Follow my blog with Bloglovinxxx story mami अंधेर में मामी की चूत की चुदाई 100% Real Sex

xxx story mami अंधेर में मामी की चूत की चुदाई 100% Real Sex

अंधेर में मामी की चूत की चुदाई xxx story mami

xxx story mami: शान्तनु, पढ़ाई के लिए मैं मामा के घर रहने लगा. भरे बदन की मामी मुझे पसंद आ गयी लेकिन वो मामी थी. फिर भी मैंने मामी की चुदाई की, मामी से सेक्स किया. कैसे?

ये बात तब की है, जब मैंने 12वीं पास करके आगे की पढ़ाई करना शुरू की थी. मम्मी पापा मुझे रोज ही बोलते रहते थे कि अगर सही से पढ़ना है, तो मामा के घर चले जाओ … वहां, यहां से बेहतर पढ़ाई का माहौल है. पर मैं अपने मम्मी पापा को छोड़ कहीं नहीं जाना चाहता था क्योंकि मेरे अलावा था ही कौन उनका.

एक दिन मेरे मम्मी पापा ने मुझे बुलाया और समझाया कि तू हमारी फ़िक्र मत कर, हम यहां अच्छे से रहेंगे. बस तुम अपनी पढ़ाई पर ध्यान दो … और कुछ बन जाओ.
पर न जाने क्यों मेरा जाने का जी ही नहीं कर रहा था.

फिर मम्मी ने मुझे अपनी कसम दे दी. उस दिन मैं मम्मी पर बहुत बिगड़ा.
पापा ने भी समझाया, तब मैंने भी फैसला ले लिया कि जाना तो पड़ेगा ही, पढ़ाई का सवाल है. मगर मैं मामा के घर नहीं रहना चाहता था, क्योंकि वो क्या है न कि अगर आप किसी के घर रहने लगते हो, तो वो आपको खुद से नीचे समझने लगते हैं.

मेरे मम्मी और पापा को भी पता था कि मैं स्वाभिमानी हूँ. मेरी बात सुनकर उन्होंने भी मुझसे अलग रहने के लिए हां कह दिया. इसके बाद जब मम्मी ने मामा से मेरे इस निर्णय की बात कही होगी तो मामा नाराज होने लगे. मम्मी ने उनसे कहा कि तुम खुद ही उससे बात कर लो.

xxx story mami

फिर मामा का फ़ोन मेरे पास आया. पहले तो उन्होंने मुझे समझाया. उधर से मामी की आवाज भी आ रही थी. मामी जी ने उनसे मुझे फ़ोन देने को बोला.

मामा जी ने मामी को फोन दिया और मैं फ़ोन पर मामी से बात करने लगा.

बस फिर क्या था … मामी का रोना शुरू हो गया. मामी बोलने लगीं- तू हमें अपना मानता ही नहीं, कभी समझता ही नहीं है. क्या हम गैर हैं, जो हमारे साथ नहीं रहेगा. ठीक है तुम्हें नहीं रहना हो तो मत रहो, पर एक बात कान खोल कर सुन लो … तुझसे मेरा रिश्ता खत्म.
उन्होंने गुस्से में फ़ोन काट दिया.

मैंने मम्मी को बोला- ठीक है, मैं मामी के घर रह लूंगा. पर ये बात आप मामी को अभी मत बताना, मैं उनको सरप्राइज दूंगा.

मैं मामा के शहर जाने की तैयारी करने लगा. जाने से पहले जाकर ट्रेन में जगह की पोजीशन देखी. अपने मुताबिक़ एक तारीख का टिकट बुक करवाया, जो कि अगले कुछ ही दिनों बाद का था.

घर वापस आकर अपने सभी दोस्तों से मिला और जिस जिम में मैं पार्ट टाइम ट्रेनर था, वहां जाकर सबको अलविदा कहा. मैंने आज तक एक पैसा जिम से नहीं लिया था, पर जब आज जा रहा था, तो वहां के ओनर ने मुझे जबरन पैसे थमा दिए.

फिर मैं वहां से वापस आया और अपना सामान पैक कर लिया. मम्मी मुझे पूरी रात समझाती रहीं कि किसी से उलझना मत … किसी से फालतू का पंगा मत लेना. बस अपने मतलब से मतलब रखना और सबसे बड़ी बात कि वहां की लड़कियों के चक्कर में मत पड़ना, बहुत सी लड़कियाँ बहुत कमीनी होती हैं. तू शरीर से जरूर मजबूत है, पर दिल से कमजोर है. वो लड़कियां तुम जैसों को फंसाती हैं … और काम निकल जाएगा, तो फिर लात मार कर भगा भी देती हैं.

xxx story mami

मैंने मम्मी को प्रॉमिस किया कि मैं किसी के चक्कर में नहीं पडूंगा. मेरी वाली आप ही लाओगी.
ये सुनकर मम्मी हंसने लगीं.

मैं मम्मी से सोने का बोल कर निकल गया. मैं उस रात न जाने किस उत्सुकता में, सो ही नहीं पाया था.

सुबह उठ कर तैयार हुआ और फिर मम्मी पापा का आशीर्वाद लेकर निकल गया.

मैं जब वहां से निकला, तो मम्मी रोने लगीं … मैं वापस आ कर मम्मी से लिपट गया. मेरा जाने का मन ही नहीं कर रहा था.
पापा मम्मी से बोले- तुम उसे छोड़ेगी, तब न वो जा पाएगा.

मम्मी बड़ी मुश्किल से मुझसे अलग हुईं. फिर मैं वहां से स्टेशन जाकर अपनी ट्रेन का इन्तजार करने लगा, नियत समय से कुछ देरी से ट्रेन आई, तो मैं अपनी सीट पर जाकर बैठ गया.

कुछ देर बाद मैं कान में ईयरफ़ोन लगा कर गाने सुनने लगा. एक लम्बे सफर के बाद मैं मामा के शहर में पहुँच गया. मुझे समझ नहीं आ रहा था कि किधर जाना है. मामा ने दो साल पहले ही नया घर बनवाया था. मैं आज तक अपने मामा के नए वाले घर में आया ही नहीं था, तो मुझको उनके घर का रास्ता पता ही नहीं था. मैंने मामा को कॉल किया. पर कॉल पिक नहीं हुआ. मैंने 3-4 बार फोन लगाया, पर उधर से कोई जवाब नहीं मिला.

इधर रात भी हो रही थी, तो मैंने सोचा- छोड़ो यार … किसी रेस्ट हाउस में चला जाता हूँ.
मैंने पास के ही एक गेस्ट हाउस में एक कमरा रात भर के लिए ले लिया और खाना-वाना खा कर सो गया.

xxx story mami

सुबह 4 बजे ही मामा का कॉल आना शुरू हो गया था. मैंने कॉल उठाया, तो वो बोले कि मैं किसी अर्जेंट काम से कोलकाता आ गया था. मैं समझा कि तेरे पास मामी का नम्बर होगा. मैंने अभी घर बात की तो मालूम हुआ कि तू घर नहीं पहुंचा है.

मैं मामा जी की बात सुनता रहा. मैं उनकी बात सुनकर समझ गया था कि मामा जी ने मेरी मम्मी से बात करके मालूम कर लिया है कि मैं उनके शहर में आ गया हूँ. इस तरह से सरप्राइज की कहानी खत्म हो गई थी.

मामा ने मुझे फोन पर ही अपने घर का पता बता दिया और जाने का रास्ता समझा दिया.

फिर मैं वहां से फ्रेश होकर मामाजी के बताए हुए एड्रेस पर पहुंच गया.

मैंने उनके घर की डोरबेल को बजाया. कुछ देर में एक सुंदर सी महिला, जो हल्की मोटी सी थीं. बाहर आईं और दरवाजा खोला.

मुझे देख कर उन्होंने अपने मुँह पर हाथ रख लिया, फिर मुझसे जोर से लिपट गईं.

कुछ देर बाद वो मुझसे अलग हुईं और मुझे अन्दर आने को बोलीं. ये मेरी मामी थीं.

मामी मुझे अन्दर ले जाकर मुझसे ढेरों बातें करने लगीं. मेरा उनसे हंसी मजाक चलने लगा.
इसी बीच मैंने मामी से एक सवाल कर दिया- मामी मेरा छोटा भाई कब आ रहा है?
इस सवाल को सुन कर मामी एकदम से मायूस हो गईं. मैं मामी को मायूस देख कर समझ गया कि कुछ न कुछ गड़बड़ है.

मैंने मामी को दुखी देखा, तो उनको अपनी बांहों में भर लिया.
मामी मेरे सीने से लग कर सुबकने लगीं- मैं कभी मम्मी नहीं बन पाऊंगी, क्योंकि तेरे मामा में बहुत कमी है.
मैं माहौल हल्का करने के लिए बोलने लगा कि आप फ़िक्र न करो … मैं हूँ ना.
यह सुनकर मामी ने मेरे सीने पर मुक्का मारते हुए कहा- हां … चल ठीक है, पहले तुम कुछ देर रेस्ट कर लो … तब तक मैं कुछ खाने का बना देती हूँ.

xxx story mami

मैं मामी के बताए कमरे में जाकर आराम करने लगा. कुछ देर बाद मैंने खाना खा कर मामी से बात की कि क्या आपको कुछ मालूम है कि मेरे लिए इधर कौन सी कोचिंग ठीक रहेगी.

मामी बताने लगीं कि ये तो मुझे नहीं मालूम है, पर मैं अपनी सहेली की बेटी से पूछ कर बता दूंगी.

कुछ देर यूँ ही बात करने के बाद मैंने सोचा कि चलो थोड़ा मैं भी घूम आता हूँ.
मैं मामी से कह कर घूमने निकल गया. कुछ दूर ही मैंने एक जिम देखा, तो मैं वहां चला गया. उधर लोग एक्सरसाइज कर रहे थे.

मैं वहां बस देख ही रहा था कि तभी सामने से एक लड़की मुझसे टकरा गई.

मैं- सॉरी बहन जी.
ये सुन कर वो लड़की मुझे देखने लगी.
मैं- गलती हो गई बहन जी.

अभी ये सीन चल ही रहा था कि तभी वहां का ओनर आ गया. शायद वो मुझे दूर से ही देख रहा था.

ओनर बोला- क्या हुआ ऋचा?
वो लड़की बोली- सर, ये लड़का मुझे छेड़ रहा था.
ये सुन कर मेरे तो होश ही उड़ गए. ओनर उससे बोला- ठीक है तुम जाओ, मैं इसे देखता हूँ.

वो लड़की चली गई.

मैं बोला- भाई मैंने कुछ भी नहीं किया.
ओनर- हां मैंने देखा … ये बता एडमिशन लेने आए हो, एक हजार मंथली लगेगा.
मैं- सर जी मेरी इतनी औकात नहीं है … हां ट्रेनर की कोई पोस्ट खाली हो, तो बता दीजिए, मैं पार्ट टाइम कर दूंगा.

ओनर ने मुझे ऊपर से नीचे तक देखा फिर उसने मुझसे कुछ सवाल पूछे. उसके सवालों के मैंने सही जवाब दे दिए.

xxx story mami

वो बोला- अभी तो हमारे पास ट्रेनर है, पर तुम आकर जिम करो … जब पोस्ट खाली होगी, तब ज्वाइन कर लेना. वैसे तुम अभी से ही फ्री में जिम ज्वाइन कर सकते हो.
मैं ये सुनकर बहुत खुश हुआ.

मैंने अपनी शर्ट निकाली, तो उधर कसरत कर रहे सभी लोग मेरी बॉडी देखने लगे. उधर के ट्रेनर की भी इतनी मस्त बॉडी नहीं थी.
ओनर मुझे देख कर हाथ के इशारे से बोला- अच्छी बॉडी है.

मैं वहां जिम करने लगा और कुछ देर बाद वापस आ गया. मामी किचन में खाना लगा रही थीं. मेरे आने की आहट पाते ही मामी ने मुझे आवाज लगा दी.

मैं किचन की तरफ देख कर बोला- हां मैं ही हूँ मामी … क्या हुआ?

ये कहते हुए मैं रसोई के पास मामी के सामने आ गया. मामी मुझे ऊपर से नीचे देखती रहीं, फिर पास आकर कहने लगीं- कब डालेगा?
मैं- क्या मामी?
मामी बोलीं- फॉर्म … एडमिशन के लिए.
मैंने बोला- हां कल डालूंगा मामी.
मामी बोलीं- ठीक है … कल डाल देना … अभी हाथ मुँह धो ले. फिर खाना लगा देती हूँ. हम दोनों साथ में ही खाएंगे.

हम दोनों खाना खाने लगे.

मामी बार बार मुझे देख रही थीं. मैंने मामी से पूछा- क्या हुआ?
वो ‘कुछ नहीं’ मुद्रा में में गर्दन हिलाने लगीं.

मैंने मामा के बारे में पूछा- मामा कब आएंगे?
मामी बोलीं- अब तू तो है ना … उनको जब आना होगा, आ जाएंगे.
मैंने उनकी आवाज में अपने लिए एक अलग सी कसक देखी.

hxxx story mami

तभी मामी बोली- तुम्हारी कितनी जीएफ हैं?
मैं बोला- एक भी नहीं.
मामी बोलीं मुझसे झूठ मत बोलो … बहुत साड़ी लड़कियां होंगी … तू झूठ बोल रहा है.

उसी समय, मुझे जो नहीं बोलना था … गलती से वो निकल गया.
मैं- टाइम पास आइटम तो नीचे से बहुत निकल गईं, पर प्यार करने वाली अभी तक नहीं आयी.
मामी ने अपना पल्लू गिरा कर अपने दूध दिखाए और कहा- अच्छा … नीचे से बहुत निकलीं, मतलब पलंग कुश्ती बहुत खेल चुके हो.

अब शर्माने की बारी मेरी थी.
मैं न न कहने लगा … पर मामी ने मेरा हाथ पकड़ लिया और मुस्कुराने लगीं.

मैं मामी को देखने लगा. तभी लाइट अचानक चली गई और मामी उठ कर मुझसे लिपट गईं. मुझे पता था कि मामी अंधेरे से बहुत डरती हैं, तो मैंने भी मामी को अपने से चिपका लिया.

इसी बीच मामी मेरे होंठों पर अपने होंठों को रगड़ने लगीं और मुझसे सांप सी लिपट गईं. वो इस समय मेरे साथ ऐसा बर्ताव कर रही थीं, जैसे कुछ हुआ ही नहीं हो.

मामी- इसे अभी ही जाना था, प्लीज बाबू मुझे मत छोड़ना.

मुझसे लिपटी ही रहीं मामी. वो अपनी चूचियों को मेरे सीने से दबा कर ऊपर नीचे करने लगीं.

xxx story mami

उसी समय मेरे फोन पर मामा का कॉल आने लगा. मैंने फोन पिक किया.
मामा ने फोन पर बताया- लाइट आज पूरी रात नहीं आएगी, तुम उषा का ख्याल रखना … इन्वर्टर भी खराब पड़ा है, तो वो बहुत घबराएगी. उसे अंधेरे से घबराहट होती है.
मैंने कहा- ठीक है मामा जी. मैं देख लूंगा.

मैंने मामी से कहा- आप जाकर आराम से सो जाइए, मैं हूँ न, आप डरना मत.
मामी बोलीं- तू भी मेरे साथ मेरे कमरे चल. मुझे अकेले डर लगेगा.

ये कह कर मामी मुझसे फिर से लिपट गईं. मैं मामी को अपने से लिपटाए हुए खड़ा हुआ और मोबाइल की फ़्लैश लाइट में उनके रूम में आ गया. इस समय भी मामी मेरे से लिपटी हुई चल रही थीं.

मैं उनके कमरे में आ गया. हम दोनों बिस्तर पर बैठ गए.

फिर मामी बोलीं- मुझे सुसु जाना है.
मैंने कहा- ओके आप चली जाओ, ये मोबाइल ले जाओ.

मगर मामी मेरा हाथ पकड़ कर मुझे बाथरूम में ले जाने लगीं.
मैं बोला- आप अन्दर जाइए, मैं मोबाइल की रोशनी जला देता हूँ.

मामी अन्दर घुसीं और गेट को बंद करके सुसु के लिए जाने लगीं. अगले ही पल मामी ने चीख मारी और गेट खोल कर मुझसे लिपट गईं.

मैंने पूछा- क्या हुआ?
मामी बोलीं- तू भी चल …

मैं भी बाथरूम में अन्दर घुस गया और पलट कर खड़ा हो गया. मामी बैठ कर सुसु करने लगीं. मामी की चुत से सुसु की आवाज सुन कर मेरे अन्दर हलचल मच गई. न चाहते हुए भी मैं मामी की तरफ मुड़ गया. मम्मी दीवार की तरफ मुँह करके बैठी थीं.

xxx story mami

मैंने मामी के नंगे गोरे चूतड़ों को देखा, तो मेरा लंड खड़ा हो गया. मैं उसी समय अपने हाथ को लंड पर ले गया. मैं लंड रगड़ने लगा, तो उसी चक्कर में मेरा फोन जमीन पर गिर गया. फोन गिरते ही बंद हो गया और अन्धेरा हो गया.

अन्धेरा होते ही मामी घबरा कर खड़ी हो गईं … और मेरी तरफ को भागीं. मैं वहीं नीचे होकर मोबाइल ढूंढ रहा था.

मामी मेरे सामने खड़ी होकर मेरे सर को पकड़ कर बोलीं- नीचे क्यों बैठे हो?
मैंने जवाब दिया- अपना फ़ोन ढूंढ रहा हूँ. ये कहते हुए उसी समय मेरा हाथ मामी के पैर से टकरा गया. उनकी पैंटी पैरों में फंसी थी. क्योंकि जल्दबाजी में मामी ने पेंटी ही नहीं पहन पाई थी.

मुझे फ़ोन मिल गया. मैंने फोन उठाया और खड़ा हो गया.

मामी इस समय अपनी हथेली मेरे सर पर रखे हुए खड़ी थीं. जो कि मेरे खड़ होने से मेरे खड़े लंड पर आ गई.

मामी ने भी समझ लिया कि उनका हाथ कहां पर लग गया. उन्होंने लंड का अहसास पाते ही झट से हाथ हटा लिया. तब तक मैंने खुद को सम्भाला और मामी को पकड़ बाहर आने लगा.

पैंटी की वजह से मामी का पैर लड़खड़ा गए और वो गिरने लगीं. मैंने मामी को सम्भाला और नीचे बैठ कर अपने हाथ से मामी की पैंटी पकड़ कर निकाल दी.
मामी मुझसे शुक्रिया बोलीं.

इसके बाद हम दोनों अँधेरे में किसी तरह धीरे धीरे कमरे में आ गए. मामी मेरा हाथ पकड़े हुए थीं. वो बेड पर बैठ गईं. मैं खड़ा था.

तभी मामी ने मुझे अपनी तरफ खींच लिया. वो फिर से मुझसे चिपक गईं. मैंने मामी के सर पर हाथ रखा. मेरा लंड अब भी खड़ा था, जो कि मेरे खड़े होने के कारण मामी की गर्दन में लग रहा था.

xxx story mami

मामी अब मेरे लंड पर मुँह रगड़ने लगीं. मैं भी गर्म हो गया था. मैंने अँधेरे का लाभ उठाया और अपने लंड को पैन्ट से बाहर निकाल कर मामी के हाथ में दे दिया. मामी ने बिना किसी संकोच के मेरे लंड को पकड़ लिया. एक पल मेरे लंड को सहलाया तो मेरे लंड ने फुंफकारना शुरू कर दिया.

xxx story mami

तभी मामी भी खड़े होकर मुझे किस करने लगीं. मैंने भी मामी को अपनी गोद में उठा लिया. मैंने उनको किस करने लगा. मामी भी मुझे साथ देने लगीं. हम दोनों एक दूसरे की चुदास को समझ गए थे.

मैंने मामी को किस करते हुए बेड पर लिटा दिया और खुद भी उनके बाजू में लेट कर उनकी चूचियों को मसलने लगा. मामी आह आह करने लगीं.

कुछ ही पलों बाद मामी ने अपने ब्लाउज के साथ ब्रा को भी निकाल दिया. मैं मामी की चुचियों को चूसने लगा और मसलने लगा.

दो ही मिनट की इस चूमाचाटी से मामी से रहा नहीं गया, मामी बोलीं- जल्दी से अन्दर डाल दो.
मैं भी मामी की दोनों टांगों के बीच आ गया और उनकी साड़ी को कमर तक ऊपर कर दिया.

xxx story mami

मामी ने भी अपनी टांगें फैला दीं और मेरा लंड अपने हाथ से पकड़ मुझे अपने ऊपर खींच लिया. मैं अपने लंड को मामी की चुत पर सैट करने लगा, तो मामी ने अपने हाथ से लंड को अपनी चुत की फांकों में सैट कर दिया. लंड फांकों से लगा, तो मामी ने अपनी गांड हिला कर मुझे अन्दर पेलने का संकेत दे दिया.

मैंने एक धक्का लगा दिया. मेरा आधा लंड मामी की चुत में अन्दर चला गया.

xxx story mami

लंड घुसवाते ही मामी की चीख निकल गई- आह मर गई … कितना मोटा है … आह … जरा धीरे बाबू.

वो मुझसे धीरे डालने को बोलने लगी थीं. मैं रुक गया और आधे लंड से ही मामी को चोदने लगा. मामी आह आह करने लगीं और स्पीड बढ़ाने की कहने लगीं.

मैंने भी मामी की चूचियों को पकड़ कर अपने लंड बाहर तक खींचा और फिर से एक जोरदार धक्का मार दिया. इस बार मेरा पूरा लंड मामी की चूत में घुस गया. मामी दर्द से कराहते हुए मेरे बदन पर नाखून गड़ाने लगीं … और चीखने लगीं. मैं मामी को किस करने लगा और धीरे धीरे धक्का लगाने लगा.

कुछ ही देर बाद मामी नार्मल हो गईं और कमर उठाते हुए चुत के झटके लंड पर देने लगीं. यह देख कर मैंने चुदाई की स्पीड बढ़ा दी. तभी मामी एकदम से अकड़ कर झड़ गईं. मैं अभी बाकी था, सो अपने लंड को मामी की चुत के अन्दर ही डाले हुए रुका रहा.

xxx story mami

एक मिनट बाद मामी की बॉडी में हरकत हुई … तो मैं समझ गया. अब मैं धीरे धक्का मारते हुए मामी को किस करने लगा और उनकी चूचियों को चूसने लगा.

मामी कुछ ही पलों में फिर से गर्म हो गईं और वो मुझे अपने नीचे करके खुद लंड के ऊपर आकर गांड उछालने लगीं. उनके कंठ से मादक ‘आह आह..’ निकलने लगी थी.

कुछ देर के बाद मैंने मामी की कमर को पकड़ा और नीचे से ताबड़तोड़ धक्के मारने लगा. कुछ देर तक तो मामी कुछ नहीं बोलीं … बस लंड पर उछलते हुए आहें भरती रहीं.
फिर वो मेरे ऊपर गिर कर मेरे कान में बोलीं- चोद दे मुझे … बना ले अपनी रानी … तुझे आज तक कोई प्यार करने वाली नहीं मिली ना … मैं दूंगी प्यार … बस मुझे मम्मी बना दे … बन जा मेरे बच्चे के बाप … आह … हां बाबू और तेज फाड़ डाल आह आह मैं गयी जानू.

मामी फिर से झड़ गई थीं. अब मेरे अन्दर का ज्वालामुखी फटने को था. मैं भी कुछ धक्के मारता हुआ मामी की कमर पकड़ कर अन्दर ही झड़ गया.
मामी ने मुझे जोर से बांहों में कस लिया. कुछ देर तक हम दोनों ऐसे ही पड़े रहे.

इस समय इतना सुकून मिल रहा था, जिसका कोई जबाव ही नहीं था. हम दोनों की न जाने कब नींद लग गई. हम दोनों ऐसे ही सो गए.

सुबह जब दोनों की नींद खुली, तो देखा कि मेरा लंड अब भी मामी के अन्दर ही था. मुझे रात का वो नजारा याद आ गया. मैं हट कर साइड में लेट गया. मुझे अब अफ़सोस हो रहा था कि ये मैंने क्या कर दिया. मैं मामी से नजरें नहीं मिला पा रहा था.

hot mami stories – xxx story mami

मामी सब समझ गई थीं. वो उठ मेरे आगे आईं और मुझे समझाने लगीं कि इसमें किसी की कोई गलती नहीं थी … और अब क्या फायदा, जो होना था हो गया.
मैंने मामी को देखा, तो वो मुझे किस करने लगीं और मुस्कुरा दीं.

हम दोनों फिर से एक दूसरे में खो गए. उस दिन से मैं रोज मामी को एक महीने तक चोदता रहा. फिर पापा की तबियत खराब हो गयी, तो मैं घर आ गया.

कुछ महीने बाद एक दिन मामा का फ़ोन आया, तो मालूम हुआ कि वो वो बाप बन गए हैं. मामी को जुड़वाँ बच्चे पैदा हुए हैं. एक बेटा एक बेटी … और दोनों सेहतमंद भी हैं.

मुझे भी बहुत ख़ुशी मिली. पर इस दौरान मामी मुझसे नाराज हो हो गई थीं. एक दिन के लिए उन्होंने बुलाया था, पर मैं नहीं जा पाया. वो इसी लिए नाराज हो गयी थीं.
पर मैं जानता हूँ कि ये नाराजगी ज्यादा दिन नहीं रहेगी, वापस जब वहां जाऊंगा … तो सब दूर हो जाएगी.

आपको मेरी मामी की चुदाई की कहानी कैसी लगी … प्लीज़ मेल करके जरूर बताईएगा.
[email protected]

Read in English

xxx story mami: Shantanu, I stayed at maternal uncle’s house for studies. I liked the aunt of Bhareda Badan but she was a maternal aunt. Still I fuck aunty, have sex with aunty. how?

This thing is done when I started studying after passing 12th. Mother Dad used to tell me every day that if you want to study properly, then go to the maternal uncle’s house… there, there is a better study environment from here. But I did not want to leave my mother and father anywhere because who was there other than me. xxx story mami.

One day my mother and father called me and explained that you do not care about us, we will stay here well. Just concentrate on your studies… and become something.
But don’t know why I was not even able to go, xxx story mami.

Then the mother gave me her oath. That day I was very upset with my mother.
Father also explained, then I also decided that I will have to go, there is a question of studies. But I did not want to stay at maternal uncle’s house, because what is that, not that if you start living in someone’s house, then they start to understand you below themselves.

My mother and father also knew that I am self-respecting. After listening to me, he also said yes to stay separate from me. After this, when the mother would have spoken to my maternal uncle about this decision, the maternal uncle started getting angry. Mother told him that you should talk to him yourself.

xxx story mami
Then uncle’s phone call came to me. At first he explained to me. There was also the voice of maternal aunt. Mamie asked him to give me a call.

Mama ji gave a call to Mami and I started talking to Mami on the phone.

What was it then… Mamie’s cry started. Aunt started speaking – You do not consider us as your own, never understand. Are we non-living, who will not be with us? Okay, if you don’t want to stay, don’t stay, but open your ears and listen to one thing… My relationship with you is over.
He hung up in anger, xxx story mami.

I told my mother – Okay, I will stay at Mami’s house. But do not tell this matter to your aunt right now, I will surprise them.

I started preparing to go to the maternal uncle’s city. Before leaving, I saw the position of the place in the train. According to him, a date ticket was booked, which was after the next few days.

Came back home and met all my friends and went to the gym where I was a part time trainer and said goodbye to everyone. I had not taken a penny from the gym till today, but when I was going today, the owner of the place forcibly handed me the money, xxx story mami.

Then I came back from there and packed my things. Mother kept explaining to me all night that don’t get involved with anyone… don’t mess with anyone unnecessarily. Just to be mean to yourself and the biggest thing is that girls do not get caught in the affair, many girls are very bashful. You are definitely stronger than the body, but weaker than the heart. Those girls implicate you like… and if work is done, then they kick it and drive it away.

xxx story mami
I promised my mother that I would not run into anyone’s affair. You will bring my girl
Upon hearing this, the mother started laughing.

I left my mother speaking of gold. I did not know that night, I could not sleep.

Woke up in the morning and got ready and left with the blessing of Mommy Dad.

When I got out of there, my mother started crying… I came back and hugged my mother. I did not feel like going.
Papa said to his mother – you will leave him, then he will not be able to go. xxx story mami.

Mommy broke away from me with great difficulty. Then I went to the station from there and started waiting for my train, the train arrived with a slight delay from the appointed time, so I went to my seat and sat down.

After some time, I started listening to the songs by putting earphones in the ear. After a long journey, I reached the maternal uncle’s city. I could not understand where to go. Mama had built a new house only two years ago. I had not yet come to my maternal uncle’s new house, so I did not know the way to his house. I called my maternal uncle. But the call was not picked up. I called the phone 3-4 times, but there was no reply from there, xxx story mami.

It was also happening here at night, so I thought – Quit friend… I go to some rest house.
I took a room for a night in a nearby guest house and went to sleep eating food.

xxx story mami
Mama’s call started at 4 am. When I picked up the call, he said that I had come to Kolkata for some urgent work. I understood that you will have maternal aunt’s number. When I spoke at home now, I came to know that you have not reached home.

I kept listening to uncle. After listening to them, I understood that after talking to my mother, my uncle has learned that I have come to his city. In this way the surprise story was over.

Mama told me her home address on the phone and explained the way to go.

Then I got fresh from there and reached the address mentioned by Mamaji.

I played the doorbell in his house. In a while, a beautiful woman, who was light fat. She came out and opened the door.

Seeing me, he put his hand on his mouth, then hugged me hard.

After some time she separated from me and asked me to come inside. She was my maternal uncle.

Aunt took me inside and started talking to me a lot. I started laughing at him.
Meanwhile, I asked Mami a question – when is Mami my younger brother coming?
Upon hearing this question, Mamie became completely disappointed. After looking at my aunt in despair, I realized that something was wrong, xxx story mami.

When I saw Mami sad, I filled her in my arms.
My aunt started sucking on my chest – I will never be able to become a mother, because your uncle is very lacking.
I started speaking to lighten the atmosphere that you should not worry… I am there.
Hearing this, Auntie said while punching me on the chest – Yes… Okay, first you rest for a while… Till then I make something to eat.

xxx story mami
I started resting in the room mentioned by Mami. After some time I had dinner and talked to my aunt if you know anything about which coaching would be right for me.

Mamie started telling me that I do not know this, but I will tell my friend’s daughter.

After talking for some time, I thought that I will roam around a bit.
I went out for a walk after telling my aunt. I saw a gym a short distance away, so I went there. People were exercising there, xxx story mami.

I was just watching there when a girl collided with me from the front.

I am sorry sister.
Hearing this, that girl started looking at me.
I have been mistaken sister

Right now this scene was going on when the owner came there. Maybe he was watching me from a distance.

Owner said – what happened Richa?
That girl said- Sir, this boy was teasing me.
Hearing this, my senses flew away. Owner said to him – okay you go, I see it.

That girl left.

I said – brother, I did not do anything.
Owner- Yes, I have seen… tell me that you have come to take admission, it will take a thousand months.
I – Sir, I do not have such a place… Yes, if any trainer’s post is empty, then tell me, I will do it part time, xxx story mami.

The owner looked at me from top to bottom and then he asked me some questions. I gave the right answers to his questions.

xxx story mami
He said – We still have a trainer, but you come and do the gym… When the post is empty, then join. Well, you can join the gym for free right now.
I was very happy to hear this.

When I took off my shirt, everyone started exercising and started looking at my body. On the other hand, the trainer also did not have such a cool body.
The owner looked at me and said with a gesture of hand – has a good body.

I started doing gym there and came back after some time. Mami was cooking in the kitchen. As soon as I heard the call of my aunt, my aunt called me, xxx story mami.

I said looking at the kitchen – yes I am aunt… what happened?

Saying this, I came in front of Mami near the kitchen. Mami kept looking at me from the top down, then came closer and said – when will you put it?
Me- What aunt?
MAMI BID- FORM… FOR ADMISSION.
I said – yes tomorrow I will put aunt
Mamie said- Okay… Put it tomorrow… Now wash your hands. Then I put food. We will both eat together.

We both started eating food.

Mami was watching me again and again. I asked Mami – what happened?
She started shaking her neck in ‘nothing’ posture.

I asked about the maternal uncle- when will the maternal uncle come?
Aunt said – Now you are there… When they have to come, they will come.
I saw a different sound for myself in his voice.

xxx story mami

At the same time, what I did not want to say… he accidentally left.
I – Time pass items have gone out from the bottom, but the lover has not come yet.
Mami dropped her pallu and showed her milk and said- well… came out from the bottom, meaning bed has played a lot of wrestling.

Now it was my turn to shame
I did not say no… but Mami grabbed my hand and started smiling.

I started looking at Mami. Then the light suddenly went off and aunt got up and hugged me. I knew that Mami is very afraid of the dark, so I also stuck Mami with myself.

Meanwhile, Auntie started rubbing her lips on my lips and I was wrapped like a snake. She was treating me this time, as if nothing had happened, xxx story mami.

Mami- It had to go now, please do not leave me.

Aunt was wrapped around me She started pressing her tits up and down with my chest.

xxx story mami
At the same time, the uncle’s call started coming to my phone. I picked up the phone
Mama told on the phone – the light will not come on tonight, take care of Usha… the inverter is also bad, then she will be very nervous. He is afraid of the dark.
I said – Okay uncle I will see

I told my aunt – you go and sleep comfortably, I am there, do not be afraid.
Aunt said – You too come with me to my room. I will be scared alone.

After saying this, Mamie hugged me again. I stood up with Mami clinging to myself and came to her room in the flashlight of the mobile. At this time, aunt was walking with me, xxx story mami.

I came to his room. We both sat on the bed.

Then aunt said – I have to go to Susu.
I said – Okay you go away, take this mobile.

But Mami grabbed my hand and started taking me to the bathroom.
I said – you go in, I light the mobile light.

Mami entered in and closed the gate and started going for Susu. The next moment Mami screamed and opened the gate and hugged me.

I asked – what happened?
Aunt said, you also walk…

I also entered the bathroom and turned around and stood up. Mamie sat and started listening. Hearing Susu’s voice from Mammy’s pussy, there was a stir in me. Despite not wanting, I turned to aunt. Mom was sitting facing the wall.

xxx story mami
When I saw Nami’s bare white pussy, my cock was erect. At the same time I took my hand on the cocks. I started rubbing cocks, then in the same affair my phone fell on the ground. The phone stopped as soon as it fell and it became dark, xxx story mami.

As soon as it got dark, Mamie stood up in fear… and ran towards me. I was down there looking for mobile, xxx story mami.

Mamie stood in front of me and said holding my head, why are you sitting down?
I replied – looking for my phone. While saying this, my hand hit Mammy’s leg. His panties were stuck in the legs. Because Mami could not wear panty in a hurry.

I got the phone I picked up the phone and stood up.

Mami was standing with her palm on my head at this time. Which came on my standing cocks due to my standing.

Mami also understood where her hand was placed. He quickly removed his hand as soon as he realized the cock. By then, I held myself and started to come out holding Mami, xxx story mami.

Panties staggered due to panties and she started falling. I took care of aunt and sat down and took out aunt’s panty with my hand.
Mamie thanked me. xxx story mami.

After this we both slowly came into the room somehow in the dark. Mami was holding my hand. She sat on the bed. I was standing.

Then Mamie pulled me to her side. She again clung to me. I laid my hands on Mami’s head. My cock was still standing, which seemed to be on Mami’s neck because of my standing.

xxx story mami
Mami now started rubbing her mouth on my cock. I was also hot. I took advantage of the darkness and took my cock out of the pant and gave it to aunt’s hand. Mami grabbed my cock without any hesitation. One moment my cock was caressed then my cock started puffing.

Then aunt also started to kiss me. I also took Mami in my lap. I started kissing them. Mami also started supporting me. We both understood each other’s chudas, xxx story mami.

I lay down on the bed while kissing my aunt and started lying on her arm and rubbing her nipples. Mamie started sighing.

A few moments later Mami removed the bra with her blouse. I started sucking aunt’s pussy and started mashing.

With this kiss of two minutes, the aunt could not stay away, the aunt said – Put it in quickly.
I also came between two legs of aunt and put her sari up to the waist.

xxx story mami
Mami also spread her legs and grabbed my cock with her hand and pulled me over herself. I started to set my cock on Mami’s pussy, then Mami set the cocks in her pussy with her hands. Cocks got hit by slings, so Mami shook her ass and gave me a hint to go inside.

I made a shock. Half of my cock went inside Mammy’s pussy. xxx story mami.

The aunt screamed as soon as she entered the cocks – ah died… how fat it is… ah… little babu.

She started speaking to me slowly. I stopped and started fucking aunty with half a cock. Mamie started sighing and asked to increase the speed, xxx story mami.

I also grabbed auntie’s pussy and pulled my cocks out and then gave a strong push. This time my whole cock penetrated into Mami’s pussy. My aunt groaned in pain and started biting nails on my body… and screaming. I started kissing Mami and started pushing slowly. xxx story mami.

Shortly afterward, Mamie became normal and started raising her butt and giving a stroke of pussy. Seeing this, I increased the speed of fuck. At that moment, Aunty suddenly fluttered. I was still left, so I stopped putting my cock inside Mami’s pussy.

xxx story mami
After a minute, there was action in Mami’s body… so I understand. Now I started kissing my aunt while gently pushing her and started sucking her boobs.

In a few moments Mami became hot again and she came down on top of me and started to ass. The alcoholic ‘Ah ah ..’ started coming out of his throat.

After some time, I grabbed Mami’s back and started to bang the bottom. For a while, aunt did not say anything… just kept jumping on cocks and sighing.
Then she fell on me and said in my ear – give me Chod… make me your queen… You have not found anyone to love till now… I will give love… just make me a mother… become my father… ah… Yes Babu and tearing ah ah ah main jaani jaoonu, xxx story mami.

Mami had fallen again. Now the volcano inside me was about to erupt. I also got hit by hitting aunt’s back and hitting me.
Mami tightly held me in her arms. We both stayed like this for a while.

This time I was getting so relaxed, who had no answer. Don’t know when we both started sleeping. We both slept like this. xxx story mami.

When both of them woke up in the morning, they saw that my cock was still inside their aunt. I remembered that night view. I turned away and lay on the side. Now I was feeling sorry for what I had done. I could not get my eyes on my aunt.

hot mami stories – xxx story mami
Aunt understood everything. She came up in front of me and started explaining to me that there was no fault of anyone in this… and now what is the benefit, which was to be done.
When I saw Mami, she kissed me and smiled.

We both got lost in each other again. From that day onwards, I have been fucking Choti for a month every day. Then my father’s health deteriorated, so I came home, xxx story mami.

A few months later, one day the maternal uncle got a call, and it turned out that he had become that father. Mamie has been born twins. One son, one daughter… and both are also healthy.

I also got very happy. But during this time Mamie became angry with me. He called for a day, but I could not go. She was angry for this. xxx story mami.
But I know that this outrage will not last long, when I go back there… everything will go away.

How did you like the story of my maternal aunt’s sex… Please match it and I will definitely tell you.
[email protected]

Join Telegram Group

xxx story mami

Read New Hot Story:

मौसी की चुदाई करते समय गलती से माँ को चोदा | maa beta xxx story-mosi sex

family ki chudai मुझे और मेरी मम्मी को अंकल ने चोदा hindi saxy story

Sali hot story साली की सील तोड़ चुदाई – xxx hindi kahani

Real chudai stories कुंवारी चूत की सील तोड़कर दी सेक्स नॉलेज

1 thought on “xxx story mami अंधेर में मामी की चूत की चुदाई 100% Real Sex”

Leave a Comment