Follow my blog with Bloglovinxxx hindi kahani साली की सील तोड़ चुदाई 1 Best sex story

xxx hindi kahani साली की सील तोड़ चुदाई 1 Best sex story

साली की सील तोड़ चुदाई xxx hindi kahani

xxx hindi kahani: एक बार मैं फिर आपके सामने अपनी नई कहानी के साथ हाजिर हूँ। मेरी यह कहानी एकदम सच्ची है जो आप लोगों को एकदम अपने करीब लगेगी। मेरी शादी को आज लगभग 15 साल हो गए। मेरी शादी के बाद अपनी पत्नी के अलावा मेरा सबसे पहला सैक्सपिरियन्स मेरी साली रजनी के साथ था। मेरी पत्नी घर में सबसे बड़ी है। उसके बाद उसकी दो साल छोटी बहन रजनी तथा लगभग चार साल छोटा भाई है। घर में सब रजनी को प्यार के नाम से “बेबो” कहते हैं।

मेरी पत्नी को पहला बेटा हुआ। जब मैं अपनी पत्नी को अपनी ससुराल से लेने गया तो मेरी साली जो बी.ए.- द्वीतीय में पढ रही थी, की गर्मियों की छुट्टियाँ चल रही थी और लगभग एक महीने की छुट्टियाँ बाकी थी। मेरी पत्नी ने घरवालों से जिद करके, छोटे बच्चे की वजह से बेबो को भी साथ ले लिया। हम सब गुड़गाँव वापस आ गये। मेरी पत्नी और बेबो सारा दिन छोटे बच्चे की देखभाल में लगी रहती। मैंने 10 दिन की छुट्टियाँ ले ली। दिन में मैं और बेबो जब भी खाली होते तो लूडो या कैरम खेलते।

शाम को हम सब पार्क में जाते और अकसर रात का खाना बाहर खाते। मैं बेबो से पूछता कि खाने में क्या लेना है। फिर बेबो की ही पसंदीदा खाना आर्डर करता। हम सब जब भी मार्केट जाते तो मैं बेबो को जरूर से कुछ ना कुछ दिलवाता। बेबो मना करती मगर मैं जबरदस्ती उसे कभी गौगल, कभी पर्स वगैरा कुछ ना कुछ जरुर दिलवाता। चार दिनों में ही बेबो और मैं एक दूसरे से बहुत खुल गये थे। रात को जब मेरी पत्नी छोटे बच्चे को दूध पिलाते-पिलाते सो जाती तो मैं और बेबो देर रात तक बाते करते। खैर…

एक दिन मेरी पत्नी दोपहर में बच्चे को दूध पिलाते-पिलाते सो गई और बेबो नहाने के लिये चली गई। मैं गैरेज में गाड़ी साफ करने लगा। बाथरुम की छोटी सी खिड़की गैरेज में खुलती थी। खिड़की कुछ उँचाई पर थी। इसलिये आसानी से कुछ देख नहीं सकते थे।

xxx hindi kahani

मैं जब गाड़ी के टायर पर चढ़ कर गाड़ी की छत साफ कर रहा था तभी मेरी नजर बाथरुम की खिड़की पर पड़ी। बाथरुम में बेबो बिलकुल नंगी शावर के नीचे नहा रही थी। उसका जवान नंगा जिस्म शावर में मेरी तरफ पीठ किये था। उसके नंगे और गोरे बदन पर शावर से पानी की बूंदें गिरकर चमक रही थी।

उसके चूतड़ों की गोलाईयां और गहराइयाँ मेरे नजरों के सामने थी। उस समय मेरे बदन में सनसनी फ़ैल रही थी। फिर वो पलटी और उसने अपना बदन अब मेरे सामने कर दिया। अब मुझे उसके बड़े-बड़े स्तनों पर पानी की बूँदें चमक रही थी, छोटे-छोटे भूरे चुचूक मुझे और उत्तेजित कर रहे थे।

उसकी चूत के घने बाल पानी की वजह से चिपके हुऐ थे और लटक रहे थे। शावर का ठंडा- ठंडा पानी उसके शरीर पर पड़ कर बह रहा था। वो कभी अपनी चुंचियाँ मलती, तो कभी अपनी चूत साफ़ करती। मैं उसे देख-देख कर और उत्तेजित होने लगा था।

जब वो नहा चुकी तो अपना बदन तौलिये से पौंछने लगी। वो तौलिये से अपनी चुचियाँ मल-मल कर पौंछने लगी। उसकी चुंचियाँ कड़ी होने लगी थी। फिर वो तौलिये से अपनी चूत साफ़ करने लगी। उसकी चूत के काले घने बाल तौलिये से पोंछते ही घुँघराले हो गये और उनमें एक चमक नजर आने लगी।

उसने अपना बदन तौलिये से पोछ कर कपड़े पहनने शुरू किए। सबसे पहले उसने अपने वक्ष को सफेद ब्रा में कैद किया। फिर अपनी चूत को गुलाबी कच्छी से ढका। फिर उसने सफेद मगर रंगबिरंगा लोअर पहना। फिर वो जैसे ही अपना टॉप पहनने लगी तभी उसकी नजर खिड़की की तरफ पड़ी और उसने मुझे देख लिया। मैं फौरन नीचे हो गया।

वो बाथरूम से बाहर आई और तौलिया सुखाने के बहाने गैराज में आई और अनजान बनते हुए बोली,”अरे… जीजू, आप अभी तक गाड़ी ही साफ कर रहे हैं?”

उसकी नजरें मेरी हाफ पैंट के ऊपर थी। जहां मेरा लण्ड हाफ पैंट के ऊपर से उफनता हुआ दिख रहा था और एक टैंट सा बना रहा था।

xxx hindi kahani

मैंने कहा,”बस गाड़ी साफ हो गई। चलो चलें।”

और गाड़ी साफ करने का कपड़ा अपनी हाफ पैंट के ऊपर से उफनते हुऐ लण्ड के आगे कर लिया। हम दोनों अन्दर आ गये। मैं आते ही टॉयलेट में घुस गया और अपने उफनते हुए लण्ड को मुठ मार कर शांत किया।

उस दिन से मेरा रोजाना का नियम बन गया, बेबो को खिड़की से झाक कर बाथरुम में नहाते देखने का। जब भी बेबो बाथरुम में नहाने जाती मैं गैराज में किसी ना किसी बहाने चला जाता। बेबो को पता होता था कि मैं उसे छुप-छुप कर देख रहा हूँ। मगर अब वो ओर दिखा-दिखा कर देर तक नहाती। चोरी से खिड़की की तरफ देख कर मुझे अपने को देखते हुए देखती। अब वो जिस समय बाथरूम में नहाने घुसती तो जोर से चिल्ला कर कहती,”दीदी, मैं नहाने जा रही हूँ।”

फिर जब मैं बाथरूम की खिड़की के छेद में से झांक कर देखने लगता तो वो बाथरूम में अपने कपड़े उतारने लगती।

अगर मुझे किसी वजह से गैरेज में आने में देर हो जाती तो वो बाथरुम ऐसे ही टाईम पास करती रहती। जब वो गैरेज के गेट खुलने की आवाज सुन लेती तभी वो बाथरुम में अपने कपड़े उतारना शुरु करती। मुझे अपनी ओर आकर्षित करने के लिए वो अनजान बनते हुए सबसे पहले अपना टॉप उतारती। फिर खिड़की की तरफ मुँह करके अपनी ब्रा उतारती। ब्रा उतरते ही जब उसके स्तन उछल कर बाहर आ जाते तो वो उन स्तनों को धीरे-धीरे से सहलाती और अपने चुचुकों को मसलती।

फिर अपनी पीठ करते हुए अपना लोअर उतार देती। फिर खिड़की की तरफ पलट कर अपनी पेंटी भी उतार देती। फिर अपनी चूत को रगड़ती और चूत के बालों में हाथ फिराती और फिर उन बालों को पकड़ कर ऊपर खींचती। फिर पलट कर अपने चूतड़ों की गोलाईयां और गहराइयाँ मेरी नजरों के सामने करती। ऐसा मुझे लगा। खैर…

xxx hindi kahani

उसके ऐसा करने से मेरे बदन में सनसनी फ़ैल जाती और मेरा लण्ड तन कर खडा होकर हाफ पैंट के अन्दर उफन जाता और एक टैंट सा बना देता। फिर जब वो शावर खोल कर पानी अपने बदन पर डालने लगती तो मैं हाफ पैंट के अन्दर से अपना लण्ड बाहर निकाल लेता और बेबो को नहाते देखते हुऐ अपने उफनते हुए लण्ड को मुठ मार कर शांत किया करता। फिर जब वो शांत हो जाता और बेबो अपना बदन तौलिये से पोंछ कर कपड़े पहनने शुरू करती तो मैं खिड़की से अलग़ हो जाता।

कई दिनों तक ऐसा ही चलता रहा। मेरी छुट्टियाँ खत्म होने वाली थी। बस दो छुट्टियाँ बची थी।

एक दिन मेरी पत्नी पड़ोस की अपनी सहेली के साथ बच्चे के लिये कुछ कपड़े लेने मार्केट चली गई। जाते-जाते वो मुझ से कहने लगी कि आप यहीं रहो। मैं अपनी फ्रैंड के साथ जा रही हूँ। बेबो सो रही है। रात को छोटे ने काफी परेशान किया। वो बेचारी सारी रात छोटे को खिलाती रही। उसे सोने दो। जब वो उठ जाये तो उसे खाना गर्म करके दे देना।

जब वो चली गई तो मैंने चुपके से देखा कि बेबो स्कर्ट और टी-शर्ट पहन कर सो रही है। मैं बाथरूम में नहाने चला गया। फिर नहा के आकर मैंने फिर बेबो की तरफ देखा तो मैं हैरान रह गया। बेबो सो रही थी। मगर उसकी टी-शर्ट अन्दर ब्रा तक अपर उठी हुई थी और उसकी सफेद ब्रा दिख रही थी। उसकी स्कर्ट उसकी जांघों के उपर तक उठी हुई थी और उसकी जांघों के बीच में उसकी लाल पैंटी दिख रही थी। उसकी लाल पैंटी के उपर उसकी फूली हुई चूत का उभार भी नजर आ रहा था।

xxx hindi kahani

मैंने उसे आवाज लगाई- बेबो ! बेबो ! ताकि वो अगर उठे या करवट ले तो उसकी स्कर्ट ठीक हो जाये। मगर वो ना तो उठी ना ही उसने करवट ली। मैं कुछ देर तक उसे निहारता रहा। उसका गोरा-गोरा पेट, चिकनी-चकनी टांगें, भरी-भरी जांघे और जांघों के बीच में उसकी लाल पैंटी के ऊपर उसकी फूली हुई चूत मुझे उत्तेजित कर रहे थे।

मैं कमरे से बाहर आकर सौफे पे बैठ गया। मेरा दिलो-दिमाग बेबो की ही तरफ था। मन उसको देखने और छूने को कर रहा था। मैं फिर से उठ कर कमरे की तरफ गया। मैंने फिर बेबो की तरफ देखा। बेबो सो रही थी। मैं दरवाज़े पर खडा उसे कुछ देर तक निहारता रहा। उसकी भरी-भरी चिकनी जांघे और जांघों के बीच में उसकी लाल पैंटी के उपर उसकी फूली हुई चूत मुझे बहुत उत्तेजित कर रहे थे।

मैं कमरे के अन्दर जा कर बेबो के पास बैठ गया। मैंने हल्के से उसे आवाज लगाई- बेबो-बेबो…

मगर वो ना तो उठी ना ही उसने करवट ली। मैं फिर कुछ देर तक उसे निहारता रहा। फिर मैंने अपना हाथ उसकी चिकनी जांघ पर रख दिया। कुछ देर बाद मैं उसकी भरी-भरी मासंल जांघ पर हाथ फिराने लगा। फिर मैंने अपना हाथ उसकी लाल पैंटी के ऊपर उसकी फूली हुई चूत पर रख दिया। उसकी फूली हुई चूत मेरी हथेली के गड्डे में सैट हो गई। फिर मैं अपनी हथेली से उसकी फूली हुई को चूत हल्के-हलके से दबाने लगा। बेबो उसी तरह से सो रही थी या सोने का नाटक कर रही थी। खैर…

मेरी हिम्मत बढ़ती जा रही थी। मैं उसकी पैन्टी के अन्दर हाथ डालने की कोशिश करने लगा। मगर उसकी स्कर्ट की वजह से पैन्टी के अन्दर हाथ घुस नहीं पा रहा था।

xxx hindi kahani

मैंने सावधानी से उसकी स्कर्ट का हुक और साईड चेन खोल दी। फिर मैं उसकी पैन्टी के अन्दर से हाथ डाल कर उसकी चूत के बालों पर हाथ फिराने लगा। बेबो उसी तरह से सो रही थी या सोने का नाटक कर रही थी और मेरी हिम्मत लगातार बढ़ती जा रही थी।

फिर मैं बेबो की चूत के बालों में हाथ फिराते-फिराते अपनी उँगली बेबो की चूत के फाँक के ऊपर फेरने लगा। फिर उंगलियों से बेबो की चूत के फाँक को खोलने और बन्द करने लगा। कुछ देर बाद मैंने अपनी एक उँगली बेबो की चूत के फाँक के अन्दर घुसा कर बेबो की चूत के जी पॉयंट को हल्के-हल्के रगड़ने लगा।

उसकी पैन्टी की वजह से मुझे अपनी उँगली बेबो की चूत के अन्दर डालने और बेबो की चूत के जी-पॉयंट को रगड़ने में दिक्कत हो रही थी। इसलिये मैंने उसकी पैन्टी को धीरे-धीरे से नीचे खींच कर उसके घुटनों पर कर दी। फिर मैंने अपनी एक उँगली बेबो की चूत के अन्दर घुसा उसकी चूत को हल्के-हल्के रगड़ने लगा। कुछ देर बाद मैंने उसकी पैन्टी भी उसकी टांगों से जुदा कर दी और सावधानी से उसकी दोनों टांगों को अलग कर दिया। अब मैं उसकी बगल में लेट कर उसकी चूत के घने बालों पर हाथ फिराने लगा।

फिर मैंने अपना हाथ उसकी चूत पर रख दिया और ऊपर से ही रगड़ने लगा। फिर मैं बेबो की चूत की फांक पर हाथ फिराने लगा। फिर हाथ फिराते-फिराते मैंने अपनी उँगलियाँ बेबो की चूत के अन्दर डाल दी। फिर उंगलियों को बेबो की चूत के फाँको में डाल कर रगडने लगा और उसकी चूत के जी-पॉयंट को अपनी उंगलियों से दबाने और हल्के-हल्के रगड़ने लगा। लगभग 5-7 मिनट बाद बेबो की चूत से कुछ बहुत चिकना सा निकलने लगा।

अचानक बेबो के मुँह से सिसकियाँ निकलने लगी और उसने अपनी आँखें खोल दी और अनजान बनते हुए बोली, “अरे… जीजू कब आए .. और ये क्या कर रहे हैं?”

xxx hindi kahani

मैंने कहा “बस अभी ही आया हूँ… और सोचा कि आज बेबो को कुछ मजा कराया जाये। सच बताओ, क्या मजा नहीं आ रहा हैं? मुझे पता है तुम जाग रही थी और मजे ले रही थी। वरना तुम्हारे नीचे से चिकना-चिकना सा नहीं निकलता।”

बेबो मुस्कुराईं और बोली,”नहीं, सच मैं तो सो रही थी। मुझे नहीं पता आप क्या कर रहे थे। और आपने मेरी चड्डी क्यो उतार रखी है।”

उसका झूठ पकड़ में आ रहा था। मैं बोला,”प्लीज़ ! बेबो मजाक मत करो। प्लीज़ ! मेरा साथ दो। हम दोनों मिलकर खूब मजा करेंगे।”

बेबो फिर मुस्कुराईं और बोली,”क्या आपका साथ दूँ और क्या दोनों मिलकर मजा करेंगे। बताईये ना। और मेरी चड्डी क्यो उतार रखी है। आप क्या मजा कर रहे थे। और मेरी चड्डी के अन्दर क्या मजा ढूंढ रहे थे।”

मैंने कहा,”बताऊँ कि मैं तुम्हारी चड्डी के अन्दर क्या मजा ढूंढ रहा था।” कह कर मैंने उसे अपने सीने से चिपका लिया और फिर मैंने अपने जलते हुऐ होंठ बेबो के होंठों पर रख दिए।

फिर मैं उसके नरम-नरम होंठों को अपने होंठों में भर कर चूसने लगा। बेबो ने भी मुझे अपनी बाँहो में कस लिया। फिर मैं बेबो को किस करते-करते अपने हाथ को नीचे ले जाकर उसकी टी-शर्ट के उपर से उसके स्तनों को दबाने लगा। फिर कुछ देर बाद मैं उसकी टी-शर्ट के गले के अन्दर से हाथ डाल कर उसके सख्त हो चुके वक्ष को दबाने लगा।

फिर मैं उसकी टी-शर्ट को उतारने लगा तो बेबो बोली,”जीजू, क्या करते हो। दीदी आने वाली होंगी।”

xxx hindi kahani

मैंने कहा,”चिंता मत करो। वो मार्केट गई और दो-तीन घंटे तक नहीं आँएगी।”

यह कह कर मैं फिर उसकी टी-शर्ट को उतारने लगा। अब बेबो ने कोई विरोध नहीं किया। मैंने उसकी टी-शर्ट उतार कर बैड पर फैंक दी। बेबो के बड़े-बड़े और गोरे-गोरे स्तन सफेद ब्रा में फँसे हुए थे। मैं उसकी ब्रा के ऊपर से उसके स्तनों को दबाने लगा। बेबो ने अपनी आंखे बंद कर ली।

कुछ देर बाद मैं उसकी ब्रा के हुक खोल कर उसकी नंगी पीठ पर हाथ फिराने लगा। फिर कुछ देर मैंने उसकी ब्रा भी उसके तन से जुदा कर दी और दोनों कबूतरों को आज़ाद कर दिया और उन्हें पकड़ कर मसलने लगा। मैं उसके गोरे-गोरे सख्त स्तनों को दबाने लगा और साथ-साथ उसके भूरे चुचूकों को हल्के-हल्के मसलने लगा।

फिर मैं उसके नरम-नरम गोरे-गोरे स्तनों को अपने होंठों में भर कर चूसने लगा। बेबो के मुँह से सिसकियाँ निकलने लगी। फिर मैंने उसकी खुली पड़ी स्कर्ट को भी उतार कर फैंक दिया। बेबो का नंगा, गोरा और चिकना बदन मेरे सामने था।

फिर मैंने बेबो से अलग हो कर अपने सारे कपड़े उतार दिये और पूरी नंगा होकर बेबो से लिपट गया और मैंने बेबो को अपने साथ सटा कर लिटा लिया। मेरा लण्ड तन कर बेबो की चिकनी टांगों से टकरा रहा था। मैं बेबो की चिकनी टांगों पर हाथ फिराने लगा। उसकी पाव रोटी की तरह उभरी हुई उसकी चूत पर हाथ फेरने लगा। फिर कुछ देर तक उसकी चूत पर हाथ फेरने के बाद मैं अपनी हथेली से उसकी चूत को दबाने लगा।

वो बहुत गरम हो चुकी और जोर-जोर से सिस्कारियां ले रही थी और मेरे बालों पर हाथ फेर रही थी और अपने होंठ चूस रही थी। मैंने उसे धीरे से बिस्तर पर सीधा लिटा दिया और उसकी बगल में लेट कर मैं बेबो की चूत के कट पर हाथ फिराने लगा। फिर हाथ फिराते-फिराते मैंने अपनी उँगलियाँ बेबो की चूत के अन्दर डाल दी।

फिर उंगलियों से बेबो की चूत के फाँको को खोलने और बन्द करने लगा।

xxx hindi kahani

फिर मैं बेबो की चूत के जी पॉयंट को रगड़ने लगा। बेबो के मुँह से सिसकियाँ निकलने लगी। बेबो ने मस्त होकर अपनी आंखें बंद कर ली। कुछ देर बाद बेबो की चूत से कुछ चिकना-चिकना सा निकलने लगा था।

xxx hindi kahani

मेरा लण्ड बेबो की जांघों से रगड़ खा रहा था। मैंने बेबो का हाथ पकड़ कर अपने लण्ड पर रख दिया। बेबो ने बिना झिझके मेरा लण्ड अपने हाथ में थाम लिया। वो मेरे लण्ड को अपने हाथ में दबाने लगी। मेरा लण्ड तन कर और भी सख्त हो गया था। बेबो मेरे लण्ड को मुठ्ठी में भर कर आगे-पीछे करने लगी। फिर वो मेरा लण्ड पकड़ कर जोर-जोर से हिलाने लगी।

अब मैं बेबो की चूत मारने को बेताब हो रहा था। मैं बेबो के ऊपर आकर लेट गया। बेबो का नंगा जिस्म मेरे नंगे जिस्म के नीचे दब गया। मेरा लण्ड बेबो की जांघों के बीच में रगड़ खा रहा था।

मैं उसके उपर लेट कर उसके चुचूक को चूसने लगा। वो बस सिस्करियां ले रही थी। फिर मैं एक हाथ नीचे ले जा कर उसकी चूत पर रख कर रगड़ने लगा और फिर एक उंगली उसकी चूत में डाल दी। वो मछली की तरह छटपटाने लगी और अपने हाथों से मेरा लण्ड को टटोलने लगी। मेरा लण्ड पूरे जोश में आ गया था और पूरा तरह खड़ा हो कर लोहे जैसा सख्त हो गया था।

बेबो मेरे कान के पास फुसफसा कर बोली,”ओह जीजू। प्लीज़ ! कुछ करो ना। मेरे तन-बदन में आग सी लग रही हैं।”

ये सुन कर अब मैंने उसकी टांगें थोड़ी ओर चौड़ी की और उसके ऊपर चढ़ गया।

फिर अपने लण्ड का सुपाड़ा उसकी चूत पर रख कर रगड़ने लगा। फिर मैंने अपने लण्ड का सुपाड़ा उसकी चूत पर टिका कर एक जोरदार धक्का मारा जिससे लण्ड का सुपाड़ा बेबो की कुंवारी चूत के हुआ अन्दर चला गया। लण्ड के अन्दर जाते ही बेबो के मुँह से चीख निकल गई और वो अपने हाथ पाँव बैड पर पटकने लगी और मुझे अपने ऊपर से धकेलने की कोशिश करने लगी। लेकिन मैंने उसे कस कर पकड़ा था।

Sali hot story - xxx hindi kahani - jija sali khani
xxx hindi kahani

xxx hindi kahani

वो मेरे सामने गिड़गिड़ाने लगी, “प्लीज़ जीजू, मुझे छोड़ दीजिए, मैं मर जाऊंगी, बहुत दर्द हो रहा है।

मैंने कहा “बेबो तुम ही तो कह रही थी कि जीजू, प्लीज़ ! कुछ करो ना। मेरे तन-बदन में आग सी लग रही हैं। मैंने इसलिये ही तो तुम्हारे अन्दर डाला है। बेबो तुम चिन्ता मत करो, पहली बार में ऐसा होता है, एक बार पूरा अन्दर जाने के बाद तुम्हें मज़ा ही मज़ा आएगा। पहली बार तुम्हारी दीदी को भी ऐसा ही दर्द हुआ था और अब मैं और तुम्हारी दीदी रोज ये करते हैं और तुम्हारी दीदी अब खूब एनजाय करती है।”

फ़िर मैंने एक और धक्का लगा कर उसकी चूत में अपना आधा लण्ड घुसा दिया। बेबो तड़पने लगी। मैं उसके ऊपर लेट कर उसके उरोज़ों को दबाने लगा और उसके होठों को अपने होठों से रगड़ने लगा। इससे बेबो की तकलीफ़ कुछ कम हुई। अब मैंने एक जोरदार धक्के से अपना पूरा का पूरा लण्ड उसकी चूत के अन्दर कर दिया। मेरा 8″ लम्बा और ३” मोटा लण्ड उसके कौमार्य को चीरता हुआ उसकी कुँवारी चूत में समा गया।

इस पर वो चिल्लाने लगी “आहह्ह, मर गई। ओह प्लीज़ जीजू इसे बाहर निकालिये, मैं मर जाउंगी।” उसकी चूत से खून टपकने लगा था।

first-time-sex-stories-teen-first-sex-stories

मैं रुक गया और बेबो से बोला “प्लीज़ ! बेबो, मेरी जान, अब और दर्द नहीं होगा।”

बेबो का यह पहला सैक्सपिरियन्स था। इसलिऐ मैं वही रुक गया और उसे प्यार से सहलाने लगा और उसके माथे को और आँखो को चूमने लगा । उसकी आंख से आंसू निकल आये थे और वो सिस्कारियां भरने लगी थी। यह देख कर मैंने बेबो को अपनी बाँहो में भर लिया।

फिर मैंने अपने जलते हुऐ होंठ बेबो के होंठों पर रख दिए और मैं उसके नरम-नरम होंठों को अपने होंठों में भर कर चूसने लगा, ताकि वो अपना सारा दर्द भूल जाये।

xxx hindi kahani

कुछ देर बाद उसका दर्द भी कम हो गया और उसने मुझे अपनी बाँहों में से कस लिया। मैंने भी बेबो को अपनी बाँहों में भर लिया। मेरा पूरा लण्ड बेबो की चूत के अन्दर तक समाया हुआ था। फिर मैं अपने होंठों से उसके नरम-नरम होंठों को चूसने लगा। कुछ देर तक हम दोनो ऐसे ही एक-दूसरे से चिपके रहे और एक-दूसरे के होंठों को चूसते रहे।

फिर मैं अपने लण्ड को उसकी चूत में धीरे-धीरे अन्दर बाहर करने लगा। बेबो ने कोई विरोध नहीं किया। अब शायद उसका दर्द भी खत्म होने लगा था और वो जोश में आ रही थी और अपनी कमर को भी हिलाने लगी थी। उसकी चूत में से थोडा सा खून बाहर आ रहा था जो इस बात का सबूत था कि उसकी चूत अभी तक कुंवारी थी और आज ही मैंने उसकी सील तोड़ी है।

उसकी चूत बहुत टाइट थी और मेरा लण्ड बहुत मोटा था, इसलिए मुझे बेबो को चोदने में बहुत मजा आ रहा था। मैं अपने लण्ड को धीरे-धीरे से बेबो की चूत के अन्दर-बाहर कर रहा था। फिर कुछ देर बाद बेबो ने अपनी टांगें उपर की तरफ मोड़ ली और मेरी कमर के दोनों तरफ लपेट ली। मैं अपने लण्ड को लगातार धीरे-धीरे बेबो की चूत के अन्दर-बाहर कर रहा था। धीरे-धीरे मेरी रफ़्तार बढ़ने लगी। अब मेरा लण्ड बेबो की चूत में तेजी से अन्दर-बाहर हो रहा था। मैं बेबो की चूत में अपने लण्ड के तेज-तेज धक्के मारने लगा था।

थोड़ी देर में बेबो भी नीचे से अपनी कमर उचका कर मेरे धक्कों का ज़वाब देने लगी और मज़े में बोलने लगी ” सी … सी… और जोररर से जीजुजुजु… येसस्स अरररऽऽ बहुत मज़ा आ रहा है और अन्दर डालो और जीजू और अन्दर येस्स्स् जोर से करो। प्लीज़ ! जीजू तेज-तेज करो ना। आज मुझे बहुत मज़ा आ रहा है।”

xxx hindi kahani

बेबो को सचमुच में मजा आने लगा था। वो जोर जोर से अपने कूल्हे हिला रही थी और मैं तेज़-तेज़ धक्के मार रहा था। वो मेरे हर धक्के का स्वागत कर रही थी। उसने मेरे कूल्हों को अपने हाथों में थाम लिया। जब मैं लण्ड उसकी चूत के अन्दर घुसाता तो वो अपने कूल्हे पीछे खींच लेती। जब मैं लण्ड उसकी चूत में से बाहर खींचता तो वो अपनी जांघें उपर उठा देती।

मैं तेज-तेज धक्के मार कर बेबो को चोदने लगा। फिर मैं बैड पर हाथ रख कर बेबो के ऊपर झुक कर तेजी से उसकी चूत मारने लगा। अब मेरा लण्ड बेबो की चिकनी चूत में आसानी और तेजी से आ-जा रहा था। बेबो भी अब चुदाई का भरपूर मजा ले रही थी। वो मदहोश हो रही थी।

मैंने रुक कर बेबो से कहा, “बेबो अच्छा लग रहा है ?”

बेबो बोली,”हाँ जीजू बहुत अच्छा लग रहा है। प्लीज़ ! रुको मत। तेज-तेज करते रहो। हाँ प्लीज़ ! तेज-तेज करो। मैं अन्दर से डिस्चार्ज होने वाली हूँ। प्लीज़ ! चलो करो। अब रुको मत। तेज-तेज करते रहो।”

बेबो के मुहँ से ये सुन कर मैंने फिर से बेबो को चोदने शुरु कर दिया और अपनी रफ्तार को और बढ़ा दिया। मैंने बेबो के बड़े-बड़े हिप्स को अपने हाथों से जकड़ लिया और छोटे-छोटे मगर तेज-तेज शॉट मार कर बेबो को चोदने लगा। बेबो के मुँह से मस्ती में “ओह्ह्ह्ह्ह्हो होहोह सिस्स्स ह्ह्ह्ह हाह्ह्ह आआ आआ हा-हा करो-करो ऽअआह हाहअआ प्लीज़ ! जीजू तेज-तेज करो।”

करीब 15 मिनट की चुदाई के बाद वो झड़ने वाली थी तभी हम दोनों एक साथ अकड़ गये और एक साथ जोर-जोर से धक्के मारने लगे। फिर अचानक बेबो ने मुझे कस कर अपनी बाँहो में भर लिया और बोली “जीजू मेरा काम होने वाला है। प्लीज़ ! जोर-जोर से करो येस-येस अररर् और जोर से य…य…यस यससस मैं हो गईईईईई…! इसके साथ ही बेबो की चूत ने अपना पानी छोड़ दिया। उसने एक जोर से आह भरी और फिर वो ढीली पड़ गई।

xxx hindi kahani

मैं समझ गया कि बेबो डिस्चार्ज हो गई है। लेकिन मेरा काम अभी नहीं हुआ था इसलिए मैं जोर-जोर से अपने लण्ड से बेबो की चूत को पेलने लगा। मैं भी डिस्चार्ज होने वाला था, इसलिये मैं तेज-तेज धक्के मारने लगा। बेबो रोने सी लगी और मेरे लण्ड को अपनी चूत में से बाहर निकालने के लिए बोलने लगी। लेकिन मैंने उसकी बातों को अनसुना कर धक्के लगाना जारी रखा।

करीब 2-3 मिनट तक बेबो को तेज-तेज चोदने के बाद जब मैं डिस्चार्ज होने लगा तो मैंने अपना लण्ड बेबो की चूत से बाहर खींच लिया और उसकी चूत के झांटों उपर डिस्चार्ज हो गया और उसके ऊपर गिर गया। फिर मैं उसके उपर लेट कर अपनी तेज-तेज चलती हुई सांसों को नार्मल होने का इन्तज़ार करता रहा। फिर मैं बेबो की बगल में लेट गया। बेबो भी मेरे साथ लेटी हुई अपनी सांसों को काबू में आने का इंतजार कर रही थी।

बेबो की चूत के काले घने घुंघराले बालों में मेरे वीर्य की सफेद बून्दे चमक रही थी। मैंने अपने अन्डरवियर से बेबो की चूत के ऊपर पड़े अपने वीर्य को साफ कर दिया। कुछ देर तक ऐसे ही पड़े रहने के थोड़ी देर बाद हम दोनों उठे और अपने कपड़े पहनने लगे। बैड की चादर पर बेबो की चूत से निकला हल्का सा खून पडा था। बेबो ने तुरन्त डस्टिग़ वाला कपड़ा लेकर गीला करके चादर से खून साफ कर दिया और पंखा चला दिया ताकि चादर जल्दी से सूख जाए।

मैंने बेबो से पूछा कि कैसा लगा तो वो बोली “जीजू ! शुरु-शुरू में तो मुझे बहुत दर्द हुआ लेकिन बाद में बहुत मजा आया। इतना मज़ा तो मुझे कभी किसी चीज़ में नहीं आया। सचमुच आज से मैं आपकी दीवानी बन गई हूँ। अब आप जब चाहें ये सब कर सकते हैं। मुझे कोई एतराज नहीं होगा।”

ये सुन कर मैंने खीच कर उसे अपने सीने से चिपका लिया। फिर मैंने अपने जलते हुऐ होंठ बेबो के होंठों पर रख दिए। फिर मैं उसके नरम-नरम होंठों को अपने होंठों में भर कर चूसने लगा।

xxx hindi kahani

बेबो भी मुझ से लिपट गई और उसने भी मुझे अपनी बाँहो में कस लिया। फिर मैं बेबो को किस करते-करते उस के बालों में हाथ फिराने लगा। फिर मैं उसके गालों पर हाथ फिराने लगा।

फिर मैं अपने हाथ को नीचे ले जाकर उसकी टी-शर्ट के उपर से उसके स्तनों को दबाने लगा और बेबो से बोला “एक बार फिर हो जाए। तुम्हें कोई एतराज नहीं।”

वो एकदम छटक कर अलग हो गई और बोली,”क्या करते हो जीजू। बड़े गन्दे हो आप। इतना सब कुछ हो गया। फिर भी चैन नहीं पड़ा है। अब सब्र रखो। दीदी आने वाली होंगी।”

मैंने बेबो से कहा “अभी तो तुम कह रही थी कि मैं आपकी दीवानी बन गई हूँ। अब आप जब चाहें ये सब कर सकते हैं। मुझे कोई एतराज नहीं होगा और अब तुम मना कर रही हो।”

बेबो बोली “जीजू। मैंने कहा है और एक बार फिर कह रही हूँ कि सचमुच मैं आपकी दीवानी बन गई हूँ और अब आप जब चाहें ये सब मेरे साथ कर सकते हैं। मुझे कोई एतराज नहीं होगा। लेकिन आज अब और नहीं। आपने इतना ज्यादा किया है ना कि मेरे नीचे दर्द हो रहा, शायद कट भी लग गया है। नीचे चीस सी मच रही है।

इसलिये आज नहीं। अब कल करेंगे। कल तक मेरे नीचे का मामला भी ठीक हो जाएगा। अब मैं नहाने जा रही हूँ। गर्म-गर्म पानी से नहाऊगी और गर्म पानी से नीचे की थोड़ी सिकाई करुँगी तो कुछ ठीक हो जाऊँगी। वरना मेरी चाल देख कर दीदी को शक हो जाऐगा। अब कल तक के लिये सब्र रखिये। वैसे भी दीदी भी आने वाली होंगी।”

इतना कह कर उसने हाथ हिला कर शरारत से बाय किया और फिर वो तेजी से बाथरुम की ओर जाने लगी। मैं खड़ा-खड़ा उसे जाते हुए देखता रहा। उस दिन मैं बहुत खुश था क्योंकि बेबो को जम कर चोदने की मेरे मन की इच्छा पूरी हो गई थी।

xxx hindi kahani

इसके बाद मौका मिलने पर लगभग दो साल में हमने कुल 9 बार अपने घर में, 3 बार बेबो के घर में और एक ही रात में 3 बार होटल के कमरे में बेबो के साथ खुलकर सैक्स किया। हर बार सैक्स करने का अन्दाज और मजा अलग ही था। अगर समय मिला तो अपने यहां सोफे पर और एक रात को अपनी पत्नी को नींद की गोली देकर स्टोर में बेबो के साथ सैक्सपिरियस के बारे में भी जरुर बताऊँगा।

फिर एक बार शाम को बेबो के ही घर में छत पर बेबो के साथ सैक्सपिरियस के बारे में भी जरुर बताऊँगा। और एक पूरी रात बेबो के साथ होटल के कमरे में तीन बार सैक्स करना तो मैं भूल ही नहीं सकता। वो किस्सा भी अगर समय मिला तो जरुर बताऊँगा। खैर…

दो साल बाद बेबो की शादी हो गई और आज वो दो बच्चों की माँ हैं। बेबो और उसके परिवार से हर साल दो या तीन बार मुलाकात जरुर होती है। फोन पर तो अकसर बात होती रहती है। लेकिन हम भूल कर भी अपने पुराने सैक्सपिरियंस के बारे में बात नहीं करते हैं। बेबो की शादी के बाद हमने मौका मिलने पर भी कभी सैक्स नहीं किया और शायद यही वजह है कि हमारे दिल में एक दूसरे के लिये प्यार आज भी है। खैर …

तो दोस्तो, कैसी लगी मेरी कहानी।
[email protected]

आपको मेरी यह सच्ची सेक्स घटना कैसी लगी मुझे Telegram पर ज़रूर बताये में आपके comment और message का इंतज़ार करूगा. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं.

Sali hot story - xxx hindi kahani - jija sali khani

Read In English

Sali Seal thod Chudai xxx hindi kahani

xxx hindi kahani: Once again I am present with my new story in front of you. This story of mine is very true that you will feel very close to you. My marriage has been around 15 years today. After my marriage, apart from my wife, my first sex saxpirion was with my sister Rajni. My wife is the eldest at home. He is followed by his two-year-old younger sister, Rajni, and nearly four-year-old younger brother. At home, everyone calls Rajni “Bebo” in the name of love on xxx Hindi kahani.

My wife had a first son. When I went to pick up my wife from my in-laws, my sister-in-law who was studying in BA-II was having a summer vacation and about a month was left. My wife insisted on her family, taking Bebo with her because of a small child then xxx Hindi kahani.

We all came back to Gurgaon. My wife and Bebo would spend the whole day in child care. I took 10 days off. During the day, Bebo and I would play Ludo or Carrom whenever they were empty for xxx Hindi kahani.

In the evening we all went to the park and often ate dinner outside. I ask Bebo what to eat. Then he would order Bebo’s favorite food. Whenever we all went to the market, I would definitely get something from Bebo. Bebo refuses, but I forcefully give her some gougal, sometimes a purse and something. Within four days, Bebo and I were very open to each other. At night, when my wife used to sleep while feeding a small child, I and Bebo would talk till late in the night. Well…xxx Hindi kahani.

One day my wife went to sleep in the afternoon feeding the baby and Bebo went for a bath. I started cleaning the car in the garage. A small bathroom window opened in the garage, xxx Hindi kahani. The window was at some height. Therefore, they could not easily see anything.

xxx hindi kahani
While I was cleaning the roof of the car by climbing on the tire of the car, my eyes were on the bathroom window. Bebo was taking a bath under a naked shower in the bathroom. His young naked body was back towards me in the shower. Drops of water were shining on her bare and white body from the shower.

The roundness and depths of his fists were in front of my eyes. At that time there was sensation in my body. Then she turned and she put her body in front of me. Now I was getting water droplets on her big breasts, small brown nipples were making me more excited for xxx Hindi Kahani. The thick hair of her pussy was sticking due to water and was hanging. The cold water of the shower was flowing over his body. Sometimes she rubs her pussy, sometimes she cleans her pussy. I started getting excited by looking at him and xxx Hindi Kahani

When she took a bath, she started wiping her body with a towel. She rubbed her fingers with a towel. His fingers were getting stiff. Then she started to clean her pussy with a towel. The black thick hair of her pussy became curly as soon as she was wiped with a towel and a glow began to appear in them. He wiped his body with a towel and started wearing clothes for xxx Hindi Kahani

At first, he imprisoned her chest in a white bra. Then covered her pussy with pink kutchi. Then he wore white but colorful lingerie. Then as soon as she started wearing her top, only then did she look at the window and she saw me. I was down immediately then xxx Hindi Kahani.

She came out of the bathroom and came to the garage on the pretext of towel drying and said unknowingly, “Hey… Jiju, are you cleaning the car yet?” xxx Hindi Kahani.

His eyes were on my half pants. Where my LND was looking uplifted from the top of the half pants and was making a tent.

xxx hindi kahani
I said, “The bus cleared. Let’s go. “

And took the cloth to clean the car in front of the loft rising above his half pants. We both came inside. I entered the toilet as soon as I arrived and pacified my boiling Lund by hitting it on xxx Hindi Kahani.

From that day onwards, it became my daily rule to look at Bebo from the window and take a bath in the bathroom. Whenever Bebo went to take bath in the bathroom, I would go for some excuse in the garage. Bebo knew that I was watching her secretly. But now she used to show up and take a long shower. Stealthily looking at the window and seeing me looking at myself. Now the moment she entered the bathroom, she would shout loudly, “Sister, I am going to take a bath and xxx Hindi Kahani.

Then when I would look through the hole in the bathroom window, she would take off her clothes in the bathroom on xxx Hindi Kahani.

If I was late in coming to the garage for some reason, then she would continue to pass the same time in the bathroom. When she would hear the sound of the garage opening, she would start removing her clothes in the bathroom. To attract me to her, she first took off her top, becoming oblivious. Then facing the window, she took off her bra. When her breasts bounced out as soon as the bra landed, she gently stroked those breasts and rubbed her nipples in xxx Hindi Kahani.

Then she lowered her back while doing her back. Then she turned to the window and removed her panty. Then rubbing her pussy and twisting her hands in pussy hair and then grabbing that hair and pulling her up. Then, she turned around to do the rounds and deeps of her fishes in front of my eyes. I thought so. Well…xxx Hindi Kahani.

xxx hindi kahani – Sali hot story

This went on for several days. My vacation was about to end. There were just two holidays left.

One day my wife went to the market with her friend from the neighborhood to get some clothes for the child. On the go, she started telling me that you stay here. I am going with my friend. Bebo is sleeping Little disturbed the night. She used to feed the little one all night. Let him sleep When he wakes up, give him food by heating it then xxx Hindi Kahani.

When she left, I secretly saw Bebo sleeping in a skirt and t-shirt. I went to take a bath in the bathroom. Then after taking a shower, I looked at Bebo again and I was surprised. Bebo was sleeping But her T-shirt was raised up to the bra inside and her white bra was visible on xxx Hindi Kahani. Her skirt was up to the top of her thighs and her red panties were visible between her thighs. The bulge of her puffy pussy was also visible on her red panties.

xxx hindi kahani – Sali hot story
I called her – Bebo! Bebo! So that if he gets up or turns then his skirt gets fixed. But she neither woke up nor did she turn. I stared at him for a while. Her blonde-blonde belly, smooth-skinned legs, full thighs and her bloated pussy on top of her red panties in between her thighs were arousing me.

I came out of the room and sat on the sofa. My heart and mind were towards Bebo. The mind was trying to see and touch him the xxx Hindi Kahani. I got up again and went towards the room. I then looked at Bebo. Bebo was sleeping I stood at the door staring at him for a while. Her puffy smooth thighs and her bloated pussy on top of her red panties between her thighs were making me very excited for xxx Hindi Kahani.

I went inside the room and sat near Bebo. I sounded lightly to him- Bebo-Bebo…xxx Hindi Kahani.

But she neither woke up nor did she turn. I then stared at him for a while. Then I put my hand on her smooth thigh. After some time, I started to wring his hands on his full mass thigh. Then I put my hand on her bloated pussy on top of her red panties. His puffy pussy got set in the pit of my palm. Then I started pressing her puffed pussy lightly with my palm. Bebo was sleeping or pretending to sleep in the same way. Well…xxx Hindi Kahani.

My courage was increasing. I started trying to put my hand inside her panty. But because of her skirt, Panti could not penetrate her hand.

xxx hindi kahani – Sali hot story

I carefully unbuttoned her skirt’s hook and side chain. Then I put my hand inside her panty and started waving her pussy hair. Bebo was sleeping in the same way or pretending to sleep and my courage kept increasing the xxx Hindi Kahani.

Then I twisted my hands in Bebo’s pussy hair and started fingering her finger on Bebo’s pussy. Then with fingers, Bebo’s pussy began to open and close. After some time I inserted one of my fingers into the pussy of Bebo’s pussy and started gently rubbing the point of Bebo’s pussy in xxx Hindi Kahani.

Due to his panty, I was having difficulty putting my finger in Bebo’s pussy and rubbing the G-point of Bebo’s pussy. That’s why I slowly pulled her panty down to her knees. Then I entered one of my fingers in Bebo’s pussy and started rubbing her pussy lightly. After some time I also separated her panty from her legs and carefully separated both her legs. Now I lay next to her and started waving her thick pussy hair follow xxx Hindi Kahani.

Then I put my hand on her pussy and started rubbing it from above. Then I started waving at Bebo’s pussy. Then while twisting my hands, I put my fingers in Bebo’s pussy. Then putting fingers in Bebo’s pussy and rubbing it started rubbing the G-point of her pussy with his fingers and rubbing it lightly. After about 5-7 minutes, something very smooth started coming out of Bebo’s pussy for xxx Hindi Kahani.

Suddenly, Sisko started coming out of Bebo’s mouth and opened his eyes and said unknowingly, “Hey… when did Jiju come… and what are you doing?”

xxx hindi kahani – Sali hot story
I said, “I have just arrived … and thought that Bebo should have some fun today.” Tell the truth, isn’t it fun? I know you were awake and having fun. Otherwise, it does not come out from under you. “

Bebo smiled and said, “No, really I was sleeping. I do not know what you were doing And why have you taken off my trunks? “

His lie was coming to grips. I said, “Please! Do not joke Bebo. Please! support me. We will have a lot of fun together for xxx Hindi Kahani.

Bebo then smiled and said, “Shall I accompany you and will the two have fun together.” Please tell. And why have I removed my trunks. What fun were you having And what fun were I looking for inside my panty. “

I said, “Tell me what fun I was looking for inside your trunks.” Having said that, I stuck it on my chest and then I put my burning lips on Bebo’s lips on xxx Hindi Kahani.

Then I started sucking her soft and soft lips in my lips. Bebo also held me in her arms. Then I kiss Bebo while taking her hand down and pressing her breasts on top of her T-shirt. Then after some time I put my hand inside the neck of his T-shirt and started pressing his hardened chest but xxx Hindi Kahani.

Then I started removing his T-shirt and Bebo said, “Jiju, what do you do. Sister will be coming. “

xxx hindi kahani

I said, “Don’t worry. She went to the market and would not come for two-three hours. “

After saying this, I started taking off his T-shirt. Bebo no longer protested. I took off his T-shirt and threw it on the bed. Bebo’s big and fair breasts were stuck in white bras. I started pressing her breasts over her bra. Bebo closed her eyes then xxx Hindi Kahani.

After some time, I opened the hook of her bra and started waving her bare back. Then for some time I also stripped her bra from her body and freed both the pigeons and grabbed them and started mashing the xxx Hindi Kahani.

I started pressing her fair-skinned breasts and simultaneously rubbing her brown nipples lightly. Then I started sucking her soft and soft blond breasts in my lips. Sizzles started coming out from Bebo’s mouth. Then I also stripped off her open skirt. Bebo’s nude, blonde and smooth body was in front of me.

Then I separated from Bebo and took off all her clothes and got completely naked and clung to Bebo and I covered Bebo with her. My LND was tanned and hit the smooth legs of Bebo. I started waving at Bebo’s smooth legs. His hands began to bend on his pussy, which emerged like a loaf of bread. Then after turning my hand on her pussy for some time, I started pressing her pussy with my palm in xxx Hindi Kahani.

She was very hot and was taking sizzles loudly and was turning her hand on my hair and sucking her lips. I slowly put her upright on the bed and lying on her side, I started waving at the cut of Bebo’s pussy. Then while twisting my hands, I put my fingers in Bebo’s pussy then xxx Hindi Kahani.

Then with fingers, Bebo’s pussy began to open and close on xxx Hindi Kahani. Then I started rubbing G point of Bebo’s pussy. Sizzles started coming out from Bebo’s mouth. Bebo coolly closed her eyes. After some time, something smooth came out from Bebo’s pussy.

xxx hindi kahani
My LND was rubbing from Bebo’s thighs. I held Bebo’s hand and put it on my LND. Bebo held my hand in her hand without hesitation. She started pressing my LND in her hand. My LND was hardened by tanning. Bebo filled my hand in the fist and started back and forth. Then she grabbed my LND and started shaking loudly.

Now I was getting desperate to kill Bebo’s pussy. I lay down on Bebo. Bebo’s naked body was buried under my naked body. My LND was rubbing between Bebo’s thighs out xxx Hindi Kahani.

I lay on her and started sucking her nipple. She was just taking miscarriages. Then I took one hand down and started rubbing it on her pussy and then put a finger in her pussy. She started licking like a fish and started lopping my LND with her hands. My LND was full of enthusiasm and stood up completely and became as hard as iron the xxx Hindi Kahani.

Bebo whispered to my ear and said, “Oh brother. Please! Do something. There is a fire in my body. “

Hearing this, I now widened his legs a bit and climbed on top of it for xxx Hindi Kahani.

Then put his Lunda supada on his pussy and started rubbing it. Then I hit Lund’s supada on her pussy with a strong push due to which Lupa’s supada went inside Bebo’s virgin pussy. As soon as I went inside LND, Bebo screamed out of her mouth and she started banging her hands and feet on the bed and tried to push me over her. But I had caught him tightly.

xxx hindi kahani
She started pleading in front of me, “Please brother, leave me, I will die, it is very painful.

I said, “Bebo, you were saying that brother, please! Do something. There are fires in my body. That is why I have inserted into you. Bebo don’t worry, it happens in the first time, once you go inside, you will enjoy it. For the first time, your sister had similar pain and now I and your sister do it every day and your sister now exudes a lot of xxx Hindi Kahani.

Then I pushed another half LND in her pussy. Bebo started to suffer. I lay down on him and started pressing his uros and rubbing his lips with my lips. This reduced Bebo’s problem. Now I put all my LND in her pussy with a loud bang. My 8 ″ long and 3 ″ fat LND ripped her virginity into her virgin pussy.

At this she started shouting “Ahhhh, she died. Oh please brother, take it out, I’ll die. ” Blood was dripping from her pussy.

first-time-sex-stories-teen-first-sex-stories
I stopped and said to Bebo “Please! Bebo, my darling, there will be no more pain. “

This was Bebo’s first Saxapireans. So I stayed the same and caressed her with love and started kissing her forehead and eyes. Tears had come out of her eye and she was beginning to fill the casket. Seeing this, I filled Bebo in my arm.

Then I put my burning lips on Bebo’s lips and I started sucking her soft and soft lips in my lips, so that she forgets all her pain.

Sali hot story – xxx hindi kahani
After some time his pain also subsided and he tightened me with his arms. I also stuffed Bebo in my arms. My whole Lund was covered in Bebo’s pussy. Then I started sucking her soft lips with my lips. For some time, we both clung to each other and sucked each other’s lips.

Then I slowly started putting my LND in her pussy. Bebo did not protest. Now perhaps her pain was also coming to an end and she was getting excited and started moving her waist too. A little blood was coming out of her pussy, which was a proof that her pussy was still virgin and today I have broken her seal.

Her pussy was very tight and my LND was very fat, so I was having great fun in fucking Bebo. I was slowly getting my LND in and out of Bebo’s pussy. Then after some time Bebo folded her legs upwards and wrapped me on both sides of my waist. I was slowly getting my LND in and out of Bebo’s pussy. Gradually my speed started increasing. Now my LND was getting in and out of Bebo’s pussy fast. I started hitting my LND’s fast in Bebo’s pussy.

In a while, Bebo also raised her waist from below and started answering my bumps and started talking in fun. . Please! Jeeju fast. Today I am having a lot of fun. “

Sali hot story – xxx hindi kahani
Bebo was really starting to enjoy it. She was shaking her hips very loudly and I was banging fast. She was welcoming all my blows. He held my hips in his hands. When I got LND inside her pussy, she would pull her hips back. When I pulled LND out of her pussy, she would lift her thighs up. I started fucking Babo by hitting me very fast. Then I put my hand on the bed and leaned over Bebo and started hitting her pussy fast. Now my LND Bebo’s smooth pussy was coming in easily and fast. Bebo too was now enjoying Chudai. She was getting drunk.

I stopped and said to Bebo, “Bebo looks good?”

Bebo said, “Yes Jeeju looks great. Please! Don’t stop Keep on fasting. Yes please Speed ​​up I am going to be discharged from inside. Please! Let’s do it Don’t stop now Keep on fasting. “

Hearing this from Bebo’s mouth, I started fucking Bebo again and increased my speed further. I grabbed Bebo’s big hips with my hands and started hitting Bebo by hitting small but sharp shots. “Ohhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh Ssssshhhhhhhhhhhhh aaa aaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaa!” – Bebo’s mouth pleasantly! Jeeju fast. “

After about 15 minutes of chudai, she was about to fall, when both of us swung together and started banging together. Then suddenly Bebo tightly filled me in her arm and said, “Jiju my work is going to happen.” Please! Do it loudly, yes, yes and loudly… Yes… Yes I have become… IEEE…! With this, Bebo’s pussy gave up its water. She gave a loud sigh and then she let loose.

Sali hot story – xxx hindi kahani
I understand that Bebo has been discharged. But my work was not done yet, so I started to loudly pay Bebo’s pussy with my LND. I was also going to be discharged, so I started hitting fast. Bebo started crying and started talking to get my LND out of her pussy. But I ignored his words and continued to push.

After fucking Bebo fast for about 2-3 minutes, when I started getting discharged, I pulled my LND out of Bebo’s pussy and got discharged on her pussy and fell on her. Then I lay on top of it, waiting for my fast moving breaths to become normal. Then I lay next to Bebo. Bebo too was lying with me waiting for her breath to come under control.

The white drops of my semen were shining in Bebo’s pussy, black thick curly hair. I cleaned my semen lying on Bebo’s pussy with my underwear. After some time we both got up and started wearing our clothes. Bebo’s on the bed sheet

I asked Bebo how she felt, so she said, “Jiju!” Initially I was in a lot of pain but later I had a lot of fun. I never got so much fun. I have become your addict since today. Now you can do all this whenever you want. I wouldn’t mind. “

Hearing this, I pulled it and stuck it on my chest. Then I put my burning lips on Bebo’s lips. Then I started sucking her soft and soft lips in my lips.

xxx hindi kahani

Then I moved my hand down and pressed her breasts on top of her T-shirt and said to Bebo, “Once again. You don’t mind. “

She broke away completely and said, “What do you do Jiju?” You are very dirty. This is all done. Still there is no rest. Now be patient. Sister will be coming. “

I said to Bebo, “Now you were saying that I have become your addict. Now you can do all this whenever you want. I would have no objection and now you are refusing. “

Bebo said “Jiju. I have said and am saying once again that I have truly become your addict and now you can do all this with me whenever you want. I wouldn’t mind. But no more today. You have done so much that I am aching, maybe even cut. The bottom is screaming. That’s why not today. Will do it tomorrow. By tomorrow, the matter under me will also be cured. Now I am going for a bath. If you take a bath with hot water and compress a little below hot water, then something will be fine. Otherwise, my sister will be suspicious after seeing my move. Now stay patient till tomorrow. Anyway, sister will also be coming. ”

Saying this, she shook her hand and did a mischief and then she quickly started going towards the bathroom. I stood and watched him go. I was very happy that day because my heart’s desire to fuck Bebo was fulfilled.

xxx hindi kahani
After this opportunity, in about two years, we openly saxed with Bebo in our house 9 times, 3 times in Bebo’s house and 3 times in a hotel room in the same night. Each time the style and fun of doing sex was different. If I have time, I will also tell Saxapirius with Bebo on the couch here and one night in the store giving my wife a sleeping pill.

Once again in the evening in Bebo’s house, I will also tell about Saxapirius with Bebo on the terrace. And I can’t forget to spend three whole nights in a hotel room with Bebo. If I get that story too, I will definitely tell. Well…

Bebo was married two years later and today she is the mother of two children. Bebo and her family meet two or three times every year. Talk is often on the phone. But we do not forget to talk about our old saxpirions. After Bebo’s wedding, we never did sex even when we got a chance and that is probably the reason why we still have love for each other in our hearts. Well…

So friends, how was my story.
[email protected]

How did you like my true sex incident, tell me on Telegram, I will wait for your comment and message. Apart from this, you can also give your opinion by commenting on the story below.

Read More Sex Story-

jija sali khani – साली की सील तोड़ने का परम सुख hindisexstory

जीजू का प्यार और मेरी गांड का शिकार | sali hot story – xxxhindistory

2 thoughts on “xxx hindi kahani साली की सील तोड़ चुदाई 1 Best sex story”

Leave a Comment