 in the night fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

When her daughter fell asleep, then we also told her that we too are sleepy.
Sister-in-law said that we will put a bed for you.
When she was laying the bed, we saw round watermelon of sister-in-law.
Our cock started erecting fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

After laying the bed we lay down on it and started saying good night to sister-in-law and went to sleep.
She started saying – what is the hurry now Ramu, I am not able to talk to you every day. Take some time Sleep after that fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

At the behest of sister-in-law, we started talking.
In similar things, she started asking that Ramu will be your girlfriend as well?
We said yes.
Then she bid – then you must have done that too with her.
We said – what do you mean sister-in-law, we did not understand anything fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

We understood the meaning of Bhabhi Ji’s talk, but we were doing drama.
Then sister-in-law said – have you had sex with your girlfriend?
I said – No sister-in-law, we have never had sex with her ever fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Sister-in-law said – would you mind for sex, or will she not allow you to do it?
After listening to sister-in-law, our cock was stretched in our pants.
I said – Sister-in-law does a lot of heart, but now we have a new friendship with her, so we have not done anything fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

She said – then what will you do with us?
We started looking at sister-in-law with surprise If she started talking about sex immediately, we could not guess that this sister-in-law is talking about sex with us fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Our cock was already taut. Sister-in-law laid her hand on my cock. We also got excited. Lund started bursting loudly. Sister-in-law came to us and we both started kissing a couple. Bhabhi was sucking my lips vigorously and sucking on her lips fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

I also started putting tongue in her mouth and enjoying her juice. Our hands went automatically on the sister’s pussy. We started pressing his nipple hard. We were having a lot of fun while pressing her boobs fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

We both kissed a couple for a long time and then sister-in-law said that Ramu, I bring milk for you. She went inside and when she came back, we were left staring at her. She had removed her nighty. In front of us, she was only moving in bra and panties fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Seeing her in this way, we got mad. His figure must have been 40–32–38. She sat down with us with milk. Seeing her tits was not going away from us. We quickly grabbed all the milk and tried to pull the sister-in-law towards us fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

She said – will not take off your clothes?
We said – definitely sister-in-law, but you should not remove it.
Then sister-in-law started removing our clothes.
First he opened our busht (shirt) and then opened our pants fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Our cock in Kuche was absolutely blushing. We were going to die for bhabhi’s pussy fucking. But now the law had to be heated. I removed the sister-in-law’s bra and started drinking her milk. His milk was very thick. The sister-in-law’s nipples were dark brown, which looked very strong in the midst of her milk fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Now we turned to the sister-in-law’s pussy. I was trying to lick her sister-in-law. We removed the sister-in-law’s panties. We were happy to see his evil. The sister-in-law cleaned her hair and made it absolutely smooth fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Seeing her pussy, we said that we have to lick your pussy. Our girlfriends were not allowed to have sex, so we have a lot of mind to lick pussy.
Sister-in-law said – yes Ramu, I have cleaned it for you only fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Speaking like this, she sat in front of us, opened her pussy and said to lick. We kissed her pussy. As soon as we kissed her pussy, we went mad to lick her pussy. We started sucking her pussy fast fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

I was having a lot of fun licking her pussy. For a long time, we licked her sister-in-law’s pussy, and her sister-in-law fell into our mouths. Bhabhi’s pussy juice had spread all over my mouth. We cleaned her pussy juice with the tongue fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Then she said that you licked me but you do not feel like giving your weapon in my mouth?
When we looked at the cocks, he stood full by his body. We said that if you like it then do it.
She said- Yes, you have given me so much fun, so I will enjoy you as well fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

She sat on her knees and filled my cock in her mouth. Then she started sucking him inside.

Sister-in-law was giving us a lot of fun. We had never given our cock in someone’s mouth before. We used to leave water within three to four minutes, today was not coming. Bhabhi kept sucking cocks for ten minutes fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

We were seeing that she was getting tired. Now we started fucking her mouth ourselves. Rapidly started to insert cocks in his mouth. She was taking the whole cock inside. We were enjoying it We never had so much fun.

For three-four minutes, we got Chodi’s mouth and sister-in-law got upset. Now she started licking our cocks with her hand. Along with that, she was also sucking inside the cocks. Now we started enjoying her soft hands and hot mouth. We fast shaved ass in his mouth and gave it to cocks. Then within two minutes, water was removed in the mouth of her sister-in-law fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Sister-in-law drank all the water. Then she took me to another room. That room was a bedroom. Taking it there, she told that my husband fuck my pussy in it. I will also fuck your pussy in the same room with you fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Then she spread her pussy on the bed in front of me. There was still light water in her pussy. She started rubbing her pussy. I climbed on it too. Started pressing her pussy. He started drinking his lips fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Now it started to heat up again. Gradually we were also enjoying it. Our cock was starting to become tight. When we started to put cocks on her pussy, the cocks stood up completely. Our cock was now tanned fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Then we started fingering in law’s bur. The lime has started running again with his whimper. We kept finger in her pussy fast and she became very hot and started to nail us in the back. We know that it is ready for fuck now fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

We spread his legs. Put a pillow under his ass and put his thick, black cock on her pussy.

She said – Ah Ramu, push it. She is very itchy.
I said – yes sister-in-law, your pussy was itching for a long time. We will quench your thirst a lot right now.
By saying this, we rubbed the cocks on her sister’s pussy a couple of times and then inserted the cocks in her pussy fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Our thick cocks got into sister-in-law’s pussy. When she screamed, we covered her mouth with her hands. Then started drinking her Titsi. Our cock had not even gone half.

Pausing a little, if we put another push in her pussy, water flowed out of her eye. Now we started drinking her lips and pressing her nipples. Slowly, now we put the whole cock in her pussy fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Then he inserted the cocks in her pussy and kissed her on the cheeks. Now she started loving us. We kept pressing her pussy and she continued to kiss on our cheeks. Then she automatically picked up her ass and started pushing it towards our cock fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

We know that her pussy is not hurting anymore. After that we started pushing the cocks in her pussy. Pushing the cocks in her pussy, we started fucking her pussy. Now she too started having fun fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Cocks in law’s pussy were going inside and coming out again. She started getting digested with pussy. I was very happy She was also making fun with her mouth. Ahh Ramu… Chodo my pussy, and Chodo Ramu loudly, I had not taken cocks for a long time. Speaking like this, she was fucking her pussy fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

We were too busy trying to feed her pussy. Then she suddenly started hugging us. Hot water left from her pussy. His pussy water made us feel on his cock. Then she lay down comfortably. But we did not stop fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

We played her pussy for half an hour. We were also surprised that we had been rubbing her pussy for so long. Then our water came to drain. We caught her Acwati and while pressing them, she shot several shots in her pussy and then went inside fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Our water went into her pussy. She also lay down comfortably. We lay on it. After that we separated and saw that our white water was coming out of her pussy.

He got up and cleaned his pussy with a cloth.

After that we lay down bare. We once again played her pussy at night. But this time we got waterfall within ten minutes. We did not understand why this time we could not do sex for a long time fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Sex pill
Then in the morning, we started going to our house, then sister-in-law told that she had mixed-sex pills in milk at night. We knew that the sister-in-law had cleverly added that medicine to our milk. Sister-in-law was very cocky. After that many times, we fuck her sister-in-law fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

After a few months, those people left there. A second family had arrived in our neighborhood. But I still remember that former neighbor’s sister-in-law.
If you guys liked this story, then friends tell me how you liked my story fun kamuk stories antarvasna bhabhi.

Drop your message on the mail id below. Commenting on the story of my sex pill. I will bring my Bihar sex story once again. I will wait for your message and comment. How did you like my true sex incident, tell me on Telegram, I will wait for your comment and message. Apart from this, you can also give your opinion by commenting on the story below.
[email protected]

Read more best Bhabhi Sex Story-

Bhabhi Sex भाभी की चूत चाटी अस्पताल में 1 nice sex story

New Sex kahani मोटी गांड वाली भाभी की चूत और गांड चुदाई1 fun

Bhabhi ki chudai stories मेरी 1 सगी सेक्सी भाभी की चुदाई fun

1 thought on “टयूशन पढ़ाने वाले घर की भाभी की चूत मारी 1 fun kamuk stories”

Leave a Comment