Follow my blog with BloglovinSister Hindi xxx मेरी बहन की कुंवारी चूत की चुदाई 1 best sex

Sister Hindi xxx मेरी बहन की कुंवारी चूत की चुदाई 1 best sex

मेरी बहन की कुंवारी चूत की चुदाई Sister Hindi xxx

Sister Hindi xxx: अपने दोस्त की बहन की चुदाई का कोई मौक़ा मुझे नहीं मिल रहा था तो मैं चूत का प्यासा हो रहा था. इसी बीच मुझे अपनी कुंवारी छोटी बहन की बुर की चुदाई का मौक़ा कैसे मिला?

नमस्कार दोस्तो, मैं राज आज एक नई कहानी को लेकर हाजिर हूँ।

मेरी पिछली सेक्सी कहानी
दोस्त की मम्मी की अन्तर्वासना
में आपने पढ़ा कि कैसे मेरे दोस्त की मम्मी ने मेरे से अपनी चूत चुदाई करवायी.

दोस्तो, पिछले महीने की उन्नीस तारीख को एक दोस्त की शादी में मैं और मनीष दोनों गांव आये हुए थे।
पड़ोस में ही शादी हो रही थी और मनीष घर पर था तो मुझे पीहू को चोदने का कोई मौका नहीं मिल रहा था। इसलिए खाना खाकर मैं छत पर जाकर पीहू से फोन पर बात करने लगा।

मैं उससे बातें कर रहा तभी मेरी बहन ज्योति छत पर आ गयी और उसने मुझे रोमांटिक बातें करते हुए सुन लिया।
वो मेरे पास आकर बोली- किससे बात कर रहे हो?
मैंने कहा- किसी से नहीं!
तो उसने कहा कि मैंने सुना है तुम किसी से बात कर रहे थे।
मैंने अपना बड़ा वाला फोन उसे देते हुए बोला- देखो किसी से बात नहीं कर रहा था।
मेरी बहन ने कहा- ज्यादा चालाकी मत करो भैय्या, तुम किसी से तो बात कर रहे थे।

इतना कहकर वो मुझसे मेरा छोटा वाला फोन झटके से छीन लिया.
उससे मैंने अपना फोन छीनने का प्रयास किया तो फोन को वो दोनों हाथों से कसकर दबाकर घुटनों के बल बैठ गयी उसके हाथ उसकी गोद में उसके घुटनों और सीने के बीच में था।

मैंने उससे कहा- प्लीज फोन दे दो!
तो मेरी बहन ने कहा- पहले बताओ?
मैंने कहा- यार कुछ बातें पर्सनल होती हैं.
और उससे फ़ोन छीनने के लिए उसके पीछे आकर उसके दोनों हाथों को बाहर खींचने का प्रयास किया पर सफल नहीं हो पाया।

उसके बाद मैंने उसके दोनों हाथों के कंधे के नीचे थोड़ी जगह जो बची थी उसमें से अपने हाथ झटके से अंदर डाल दिया मेरे हाथ अंदर जाते ही वो और कसकर चिपक गयी और मेरे हाथों के पंजे उसकी दोनों चूचियों पर लग गए।

चूंकि वो कसकर चिपक कर बैठी थी तो मेरे हाथों के पंजे उसकी नर्म चूचियों का अहसाह पा रहे थे। उसकी चूचियों का अहसास होते ही मेरे अंदर वासना जागने लगी।

अंधेरा काफी हो चुका था इसलिए मैं भी निश्चिन्त था कि कोई हमें देख नहीं पायेगा और वासना के वशीभूत होकर मैं उसे चोदने की तरकीब सोचने लगा।

मैं उससे सट कर उसकी चूचियों पर हाथों का दबाब बढ़ाते हुए उससे बोला- ज्योति प्लीज दे दो.
तो वो हँसती हुई बोली- नहीं भैय्या, मैं नहीं दूंगी।
मैंने अपने हाथों का दबाब उसकी चूचियों पर थोड़ा और बढ़ाते हुए, जिससे उसे पता चल जाये कि मैं उसकी चूचियाँ दबा रहा हूँ, और अपने होंठों को उसके गर्दन से सटाते हुए बोला- ज्योति दे दो।

ज्योति हँसती हुई बोली- भइया, मैं नहीं दूंगी.
अब तक उसकी सांसें तेज़ चलने लगी थी जिन्हें मैं महसूस कर रहा था।

अब तक मैं भी समझ गया था कि जो मैं कर रहा हूँ ज्योति भी उसका मज़ा ले रही है इसलिए डर मेरे मन से निकल गया। मैंने ज्योति की चूचियाँ दबाते हुए उसे खड़ा कर दिया। उसकी दोनों चूचियों को दबाए हुए ही मैं अपने होंठों को उसके कानों के पास ले जा कर उससे कहा रहा था- ज्योति प्लीज दे दो!
और वो कह रही थी- नहीं दूंगी।

ज्योति अपने चूचियों पर से मेरे हाथों को हटाने का कोई प्रयास नहीं कर रही थी बस उसकी सांसें तेज़ हो गयी थी और हंसकर वो कह रही थी- नहीं दूंगी।
बहन का कोई प्रतिरोध नहीं देख कर मैं समझ गया कि रास्ता क्लियर है और खुलकर बहन की दोनों चूचियाँ दबाने लगा.

तब भी वो कुछ नहीं बोली।

तब मैं बहन की गर्दन पर अपने होंठों से किस करने लगा।
अपने दोनों हाथों को मैंने उसकी टीशर्ट के नीचे डालकर उसकी ब्रा के ऊपर से बहन की चूचियाँ दबाने लगा.

इस पर ज्योति बोली- भइया क्या कर रहे हो?
मैंने कहा- कुछ नहीं … बस तुमसे प्यार कर रहा हूँ। क्या तुम्हारा मन नहीं करता है कि कोई तुमसे प्यार करे … अपनी बांहों में भरकर तुम्हें जिंदगी का सबसे हसीन सुख दे दे।
ज्योति ने कहा- भइया, आप मेरे भाई हैं. किसी को पता चल गया तो कितनी बदनामी होगी।
मैंने कहा- मैं तो किसी से नहीं बताऊंगा. क्या तुम बताओगी?
तो उसने कहा- नहीं।

तब मैंने कहा- बस तो जिंदगी के मज़े लो! क्या तुम्हें मज़ा नहीं आ रहा है?
तो बहन ने कहा- भाई, बहुत मज़ा आ रहा है।

तब तक मम्मी ने नीचे से आवाज दी और ज्योति ने मुझसे कहा- भैया मुझे जाना होगा.
तो मैंने कहा- सबके सोने के बाद छत के ऊपर वाले मेरे रूम में आ जाना.
बहन ने कहा- दरवाजा खुला रखना।

मैं भी उसके जाने के बाद अपने कमरे में आकर आराम करने लगा। मुझे नींद नहीं आ रही थी.

रात में लगभग ग्यारह बजे कमरे का दरवाजा खुला और मेरी बहन ज्योति अंदर आकर दरवाजा बंद करने लगी।
इतने में मैं उठकर उसके पास गया और पीछे से बहन की दोनों चूचियाँ पकड़ कर दबाते हुए बोला- कितना इंतज़ार करवा कर तड़पा रही थी!
तो उसने कहा- भईया, जब सब सो गए तो मैं आयी हूँ।

ज्योति को पलट कर मैं उसके पूरे चेहरे पर किस करने लगा. मेरी बहन ने भी मदहोश होकर मुझे कसकर अपनी बांहों में भर लिया।
बहन ने मुझसे कहा- भैया, लाइट बन्द कर दो, शर्म आ रही है.
तो मैंने कहा- मेरी प्यारी बहना … कुछ देर बाद तुम्हें चोदकर तुम्हारी शर्म मिटा दूंगा।

उसने अपना सर मेरे सीने में छिपा लिया।

मैंने उसके हाथों को ऊपर उठाकर बहन की टीशर्ट को उठाकर निकाल दिया। बहन की नंगी पीठ पर हाथ फिराते हुए मैंने उसकी ब्रा का हुक खोल कर ब्रा भी निकाल दी।
तब मैंने अपना टीशर्ट और बनियान निकाल दिया।

मैंने कहा- ज्योति, तुम बहुत खूबसूरत हो!
तो उसने आँखें खोल कर मेरी आँखों में देखते हुए कहा- सच में भैया?
मैंने कहा- पागल … तेरे भैया तुमसे क्यों झूठ बोलेंगे?
और उसके होंठों को अपने होंठों में लेकर चूसने लगा. वो भी मेरा साथ देने लगी।

कुछ देर उसके होंठों को चूसने के बाद मैं झुककर बारी बारी बहन की दोनों चूचियाँ को चूसने लगा. वो आँखें बंद कर मेरा सर सहलाते हुए चूचियाँ चुसवाने का मज़ा ले रही थी।

Meri kuwari behan ki chut ki chudai Sister Hindi xxx

इसके बाद मैं उसके सामने घुटनों के बल बैठ गया और उसके पेट को चूमने और अपनी जीभ से उसकी ठोढ़ी के आसपास चाटने लगा।
ज्योति अपनी आँखें बंद कर मेरे सर के बालों को सहला रही थी।

उसके बाद मैंने बहन की लैग्गिंग्स उतार दी. फिर मैंने बहन की पैंटी भी उतार दी। अब मेरी बहन मेरे सामने बिल्कुल नंगी खड़ी थी.
मेरी बहन की बुर पर एक भी बाल नहीं था. लग रहा था शाम को ही उसने अपनी चूत के बाल साफ किये हैं।

मैंने ज्योति को दीवार से सटा कर खड़ी कर दिया और उससे कहा कि वो अपना एक पैर मेरे कंधे पर रख दे.
वो अपना एक पैर मेरे कंधे पर रखकर मेरे सर को पकड़ कर दीवार के सहारे खड़ी हो गई।

मैंने ज्योति की कमर को पकड़ कर बहन की बुर पर एक किस किया.
वो सिहर गयी.
फिर मैंने अपनी बहन की बुर में अपनी जीभ डाल कर चूसना शुरू कर दिया.

वो मुझसे कहने लगी- भईया प्लीज छोड़ दीजिए!
लेकिन मैंने उसकी बातों पर ध्यान नहीं दिया और बहन की बुर चूसता रहा.

Meri kuwari behan ki chut ki chudai Sister Hindi xxx

लगभग सात या आठ मिनट बाद ज्योति का शरीर अकड़ने लगा और मेरी बहन की बुर ने पानी छोड़ दिया मैं उसका सारा पानी पी गया।

इसके बाद ज्योति ने मुझसे कहा- भैया, मुझे आपसे बात नहीं करनी है. आप मेरी बात नहीं मानते हैं.
मैंने उसके माथे पर एक किस करते हुए कहा- पागल ये बता कि तुझे मज़ा आया या नहीं?
तो उसने मेरे सीने पर किस करते हुए अपना चेहरा मेरे सीने में छिपा लिया।

मैंने ज्योति को सामने बैठने का इशारा किया तो वो मेरे सामने घुटनों के बल बैठ गयी।
मेरे इशारे पर ज्योति ने मेरे लोवर और अंडरवियर को उतार दिया।

अब मेरा खड़ा लन्ड उसके सामने था. वो बोली- भइया कितना मोटा और बड़ा है आपका!
तो मैंने कहा- मेरा लंड मेरी बहन के लिए है!
वो शरमा गयी।

मैंने उसे लन्ड को चूसने का इशारा किया तो वो मेरा लन्ड अपने हाथों में लेकर चूसने लगी और मैं उसके सर के बालों में अपनी उंगलियां फिराने लगा।

कुछ देर तक लन्ड चुसवाने के बाद मैंने ज्योति को खड़ी कर दिया और उससे पूछा- कभी किसी से चुदी हो?
तो वो मेरा कसम खा कर कहने लगी- नहीं भईया!
मैंने कहा- पागल, कसम खाने की क्या जरूरत है? मुझे अपनी बहन पर पूरा भरोसा है।

फिर मैंने उससे पूछा- तू इतनी खूबसूरत है, तेरे चक्कर में तो बहुत सारे लड़के पड़े होंगे?
तब उसने कहा- हाँ बहुत लड़कों ने मुझे प्रपोज़ किया है पर मैंने किसी का असेप्ट नहीं किया है।

मैंने कहा- ज्योति कोई पसन्द हो तो बताना. मैं उसके बारे में पता कर बताऊंगा कि वो तुम्हारे लायक है कि नहीं.
इस पर ज्योति बोली- अब से सिर्फ आप और जिसे आप मेरे लिए ढूँढेंगे, वो ही मेरी जिंदगी में होगा।

मैंने ज्योति को गोद में उठा लिया औऱ बिस्तर पर लिटा दिया. बहन की दोनों टाँगों को फैलाकर उनके बीच घुटनों के बल बैठ गया।

मैं अपने लन्ड को बहन की बुर पर सेट करने जा रहा था कि ज्योति ने मुझे रोक दिया और बोली- भैया सच बताइए, अब तक कितनी लड़कियों को चोदा है?
तो मैंने कहा- बस पीहू को!
वो बोली- बस एक लड़की अभी तक?
तो मैंने कहा- नहीं … आज दूसरी चोदूंगा।

ज्योति हँसते हुए बोली- हाँ … और दोनों तुम्हारी बहनें ही हैं।
मेरी बहन ने फिर कहा- कोई बात नहीं भईया, अब आपकी लड़कियों से सेटिंग मैं ही करवाऊँगी।

मैं अपने लन्ड पर थूक लगाते हुए बोला- ज्योति पहली बार में दर्द होगा, उसको सह लेना. शोर मत मचाना.
तो उसने आँखों से इशारा किया- ठीक है।

इसके बाद मैंने अपने लन्ड का सुपारा बहन की बुर के छेद पर रखकर हल्का सा पुश किया तो उसकी बुर के छेद में सुपारा सेट हो गया.

Meri kuwari behan ki chut ki chudai Sister Hindi xxx

मैंने झुककर ज्योति के दोनों होंठों को अपने मुंह में लेकर एक झटका उसके दोनों कंधों को अपने हाथों से दबाते हुए लगाया. तो आधा लन्ड मेरी बहन की बुर में धंस गया.
नीचे छटपटाने लगी थी.

तभी मैंने दूसरा धक्का मारकर पूरा लन्ड बहन की बुर में डाल दिया।
मुझे ऐसा लगा जैसे मेरा लन्ड कुछ चीरते हुए आग की भट्टी में चला गया है।

नीचे मेरी बहन छटपटाकर रह गयी.

कुछ देर बाद मैंने उसके होंठों को छोड़ दिया तो वो बोली- भईया, आप बहुत बेरहम हो. निकालिये इसे … बहुत दर्द हो रहा है.
तब मैंने उससे कहा- कुछ देर और सह लो, उसके बाद मज़ा आएगा।

कुछ देर बाद मैंने धीरे धीरे धक्के लगाकर उसे चोदना शुरू किया।

थोड़ी देर बाद उसने अपने दोनों पैरों को मेरी कमर में लपेट दिया और कसकर मुझे अपनी बांहों में भर लिया.
मैं समझ गया कि मेरी बहन अब अपनी चुदाई का मज़ा ले रही है।

मैंने ज्योति से पूछा- बहना … चुदाई का मज़ा आ रहा है?
तो उसने कहा- हाँ भइया।

लगभग दस मिनट बाद उसका शरीर अकड़ने लगा और उसकी बुर ने पानी छोड़ दिया।
उसके बाद मैंने भी जोर जोर धक्के लगाकर ज्योति को चोदना शुरू कर दिया. कमरा फच फच की आवाज से गूँजने लगा।

मैं बहन की बुर में से लन्ड किनारे तक निकाल कर उसके कंधों को अपने दोनों हाथों से दबाकर जोर का झटका लगाकर उसकी बुर चोद रहा था। हर झटके पर पूरा बेड हिल जा रहा था।
ज्योति भी अपनी गांड उठाकर हर धक्के का जवाब दे रही थी।

करीब दस मिनट और चोदने के बाद मेरे लन्ड ने बहन की बुर में पानी छोड़ दिया, मेरा पूरा शरीर कांप गया।

पानी छोड़ने के बाद भी दो मिनट तक बहन की बुर में धक्के लगाता रहा और उसके बाद निढाल होकर ज्योति के ऊपर ही लेट गया।
उस रात मैंने ज्योति को एक बार और चोदा.

वो सही से खड़ा नहीं हो पा रही थी. मैंने उसे दर्द की गोली दी और उसे उसके कमरे में छोड़ कर वापस अपने कमरे में आ गया।

दोस्तो आपको मेरी बहन की बुर चुदाई की गर्म कहानी कैसी लगी? आप मुझे मेल से बता सकते हैं, आपके मेल का इंतज़ार रहेगा। और सेक्स विडियो और new new कहानी पढने के लिये telegram ग्रुप join कर सकते है.
[email protected]

Meri kuwari behan ki chut ki chudai Sister Hindi xxx

Read in English

Meri kuwari behan ki chut ki chudai Sister Hindi xxx

Sister Hindi xxx: I was not getting any opportunity to fuck my friend’s sister, then I was getting thirsty for pussy. Meanwhile, how did I get the chance to fuck my virgin little sister?

Hello friends, I am Raj today, spotting a new story about Sister Hindi xxx.

My last sexy story
Friend mum
I read how my friend’s mother got me to fuck her pussy.

Friends, On the nineteenth of last month, both I and Manish had come to the village for a friend’s wedding then Sister Hindi xxx.
Being married in the neighborhood and Manish was at home, I was not getting any chance to fuck Pihu. So after eating food, I went to the terrace and started talking with Peehu on the phone.

While I was talking to him, my sister Jyoti came to the terrace and she heard me talking romantic.
He came to me and said – Who are you talking to?
I said – not to anyone like Sister Hindi xxx.
So he said that I heard you were talking to someone.
I said while giving my elder phone to him- Look he was not talking to anyone.
My sister said – Do not be manipulated brother, you were talking to someone on Sister Hindi xxx.

Saying this, he snatched away my little phone from me.
When I tried to snatch my phone from her, she pressed the phone tightly with both hands and sat down on her knees, her hands were between her knees and chest in her lap in Sister Hindi xxx.

I told him – please give the phone!
So my sister said- First tell?
I said, man, some things are personal on Sister Hindi xxx.
And after snatching the phone from her, he came behind her and tried to pull her both hands out but could not succeed.

After that, I put my hand in a shock from the space that was left under the shoulder of both her hands, as soon as my hands went in, she clung more tightly and the claws of my hands were attached to both her nipples and got Sister Hindi xxx.

Since she was sitting tightly, the claws of my hands were getting the pleasure of her soft pussy. As soon as I realized her cunt, lust started waking up inside me Sister Hindi xxx.

It was dark enough, so I was also sure that no one would be able to see us and, being lustful, I started thinking of his tricks.

I said to him while increasing the pressure of his hands on his Titsi – give me the flame.
So she said with a laugh – No brother, I will not give on Sister Hindi xxx.
I put the pressure of my hands on her cocks a little more, so that she would know that I am pressing her cunts, and said while giving my lips to her neck, give me the flame.

Jyoti smilingly said – Brother, I will not give like Sister Hindi xxx.
By now his breath was running fast which I was feeling.

By now I too understood that Jyoti is also enjoying what I am doing, so fear came out of my mind. I pressed Jyoti’s tits and made her stand. While pressing both her cunts, I took my lips near her ears and told her – please give me Jyoti on Sister Hindi xxx.
And she was saying – will not give.

Jyoti was not making any effort to remove my hands from her Tits, her breath was fast and she was laughing and saying – I will not give for Sister Hindi xxx.
Seeing no resistance of the sister, I understood that the path is clear and openly started pressing both of the sister’s aunts.

Even then she did not say anything.

Then I started kissing on the sister’s neck with my lips and enjoy Sister Hindi xxx.
I put both my hands under her t-shirt and started pressing sister’s boobs on top of her bra.

Jyoti said on this – Brother what are you doing?
I said – nothing… just loving you. Don’t you feel like someone loves you… Fill your arms and give you the happiest pleasure of life.
Jyoti said- Brother, you are my brother. If anyone gets to know how disgraceful it will be.
I said – I will not tell anyone. Will you tell me?
So he said no then Sister Hindi xxx.

Then I said – just enjoy life! Are you not having fun
So the sister said – Brother, you are having a lot of fun.

Till then the mother gave voice from below and Jyoti told me – brother, I have to go.
So I said – after everyone sleeps come to my room above the roof.
Sister said – keep the door open in Sister Hindi xxx.

After he left, I also came to my room and started resting. I was not feeling sleepy.

Around eleven o’clock in the night the door of the room opened and my sister Jyoti came in and started closing the door and made Sister Hindi xxx.
So I got up and went to him and holding back both sister’s teas and pressing, said – how much she was waiting and suffering!
So he said – Brother, when everyone is asleep, I have come.

I started kissing Jyoti on her whole face. My sister also drunkenly filled me tightly in her arms.
Sister told me – brother, turn off the light, you are ashamed Sister Hindi xxx.
So I said – my dear sister… after some time you will fuck you and remove your shame.

Sister Hindi xxx: I was not getting any opportunity to fuck my friend’s sister, then I was getting thirsty for pussy. Meanwhile, how did I get the chance to fuck my virgin little sister?

Hello friends, I am Raj today, spotting a new story.

My last sexy story
Friend mum
I read how my friend’s mother got me to fuck her pussy in Sister Hindi xxx.

Friends, On the nineteenth of last month, both I and Manish had come to the village for a friend’s wedding.
Being married in the neighborhood and Manish was at home, I was not getting any chance to fuck Pihu. So after eating food, I went to the terrace and started talking with Peehu on the phone in Sister Hindi xxx.

While I was talking to him, my sister Jyoti came to the terrace and she heard me talking romantic.
He came to me and said – Who are you talking to?
I said – not to anyone!
So he said that I heard you were talking to someone Sister Hindi xxx.
I said while giving my elder phone to him- Look he was not talking to anyone.
My sister said – Do not be manipulated brother, you were talking to someone.

Saying this, he snatched away my little phone from me.
When I tried to snatch my phone from her, she pressed the phone tightly with both hands and sat down on her knees, her hands were between her knees and chest in her lap on Sister Hindi xxx.

I told him – please give the phone!
So my sister said- First tell?
I said, man, some things are personal.
And after snatching the phone from her, he came behind her and tried to pull her both hands out but could not succeed Sister Hindi xxx.

After that, I put my hand in a shock from the space that was left under the shoulder of both her hands, as soon as my hands went in, she clung more tightly and the claws of my hands were attached to both her nipples like Sister Hindi xxx.

Since she was sitting tightly, the claws of my hands were getting the pleasure of her soft pussy. As soon as I realized her cunt, lust started waking up inside me.

It was dark enough, so I was also sure that no one would be able to see us and, being lustful, I started thinking of his tricks on Sister Hindi xxx.

I said to him while increasing the pressure of his hands on his Titsi – give me the flame.
So she said with a laugh – No brother, I will not give.
I put the pressure of my hands on her cocks a little more, so that she would know that I am pressing her cunts, and said while giving my lips to her neck, give me the flame on Sister Hindi xxx.

Jyoti smilingly said – Brother, I will not give.
By now his breath was running fast which I was feeling.

By now I too understood that Jyoti is also enjoying what I am doing, so fear came out of my mind. I pressed Jyoti’s tits and made her stand. While pressing both her cunts, I took my lips near her ears and told her – please give me Jyoti like Sister Hindi xxx.
And she was saying – will not give.

Jyoti was not making any effort to remove my hands from her Tits, her breath was fast and she was laughing and saying – I will not give.
Seeing no resistance of the sister, I understood that the path is clear and openly started pressing both of the sister’s aunts on Sister Hindi xxx.

Even then she did not say anything.

Then I started kissing on the sister’s neck with my lips.
I put both my hands under her t-shirt and started pressing sister’s boobs on top of her bra on Sister Hindi xxx.

Jyoti said on this – Brother what are you doing?
I said – nothing… just loving you. Don’t you feel like someone loves you… Fill your arms and give you the happiest pleasure of life on Sister Hindi xxx.
Jyoti said- Brother, you are my brother. If anyone gets to know how disgraceful it will be.
I said – I will not tell anyone. Will you tell me?
So he said no.

Then I said – just enjoy life! Are you not having fun
So the sister said – Brother, you are having a lot of fun.

Till then the mother gave voice from below and Jyoti told me – brother, I have to go.
So I said – after everyone sleeps come to my room above the roof.
Sister said – keep the door open and Sister Hindi xxx.

After he left, I also came to my room and started resting. I was not feeling sleepy.

Around eleven o’clock in the night the door of the room opened and my sister Jyoti came in and started closing the door.
So I got up and went to him and holding back both sister’s teas and pressing, said – how much she was waiting and suffering!
So he said – Brother, when everyone is asleep, I have come to the Sister Hindi xxx.

I started kissing Jyoti on her whole face. My sister also drunkenly filled me tightly in her arms.
Sister told me – brother, turn off the light, you are ashamed.
So I said – my dear sister… after some time you will fuck you and remove your shame….Sister Hindi xxx.

My sister got down to splits.

After some time I left her lips, then she said – Brother, you are very heartless. Remove it… it is very painful.
Then I told him – take some more time and then enjoy it.

After some time, I started banging her slowly.

After a while he wrapped both his legs in my waist and tightly filled me in his arms.
I understood that my sister is now enjoying her fuck on Sister Hindi xxx.

I asked Jyoti – Sister… Enjoying sex?
So he said yes brother.

After about ten minutes, his body began to swerve and his burp released water.
After that I too started banging Jyoti with great force. The room started echoing with the sound of Fuch Fuch Sister Hindi xxx.

I was taking my sister’s bur from the burr to the edge of the sister and pressing her shoulders with both my hands, was jerking her with a loud blow. The entire bed was being shaken at every stroke.
Jyoti was also responding to every attack by raising her ass the Sister Hindi xxx.

After about ten minutes and fucking my land left water in sister’s bur, my whole body trembled.

Even after releasing the water, for two minutes, the sister’s burp kept banging, and after that she slipped and lay down on the flame on Sister Hindi xxx.
That night I kissed Jyoti one more time.

She could not stand up properly. I gave him a pain pill and left him in his room and came back to my room in Sister Hindi xxx.

How did you like my sister’s hot story of Bur Chudai? You can tell me by mail, waiting for your mail. And telegram group can join to read sex videos and new stories like Sister Hindi xxx.
[email protected]

Read more Sex Stories

Antarvasna 2 कुंवारी बहन की चुत की सील तोड़ी Nice Sex Story

Hindi kamuk kahaniya मौसी की बेटी की सील तोड़ चुदाई 1 Fun sex

Antarvasna com in बहन की सील टूटी भाई के लंड से 1 fun sex

Leave a Comment