Seaxy story अपनी क्लास की 1 लड़की की सील तोड़ी best sex

अपनी क्लास की लड़की की सील तोड़ी Seaxy story

Seaxy story: मेरी एक क्लासमेट कयामत थी. उसकी जवानी ने कहर बरपाया हुआ था. उसकी जवानी का नशा मुझ पर ऐसा चढ़ा कि मैं उसे अपना बना लेना चाहता था. वो मेरी कैसे बनी?

मैं राम सोनी, जोधपुर का निवासी हूँ. मेरी उम्र 23 साल है. मेरा लंड छह इंच लंबा और दो इंच मोटा है. मैंने इसी साल अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की है और अब सिविल सेवा की परीक्षा की तैयारी कर रहा हूँ.

ये गर्म सेक्स कहानी मेरी और मेरी पुरानी गर्लफ्रेंड के बारे में है, जिसकी अब शादी हो चुकी है. ये बात कुछ साल पुरानी है. तब मेरी उम्र उन्नीस साल की थी.

उस समय मेरी दोस्ती मेरी क्लास की लड़की रेशमा (नाम बदला हुआ) से हुई. वो देखने में किसी कयामत से कम नहीं थी. वो मुझसे एक महीना छोटी थी. उसकी जवानी ने उस पर कहर बरपाया हुआ था. उसकी जवानी का नशा मुझ पर ऐसा चढ़ा था कि मैं बस उसे देख कर ही सब कुछ भूल जाता था. उसकी झील सी गहरी आंखें मुझे न जाने किस दुनिया में ले जाती थीं. वो मेरे सामने से जब भी निकलती, बस मेरा सब कुछ रुक सा जाता था.

मैं अपनी क्लास का सबसे होनहार छात्र था और सभी साथ के लड़के लड़कियां मुझसे दोस्ती करने के लिए लालयित रहते थे. मगर रेशमा की बात कुछ अलग थी. वो मुझे घास ही नहीं डाल रही थी. वो अलग सेक्शन में थी, शायद उसे मेरे बारे में ज्यादा पता नहीं था.

इसी लिए मुझे उसे पटाने में थोड़ी दिक्कत आ रही थी. मैंने भी सोच लिया था कि ये जब अपने आप मेरे पास आएगी, तब ही इससे दोस्ती करूंगा.

कुछ समय बाद हमारे कॉलेज में एक प्रतियोगिता हुई. उसमें हमारी क्लास के दोनों सेक्शन को मिला कर ग्रुप्स बनाए गए. ये मेरा नसीब था कि रेशमा मेरे साथ हो गई. मैं उसका साथ पाकर बहुत खुश था.

मेरी उससे बात हुई. प्रतियोगिता का जो टॉपिक मिला था, वो कुछ कठिन था. हालांकि मुझे उस टॉपिक पर काम करने में जरा भी दिक्कत नहीं थी. मगर रेशमा की हवा निकली हुई थी.

वो मुझसे बोली- तुमको इस टॉपिक पर कुछ आता भी है?
मैंने ना में सर हिला दिया.
वो मुँह बनाते हुए बड़बड़ाने लगी कि न जाने किसके साथ मुझे जुड़ना पड़ रहा है.
मैं मन ही मन उसकी बेबसी पर मुस्कुरा रहा था.

प्रतियोगिता शुरू होने वाली थी और अब किसी भी तरह से कोई चेंज नहीं हो सकता था.

मैंने अपने दोस्तों की तरफ देखा, तो वो सब मुझे देख कर आश्वस्त थे कि मैं ही उस प्रतियोगिता को जीतूंगा.

जैसे ही घंटी बजी और टॉपिक हल करने का समय शुरू हुआ तो मैंने रेशमा की तरफ देखा और कहा- हां बताओ … कैसे करना है?
वो मुझे देखते हुए कहने लगी- मुझे इस टॉपिक पर कुछ नहीं आता है.

मैं मुस्कुरा दिया और कुछ ही समय में टॉपिक को हल करके अपनी टेक्स्ट बुक जमा करने के लिए उठ खड़ा हुआ.
रेशमा को अभी भी उम्मीद नहीं थी कि मैंने हल कर लिया है. वो अभी भी भुनभना रही थी.

इस प्रतियोगिता का परिणाम आज ही घोषित होना था और उसमें विजेता टीम को शील्ड मिलनी थी.

परिणाम घोषित होने तक हम सबको अपने अपने साथ के साथ बैठना था. हम दोनों एक साथ बैठे थे. मैं उससे कुछ भी नहीं बोल रहा था.

अब ये हुआ कि कॉपी जमा करने के बाद मेरे सारे दोस्त मेरे करीब आ गए और मुझे कहने लगे कि आज इस प्रतियोगिता को सिर्फ तू ही जीत सकता है.

ये सुनकर रेशमा मेरी तरफ हैरानी से देखने लगी. उसे भरोसा नहीं हो रहा था कि मैं शील्ड जीत सकता हूँ.

खैर … नतीजा आया और मुझे मंच पर शील्ड लेने के लिए बुलाया गया.
मैंने रेशमा को आगे कर दिया- तुम जाओ.

वो झिझकने लगी और बोली- नहीं ये तुम्हारा हक है … तुम जाओ.
मेरे मुँह से निकल गया कि अब ये मेरा तुम्हारा कुछ नहीं है … ये हमारा है.

उसने मेरी तरफ देखा और मैंने उसे एक आंख मार दी. वो शर्मा गई और मंच पर जाकर शील्ड ले ली … हालांकि मैं भी साथ गया था … मगर शील्ड मैंने उसे ही लेने दी.

इस घटना से वो मुझ पर समझो मर मिटी थी.

उसने बाद में मुझसे कॉफ़ी पीने चलने के लिए कहा. तो मैंने हंस कर हां कर दी.

हम दोनों कैफे में बैठ कर बात करने लगे. मैंने उधर उसकी तारीफ़ करनी शुरू कर दी कि तुम बेहद खूबसूरत हो और मुझे तुम्हें ही देखते रहने का दिल करता है.
इससे वो शर्मा गई.
एक तरह से ये मेरी तरफ से उसे प्रपोज करना था.

उसने मेरी तरफ देख कर आंखों में आंखें डालीं, तो मैंने फिर से आंख दबा दी.
उसने कहा- तुम्हारी आंख बहुत बदतमीज है … इसे सम्भाल कर रखना.
मैंने उसकी आंखों में आंखें डालते हुए पूछा- क्यों सम्भालना है?

वो बोली- अब इनको किसी और की तरफ देख कर नहीं दबना चाहिए.
मैंने पूछा- क्यों?
उसने मुस्कुरा कर मुझे आंख मार दी और बोली- अब ये आंखें मेरी हो गई हैं.

बस रेशमा मुझसे पट गई थी. हमारी दोस्ती की शुरुआत हो गई थी. मैंने उसके हाथ को अपने हाथ में लिया और चूम लिया. वो शर्म से लाल हो गई.

मैंने उससे ‘आई लव यू..’ कह दिया. उसने भी आई लव यू टू..’ बोल दिया.

हम दोनों उधर से निकल कर अपने अपने घर चले गए. अब हमारी फोन पर बातें शुरू हो गईं. पहले तो हम दोनों सामान्य प्यार मुहब्बत की बातें करते थे, फिर धीरे धीरे हम आपस में खुलने लगे और सेक्स की बातें करने लगे … और फोन सेक्स करने लगे.

ऐसे बातें करते करते एक महीना कब बीत गया, पता ही नहीं चला. जब भी वो मेरे साथ होती, तो हम दोनों एक दूसरे के शरीर से छेड़छाड़ करने लगे थे. मैं उसकी पप्पी ले लेता था. वो मुझे चूम लेती थी. हम दोनों की वासना बढ़ती जा रही थी.

मैंने उससे एक दिन कहा- मेरा मन अकेले में मिलने का है.
वो बोली- मन तो मेरा भी है, मगर किधर मिलूं?

मैं भी बेबस था.

फिर एक दिन रात को उसका फ़ोन आया … तो उसने मुझे बताया कि उसके मम्मी पापा कल किसी काम से शहर से बाहर जा रहे हैं … तो तुम सुबह नौ बजे मेरे घर पर आ जाना.

उसके बाद हम दोनों अगली सुबह का इंतजार करने लगे और रात भर हम फ़ोन पर बात करते करते मुश्किल से रात का समय काट पाए.

आख़िरकार वो दिन आ ही गया, जिसका हम दोनों को बेसब्री से इंतजार था. मैं सुबह जल्दी उठ कर उसके घर जाने के लिए तैयार हो गया और नौ बजे मैंने उसे फोन किया कि वो दरवाजा खोल कर रखे.

मैं जैसे ही उसके घर पहुंचा, तो वो दरवाजे पर ही मेरा इंतजार कर रही थी. जैसे ही मैंने उसे देखा, तो उसे देखता ही रह गया. उस दिन उसने लाल कलर का सलवार-कुर्ता पहना हुआ था. उसके घर पर उसके अलावा उसकी छोटी बहन थी, जो दूसरे कमरे में बैठी थी.

हम दोनों उसके कमरे में गए और अन्दर से दरवाजा बंद करते ही वो मुझसे चिपक गयी और ज़ोर ज़ोर किस करने लगी. उसके होंठों के स्पर्श से मेरा लंड सलामी देने लगा और उसकी गर्म गर्म सांसें मुझे महसूस होने लगीं. मैं उसे किस करते करते उसके कुर्ते में हाथ डाल के ब्रा कर ऊपर से ही उसके मम्मों को दबाने लगा, जिससे वो हल्की हल्की सिसकारियां लेने लगी.

अपनी क्लास की लड़की की सील तोड़ी Seaxy story

फिर मैंने उसे अपनी गोद में उठाया और पलंग पर ले जाकर लिटा दिया. उसने मुझे अपने ऊपर खींच लिया और किस करने लगी. मैं भी उसका साथ देने लगा. धीरे धीरे मेरा हाथ उसकी उसकी कुर्ती के अन्दर चला गया और कुछ देर तक उसके मम्मों को दबाने के बाद मैंने उसकी कुर्ती और ब्रा दोनों को उतार फैंका. फिर मैं उसके मम्मों दबाते हुए उसे गर्दन और कान के पीछे किस करने करने लगा, जिससे वह सिसकारियाँ भरने लगी. क्योंकि गर्दन और कान पर किस करने से लड़कियां जल्दी और ज़्यादा उत्तेज़ित हो जाती हैं.

अब तक मेरा एक हाथ उसके सलवार को खोलते हुए उसकी चूत पर जा पहुंचा. उसकी चूत गीली हो चुकी थी. मैंने चुत को टटोला और उसकी सलवार को उसके शरीर से अलग कर दिया. अब वो केवल पैंटी में थी. इसके बाद उसने मेरे सारे कपड़े उतार दिए और मेरे लंड को चूसने लगी.

अपनी क्लास की लड़की की सील तोड़ी Seaxy story

ये मेरा पहला अनुभव था, तो मैं 4-5 मिनट में ही उसके मुँह में झड़ गया, जिससे उसको उबकी सी आग यी. फिर भी उसने सारा वीर्य पी लिया.

फिर मैंने उसकी पैंटी उतार दी और उसकी चूत सहलाने लगा. उसकी चूत पर हल्के हल्के मुलायम रेशमी से बाल थे. उसको चित्त लिटा कर मैंने उसकी टांगें खोलीं और चुत की फांकों पर जीभ फिर दी. उसकी गांड उचक गई और वो एकदम से सिहर उठी. मैंने उसकी टांगों को पकड़े रखा और उसकी चुत के अन्दर अपनी जीभ से चोदना शुरू कर दिया. एक मिनट से भी कम समय में वो मेरे सिर को पकड़ कर अपनी चूत पर दबाने लगी. उसका शरीर एकदम से अकड़कर कड़ा हो गया और वो कुछ ही पलों में झड़ गयी.

इसके बाद उसने मुझे अपने ऊपर खींच लिया और किस करना शुरू कर दिया. मैंने भी उसका साथ दिया और कुछ देर बाद उसके पेट और नाभि को सहलाते हुए किस करने लगा, जिससे वो वापिस उत्तेज़ित होने लगी.

वो कहने लगी- तुमको जो भी करना है … जल्दी से कर दो … मुझसे अब नहीं रहा जा रहा है.

मैंने अपनी पेंट की जेब से कंडोम निकाल कर उसे दिया और लंड पर चढ़ाने के लिए कहा. वो मेरे लंड पर कंडोम पहनाने लगी.

कंडोम पहनने के बाद मैंने लंड को उसकी चूत पर सैट किया और तेज धक्का दे मारा. पहली बार में लंड चुत से फिसल गया. इसके बाद उसने लंड पकड़ कर अपनी चुत पर सैट किया

अपनी क्लास की लड़की की सील तोड़ी Seaxy story

और मुझे पेलने का इशारा करके खुद नीचे से दबाव देने लगी. इससे मेरा लंड उसकी चुत में जाने लगा. लंड का सुपारा चुत की फांकों में घुस चुका था.

फिर मैंने ज़ोर से एक शॉट मारा, तो मेरा लंड उसकी चुत को चीरता हुआ अन्दर घुस गया. इससे वो दर्द से कांपने लगी और मेरी पकड़ से छूटने की कोशिश करने लगी. मैंने रुकते हुए उसे किस करना शुरू कर दिया और उसके दूध दबाना चालू कर दिया.

कुछ समय बाद वो खुद ही नीचे से गांड हिलाते हुए लंड को चूत में लेने लगी. अब मैं भी उसकी चूत में धीरे धीरे धक्के मारने लगा. वो मेरा नीचे से गांड हिलाकर साथ देने लगी. धीरे धीरे मैंने रफ़्तार बढ़ा दी और उसे स्पीड से चोदने लगा.

कुछ देर वो अकड़ने लगी और अपने नाख़ून मेरी पीठ में गाड़ने लगी. वो झड़ने की कगार पर थी. ये समझ कर मैंने अपनी स्पीड और बढ़ा दी और उसी के साथ उसकी चुत में झड़ गया.

जब मेरा लंड मेरी गर्लफ्रेंड की चूत से बाहर निकला तो उस पर खून लगा हुआ था. खून देख कर वो मेरी ओर देख कर मुस्कुरायी और फिर उसने मेरा वीर्य से भरा हुआ कंडोम निकाल कर बाहर फेंका और थोड़ी देर किस करने बाद हमने कपड़े पहन लिए. गर्लफ्रेंड की चुदाई के बाद मैं अपने घर के लिए निकल गया.

इसके बाद हमें जब भी मौका मिलता, हम खूब चुदाई करते. इस गर्म सेक्स कहानी के बाद मैं अगली बार लिखूंगा कि कैसे मैंने मेरी बुआ को चोदा और उनकी गांड भी मारी.

दोस्तो, यह थी मेरी और मेरी गर्लफ्रेंड की पहली चुदाई … आपको कैसी लगी मेरी गर्म कहानी? प्लीज़ मेल करें. और सेक्स विडियो और new कहानी पढने के लिये telegram ग्रुप join कर सकते है.
[email protected]

अपनी क्लास की लड़की की सील तोड़ी Seaxy story

Read in English

Class ki ek ladki ke chut ke seal todi Seaxy story

Seaxy story: I had a classmate doom. His youth wreaked havoc. The intoxication of his youth hit me so much that I wanted to make him my own. How did she become mine?

I am a resident of Ram Soni, Jodhpur. I am 23 years old My cock is six inches long and two inches thick. I have completed my engineering studies this year and am now preparing for the Civil Services Examination like Seaxy story.

This hot sex story is about me and my old girlfriend, who is now married. This thing is a few years old. Then I was nineteen years old.

At that time, I befriended my class girl Reshma (name changed). She was no less than a doom. She was one month younger than me. His youth wreaked havoc on him. The intoxication of his youth was such that I would forget everything just by looking at him. His deep eyes like lake took me to which world. Whenever she came out in front of me, all my things used to stop then Seaxy story.

I was the most promising student of my class and all the boys and boys used to be very keen to befriend me. But Reshma was somewhat different. She was not giving me grass only. She was in a different section, perhaps she did not know much about me and make Seaxy story.

That is why I was having some difficulty in beating him. I also thought that when it comes to me on its own, I will be friends with it only.

After some time there was a competition in our college. In this, groups were formed by combining both sections of our class. It was my luck that Reshma was with me. I was very happy to be with him and got Seaxy story.

I talked to him. The topic of the competition, which was found, was somewhat difficult. Although I had no problem working on that topic. But Reshma’s air was out.

She said to me – do you know anything on this topic?
I nodded my he’s and enjoy Seaxy story.
She started murmuring, not knowing with whom I have to connect.
I was smiling at his helplessness.

The competition was about to begin and there could be no change in any way.

When I looked at my friends, they were all confident in seeing me that I will win that competition the Seaxy story.

As soon as the time for the bell rang and the topic started, I looked at Reshma and said – yes tell me… how to do it?
She started looking at me and said – I do not know anything about this topic.

I smiled and in no time solved the topic and got up to submit my text book.
Reshma still did not expect that I have solved it. She was still buzzing then Seaxy story.

The result of this competition was to be announced today and the winning team had to get the shield in it.

We all had to sit with ourselves till the result was declared. We were both sitting together. I was not saying anything to him.

Now it happened that after submitting the copy, all my friends came close to me and started telling me that today only you can win this competition for Seaxy story.

Reshma began to look at me with surprise. He could not believe that I could win the shield.

Well… the result came and I was called to take the shield on stage.
I put Reshma forward – you go.

She started hesitating and said- No, this is your right… you go on Seaxy story.
It came out of my mouth that now it is nothing of mine… it is ours.

He looked at me and I shot him an eye. She went to Sharma and went to the stage and took the shield… Although I also went along… but I allowed her to take the shield the Seaxy story.

Understand that I was dead on this incident.

He later asked me to go for coffee. So I laughed and said yes.

We both sat talking in the cafe. On the other hand, I started praising her that you are very beautiful and it makes me want to keep looking at you for Seaxy story.
This made her shy.
In a way, it was to propose it from my side.

He looked at me and threw eyes in his eyes, so I pressed his eyes again.
He said – your eye is very insolent… take care of it on Seaxy story.
Putting eyes in her eyes, I asked – why to take care?

She said – now they should not be suppressed by looking at someone else.
I asked – why?
He smiled and beat me and said – now these eyes have become mine.

Reshma just got caught up with me. Our friendship started. I took her hand in mine and kissed. She turned red with shame like Seaxy story.

I told him ‘I love you ..’ He also said I love you to ..

We both went out of there and went to our respective homes. Now the conversation started on our phone. At first, we both used to talk about love of ordinary love, then slowly we started opening up among ourselves and started talking about sex… and phones started having sex on Seaxy story.

When a month passed while talking like this, it was not known. Whenever she was with me, we both started molesting each other’s body. I used to take his puppy. She used to kiss me. The lust of both of us was increasing like Seaxy story.

I told him one day – I want to meet in private.
She said – My mind is also mine, but where do I meet?

cript>

I too was helpless.

Then one day he got a call at night… So he told me that his mother and father are going out of town for some work tomorrow… So you come to my house at nine in the morning.

After that we both started waiting for the next morning and we could hardly spend the night talking on the phone throughout the night and Seaxy story.

Finally, the day has come, which both of us eagerly awaited. I got up early in the morning and agreed to go to his house and at nine o’clock I called him to open the door.

As soon as I reached her house, she was waiting for me at the door. As soon as I saw him, he just kept looking at him. That day he was wearing a salwar-kurta of red color. She had a younger sister at her house, who was sitting in another room then start Seaxy story.

We both went to her room and as soon as she closed the door from inside she clung to me and started kissing loudly. The touch of his lips started saluting my cock and I felt his hot hot breaths. When I kissed her, I put her hand in her kurta and braved it from above and started pressing her mummies, due to which she started taking little light on Seaxy story.

Then I lifted it on my lap and took it to the bed and laid it down. He pulled me over and started kissing. I also started supporting him. Slowly my hand went inside her kurti and after suppressing her mummies for some time I threw both her kurti and bra off. Then I started pressing her mummies and kissing her behind the neck and ears, so that she started filling Siskariya. Because kissing on the neck and ears gets girls excited more quickly start the Seaxy story.

So far, my one hand opened her salwar and reached her pussy. Her pussy was wet. I searched the pussy and separated her salwar from her body. Now she was only in panties. After this he removed all my clothes and started sucking my cock in Seaxy story.


This was my first experience, so I fell in his mouth in 4-5 minutes, due to which he had a burning fire. Still he drank all the semen.

Then I removed her panty and started caressing her pussy. He had soft soft silky hair on his pussy. Lying on her mind, I opened her legs and gave her tongue again on the cheeks. Her ass hurt and she shivered right away on Seaxy story. I held her legs and started fucking with her tongue inside her pussy. In less than a minute, she grabbed my head and started pressing on her pussy. Her body suddenly became stiff and she fell in a few moments.

After this, he pulled me up and started kissing. I also supported her and after a while kissing her stomach and navel started kissing, due to which she started getting excited again in Seaxy story.

She started saying – whatever you have to do… do it quickly… I am not going away now.

I removed the condom from my paint pocket and gave it to him and asked him to put it on the cocks. She started wearing condom on my cock like Seaxy story.

After wearing a condom, I set the cocks on her pussy and hit her hard. At first the cock slipped. After this, he grabbed the cocks and set it on his pussy

And by giving me a hint of pressure, I started pushing myself from below. With this my cock started going in her pussy. The supara of the cocks had penetrated into the chest.

Then I hit a shot hard, then my cock ripped his pussy inside. With this, she started trembling with pain and started trying to get rid of me. I started kissing her while stopping and started pressing her milk on Seaxy story.

After some time, she started to take cocks in her pussy while shaking her ass from below. Now I also started to push him slowly in his pussy. She started to shake my ass from below. Slowly I increased the speed and started fucking him with speed on Seaxy story.

For a while, she started strutting and biting her nails in my back. She was on the verge of loss. Realizing this, I increased my speed further and with that I fell into her pussy.

When my cock came out of my girlfriend’s pussy, there was blood on it. Seeing the blood, she smiled looking at me and then she took out my condom filled with semen and threw it out and after a while we put on clothes. I left for my house after girlfriend’s fuck like Seaxy story.

After this, whenever we got a chance, we would do a lot of fucking. After this hot sex story, I will write next time how I killed my aunt and her ass too.

Friends, this was my and my girlfriend’s first fuck… How did you like my hot story? Please match it. And to read sex videos and new stories, the telegram group can join.
[email protected]

Read more hot sex stories –

Freehindisexstories क्लासरूम में 1 लड़की की सील तोड़ी Best Sex

Hindi kamuk kahaniya मौसी की बेटी की सील तोड़ चुदाई 1 Fun sex

Antarvasna 2 योगा ट्रेनर ने तोड़ी मेरी सील 1 Best Sex Fun

Leave a Comment

org/tools/popad.js">