Follow my blog with BloglovinFirst Time Chudai ki Story 1 मासूम सी परी की सील तोड़ी best

First Time Chudai ki Story 1 मासूम सी परी की सील तोड़ी best

मासूम सी परी की सील तोड़ी First Time Chudai ki Story kamvasna story

First Time Chudai ki Story – kamvasna story: मुझे ऑफिस के बाहर अचानक एक ऐसी लड़की दिख गयी, जिसे देखने के बाद सब कुछ जैसे रुक सा गया. उस मासूम सी परी को पाने के लिए मैं बेचैन हो गया. वो मुझे मिली क्या?

इश्क़ वासना को एक नया रंग देता है.
इश्क के साये में वासना से भरी निगाहें भी खूबसूरत हो जाती हैं.
एक एक स्पर्श प्यार की मिठास से भर जाती है.
इश्क़ और वासना में सहमति और असहमति का फ़र्क़ है.

दोस्तो, मेरा नाम राहुल है, मेरी उम्र 28 साल की है और ये दास्तान हैं एक मोहब्बत की … जिसमें वासना तो है, लेकिन प्यार में लिपटा हुआ रंग है.

ये बात आज से कुछ 6 महीने पहले की है. मुझे अचानक से अपने ऑफिस के बाहर एक ऐसी लड़की दिख गयी, जिसे देखने के बाद सब कुछ रुक सा गया. मेरे हाथ में लगी हुई सिगरेट गिर गयी, इसका अहसास मुझे तब हुआ, जब मैं सिगरेट पीने के लिए अपने खाली हाथ को उठा रहा था.

अचानक थोड़ी देर में वो लड़की कहीं गायब हो गयी और मैं बेचैन हो उठा. मैं ऐसे उदास हो गया, जैसे मेरा कुछ अपना खो गया हो. वो तो आंखों ओझल हो गई थी, लेकिन मैं उसकी याद में ठगा सा खड़ा था. मेरा पूरा दिन उसकी याद में ही गुजरा, जैसे अब मेरा कुछ अपना रहा है ना हो.

ये तो सच है कि वक़्त सबका बदलता है, लेकिन इतनी जल्दी वक़्त बदल जाएगा … इसका मुझे बिल्कुल भी अंदाजा नहीं था. इसी ऊहापोह में नींद भी बड़ी मुश्किल में आई और नतीजा ये हुआ कि मैं अगले दिन ऑफिस देरी से पहुंच सका.

ऑफिस पहुंचते ही मेरा दिलों-दिमाग एक नई स्फूर्ति से भर गया. वो लड़की मेरे दफ्तर के बाहर बैठी थी. दफ्तर में बैठते ही चपरासी ने बताया कि सर ये लड़की आपकी सेक्रेटरी के लिए चुनी गई है, आप इसका फाइनल इंटरव्यू ले लीजिए.

मेरे मुँह से चपरासी के लिए थैंक्यू निकला. कल तक तो मैंने बस उसकी आंखों को ही देखा था, आज तो बदन की तराश को देखते ही मैं पागल सा हो गया.

बिल्कुल स्लिम … कोई 20 साल की एकदम नाजुक सी लड़की, एक बार छू लो तो निशान पड़ जाएं. उसकी चूचियां कोई 32 इंच की और नितंब बाहर निकले हुए थे. घुटने को छूने की नाकामयाब कोशिश करती, उसकी स्कर्ट उसकी गोरी जांघ पर लहर पैदा कर रही थी.

मैंने उसका फॉर्मल इंटरव्यू लिया और नाम काम जानने के बाद भी, उसे काम सिखाने की बात बोल कर मैंने उसे अपनी सेक्रेटरी की पोस्ट दे दी. उसका नाम आकृति था.

यहाँ से धीरे धीरे हमारी दोस्ती हुई. ये दोस्ती धीरे धीरे कॉफी हाउस, तो कभी किसी रेस्टोरेंट में हमें ले जाती रही.

कई मौकों पर मुझे ऐसा लगा कि शायद आकृति भी मुझसे आकर्षित होने लगी है. कभी कभी हम कुछ मजाक भी कर लिया करते थे, जो थोड़े अश्लील भी होते थे.

फिर 31 दिसंबर की रात हमारे लिए निर्णायक रात होने वाली थी. हमने तय किया था कि हम नया साल का स्वागत साथ में करेंगे.

मैंने दिल्ली के एक पंचसितारा होटल में पार्टी की बुकिंग कर ली और अलग से एक कमरे को भी चुपके से बुक करा लिया कि शायद कई दिनों का अरमान पूरा होने का मौका मिल जाए.

शाम को 7 बजे हम तय जगह पर पहुंच गए. आज उसने पहली बार पार्टी ड्रेस पहनी थी. गुलाबी रंग की सिंगल पीस की इस ड्रेस में उसके नुकीले मम्मे ढंके तो थे, लेकिन उसकी गोरी क्लीवेज साफ दिख रही थी. पीछे खुली हुई चिकनी बेदाग पीठ थी. कपड़े की लंबाई महज इतनी कि जैसे बस चड्डी को बहुत मुश्किल से छुपा रही हो.

आज मिलते ही मैंने सबसे पहले उसे एक हल्का सा हग किया, वो भी जैसे मुझमें समा गई.
मैंने उसी अवस्था में उसके कान में कहा- ठंड नहीं लग रही है तुम्हें?
उसने कहा कि उसके लिए तो आप जो न!

बस इसी महावाक्य के साथ हम दोनों की जकड़ थोड़ी और मजबूत हो गयी. हम दोनों ने पार्टी सेलिब्रेशन में थोड़ी शराब को पी पिया. आकृति पीती नहीं थी, लेकिन मेरे कहने पर उसने दो पैग वोदका के जरूर पी लिए.

फिर हमने डांस किया. डांस क्या था, बस यूं समझो कि हम दोनों एक दूसरे के बांहों में झूमते ही रहे. उसकी समर्पण की मुद्रा बता रही थी कि वो मेरे ऊपर अपना सब कुछ लुटा देना चाह रही थी.

फिर 12 बजे के सेलिब्रेशन के बाद जब हम फिर से एक दूसरे के बांहों में खोए हुए थे, मैंने उसके कान में कहा- आकृति, आई लव यू.
वो बुरी तरह से शरमा गयी.

लेकिन जवाब में बस उसने अपने होंठों को मेरे गाल पर रख दिया. मैंने उसके हाथ पकड़े और भीड़ से अलग ले जाते हुए उस कमरे तक आ पहुंचा.

हम अन्दर आए … दरवाजे तो अब बंद हो गए थे. भीड़ और डीजे की आवाज अब शांति में बदल चुकी थी … लेकिन हमारी आंखें अब आपस में बात कर रही थीं. शायद हम इस मुकाम तक पहले भी आ सकते थे, लेकिन मेरा प्यार किसी प्रकार की जल्दबाजी और मौकापरस्ती से दूर रहना चाहता था.

दो मिनट तक एक दूसरे की आंखों को पढ़ने के बाद हम दोनों ने एक साथ स्मूच करना शुरू किया. मेरा सीना उसके वक्ष से चिपक हुआ था. मेरे हाथ उसके गाल, उसके बाल से होते हुए उसकी खुली पीठ तक पहुंच रहा था.

शराब ने उसकी झिझक को तो दूर कर दिया था, लेकिन गोरे चेहरे पर शर्म के लाल रंग जरूर दिख रहे थे.

हम अलग हुए, मैंने प्यार से उसके गाल को छूते हुए उसके कंधे पर हाथ रखा और फिर उसके बालों को खोल दिया. वो फिर से मेरी बांहों में झूल गई.
मैंने उसे दोनों हाथों से उठाया और धीमी चाल से उसे महसूस करते हुए बेड तक आ पहुंचा.

आज पहली बार वो किसी पुरुष के साथ एक कमरे और एक बिस्तर को साझा कर रही थी और एक एक स्पर्श की अभिव्यक्ति उसका चेहरा कर रहा था.

मैंने आहिस्ता से उसे बिस्तर पर बिठाया. अपने हाथ को उसके कमर पर लगाकर उसके गालों को चूमा. उसकी गर्दन को जैसे ही मेरे होंठों ने छुआ, उसकी सांसें तेज हो गईं. अब मेरे हाथ उसके क्लीवेज पर घूम रहे थे.

उसने मुझे रोकते हुए कहा- मुझे डर लग रहा है.
मैंने कहा- डर लग रहा है, तो मैं हूँ … सारा डर मेरे पर छोड़ दो. तुम्हें यदि लगता है कि हम गलत कर रहे हैं, तो फिर हम कुछ नहीं कहेंगे.

उसके चेहरे पर एक हल्की सी मुस्कुराहट तैर गयी. मेरे सीने पर हाथ रखते हुए उसने अपने होंठों को मेरे होंठों पर रख दिया.

maasoom see paree kee seel todee First Time Chudai ki Story kamvasna story

मैं फिर से उसके होंठों को चूसने लगा और तब तक मेरे दोनों हाथ उसके मांसल चूचियों तक पहुंच गए.

मैंने अब तक बहुत सारी लड़कियों के साथ सेक्स किया है, लेकिन आकृति की चूचियों, जितनी जान किसी में नहीं थी. उसने अपने चेहरे तो पीछे की तरफ झुका लिया. मेरा हाथ उसके पूरे शरीर पर घूम रहा था. मैंने उसका हाथ पकड़ कर उसे खड़ा किया. मैं उसके पीठ को छूते हुए नीचे की ओर जा रहा था.

मेरे हाथ … और उसके कपड़े के बीच एक महीन दीवार थी. थोड़ा और नीचे जा कर मैंने उसके सिंगल पीस को धीरे धीरे निकाल दिया.

अन्दर उसने मैचिंग गुलाबी रंग की ही ब्रा पेंट पहनी हुई थी. जब लड़की आपसे मिलने आने के लिए मैचिंग की ब्रा पैण्टी पहनती है, तो ये संभावना ज्यादा हो जाती है कि वो आज कुछ तूफानी करने के लिए तैयार है.

मैंने उसे अपनी गोद में बिठाया. मैं पलंग पर दोनों पैर नीचे करके बैठा था. वो मेरे एक पैर पर बैठ गयी. वो अपने हाथों से अब भी अपनी ब्रा को छुपा रही थी. मैंने उसके हाथों को अलग किया और उसकी नरम गुलाबी ब्रा के ऊपर से उसके चुचियों को सहला दिया.

वो अपने हाथों से मेरे शर्ट का बटन खोल रही थी. तभी उसके कमर को दोनों हाथ से पकड़ कर उसे दूसरी तरफ बैठा दिया. अब भी वो मेरे गोद में ही बैठी थी, बस अब उसकी पीठ मेरी तरफ थी.

मैंने अपने होंठों से उसकी पीठ को चूमा. उसके बालों को उसके पीठ से हटा कर मैंने ब्रा की स्ट्रिप खोल दी और अपने दोनों हाथों से उसके ब्रा के ऊपर से चुचियों को सहलाते हुए उसके ब्रा को हटा दिया. उसकी तेज और गर्म सांसें मादक आवाज के साथ मेरे लंड को उत्तेजित कर चुकी थी.

मेरे दोनों हाथ उसके लिए ब्रा का काम कर रहे थे. उसके सख्त निप्पल, उसकी मलाई जैसी चुचियों को सख्ती दे रहे थे. मैं उसकी चुचियों को मसल रहा था और वो मेरे गोद में मचल रही थी.

maasoom see paree kee seel todee First Time Chudai ki Story kamvasna story

तभी मेरा हाथ उसकी गीली पैंटी के ऊपर घूमने लगा और बिना कोई ज्यादा देर किए मैंने उसकी पैंटी को भी उसकी जाँघों से अलग कर दिया.

अब मेरा बायां हाथ उसके दोनों वक्ष पर था. वहीं दायां हाथ उसकी बुर को मसल रहा था. मैंने उसे अलग किया और अलग करने के साथ ही अपने आपको भी कपड़ों की बेड़ियों से मुक्त कर दिया.

उसने मेरे लंड को हल्का सा स्पर्श ही किया. जिससे अब मुझे भी लगने लगा था कि मेरा लंड कोई मांस का अंग नहीं, बल्कि पत्थर का ही टुकड़ा है.

वो बिना किसी कपड़े के बिस्तर पर लेटी हुई थी. उसका बदन दूध से भी गोरा चमक रहा था. चेहरे के चमक पर लिपस्टिक बिखर गई थी. अपने हाथ से बिस्तर को पकड़ती हुई वो सकुचाई सी मेरी आँखों में देख रही थी. उसके शरीर पर मेरी पकड़ के अनगिनत निशान बन चुके थे.

मैंने जन्नत की तरफ निगाह की. उसके दो चिकने पैरों के बीच बिल्कुल छोटी सी गुलाबी चूत, जिस पर थोड़े बहुत नर्म बाल ही रहे होंगे, बड़ी कामुक छटा बिखेर रही थी.

मैं उसके पैरों के बीच पहुंच गया और उसकी बुर पर अपने होंठों को टिका दिया. उसकी एक कामुक और मादकता से लबरेज आह निकल गई. उसने घबरा कर अपनी जांघों को समेट लिया और जन्नत का द्वार मेरी पहुँच से दूर करने का बेदम सा प्रयास किया.

मैंने अपने मुँह को उसकी बुर पर जबरन लगा दिया और जीभ से उसकी नर्म फांकों को चाट लिया. इसी बीचे मैंने हाथों से उसकी टांगों को खोल दिया.

maasoom see paree kee seel todee First Time Chudai ki Story kamvasna story

वो बिस्तर पर अपने हाथ पटकती हुई किसी मासूम परी से कम नहीं लग रही थी. मैं अपने हाथों के उंगलियों से उसकी बुर की तंग गलियों में जगह बनाता हुआ आगे बढ़ा जा रहा था. वो मादक आवाजों से सिसकारते हुए मुझे जोश दिलाए जा रही थी.

कमरे में मानो सब खत्म सा हो गया था और उसकी मादक आवाजों के सिवा कुछ भी नहीं रह गया था.

मैंने उसकी बुर से मुख मोड़ा और अपने लंड को ऊपर लाते हुए उसकी दोनों चूचियों के बीच में रख दिया. वो मेरे लंड की सख्ती से अपनी छाती को गर्म महसूस करने लगी. उसी पल मैंने उसकी दोनों चूचियों से अपने लंड को मसला. उसकी भाव भंगिमा से लग रहा था कि वो अब लंड बुर में लेना चाहती थी. मैं भी उसे चोदना चाहता था, लेकिन मेरा मन था कि उसे कम से कम दर्द हो और उसका पहला अनुभव अच्छा हो.

वो कुंवारी थी, ये तो मैं उसकी बुर की चिपकी हुई फांकों को देखते ही समझ गया था. इसलिए उसकी पहली बार चुदाई में मैं विलम्ब कर रहा था.

कुछ देर तक उसका डर खत्म करने के बाद और उसे पूरी तरह से कामुक कर देने के बाद मैंने अपने लंड को उसकी बुर के मुँह पर रखा. मैं लंड को बुर की फांकों में रखने के साथ ही बार बार हटा भी देता था … जिससे उसकी बुर को भी लंड लेने की ललक जाग गई थी और उसकी बुर की फांकें भी खुलती चली गईं.

मेरे लंड ने महसूस कर लिया था कि उसकी कुंवारी बुर की फांकों से पानी भी कुछ ज्यादा आने लगा था … जिससे एक प्राकृतिक चिकनाई ने चुदाई के लिए लंड रास्ते को सुगम बनाने में मदद करना शुरू कर दी थी. तब भी ये चिकनाई शायद मुझे कम लगी. मैंने अपने लंड पर कुछ ज्यादा सा लोशन लगा दिया … जो मैं पहले ही लाकर बिस्तर के पास रख चुका था.

फिर मैंने बहुत तसल्ली से उसके अन्दर अपने लंड को डालने लगा. जब आप पहली बार किसी को चोदते हैं, तो झटका तो पहली बार लगाना ही होता है. मैंने जब देखा कि वो कम्फ़र्टेबल है, मैंने एक झटका जोर से लगा दिया.

इससे उसके मुँह से चीख निकली और दर्द से उसने अपनी कमर को झटक दिया, जिससे लंड अन्दर नहीं जा पाया.

मेरे न चाहते हुए भी उसके अन्दर का डर बाहर निकल गया. मैंने उसे फिर से प्यार किया और बताया कि बस एक बार दर्द होगा. बहुत प्यार करने के बाद किसी तरह वो तैयार हुई. इस बार मैंने अपनी पकड़ मजबूत की … और झटका देने से पहले अपने होंठों को उसके होंठों से जोड़ दिया.

लंड का टोपा जैसे ही फांकों के अन्दर फंसा … अब बारी तेज झटके देने की थी.

maasoom see paree kee seel todee First Time Chudai ki Story kamvasna story

इस वक्त मेरी पकड़ ऐसी हो गई थी कि वो हिल भी न पाए. उसके नाखून मेरे पीठ की गहराई में छप रहे थे.

इस बार मैंने तेज झटका लगाया, तो वो तड़प कर रह गयी … उम्म्ह… अहह… हय… याह… उसने छूटने की कोशिश की, लेकिन मैंने उसे छोड़ा नहीं. उसकी आँसू मेरे गाल पर लग रहे थे. मैंने उसके आंसू पौंछे, गालों को सहलाया और थोड़ी देर बाद थोड़ा जोर देकर उसके अन्दर तक पहुंच गया.

वो आंख बंद कर लंबी सांसों के साथ सिसकारियां ले रही थी.

इधर धीरे धीरे हम चुदाई की गाड़ी को बढ़ाते चले गए. ऐसी लड़की, जब आपको चोदने के लिए मिल जाए, तो आप पहली बार में ज्यादा करिश्मा नहीं कर सकते हैं. मैं तो खुद अपने नियंत्रण में नहीं था. पहली बार मुश्किल से हम 5 मिनट तक सेक्स कर पाए. बिस्तर में कुछ खून के छींटे लगे थे और मेरा लंड तो लाल हो ही चुका था.

एक बार के सेक्स के बाद उसके अन्दर हिम्मत ही नहीं बची थी कि हम दोनों दूसरी बार चुदाई का मजा ले सकें. वैसे भी अब तक ढाई बज चुके थे. हम दोनों एक दूसरे की बांहों में यूं ही नंगे लिपट कर सो गए.

सुबह पांच बजे हम दोनों की नींद खुली. उस समय हम दोनों ने एक बार और सेक्स किया, जिसमें उसे 3 बार परमानंद की प्राप्ति हुई.

फिर मैं उसे साथ लेकर बाथरूम में गया और उसे शावर के नीचे खड़ा करके अच्छे से नहलाया और बाहर आकर जाने के लिए तैयार होने लगे.

अब हम एक नए अनुभव, आनन्द और शरीर के अंदरूनी हिस्सों पर प्यार के कई निशानों के साथ घर लौट आए.

यह हमारे लंबे प्यार की शुरूआत थी. इस प्रेम यात्रा में हम दोनों ने एक दूसरे को कई बार तृप्त किया और इस प्यार का परिणाम एक जोड़े के रूप में बन जाना अभी प्रतीक्षित है. आपको मेरी ये प्रेम से भरी सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज़ अपने मेल भेजिएया. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं. और सेक्स विडियो और new कहानी पढने के लिये telegram ग्रुप join कर सकते है. राहुल सिंह
[email protected]

maasoom see paree kee seel todee First Time Chudai ki Story kamvasna story

Read in English

maasoom see paree kee seel todee First Time Chudai ki Story kamvasna story

First Time Chudai ki Story kamvasna story: mujhe ophis ke baahar achaanak ek aisee ladakee dikh gayee, jise dekhane ke baad sab kuchh jaise ruk sa gaya. us maasoom see paree ko paane ke lie main bechain ho gaya. vo mujhe milee kya?

ishq vaasana ko ek naya rang deta hai.
ishk ke saaye mein vaasana se bharee nigaahen bhee khoobasoorat ho jaatee hain.
ek ek sparsh pyaar kee mithaas se bhar jaatee hai.
ishq aur vaasana mein sahamati aur asahamati ka farq hai First Time Chudai ki Story kamvasna story.

dosto, mera naam raahul hai, meree umr 28 saal kee hai aur ye daastaan hain ek mohabbat kee … jisamen vaasana to hai, lekin pyaar mein lipata hua rang hai.

ye baat aaj se kuchh 6 maheene pahale kee hai. mujhe achaanak se apane ophis ke baahar ek aisee ladakee dikh gayee, jise dekhane ke baad sab kuchh ruk sa gaya. mere haath mein lagee huee sigaret gir gayee, isaka ahasaas mujhe tab hua, jab main sigaret peene ke lie apane khaalee haath ko utha raha tha First Time Chudai ki Story kamvasna story.

achaanak thodee der mein vo ladakee kaheen gaayab ho gayee aur main bechain ho utha. main aise udaas ho gaya, jaise mera kuchh apana kho gaya ho. vo to aankhon ojhal ho gaee thee, lekin main usakee yaad mein thaga sa khada tha. mera poora din usakee yaad mein hee gujara, jaise ab mera kuchh apana raha hai na ho First Time Chudai ki Story kamvasna story.

ye to sach hai ki vaqt sabaka badalata hai, lekin itanee jaldee vaqt badal jaega … isaka mujhe bilkul bhee andaaja nahin tha. isee oohaapoh mein neend bhee badee mushkil mein aaee aur nateeja ye hua ki main agale din ophis deree se pahunch saka First Time Chudai ki Story kamvasna story.

ophis pahunchate hee mera dilon-dimaag ek naee sphoorti se bhar gaya. vo ladakee mere daphtar ke baahar baithee thee. daphtar mein baithate hee chaparaasee ne bataaya ki sar ye ladakee aapakee sekretaree ke lie chunee gaee hai, aap isaka phainal intaravyoo le leejie First Time Chudai ki Story kamvasna story.

mere munh se chaparaasee ke lie thainkyoo nikala. kal tak to mainne bas usakee aankhon ko hee dekha tha, aaj to badan kee taraash ko dekhate hee main paagal sa ho gaya First Time Chudai ki Story kamvasna story.

bilkul slim … koee 20 saal kee ekadam naajuk see ladakee, ek baar chhoo lo to nishaan pad jaen. usakee choochiyaan koee 32 inch kee aur nitamb baahar nikale hue the. ghutane ko chhoone kee naakaamayaab koshish karatee, usakee skart usakee goree jaangh par lahar paida kar rahee thee First Time Chudai ki Story kamvasna story.

mainne usaka phormal intaravyoo liya aur naam kaam jaanane ke baad bhee, use kaam sikhaane kee baat bol kar mainne use apanee sekretaree kee post de dee. usaka naam aakrti tha First Time Chudai ki Story kamvasna story.

yahaan se dheere dheere hamaaree dostee huee. ye dostee dheere dheere kophee haus, to kabhee kisee restorent mein hamen le jaatee rahee.

kaee maukon par mujhe aisa laga ki shaayad aakrti bhee mujhase aakarshit hone lagee hai. kabhee kabhee ham kuchh majaak bhee kar liya karate the, jo thode ashleel bhee hote the First Time Chudai ki Story kamvasna story.

phir 31 disambar kee raat hamaare lie nirnaayak raat hone vaalee thee. hamane tay kiya tha ki ham naya saal ka svaagat saath mein karenge First Time Chudai ki Story kamvasna story.

mainne dillee ke ek panchasitaara hotal mein paartee kee buking kar lee aur alag se ek kamare ko bhee chupake se buk kara liya ki shaayad kaee dinon ka aramaan poora hone ka mauka mil jae First Time Chudai ki Story kamvasna story.

shaam ko 7 baje ham tay jagah par pahunch gae. aaj usane pahalee baar paartee dres pahanee thee. gulaabee rang kee singal pees kee is dres mein usake nukeele mamme dhanke to the, lekin usakee goree kleevej saaph dikh rahee thee. peechhe khulee huee chikanee bedaag peeth thee. kapade kee lambaee mahaj itanee ki jaise bas chaddee ko bahut mushkil se chhupa rahee ho First Time Chudai ki Story kamvasna story.

aaj milate hee mainne sabase pahale use ek halka sa hag kiya, vo bhee jaise mujhamen sama gaee.
mainne usee avastha mein usake kaan mein kaha- thand nahin lag rahee hai tumhen?
usane kaha ki usake lie to aap jo na First Time Chudai ki Story kamvasna story.

bas isee mahaavaaky ke saath ham donon kee jakad thodee aur majaboot ho gayee. ham donon ne paartee selibreshan mein thodee sharaab ko pee piya. aakrti peetee nahin thee, lekin mere kahane par usane do paig vodaka ke jaroor pee lie First Time Chudai ki Story kamvasna story.

phir hamane daans kiya. daans kya tha, bas yoon samajho ki ham donon ek doosare ke baanhon mein jhoomate hee rahe. usakee samarpan kee mudra bata rahee thee ki vo mere oopar apana sab kuchh luta dena chaah rahee thee First Time Chudai ki Story kamvasna story.

phir 12 baje ke selibreshan ke baad jab ham phir se ek doosare ke baanhon mein khoe hue the, mainne usake kaan mein kaha- aakrti, aaee lav yoo.
vo buree tarah se sharama gayee First Time Chudai ki Story kamvasna story.

lekin javaab mein bas usane apane honthon ko mere gaal par rakh diya. mainne usake haath pakade aur bheed se alag le jaate hue us kamare tak aa pahuncha.

ham andar aae … daravaaje to ab band ho gae the. bheed aur deeje kee aavaaj ab shaanti mein badal chukee thee … lekin hamaaree aankhen ab aapas mein baat kar rahee theen. shaayad ham is mukaam tak pahale bhee aa sakate the, lekin mera pyaar kisee prakaar kee jaldabaajee aur maukaaparastee se door rahana chaahata tha First Time Chudai ki Story kamvasna story.

do minat tak ek doosare kee aankhon ko padhane ke baad ham donon ne ek saath smooch karana shuroo kiya. mera seena usake vaksh se chipak hua tha. mere haath usake gaal, usake baal se hote hue usakee khulee peeth tak pahunch raha tha First Time Chudai ki Story kamvasna story.

sharaab ne usakee jhijhak ko to door kar diya tha, lekin gore chehare par sharm ke laal rang jaroor dikh rahe the.

ham alag hue, mainne pyaar se usake gaal ko chhoote hue usake kandhe par haath rakha aur phir usake baalon ko khol diya. vo phir se meree baanhon mein jhool gaee.
mainne use donon haathon se uthaaya aur dheemee chaal se use mahasoos karate hue bed tak aa pahuncha First Time Chudai ki Story kamvasna story.

aaj pahalee baar vo kisee purush ke saath ek kamare aur ek bistar ko saajha kar rahee thee aur ek ek sparsh kee abhivyakti usaka chehara kar raha tha.

mainne aahista se use bistar par bithaaya. apane haath ko usake kamar par lagaakar usake gaalon ko chooma. usakee gardan ko jaise hee mere honthon ne chhua, usakee saansen tej ho gaeen. ab mere haath usake kleevej par ghoom rahe the First Time Chudai ki Story kamvasna story.

usane mujhe rokate hue kaha- mujhe dar lag raha hai.
mainne kaha- dar lag raha hai, to main hoon … saara dar mere par chhod do. tumhen yadi lagata hai ki ham galat kar rahe hain, to phir ham kuchh nahin kahenge First Time Chudai ki Story kamvasna story.

usake chehare par ek halkee see muskuraahat tair gayee. mere seene par haath rakhate hue usane apane honthon ko mere honthon par rakh diya.

main phir se usake honthon ko choosane laga aur tab tak mere donon haath usake maansal choochiyon tak pahunch gae First Time Chudai ki Story kamvasna story.

mainne ab tak bahut saaree ladakiyon ke saath seks kiya hai, lekin aakrti kee choochiyon, jitanee jaan kisee mein nahin thee. usane apane chehare to peechhe kee taraph jhuka liya. mera haath usake poore shareer par ghoom raha tha. mainne usaka haath pakad kar use khada kiya. main usake peeth ko chhoote hue neeche kee or ja raha tha First Time Chudai ki Story kamvasna story.

mere haath … aur usake kapade ke beech ek maheen deevaar thee. thoda aur neeche ja kar mainne usake singal pees ko dheere dheere nikaal diya.

andar usane maiching gulaabee rang kee hee bra pent pahanee huee thee. jab ladakee aapase milane aane ke lie maiching kee bra paintee pahanatee hai, to ye sambhaavana jyaada ho jaatee hai ki vo aaj kuchh toophaanee karane ke lie taiyaar hai First Time Chudai ki Story kamvasna story.

mainne use apanee god mein bithaaya. main palang par donon pair neeche karake baitha tha. vo mere ek pair par baith gayee. vo apane haathon se ab bhee apanee bra ko chhupa rahee thee. mainne usake haathon ko alag kiya aur usakee naram gulaabee bra ke oopar se usake chuchiyon ko sahala diya First Time Chudai ki Story kamvasna story.

vo apane haathon se mere shart ka batan khol rahee thee. tabhee usake kamar ko donon haath se pakad kar use doosaree taraph baitha diya. ab bhee vo mere god mein hee baithee thee, bas ab usakee peeth meree taraph thee.

mainne apane honthon se usakee peeth ko chooma. usake baalon ko usake peeth se hata kar mainne bra kee strip khol dee aur apane donon haathon se usake bra ke oopar se chuchiyon ko sahalaate hue usake bra ko hata diya. usakee tej aur garm saansen maadak aavaaj ke saath mere land ko uttejit kar chukee thee First Time Chudai ki Story kamvasna story.

mere donon haath usake lie bra ka kaam kar rahe the. usake sakht nippal, usakee malaee jaisee chuchiyon ko sakhtee de rahe the. main usakee chuchiyon ko masal raha tha aur vo mere god mein machal rahee thee.

tabhee mera haath usakee geelee paintee ke oopar ghoomane laga aur bina koee jyaada der kie mainne usakee paintee ko bhee usakee jaanghon se alag kar diya First Time Chudai ki Story kamvasna story.

ab mera baayaan haath usake donon vaksh par tha. vaheen daayaan haath usakee bur ko masal raha tha. mainne use alag kiya aur alag karane ke saath hee apane aapako bhee kapadon kee bediyon se mukt kar diya.

usane mere land ko halka sa sparsh hee kiya. jisase ab mujhe bhee lagane laga tha ki mera land koee maans ka ang nahin, balki patthar ka hee tukada hai First Time Chudai ki Story kamvasna story.

vo bina kisee kapade ke bistar par letee huee thee. usaka badan doodh se bhee gora chamak raha tha. chehare ke chamak par lipastik bikhar gaee thee. apane haath se bistar ko pakadatee huee vo sakuchaee see meree aankhon mein dekh rahee thee. usake shareer par meree pakad ke anaginat nishaan ban chuke the First Time Chudai ki Story kamvasna story.

mainne jannat kee taraph nigaah kee. usake do chikane pairon ke beech bilkul chhotee see gulaabee choot, jis par thode bahut narm baal hee rahe honge, badee kaamuk chhata bikher rahee thee.

main usake pairon ke beech pahunch gaya aur usakee bur par apane honthon ko tika diya. usakee ek kaamuk aur maadakata se labarej aah nikal gaee. usane ghabara kar apanee jaanghon ko samet liya aur jannat ka dvaar meree pahunch se door karane ka bedam sa prayaas kiya First Time Chudai ki Story kamvasna story.

mainne apane munh ko usakee bur par jabaran laga diya aur jeebh se usakee narm phaankon ko chaat liya. isee beeche mainne haathon se usakee taangon ko khol diya.

vo bistar par apane haath patakatee huee kisee maasoom paree se kam nahin lag rahee thee. main apane haathon ke ungaliyon se usakee bur kee tang galiyon mein jagah banaata hua aage badha ja raha tha. vo maadak aavaajon se sisakaarate hue mujhe josh dilae ja rahee thee First Time Chudai ki Story kamvasna story.

kamare mein maano sab khatm sa ho gaya tha aur usakee maadak aavaajon ke siva kuchh bhee nahin rah gaya tha.

mainne usakee bur se mukh moda aur apane land ko oopar laate hue usakee donon choochiyon ke beech mein rakh diya. vo mere land kee sakhtee se apanee chhaatee ko garm mahasoos karane lagee. usee pal mainne usakee donon choochiyon se apane land ko masala First Time Chudai ki Story kamvasna story.

usakee bhaav bhangima se lag raha tha ki vo ab land bur mein lena chaahatee thee. main bhee use chodana chaahata tha, lekin mera man tha ki use kam se kam dard ho aur usaka pahala anubhav achchha ho.

vo kunvaaree thee, ye to main usakee bur kee chipakee huee phaankon ko dekhate hee samajh gaya tha. isalie usakee pahalee baar chudaee mein main vilamb kar raha tha First Time Chudai ki Story kamvasna story.

kuchh der tak usaka dar khatm karane ke baad aur use pooree tarah se kaamuk kar dene ke baad mainne apane land ko usakee bur ke munh par rakha. main land ko bur kee phaankon mein rakhane ke saath hee baar baar hata bhee deta tha … jisase usakee bur ko bhee land lene kee lalak jaag gaee thee aur usakee bur kee phaanken bhee khulatee chalee gaeen First Time Chudai ki Story kamvasna story.

mere land ne mahasoos kar liya tha ki usakee kunvaaree bur kee phaankon se paanee bhee kuchh jyaada aane laga tha … jisase ek praakrtik chikanaee ne chudaee ke lie land raaste ko sugam banaane mein madad karana shuroo kar dee thee. tab bhee ye chikanaee shaayad mujhe kam lagee. mainne apane land par kuchh jyaada sa loshan laga diya … jo main pahale hee laakar bistar ke paas rakh chuka tha First Time Chudai ki Story kamvasna story.

phir mainne bahut tasallee se usake andar apane land ko daalane laga. jab aap pahalee baar kisee ko chodate hain, to jhataka to pahalee baar lagaana hee hota hai. mainne jab dekha ki vo kamfartebal hai, mainne ek jhataka jor se laga diya First Time Chudai ki Story kamvasna story.

isase usake munh se cheekh nikalee aur dard se usane apanee kamar ko jhatak diya, jisase land andar nahin ja paaya.

mere na chaahate hue bhee usake andar ka dar baahar nikal gaya. mainne use phir se pyaar kiya aur bataaya ki bas ek baar dard hoga. bahut pyaar karane ke baad kisee tarah vo taiyaar huee. is baar mainne apanee pakad majaboot kee … aur jhataka dene se pahale apane honthon ko usake honthon se jod diya First Time Chudai ki Story kamvasna story.

land ka topa jaise hee phaankon ke andar phansa … ab baaree tej jhatake dene kee thee.

is vakt meree pakad aisee ho gaee thee ki vo hil bhee na pae. usake naakhoon mere peeth kee gaharaee mein chhap rahe the.

is baar mainne tej jhataka lagaaya, to vo tadap kar rah gayee … ummh… ahah… hay… yaah… usane chhootane kee koshish kee, lekin mainne use chhoda nahin. usakee aansoo mere gaal par lag rahe the. mainne usake aansoo paunchhe, gaalon ko sahalaaya aur thodee der baad thoda jor dekar usake andar tak pahunch gaya First Time Chudai ki Story kamvasna story.

vo aankh band kar lambee saanson ke saath sisakaariyaan le rahee thee.

idhar dheere dheere ham chudaee kee gaadee ko badhaate chale gae. aisee ladakee, jab aapako chodane ke lie mil jae, to aap pahalee baar mein jyaada karishma nahin kar sakate hain. main to khud apane niyantran mein nahin tha. pahalee baar mushkil se ham 5 minat tak seks kar pae. bistar mein kuchh khoon ke chheente lage the aur mera land to laal ho hee chuka tha First Time Chudai ki Story kamvasna story.

ek baar ke seks ke baad usake andar himmat hee nahin bachee thee ki ham donon doosaree baar chudaee ka maja le saken. vaise bhee ab tak dhaee baj chuke the. ham donon ek doosare kee baanhon mein yoon hee nange lipat kar so gae First Time Chudai ki Story kamvasna story.

subah paanch baje ham donon kee neend khulee. us samay ham donon ne ek baar aur seks kiya, jisamen use 3 baar paramaanand kee praapti huee.

phir main use saath lekar baatharoom mein gaya aur use shaavar ke neeche khada karake achchhe se nahalaaya aur baahar aakar jaane ke lie taiyaar hone lage.

ab ham ek nae anubhav, aanand aur shareer ke andaroonee hisson par pyaar ke kaee nishaanon ke saath ghar laut aae First Time Chudai ki Story kamvasna story.

yah hamaare lambe pyaar kee shurooaat thee. is prem yaatra mein ham donon ne ek doosare ko kaee baar trpt kiya aur is pyaar ka parinaam ek jode ke roop mein ban jaana abhee prateekshit hai. aapako meree ye prem se bharee seks kahaanee kaisee lagee, pleez apane mel bhejieya. isake alaava aap kahaanee par neeche kament karake bhee apanee raay de sakate hain. aur seks vidiyo aur naiw kahaanee padhane ke liye tailaigram grup join kar sakate hai. raahul sinh
[email protected]

Read more sex stories-

Firt time sex 1 हॉस्टल गर्ल की चूत की सील तोड़ी free sex

Sister Hindi xxx मेरी बहन की कुंवारी चूत की चुदाई 1 best sex

Seaxy story अपनी क्लास की 1 लड़की की सील तोड़ी best sex

Leave a Comment