Sex stories bhai behan दीदी की चुदाई की तमन्ना भाई से 1 Fun

दीदी की चुदाई की तमन्ना भाई ने पूरी की sex stories bhai behan

Sex stories bhai behan: दीदी की चुदाई की इस सेक्सी स्टोरी में पढ़ें कि दीदी के मोबाइल से मुझे पता लगा कि उनकी चूत सेक्स के लिए मचल रही है. और उनकी सहेली भाई से सेक्स की बात कर रही है. दीदी ने बनाया मुझे अपना शिकार!

हेलो दोस्तो, मेरा नाम मनीष है और मैं दिल्ली का रहने वाला 25 साल का युवक हूँ। यह कहानी मेरी और मेरी सगी दीदी की है और सिर्फ एक साल पुरानी कहानी है।

पहले मैं आपको अपने और दीदी के बारे में बता देता हूँ। मैं अभी एक मल्टी नेशनल कंपनी में सॉफ्टवेयर डेवेलपर का काम करता हूँ और मेरी दीदी एक दूसरी कंपनी में सीनियर मैनेजर है।

दीदी 28 साल की है और सच कहूँ तो बिल्कुल माल है। 34डी साइज की चूचियां, 32″ की कमर और 36″ की गांड है दीदी की! बिल्कुल चिकना पेट! लम्बाई 5 फ़ीट 5 इंच की है।

बचपन से ही वो खुद को सबसे अलग समझती थी और अपने ऊपर कुछ ज्यादा ही ध्यान देती थी। लेकिन कभी भी किसी लड़के को उन्होंने अपने पास आने नहीं दिया। उसका एकमात्र कारण था कि उन्हें अच्छी जॉब और अच्छे पैसे कमाने का भूत सवार पढ़ाई के दिनों में ही हो गया था।

कॉलेज ख़त्म करते ही उन्होंने एक अच्छी कंपनी ज्वाइन कर ली थी और तब से वो जॉब कर रही हैं।

एक दिन ऑफिस से लौटने में मुझे देर हो गयी तो दीदी का फ़ोन मेरे पास आया।
मैंने दीदी को बताया कि मुझे थोड़ा समय लगेगा.

Sex stories bhai behan
तो उन्होंने कहा- जल्दी आना, मम्मी पापा को चाचा के पास जाना है। वो लोग अभी एयरपोर्ट के लिए निकल रहे हैं और मुझे अकेले रहना पड़ेगा जब तक तुम नहीं आओगे।
मैंने दीदी से कहा कि आता हूँ जल्दी ही और ये कहकर मैंने फ़ोन रख दिया।

करीब 10 बजे जब मैं घर पहुंचा तो दीदी मेरा इंतज़ार ही कर रही थी।
दीदी मुझे देखते ही बोली- बोला था ना जल्दी आने को .. फिर भी देर लगा दी तुमने मनीष? अब जल्दी से चेंज कर लो, मुझे भूख लग रही है।
यह कहकर दीदी रसोई की तरफ चली गयी.

मैं कमरे में आकर कपड़े बदलने लगा।

तभी दीदी का फ़ोन बजा। मैं चेंज करके बाहर आया तो दीदी फ़ोन पर किसी से बात कर रही थी।
दीदी ने फ़ोन मुझे देते हुए कहा- लो, मम्मी का फ़ोन है, वो फ्लाइट में बैठ गयी हैं।

मैं फ़ोन लेकर मम्मी से बात करने लगा और दीदी खाना लगाने के लिए रसोई में चली गयी।

बात करने के बाद जैसे ही मेरी नज़र फ़ोन पर गयी तो उसमें एक पोर्न साइट खुली हुयी थी। शायद दीदी फ़ोन पर वो पोर्न वीडियो देख रही थी और तभी फ़ोन आ गया और दीदी साइट बंद करना भूल गयी थी।

मैंने चौंक कर दीदी की तरफ देखा तो वो मेरी तरफ पीठ कर के खड़ी थी और खाना लगा रही थी।

मैं उनका फ़ोन लेकर बाथरूम में घुस गया और देखने लगा कि और क्या क्या है दीदी के फ़ोन में।

Sex stories bhai behan

मुझे कुछ ज्यादा तो नहीं मिला लेकिन दीदी की एक बेस्ट फ्रेंड नीरा के साथ हो रही चैट मुझे दिख गयी। दीदी को उस पोर्न साइट की लिंक उन्होंने ही भेजी थी और उन दोनों की चैट पढ़कर लगा कि दीदी और उनकी दोस्त लेस्बियन हैं।
काफी सेक्सी और हॉट बातें हुई थी दोनों के बीच पिछले आधे घंटे में।

नीरा ने तो चैट में ये भी लिखा था- यार, हम दोनों के साथ कोई लड़का होता तो हम दोनों उसका एक साथ लंड चूसकर चुदाई करते।
दीदी ने नीरा से कहा- ठीक है, बना ले एक बॉयफ्रेंड हम दोनों के लिए।
तो नीरा ने कहा- मुझे तो तेरा भाई ही पसंद है. तू सेटिंग करवा दे मेरी।

दीदी ने कहा- पागल है क्या तू?
नीरा ने कहा- यार जब चुदने का मन करता है रात में तो सच में मुझे मनीष का ही चेहरा दिखता है और मैं उंगली करती हूँ उसे ही सोच कर! काश वो मेरा भाई होता तो मेरा तो घर में ही जुगाड़ हो जाता।

तब दीदी ने कहा- बना ले भाई उसे, मैंने कब रोका है।
नीरा ने कहा- मुझे तो बनाना पड़ेगा. तेरा तो वो भाई है ही, उसके साथ बात कर के देख ना? किसी बाहर वाले की जरूरत ही नहीं पड़ेगी हम दोनों को।

इस पर दीदी और नीरा दोनों हंस पड़ी और दीदी ने कहा- लगता है कि तू मेरी भाभी बन कर ही रहेगी।

नीरा ने फिर एक लिंक भेजा और लिखा- देख ये मूवी भाई बहन सेक्स वाली। फिर तुझे भी मन न हो जाये तो कहना।
इस पर दीदी ने जवाब दिया- अच्छा देखती हूँ फिर बात करती हूँ।

Sex stories bhai behan

यह पढ़कर मुझे अचानक से झटका भी लगा और मेरा हाथ अपने आप मेरे लंड को सहलाने लगा। वैसे तो मैंने कभी दीदी के बारे में ऐसा सोचा नहीं था लेकिन उनकी चैटिंग पढ़ कर अचानक ही दीदी के बारे में गलत ख्याल मेरे मन में आ गए।

नीरा भी मुझसे चुदने के सपने देखती है, यह जान कर सच में मेरा लंड काफी टाइट हो गया था।

तभी दीदी ने मुझे बाहर से आवाज़ दी और मैं फ़ोन बंद करके बाहर आ गया।
दीदी ने नाइटी पहन रखी थी और मेज पर मेरा इंतज़ार कर रही थी। मुझे देखते ही बोली- तुम आज मुझे भूखे ही मार दो। कब से इंतज़ार कर रही हूँ खाने के लिए। अब आओ और शुरू करो।

मैं दीदी की सामने बैठ कर चुपचाप खाने लगा। मेरे दिमाग में उनकी चैटिंग वाली बात ही घूम रही थी और मैं उनसे नज़र बचा कर उनको देख रहा था। नाइटी के अंदर उनके बड़े बूब्स पर मेरी नज़र बार बार जा रही थी।

दीदी मेरी सोच से अनजान हो कर खाना खा रही थी कि तभी उसे अपने फ़ोन की याद आयी- मनीष, मेरा फ़ोन कहाँ रखा तूने?
“ओह्ह दीदी, वो मेरे पास ही रह गया था।” मैंने पॉकेट से फ़ोन निकाल कर देते हुए कहा और फिर सर झुका कर खाना खाने लगा।

दीदी के फ़ोन में लॉक लगा हुआ था। जैसे ही दीदी ने लॉक खोला स्क्रीन पर वो पोर्न वीडियो वाला पेज आ गया। दीदी के चेहरे का रंग बदल गया और तुरंत उन्होंने मोबाइल को बंद कर दिया और चुपचाप खाना खाने लगी।

Sex stories bhai behan

मैं कभी कभी खाते हुए उनकी तरफ देख रहा था पर अब वो चुपचाप सर नीचे कर खाना ख़तम करने लगी और प्लेट उठा कर रसोई में जाने लगी। मेरी नज़र उनकी कमर पर पड़ी जो आज मुझे अचानक ही बहुत सेक्सी लग रही थी।

दीदी प्लेट रसोई में रखकर वापस आयी और बोली- मैं जा रही हूँ सोने, तुम भी सो जाना।
मैंने उन्हें देख कर सर हिलाया और प्लेट रसोई में रख कर अपने बैडरूम में आ गया।

बेड पर लेटते ही मुझे वही सारी चैटिंग याद आने लगी और मैं अपने लंड को हाथ में लेकर मुठ मारने लगा। अपनी सगी दीदी से चुदाई के बारे में सोच कर ही मेरा लंड तुरन्त ही खड़ा हो गया।
फिर मेरी आँखों के सामने दीदी अपने कपड़े उतारते हुए मेरा लंड चूसते हुए और फिर मुझसे चुदते हुए दिखने लगी और मेरे मेरे लंड ने पानी छोड़ दिया।
जब मैं अपना हाथ और लंड को साफ करने के लिए उठकर बाथरूम की तरफ जा रहा था तो मुझे दीदी के कमरे की लाइट जलती हुयी दिखी और दीदी की आवाज़ भी सुनाई पड़ी।

मैं वहीं रुक कर दरवाजे से कान लगा कर सुनने की कोशिश करने लगा कि इतनी रात में दीदी किससे बात कर रही है।

थोड़ी देर सुनने पर समझ आ गया कि दीदी अपनी सहेली नीरा से बात कर रही थी और कह रही थी- तू बहुत कमीनी है। ऐसी वीडियो भेजी है जिसे देख कर मेरा मन कर रहा है कि अभी मनीष के पास जा कर चुद लूँ।

उधर से नीरा ने कुछ कहा तो दीदी ने जवाब दिया- तू सच में पागल हो गयी है। मैंने तो ऐसे ही कह दिया लेकिन वो मेरा भाई है। मैं ऐसा कैसे कर सकती हूँ उसके साथ। तुझे बहुत मन कर रहा है तो आ जा घर पर। मम्मी पापा कोई है नहीं, तू कर लेना मनीष के साथ। बोल आएगी तो मैं भेज देती हूँ मनीष को तुझे लाने के लिए?

Sex stories bhai behan

दीदी शायद वीडियो कॉल कर रही थी और नीरा से कह रही थी- जो तेरे बड़े बड़े चूचे हैं ना आज मनीष से तू मसलवा ही ले।
फिर नीरा ने कुछ कहा तो दीदी ने जवाब दिया- अगर तू सच में आ रही है तो बोल? तेरे आने के बाद क्या होगा, वो तब सोंचेंगे। ठीक है, फिर मैं मनीष को बोलती हूँ, तुझे लेकर आ जायेगा वो।
यह बोल कर दीदी ने फ़ोन कट कर दिया।

मैं दरवाजे पर खड़ा ये सुनकर जल्दी से बैडरूम में वापस आ कर सोने का नाटक करने लगा। मैं सिर्फ लोअर पहन कर लेटा हुआ था और उन दोनों की बातें सुनकर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया था।

तभी दरवाजे पर आ कर दीदी बोली- मनीष भाई, सो गए क्या?
मैंने कोई जवाब नहीं दिया तो दीदी अंदर आ गयी और मुझे सोये हुए देखने लगी।
मेरा लंड लोअर में तना हुआ था और मैं सोने का नाटक करते हुए मजे लेने लगा।

दीदी मेरे बिल्कुल पास आ गयी और मेरे लंड को देख रही थी और फिर वीडियो बनाने लगी मेरा।
वो मेरी तरफ देख भी रही थी कि कहीं मैं जगा हुआ तो नहीं हूँ।

फिर धीरे से दीदी ने मेरे लंड को लोअर के ऊपर से ही छू कर देखा और तुरंत हाथ हटा किया और मेरी तरफ देखने लगी।
मैं सोने का नाटक कर रहा था और दीदी ने दुबारा मेरा लंड धीरे से हाथ में ले लिया। मैं दीदी के हाथ अपने लंड पर महसूस कर रहा था और मेरा लंड पूरा खड़ा हो गया।

Sex stories bhai behan

तब दीदी ने हाथ हटा लिया और मुझे दुबारा देखने लगी कि कहीं मैं जग तो नहीं गया।
जब मैंने देखा कि दीदी मुझे सिर्फ देख रही है और कुछ कर नहीं रही तो मैंने जागने का नाटक करते हुए कहा- अरे दीदी … क्या हुआ? तुम यहाँ? सोई नहीं अभी तक?
दीदी ने तुरंत जवाब दिया- कब से उठा रही हूँ, उठ ही नहीं रहे हो।
मैंने कहा- उठा तो दिया अब और कितना उठाओगी?
यह कहकर मैंने दीदी के सामने ही अपने खड़े लंड को दबा दिया।

दीदी शायद वीडियो कॉल में अपनी नाईटी के सारे बटन खोल कर बात कर रही थी क्योंकि जब मेरी नजर उधर पड़ी तो ऊपर के 4 बटन खुले थे और चूचियों के बीच की गहराई साफ दिख रही थी। दीदी ने ब्रा नहीं पहन रखी थी।

मैं दीदी की चूचियों को देखते हुए बोला- क्या हुआ दीदी क्यों उठाया मुझे?
दीदी संभलते हुए बोली- भाई मनीष, नीरा का फ़ोन आया था। वो भी घर में अकेली है और उसे अकेले डर लग रहा है। तुम जाकर उसे यहाँ लेते आओ। मैंने उससे कह दिया है कि तुम आ रहे हो उसे लेने।

दीदी की तरफ देख कर मैंने कहा- अभी ही जाना है क्या लाने के लिए नीरा को या थोड़ी देर बाद?
“थोड़ी देर बाद क्यों? अभी कुछ काम करना है क्या तुझे?”
मैंने दीदी की तरफ देख कर कहा- हाँ … और वो तुम भी जानती हो क्या काम करना है।
दीदी मेरी बात सुनकर घबड़ा गयी जैसे उसकी चोरी पकड़ी गयी हो।

“मतलब क्या है तुम्हारा?” उसने कहा।
मैंने दीदी का हाथ पकड़ा और अपनी तरफ खींच कर बोला- मेरा मतलब वही है दीदी … जो तुम समझ रही हो.
और उनका हाथ अपने लोअर के ऊपर से लंड पर रख दिया।

Sex stories bhai behan

दीदी ने झटके से हाथ हटाते हुए कहा- ये क्या कर रहे हो मनीष?
मैंने कहा- दीदी अब शरमाओ मत … मुझे सब पता चल गया है। तुम अभी इसे छू कर देख रही थी ना? और नीरा से तुम्हारी फ़ोन पर क्या बात हुई है और चैट में क्या बात हुयी है, सब जानता हूँ मैं। अब नीरा तो बाद में भी आ जाएगी लेकिन अभी हम दोनों तो हैं ना एक साथ।

यह कहते हुए मैंने अपना लोअर खींच कर नीचे कर दिया और दीदी का हाथ अपने लंड पर रख दिया।

दीदी अचानक से ये सब सुनकर शायद हड़बड़ा गयी थी और उनके मुंह से कोई शब्द नहीं निकल रहा था।

मैंने दीदी के हाथ में अपना लंड देकर उसकी चूचियों को नाईटी के ऊपर से पकड़ कर दबा दिया।
दीदी ने मेरी तरफ देखा और मैंने दीदी की तरफ और अगले ही पल दीदी के हाथ मेरे लंड को ऊपर नीचे करने लगे और मैं दीदी की चूचियों को दबाने लगा।

फिर मैंने दीदी को अपनी बेड पर लिटाया और उसके बगल में लेटकर उसकी चूचियों को दबाते हुए उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए।
दीदी मेरे लंड को मसलते हुए मुझे चूमने लगी और मैं भी उसके होंठ चूमते हुए उसकी नाईटी का अंदर हाथ डालकर उनकी नर्म और मुलायम चूचियां दबाने लगा। दीदी और मैं एक दूसरे के होंठ चूसते हुए जीभ से चाटने भी लगे। मैं दीदी की जीभ चूसने लगा और दीदी मेरी।

करीब 5 मिनट तक एक दूसरे को चूसने के बाद हम दोनों अलग होकर एक दूसरे को देखने लगे। अब हमारी आँखों में एक दूसरे के लिए वासना साफ़ दिख रही थी और बिना कुछ बोले हम फिर एक दूसरे से लिपट कर चूमने लगे।

Sex stories bhai behan

मेरा हाथ दीदी की नाईटी के अंदर उनकी चूचियों को मसल रहा था और दीदी मेरे पूरे चेहरे को चूमती जा रही थी बिना कुछ बोले।
मैंने दीदी से फुसफुसा कर कहा- दीदी, अपनी नाईटी उतारो ना।

“कभी पहले देखा है किसी नंगी लड़की को बिना कपड़ों के?” दीदी ने मुझसे पूछा और अपनी नाईटी खुद ही उतारने लगी।
मैंने कहा- नहीं!
तो दीदी ने नाईटी उतार कर मेरे चेहरे को पकड़ कर अपनी चूचियों में दबा दिया और बोली- देख अच्छे से अपनी दीदी को ही नंगी पहली बार।

मैं दीदी की चूचियां चूसने और दबाने लगा। दीदी मजे लेकर अपनी चूचियां चुसवाने लगी और मुझे अपने ऊपर खींचने लगी। मैंने अपना लोअर उतार दिया और दीदी की चूचियों को मसलने लगा और चूसने लगा।

तभी दीदी के फ़ोन की घंटी बजी। उधर से नीरा का कॉल था।
दीदी ने मुझे रुकने का इशारा किया और फ़ोन उठा कर बोली- सॉरी नीरा, मनीष सो गया है। अभी उसको उठाना ठीक नहीं है। कल बात करते हैं। मैं भी सोने जा रही हूँ अब।
यह कहकर दीदी ने फ़ोन काट दिया और मेरे लंड को हाथो में ले कर ऊपर नीचे करने लगी।

“ओह्ह मनीष … तुम्हारा लौड़ा कितना बड़ा है!” यह कहते हुए दीदी नीचे सरक कर मेरे लंड को चूसने लगी। पहली बार किसी ने मेरे लंड को मुंह में लिया था और मुझे स्वर्ग जैसा महसूस हो रहा था।
मैं मजे ले कर अपना लंड चुसवाने लगा और दीदी के चेहरे को पकड़ कर अपनी कमर हिलाने लगा।

Sex stories bhai behan

sex stories bhai behan - hindi xxx story sister - sister chudai stories

मेरा लंड पूरा तन गया था और दीदी किसी पोर्न स्टार की तरह उसे चूसे जा रही थी।

फिर दीदी ने अचानक ही अपने भाई का लंड चूसना बंद कर दिया और बोली- अब तेरी बारी।
दीदी बेड पर लेट गयी और अपनी पेंटी उतरने को मुझसे कहा।

मैंने एक ही झटके में दीदी की पेंटी उतर कर उसे पूरी नंगी कर दिया और उसकी चूत को चाटने लगा। दीदी की चूत पर एक भी बाल नहीं था। मैं जोर जोर से दीदी की चूत को चूस रहा था और चूत की लिप्स को दांतों से बीच बीच में काटने भी लगा।

“उम्म्ह … अहह … हय … ओह … मनीष … उम्म्म उम्म्म!” करती हुई दीदी मुझसे अपनी चूत को चटवा रही थी और बिस्तर पर अपना सर इधर उधर कर रही थी।

अचानक ही दीदी ने जोर से उम्म्म आह करना शुरू कर दिया और मेरा चेहरा उसके चूत के रस से भर गया। यह मेरे लिए पहली बार था जब किसी लड़की की चूत का रस का स्वाद मुझे मिला था। मैंने पूरी चूत को चाट कर दीदी का रस अपने मुंह में ले लिया।

दीदी की सांसें तेज़ चल रही थी। वो पूछने लगी- कैसा लगा मनीष मेरा पानी?
“दीदी, पहली बार टेस्ट किया है, कुछ अजीब सा स्वाद है!” मैंने जवाब दिया।

दीदी मुझे अपने ऊपर खींचते हुए बोली- तूने तो मुझे अपना पानी टेस्ट करवाया ही नहीं? अब मेरी चूत को करवा दे। चोदेगा मेरी चूत? डाल अपना लंड मेरी चूत में।
मैंने दीदी की चूत पर लंड का सुपारा रखा और धक्का दिया लेकिन वो फिसल गया।

Sex stories bhai behan

फिर दीदी ने अपनी गांड के नीचे तकिया लगा कर कहा- अब डाल।
इस बार मैंने चूत की छेद पर सुपारा रख कर जोर से धक्का मारा और मेरा लंड आधा घुस गया।

Sex stories bhai behan

“ओह्ह इतनी जोर से नहीं … आराम से कर ना … चुदाई करनी है, जान नहीं लेनी है मेरी!”
“ओह्ह सॉरी दीदी!” बोलकर मैंने अपने लंड को दुबारा धक्का दिया और इस पर मेरा सात इंच का लंड पूरी चूत में समा गया।

दीदी की मानो आँखें बाहर आ गयी। मैं कुछ देर के लिए रुका और फिर अपनी कमर को आगे पीछे करने लगा।
“उम्म मनीष … उम्म्म हाँ ऐसे ही … करते रहो … ओह्ह उम् उम्!” करती हुयी दीदी मुझसे चुदवाने लगी।

“ओह्ह … आज पहली बार लंड का मजा मिला है … उम्म्म उम्म्म ओह्ह … चोद मनीष मुझे … और चोद!” बोलती हुयी दीदी मुझे अपने ऊपर खींचने लगी।
मेरी स्पीड बढ़ गयी थी और मैं जोर जोर से धक्के मारने लगा और मेरे हर धक्के से दीदी की चूचियां हिल रही थी। मैंने चूचियों को मसलते हुए चुदाई जारी रखी।
दीदी मुझे ‘और चोदो … और चोदो …’ बोलकर उकसाती जा रही थी।

मेरे लंड की गोटियां दीदी की चूत से टकरा रही थी।

“ओह्ह दीदी … उम्म … उम्म … कितनी कसी हुई है तुम्हारी चूत! मेरा लंड चूस रही है!”
“उम्म्म … हाँ मनीष पहली बार किसी का लंड घुसा है न इसलिए मजे ले कर चूस रही है।”

Sex stories bhai behan

करीब 7-8 मिनट तक चोदने के बाद मुझे लगा कि मेरा पानी आने वाला है, मैं बोला- दीदी मेरा पानी आने वाला है … ओह्ह!

“अंदर मत गिराना!” यह बोल कर दीदी ने मेरा लंड अपनी चूत से निकाल दिया और अपने हाथों से मुठ मारने लगी।
मेरे लंड ने पिचकारी छोड़ दी जो उनके गले और चूचियों पर जा कर गिरी।
“ओह्ह दीदी … उम्म्म्म उम्म्म!” करते हुए मैंने पूरा पानी अपने लंड से निकाल दिया। कुछ दीदी के हाथ में भी लगा जिसे दीदी ने चाट लिया और मुझे आँख मारते हुए बोली- उम्म्म … बहुत नमकीन हो तुम मनीष।

तो इस तरह मैंने पहली बार अपनी दीदी की चुदाई की.

फिर दीदी बोली- चलो अब इसे साफ भी तो करना है.
और वो बाथरूम की तरफ जाने लगी।

मैं भी उनके साथ बाथरूम में गया और दीदी ने मेरे लण्ड की सफाई की और मैंने दीदी की चूत और चूचियों की।

वापस बेड पर आकर हम दोनों एक दूसरे के गले लग गए और दुबारा चूमने लगे।
मैंने दीदी से पूछा- कि तुमने पहले किसी के साथ किया है क्या?
तो दीदी ने कहा- नहीं।
“फिर तुम्हारी चूत में मेरा लंड इतनी आसानी से कैसे घुस गया और तुम्हारा खून भी नहीं आया?”
“वो इसलिए क्योंकि मैं उंगली से करती हूँ … और नीरा भी करती है मेरे साथ!”

Sex stories bhai behan

“तो फिर नीरा को तुमने ये क्यों कहा कि मैं सो गया हूँ अभी?”
“मनीष जब तेरे साथ मुझे करना ही था तो नीरा के साथ क्यों करती? हम दोनों अकेले भी तो मजा ले सकते हैं। क्यों?” यह बोलकर दीदी मेरे लंड को फिर से ऊपर नीचे करने लगी।

“चल ना फिर से करते हैं!” यह बोलकर दीदी ने अपनी नंगी टाँगें मेरी टांगों पर चढ़ा दी।

तभी दीदी के मोबाइल पर मैसेज आया। दीदी ने मैसेज पढ़ा और फिर मुझे दिया पढ़ने को!
नीरा का था- साली कमीनी … मुझसे झूठ मत बोल! तूने मनीष के साथ चुदवाया ना अभी? नहीं चुदवा रही होती तो बिना मेरे साथ किये तुझे नींद आती ही नहीं। कल तेरे घर आ कर मैंने तेरे सामने मनीष से नहीं चुदवाया तो मेरा नाम नीरा नहीं।

मैंने दीदी की तरफ देखा तो दीदी मेरा लंड चूसने को तैयार थी। मैंने एक बार फिर अपनी नंगी दीदी की चुदाई कर डाली.

उस रात 3 बार मैंने दीदी की चुदाई का खेल खेला। अगले दिन नीरा आयी और क्या हुआ ये आप लोगों के मेल के जवाब के बाद ही बताऊंगा।

मेरी मेल आईडी है
[email protected]

Sex stories bhai behan

आपको मेरी यह सच्ची सेक्स घटना कैसी लगी मुझे Telegram पर ज़रूर बताये में आपके comment और message का इंतज़ार करूगा. इसके अलावा आप कहानी पर नीचे कमेंट करके भी अपनी राय दे सकते हैं.

Sex stories bhai behan

Read in English

Bhai Behan ki chudai ki Antarvasna 2

Sex stories bhai behan: In this sexy story of Didi’s Chudai, read that from Didi’s mobile, I came to know that her pussy is twitching for sex. And his friend is talking about sex with his brother. Didi made me her victim!

Hello friends, my name is Manish and I am a 25 year old Delhi resident. This story is of mine and my real sister and only a year old story.

Let me first tell you about myself and my sister. I currently work as a software developer in a multi national company and my sister is a senior manager in another company and Sex stories Bhai Behan.

Didi is 28 years old and to be fair is absolutely good. Tits of 34 D size, waist of 32 ″ and ass of 36 ″ is Didi’s! Absolutely smooth belly! The length is 5 feet 5 inches.

From childhood, she considered herself different and used to pay more attention to herself. But he never let any boy come to him. The only reason for this was that he had become a ghost rider during his days of earning good jobs and good money and Sex stories Bhai Behan.

She had joined a good company as soon as she finished college and has been working since then.

One day when I was late in returning from office, Didi’s call came to me.
I told Didi that I will take some time.

Sex stories bhai behan
So he said – come soon, Mommy father has to go to uncle. Those people are leaving for the airport right now and I have to be alone till you come.
I told Didi that I will come soon and after saying this I hung up.

When I reached home at around 10 pm, Didi was waiting for me.
Didi said on seeing me, she said not to come soon .. Still you took some time Manish? Now change quickly, I’m hungry the Sex stories Bhai Behan.
Saying this, Didi went towards the kitchen.

I came in the room and started changing clothes.

Then Didi’s phone rang. When I changed and came out, Didi was talking to someone on the phone.
Giving me the phone, Didi said- Lo, I have a mother’s phone, she has sat in the flight then Sex stories Bhai Behan.

I started talking to my mother with a phone and didi went to the kitchen to cook.

After talking, as soon as my eyes went on the phone, a porn site was opened in it. Perhaps Didi was watching that porn video on the phone and then the phone rang and Didi forgot to close the site.

When I looked at Didi in astonishment, she stood back facing me and was cooking like Sex stories Bhai Behan.

I entered the bathroom with his phone and started to see what else was there in Didi’s phone.

Sex stories bhai behan
I did not get much, but I saw a chat with Didi’s best friend Neera. He had sent a link to that porn site to Didi and after reading the chat of both of them, it seemed that Didi and her friends were lesbian.
There was a lot of sexy and hot talk between the two in the last half hour.

Neera had also written this in the chat- Dude, if there was a boy with both of us, we would both fuck him by sucking cocks together Sex stories Bhai Behan.
Didi said to Neera- Okay, make a boyfriend for both of us.
So Neera said – I like your brother only. You make me set.

Didi said- Are you crazy?
Neera said- Man, when I feel like fucking at night, I really see Manish’s face and I finger him thinking that! I wish he were my brother, I would have been at home.

Then Didi said- make it brother, when have I stopped?
Neera said – I have to make it. He is your brother, talk with him and see? Both of us will not need any outsider about Sex stories Bhai Behan.

On this, both Didi and Neera laughed and Didi said- I think you will remain my sister-in-law.

Neera then sent a link and wrote – see this movie siblings sex. If you do not mind then say so.
To this, Didi replied – I see well then I will talk.

Sex stories bhai behan
After reading this, I also got a sudden shock and my hand automatically started caressing my cock. Although I had never thought of Didi like this, but after reading her chatting, suddenly the wrong thoughts about Didi came to my mind.

Neera also dreams of fucking me, knowing that my cock was really tight in Sex stories Bhai Behan.

Then Didi gave me a voice from outside and I closed the phone and came out.
Didi was wearing nighty and was waiting for me at the table. On seeing me, she said – You kill me today only. I have been waiting for dinner for a long time. Now come and start.

I sat in front of Didi and started eating quietly. His chatting was going around in my mind and I was looking at him after avoiding him. I was eyeing her big boobs inside nighty like Sex stories Bhai Behan.

Didi was eating food unaware of my thinking that only then she remembered her phone – Manish, where did you keep my phone?
“Ohh didi, he was left with me.” I said while removing the phone from the pocket and then bowed my head and started eating in Sex stories Bhai Behan.

Didi’s phone was locked. As soon as Didi opened the lock, a page of porn videos appeared on the screen. Didi’s face changed color and immediately she switched off the mobile and started eating quietly.

Sex stories bhai behan
I was looking at them sometimes while eating, but now she quietly finished eating her head and started picking up the plates and going to the kitchen. I had an eye on her waist, which I suddenly felt very sexy today.

Sister came back keeping the plate in the kitchen and said- I am going to sleep, you too go to sleep then Sex stories Bhai Behan.
I shook my head after looking at them and came to my bedroom keeping the plate in the kitchen.

As soon as I lay on the bed, I remembered all the same chatting and I started licking my cock with my cock in my hand. Thinking about sex with my real sister, my cock immediately became erect.
Then in front of my eyes, Sister took off his clothes while sucking my cock and then started fucking me and my cock left my water the Sex stories Bhai Behan.
When I got up to clean my hand and cocks and was going towards the bathroom, I saw the light of Didi’s room burning and I heard the voice of Didi.

I stopped there and started listening to the door and tried to listen to whom Didi was talking to in such a night.

After listening for a while, it was understood that Didi was talking to her friend Neera and was saying – You are very bastard. After sending such a video, I feel that after going to Manish, I want to Chud the Sex stories Bhai Behan.

On the other hand, Neera said something, Didi replied – You are really mad. I have said the same way but he is my brother. How can I do this with him? If you feel like a lot then come home. Mommy dad is nobody, you can do it with Manish. If you speak, then I send you to bring Manish to you?

Sex stories bhai behan
Didi was probably making a video call and was saying to Neera – who are your big big chuche na, today you take Masalwa from Manish.
Then Neera said something, Didi replied – If you are coming in truth then speak? What will happen after your arrival, they will think then. Okay, then I speak to Manish, he will bring you.
Didi disconnected the phone after saying this.

Hearing this standing at the door, I quickly came back to the bedroom and started pretending to sleep. I was lying down wearing only lower and after listening to both of them my cock was erect again in Sex stories Bhai Behan.

Then Didi came to the door and said – Manish Bhai, have you slept?
When I did not answer, Didi came in and saw me sleeping.
My cock was taut in the lower and I started having fun pretending to sleep.

Sister came close to me and was watching my cock and then started making videos of me.
She was also looking at me whether I was awake or not for Sex stories Bhai Behan.

Then slowly Sister touched my cock from the top of the lower and immediately removed her hand and started looking at me.
I was pretending to sleep and Didi again took my cock slowly in her hand. I felt Sister’s hand on my cock and my cock was fully erect.

Sex stories bhai behan
Then Didi lifted her hand and started looking at me again to see if I was awake.
When I saw that Didi is just watching me and not doing anything, I pretended to wake up and said, “Hey sister … what happened?” you here? Not asleep yet?
Didi immediately replied – I am not getting up since long.
I said – if you lift, how much will you lift?
Having said this, I pressed my erect cocks in front of Didi.

Didi was probably talking in the video call by opening all the buttons in her night because when I got my eye on the other side, the top 4 buttons were open and the depth between the boobs was clearly visible. Didi was not wearing a bra in Sex stories Bhai Behan.

I said while looking at Sister’s Tits, what happened, why did Sister pick me up?
Sister said while recovering- Brother Manish, Neera got a call. She is also alone in the house and she is scared alone. You go and bring it here. I have told him that you are coming to pick him up in the Sex stories Bhai Behan.

Looking at Didi, I said- Is it still time to go to Neera or after some time?
“Why after a while? Do you still have to do some work? “
I looked at my sister and said – yes… and she also knows what to do.
Didi was scared to hear me as if her theft was caught of Sex stories Bhai Behan.

“what do you mean?” he said.
I grabbed Didi’s hand and pulled her back and said – I mean sister, what you understand.
And put his hand on the cocks above his lower.

Sex stories bhai behan
Didi shook hands and said – what are you doing, Manish?
I said – do not be shy now sister… I have come to know everything. You were just touching it, right? And what has happened to Neera on your phone and what has happened in the chat, I know everyone. Now Neera will come later also but now both of us are there together.

Saying this, I pulled my lower down and put sister’s hand on my cock like Sex stories Bhai Behan.

Sister was suddenly shocked to hear all this and there was no word coming out of her mouth.

I gave my cock in my sister’s hand and pressed her nipples on top of the night.
Didi looked at me and I turned towards Didi and the very next moment Didi’s hands started to lower my cock up and I started pressing Didi’s Tits about Sex stories Bhai Behan.

Then I lay the sister on her bed and lay next to her and put her lips on her lips while pressing her tits in Sex stories Bhai Behan.
Sister started kissing me while rubbing my cock and I also started kissing her lips and putting her hand inside her naiti and pressing her soft and soft boobs. Sister and I sucked each other’s lips and started licking them with tongues. I started sucking sister’s tongue and my sister.

After sucking each other for about 5 minutes, we both separated and started seeing each other. Now the lust for each other was clearly visible in our eyes and without saying anything, we started kissing each other again.

Sex stories bhai behan
My hand was rubbing her nipples inside Didi’s night and Sister was kissing my whole face without saying anything.
I whispered to Didi and said- Didi, take off your night, don’t you.

“Ever seen a naked girl without clothes before?” Sister asked me and started removing her night.
I said no! for Sex stories Bhai Behan.
So Didi took off the night and grabbed my face and pressed it in her Titsi and said – see, for the first time, naked to her sister.

I started sucking and suppressing sister’s Tits. Sister started kissing her pussy with fun and pulling me over herself. I took off my lower and started munching on the sister’s Tits and started sucking and Sex stories Bhai Behan.

Sister’s phone rang only then. There was a call from Neera.
Didi gestured me to stop and picked up the phone and said- Sorry Neera, Manish is asleep. It is not right to lift it now. Let’s talk tomorrow. I am also going to sleep now about Sex stories Bhai Behan.
Saying this, Didi disconnected the phone and took my cock in her hands and started going down.

“Ohhhh Manish… how big is your Aloda!” Saying this, Didi moved down and started sucking my cock. For the first time someone had taken my cock in my mouth and I was feeling like heaven.
I started sucking my cock with fun and grabbed Didi’s face and started moving her waist.

Sex stories bhai behan
sex stories bhai behan – hindi xxx story sister – sister chudai stories
My cock was full and Siddhi was being sucked like a porn star.

Then Didi suddenly stopped sucking her brother’s cocks and said- Now your turn.
Sister lay on the bed and told me to get off my panty in Sex stories Bhai Behan.

In one stroke, I got down Panti of Panti and made her completely naked and started licking her pussy. Didi did not have a single hair on her pussy. I was sucking sister’s pussy very vigorously and also started to bite her lips between her teeth like Sex stories Bhai Behan.

“Ummh… Ahhh… Hah… Oh… Manish… Ummm Ummm!” While doing it, Didi was licking her pussy and was moving her head here and there on the bed.

Suddenly, Didi started doing loud Ummm ah and my face was filled with her pussy juice. This was the first time for me when I got the taste of a girl’s pussy juice. I licked the whole pussy and took sister juice in my mouth in Sex stories Bhai Behan.

Sister was breathing hard. She started asking- How did Manish feel my water?
“Sister, tested for the first time, has some weird taste!” I answered for Sex stories Bhai Behan.

Didi said pulling me on herself – you did not get me to test my water? Now get my pussy done. Chodega my pussy? Put your cock in my pussy then Sex stories Bhai Behan.
I put a supra of cocks on Didi’s pussy and pushed but she slipped.

Sex stories bhai behan
Then Didi put a pillow under her ass and said- Now put it.
This time I pushed the supara on the pussy hole and pushed hard and my cock was half penetrated.

“Ohhh not so loud… don’t do it comfortably… have to fuck, don’t want to kill me!”
“Ohh sorry sister!” After speaking, I pushed my cock again and on this my seven inch cock was covered in full pussy.

As if Sister’s eyes came out. I stopped for a while and then started back and forth.
“Umm manish… ummm yes… keep doing like this… ohhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh! Didi started fucking me while doing it for Sex stories Bhai Behan.

“Ohhh … today is the fun of cocks for the first time … Ummm ummm ohhh … Chod Manish me … and Chod!” Didi started to pull me up while speaking.
My speed had increased and I started banging loudly and Didi’s pussy was shaking with my every blow. I continued to fuck the tits.
Sister was instigating me by uttering ‘Aur Chodo… Aur Chodo…Sex stories Bhai Behan.

The pieces of my cock were colliding with Didi’s pussy.

“Ohh didi… umm… umm… how tight your pussy is! My cock is sucking! “
“Ummm … yes Manish has penetrated someone’s cock for the first time, so he is having fun sucking it.”

Sex stories bhai behan
After fucking for about 7-8 minutes I thought that my water was going to come, I said – Didi my water is going to come… Ohhh!

“Do not drop in!” By saying this, Didi removed my cock from her pussy and started licking her hands Sex stories Bhai Behan.
My cock left the squirt which fell on their throats and nipples.
“Ohhh Didi… Ummmm Ummm!” While doing this, I removed all the water from my cock. I also felt something in the hand of Didi, which Didi licked and said while eyeing me – Ummm… you are very salty, Manish.

So this is how I fuck my sister for the first time in Sex stories Bhai Behan.

Then Didi said- Let us clean it now too.
And she started going towards the bathroom like Sex stories Bhai Behan.

I also went to the bathroom with him and didi cleaned my lund and I didi’s pussy and pussy.

Coming back to the bed, we both hugged each other and started kissing again.
I asked Didi- Have you done with anyone before?
So didi said no and Sex stories Bhai Behan.
“Then how did my cock penetrate into your pussy so easily and your blood didn’t even come?”
“That’s because I do it with the finger… and Neera also does with me!”

Sex stories bhai behan
“Then why did you tell Neera that I am asleep now?”
“When Manish had to do with you, why would I do with Neera?” We both can enjoy alone. Why? ” Saying this, Didi started to lower my cock again.

“Let’s not do it again!” Saying this, Didi put her naked legs on my legs like Sex stories Bhai Behan.

Then the message came on Didi’s mobile. Didi read the message and then gave me to read!
Neera’s sister-in-law bastard… don’t lie to me! Have you got sex with Manish right now? Had I not been fucking you, I would not have slept without doing it to me. Yesterday, coming to your house, I did not kiss Manish in front of you, then my name is not Neera then Sex stories Bhai Behan.

When I looked at Didi, Didi was ready to suck my cock. I once again fuck my naked sister of Sex stories Bhai Behan.

3 times that night I played Didi Ki Chudai. Neera came the next day and I will tell you what happened after answering your mail.

My mail id is
[email protected]

Read More Chudai ki Story –

Real Chudai stories बुआ की बेटी की गांड चुदाई bhai behan sex

भाई ने बहन की चूत में जीभ को घुसाकर चोदा | sister ki chudai – real sex story

antarvasna 2 भाई ने बहन को लंड दिखा कर की मजेदार चुदाई

2 thoughts on “Sex stories bhai behan दीदी की चुदाई की तमन्ना भाई से 1 Fun”

Leave a Comment