xxx kahani बारिश की रात मेरी भाभी की चुदाई के साथ 1 best sex

बारिश की रात मेरी भाभी की चुदाई के साथ xxx kahani

xxx kahani: तूफ़ान के डर से मेरी फूफी और भाभी ने मुझे अपने घर बुला लिया था. शाम से ही तेज बारिश हो रही थी. ऐसे मौसम में गर्म भाभी की कसी चूत मुझे कैसे मिली?

दोस्तो, मेरा नाम है सिद्धार्थ। मैं ओडिशा का रहने वाला हूं। मेरी हाईट 6 फीट की है और बॉडी भी एथलेटिक है। आपको पता होगा कि पिछले महीनों में ओडिशा में एक भयानक साइक्लोन आया था जिसका नाम था फॉनी। ये बात भी तब की ही है।

उस रोज़ मैं अपने गांव में था। मेरे फूफा जी का घर भी हमारे गांव में ही है। उनके घर में मेरी बीमार फूफी और उनकी बेटा यानि कि मेरा भाई और उनकी पत्नी रहती थी। भाई का जॉब संबलपुर शहर में था और वह वहीं रहने लगा था।

वह महीने में दो बार ही घर आ पाता था। जब साइक्लोन की खबर आयी तो भाभी परेशान हो गई क्योंकि घर में सिर्फ वह और फूफी रह गई थी। तो भाई ने मुझे फोन करके कहा कि मैं दो या तीन अपनी फूफी के पास ही रहूं.

बतायी गयी तारीख को ही मैं अपना लैपटॉप, कपड़े और कुछ जरूरी सामान लेकर फूफी के पास रहने के लिए तैयार हो गया था. जब मैं वहां पर पहुंचा तो भाभी और मेरी फूफी दोनों ही मुझे देख कर खुश हो गयीं.

मैं थोड़ा अपनी भाभी के बारे में बताना चाहता हूं. उनका नाम बिंदू है. उनके शरीर का रंग तो सांवला है लेकिन वो देखने में काफी सुंदर है. उनकी फिगर भी काफी मस्त सी है. 36-32-38 की फिगर के साथ वो बहुत ही कामुक प्रतीत होती थी.

मेरे भैया की शादी को 3 साल हो गये थे. भाभी की उम्र 25 साल थी और शादी के तीन साल बाद भी उनको सन्तान नहीं हुई थी. इस बारे में सोचकर मैं कई बार हैरान हो जाता था कि इतनी सेक्सी फिगर वाली औरत को अभी तक औलाद नहीं हुई है.

खैर, उस दिन शाम को ही हल्की बारिश शुरू हो गयी थी. इस वजह से हम लोगों ने शाम का खाना जल्दी ही खा लिया था. खाना खाने के बाद हम लोग सोने की तैयारी कर रहे थे.

घर में दो ही कमरे थे. एक में फूफी थी और दूसरे में भैया और भाभी सोते थे. भाभी ने मुझे उनके ही कमरे में सोने के लिए कह दिया. चूंकि भैया घर पर नहीं थे इसलिए वो भी अकेली ही थी.

इससे पहले मुझे कभी भी भाभी के बारे में उस तरह के ख्याल नहीं आये थे. मैं एक बनियान, शर्ट और पैंट डालकर सोने के लिए भाभी के कमरे में आ गया. भाभी भी अपनी नाइटी पहन कर आ गयी थी.

गहरे गले वाली नाइटी में भाभी की चूचियों की घाटी यानि क्लीवेज खुलकर सामने आ रही थी. उनकी क्लीवेज को देख कर मैं जैसे देखता ही रह गया था. ऐसा लग रहा था कि भाभी की चूची नाइट से बाहर आने के लिए मचल रही थी. 36 की चूचियां इतनी मस्त लग रही थीं कि मैं आपको क्या बताऊं.

ये स्टोरी लिखते हुए भी जब मैं वो सीन याद कर रहा था तो मेरा लंड खड़ा हो गया था. मेरी नजर भाभी की चूची पर जाकर जम गयी थी.
भाभी ने मुझे उनके चूचों को घूरते हुए पकड़ लिया और मुस्कुराते हुए पूछा- कहां खो गए देवर जी??

मैं झेंप गया और बोला- क.. क… कुछ नहीं भाभी।
फिर मैं बोला- भाभी आप काफी सुंदर लग रही हो।
उन्होंने दोबारा से पूछते हुए कहा- सिर्फ खूबसूरत ही लग रही हूं?
मैंने भी हिम्मत करके कहा- आप काफी हॉट लग रही हो।

इस बात पर भाभी हल्के से शरमा कर मुस्करा गयी. उसके बाद वो मेरे पास बैठ कर बातें करने लगी. बातों ही बातों में भाभी ने मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछ लिया.

मैंने कहा- हमारा ब्रेकअप हो चुका है.
उसके बाद भाभी के साथ मेरी काफी देर तक बातें हुई. फिर उन्होंने मूवी देखने की इच्छा जताई. मैंने अपना लैपटॉप उठाया और बेड पर रख लिया.

भाभी को हेडफोन देकर मैंने लैपटॉप उनको थमा दिया. भाभी लैपटॉप में हिंदी मूवी देखने लगी. उसके बाद मैं सो गया. मगर मुझे ये ध्यान नहीं रहा कि मैंने अपने लैपटॉप में अपनी गर्लफ्रेंड की चुदाई की वीडियो भी डाल रखी थी.

आधी रात को किसी आवाज ने मेरी आंखें खोल दी. मैंने जब आंखें खोलीं तो सामने का नजारा देख कर मुझे अपनी आंखों पर यकीन नहीं हुआ. मैंने देखा कि भाभी लैपटॉप में नजर गड़ाये हुए थी. वो मेरी गर्लफ्रेंड की चुदाई की वीडियो देख कर अपनी चूत को सहला रही थी.

मेरा लैपटॉप भाभी की टांगों के बीच में रखा हुआ था. उनकी क्लीन शेव की हुई चूत चमक रही थी. यह देखते ही मेरा लंड एकदम से तंबू बन गया.

चिकनी और गर्म चुदासी चूत देखकर मेरे अंदर हवस का उफान उठते हुते देर न लगी. मैंने सोचा कि भाभी की चूत गर्म है. इस मौके को हाथ से नहीं जाने देना चाहिए. इसलिए मैंने भाभी की चूत मारने की हिम्मत कर डाली.

उठकर मैंने भाभी के कंधे पर हाथ रखा तो वो एकदम से चौंक गयी. वो शायद सहम गयी थी और डर के मारे चीखने ही वाली थी कि मैंने भाभी के मुंह पर हाथ रख दिया. उनकी चीख मेरे हाथ के नीचे ही दबकर रह गयी.

जब मैंने हाथ हटाया तो भाभी का चेहरा शर्म से लाल हो गया. मैं भाभी की चूत को देख रहा था. वो फूल चुकी थी. मैं बस उसमें मुंह दे देना चाहता था. भाभी भी गर्म थी इसलिए मुझे ज्यादा मेहनत भी नहीं कर पड़ी.

जैसे ही मैंने भाभी की चूत पर हाथ रखा तो भाभी की सिसकारी निकल गयी. मैं भाभी की गर्म चूत को सहलाने लगा. भाभी के मुंह से कामुक आवाजें निकलने लगीं. भाभी की चूत को सहलाते हुए मैंने उनके होंठों को किस करना शुरू कर दिया.

भाभी मेरा साथ देने लगी. अब मेरा एक हाथ भाभी की नाइटी के ऊपर से उसकी चूचियों को बारी बारी से दबा रहा था. दूसरे हाथ से मैं भाभी की चूत को सहला रहा था.

Barish ki raat bhabhi ki chudai ke saath xxx kahani

उसकी चूत से पानी निकलने लगा था. पच पच की आवाज होने लगी थी. भाभी अपनी चूत को ऊपर की ओर उचका रही थी. मैं भी तेजी के साथ भाभी की चूत को मसल रहा था.

कुछ देर तक उसकी चूत को सहलाने के बाद मैंने भाभी की नाइटी को पूरी की पूरी उनके बदन से अलग कर दिया. मैंने भाभी के बूब्स पर काटना शुरू कर दिया.

बाहर जोर की बारिश हो रही थी. सेक्स की आवाजें किसी को सुनाई नहीं दे रही थीं. भाभी पूरी तरह से गर्म हो चुकी थी. मैं भाभी के स्तनों को जोर से पी रहा था और वो भी मस्ती में होकर अपनी चूचियों को चुसवाने का मजा ले रही थी.

भाभी की बड़ी बड़ी चूची पीने में मुझे बहुत मजा आ रहा था. भाभी भी अपनी चूचियों पर मेरे सिर को दबाने लगी थी. उसकी चूचियों के निप्पल को मैंने काटना शुरू कर दिया था जिससे भाभी के मुंह से आह्ह … ओह्ह … करके जोर से सीत्कार से निकल जाते थे.

कुछ देर तक भाभी की चूची को पीने के बाद वो उठी और भाभी ने मेरे कपड़े खोलना शुरू कर दिये. अब भाभी से रुका नहीं जा रहा था. उसने दो मिनट के अंदर ही मुझे नंगा कर दिया.

बाहर से सर्द हवाएं आकर मेरे जिस्म को छू रही थी. भाभी ने मेरे लंड को हाथ में पकड़ लिया और उसकी मुठ मारने लगी. मेरा 6 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा लंड एकदम से सख्त होकर फटने ही वाला था.

और तभी मैने फोन से फोटो खींच ली

Barish ki raat bhabhi ki chudai ke saath xxx kahani

फिर हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गये थे. भाभी ने मेरे लंड को मुंह में भर लिया और मैंने भाभी की चूत में जीभ को रख दिया. मैं भाभी की चूत को चाटने लगा और भाभी मेरे लंड को चूसने लगी.

हम दोनों एक दूसरे के अंदर जैसे खो ही गये थे. जब भाभी से रुका नहीं गया तो उसने मेरे लंड को मुंह से निकाल दिया. मैंने भी भाभी की चूत को चाटना बंद कर दिया. भाभी मेरे लंड को अंदर लेने के लिए और इंतजार नहीं कर सकती थी.

इसलिए उसने मुझे अपने ऊपर कर लिया और मेरे होंठों को पीते हुए मेरे लंड पर चूत को रगड़ने लगी. मैं समझ गया कि भाभी पूरी तरह से चुदासी हो चुकी है. अब मैं भी भाभी की चूत में लंड देकर उसकी चूत को चोद देने के लिए बेताब था.

मैंने भाभी की चूत पर लंड को रख दिया और रगड़ने लगा.
भाभी एकदम से सिसकारते हुए बोली- आह्ह देवर जी, और मत तड़पाओ. अब अपनी भाभी की चूत को चोद दो. अब मुझसे और नहीं रुका जा रहा है.

इतना सुनकर मैंने भाभी की चूत पर लंड को रख दिया और उसकी चूत में लंड को एकदम से धकेल दिया तो भाभी के मुंह से चीख निकल गयी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’
भाभी की चूत काफी टाइट थी इसलिए लंड एकदम से उसकी चूत में फंस सा गया था.

Barish ki raat bhabhi ki chudai ke saath xxx kahani

ऐसा लग रहा था कि काफी समय से भाभी ने अपनी चूत की चुदाई नहीं करवाई है.
मैंने पूछा- आपकी चूत तो बहुत टाइट लग रही है.
वो बोली- तुम्हारे भैया का लंड खड़ा ही नहीं होता है. मैं तो इतने दिन से उंगली और बैंगन से ही काम चला रही थी.

इस तरह से बातें करते हुए मैंने एक जोरदार धक्का भाभी की चूत में दे मारा. मेरा लंड भाभी की चूत में एकदम से पूरा उतर गया. मैंने उसकी चूत को चोदना शुरू कर दिया.

तेजी के साथ मैं भाभी की चूत में लंड को अंदर बाहर करने लगा. उसके बाद मैंने उसकी चूत में लंड की रफ्तार तेज कर दी. अब वो भी दर्द भुला चुकी थी. वो अपनी गांड को ऊपर उठाकर चूत को लंड की ओर धकेल रही थी.

10 मिनट की चुदाई के बाद ही भाभी की चूत का पानी निकल गया. मैं उसकी चूत को अभी भी चोद रहा था.

फिर मैंने भाभी को घोड़ी बना लिया और पीछे से उसकी चूत में लंड को पेलने लगा. वो मस्ती में होकर लंड को लेने लगी.

मेरा लंड पूरा का पूरा उसकी चूत में अंदर जा रहा था और फिर मैं पूरा ही बाहर निकाल रहा था. चूत से पुच-पुच की आवाज आ रही थी जो मुझे और ज्यादा जोश में भर रही थी.

पांच मिनट तक उसकी चूत को चोदने के बाद मैंने उसकी चूत में धक्के लगाते हुए कहा- आह्ह भाभी … निकलने वाला है.
वो बोली- अंदर ही निकाल दो.

मैंने दो चार धक्कों के बाद ही भाभी की चूत में गर्म गर्म वीर्य छोड़ दिया. झटके देते हुए मैंने उसकी चूत को अपने वीर्य से लबालब भर दिया. फिर हम दोनों बेड पर गिर गये. कुछ देर तक ऐसे ही पड़े रहे.

थोड़ी देर के बाद भाभी फिर से मेरे लंड को छेड़ने लगी. मैं भी उसकी चूत को सहलाने लगा. एक बार फिर से चुदाई के लिए मूड बन गया. मैंने एक बार फिर से उसकी चूत में लंड को पेल दिया और दूसरी बार तीस मिनट तक उसकी चूत चोदी.

इस तरह से उस रात मैंने कुल तीन बार भाभी की चूत चुदाई की. अगली सुबह जब मैं उठा तो नंगा ही बेड पर पड़ा हुआ था. मैंने देखा कि भाभी फ्रेश होकर नहा चुकी थी.

मुझे उठा हुआ देख कर भाभी ने एक नॉटी सी स्माइल दी. मैं भी उसके बाद फ्रेश हो गया. फिर मैंने दिन में एक बार फिर से भाभी की चूत को चोद दिया. इस बार भाभी की गांड मारने का मौका भी मिला.

इस तरह से बारिश की उस रात में भाभी के साथ मैंने जमकर मजा लिया. दो-तीन दिन तक मैं अपने भैया के घर में रहा और हम दोनों ने खूब मजे किये.

दोस्तो, आपको मेरी भाभी सेक्स स्टोरी पसंद तो आई होगी. तो आप मुझे मेल करें और अपनी राय बताएं. मुझे आप लोगों की प्रतिक्रियाओं का इंतजार रहेगा. आप मुझे नीचे दी गयी मेल आईडी पर अपनी प्रतिक्रियाएं भेज सकते हैं. कहानी पर कमेंट करना भी न भूलें. और सेक्स विडियो और new कहानी पढने के लिये telegram ग्रुप join कर सकते है. [email protected]

Read in English

Barish ki raat bhabhi ki chudai ke saath xxx kahani

xxx kahani: My aunt and sister-in-law had called me to their house for fear of storm. It was raining heavily since evening. How did I get hot bhabhi pussy in such a weather?

Friends, my name is Siddharth. I am from Odisha. My height is 6 feet and body is also athletic. You might know that in the last months, there was a terrible cyclone in Odisha called Phoney. This is also the case then on xxx kahani.

That day I was in my village. My uncle’s house is also in our village. In his house lived my sick aunt and his son i.e. my brother and his wife. Brother’s job was in Sambalpur city and he started living there.

He was able to come home twice a month. When the news of Cyclone came, sister-in-law got upset because only she and Puffi were left in the house. So brother called me and said that I should stay with two or three of my aunt like xxx kahani.

On the same date, I agreed to be near Fufi with my laptop, clothes and some important items. When I reached there, both sister-in-law and my aunt became happy to see me.

I want to tell a little about my sister-in-law. His name is Bindu. His body color is dark but he is very beautiful to look at. His figure is also very cool. With the figure of 36-32-38, she looked very sexy in xxx kahani.

My brother had been married for 3 years. Sister-in-law was 25 years old and she did not have children even after three years of marriage. Thinking about this, I used to get surprised many times that a woman with such a sexy figure has not yet been granted.

Well, on that day light rain started in the evening. Because of this, we had eaten the evening meal soon. After eating our food, we were preparing to sleep then xxx kahani.

There were only two rooms in the house. In one, there was puffy and in the other brother and sister-in-law slept. Sister-in-law told me to sleep in her own room. Since Bhaiya was not at home, she was also alone.

Never before had I had such thoughts about my sister-in-law. I came to the sister-in-law’s room to sleep putting a vest, shirt and pants. Sister-in-law also came wearing her nightie and enjoy xxx kahani.

In deep-throat nightly, the valley of sister-in-law’s cleavages, ie cleavage, was coming out in front. Seeing their cleavage, I was left watching. It seemed that the sister-in-law’s teat was going to come out of the night. Tits of 36 seemed so cool that what can I tell you about xxx kahani.

Even while writing this story, when I was remembering that scene, my cock was erect. My eyes were fixed on the sister-in-law’s nipple.
Sister-in-law caught me staring at her legs and smilingly asked- where are you lost brother-in-law?

I blushed and said – a… nothing… sister-in-law like xxx kahani.
Then I said – in law you look very beautiful.
Asking again, he said- I just look beautiful?
I too dare to say – you look hot.

Sister smiled lightly on this matter. After that she sat talking with me and started talking. In many cases, sister-in-law asked about my girlfriend on xxx kahani.

I said – our breakup is done.
After that I had a long talk with sister-in-law. Then he expressed his desire to watch the movie. I picked up my laptop and put it on the bed.

After giving the headphones to my sister, I handed them the laptop. Bhabhi started watching Hindi movie in laptop. I fell asleep after that. But I did not notice that I had also put a video of my girlfriend fucking in my laptop see the xxx kahani.

At midnight, a voice opened my eyes. When I opened my eyes, I could not believe my eyes after seeing the front view. I noticed that sister-in-law was eyeing the laptop. She was caressing her pussy after watching videos of my girlfriend’s fuck in xxx kahani.

My laptop was kept in the middle of her legs. His clean shaved pussy was glowing. On seeing this my cock became a tent.

Seeing the smooth and hot Chudassi pussy, it did not take long for the lust to rise in me. I thought that sister-in-law’s pussy is hot. This opportunity should not be let go by hand. So I dared to kill her sister-in-law on xxx kahani.

When I got up and placed my hand on her shoulder, she was shocked. She was probably scared and was about to scream out of fear that I put my hand on her mouth. His scream was buried under my hand.

When I removed my hand, the sister-in-law’s face turned red with shame. I was looking at sister-in-law’s pussy. She had swollen I just wanted to give it a face. Sister-in-law was also hot, so I did not have to work too hard on xxx kahani.

As soon as I laid my hand on her sister-in-law, her sister-in-law got out. I started caressing her hot pussy. Erotic voices started coming out of her mouth. I started kissing her lips while caressing her pussy like xxx kahani.

Sister-in-law started supporting me. Now one of my hands was pressing her nipples alternately on top of sister’s night. With the other hand I was caressing her pussy.

Water started coming out of her pussy. Pach Pach was starting to sound. Sister-in-law was shoving her pussy upwards. I was also rubbing her sister’s pussy with speed in xxx kahani.

After caressing her pussy for a while, I completed her sister-in-law’s night, completely separated from her body. I started cutting on sister-in-law’s boobs.

It was raining heavily outside. No one could hear the sounds of sex. Sister-in-law had become completely hot. I was drinking her breasts vigorously and she was also enjoying having fun in her pussy in xxx kahani.

I was enjoying drinking big big tit of sister-in-law. Sister-in-law was also pressing my head on her pussy. I started cutting her nipple nipples, so that the sister-in-law used to go out of her mouth with a loud groan on xxx kahani.

After drinking the teat of sister-in-law for some time, she woke up and the sister-in-law started opening my clothes. Now the sister-in-law was not being stopped. He naked me within two minutes then xxx kahani.

The cold winds came from outside and was touching my body. Sister-in-law grabbed my cock and started licking it. My 6-inch-long and 3-inch-thick cock was about to crack hard.

And then I took a picture from the phone
Then we both came in 69 positions. Sister-in-law filled my cock and I put the tongue in her pussy. I started licking her sister’s pussy and sister-in-law started sucking my cock and got xxx kahani.

We were both lost inside each other. When the sister-in-law was not stopped, she removed my cock from her mouth. I also stopped to lick her pussy. Sister-in-law could not wait to take my cock inside.

So he took me on top of him and started rubbing my pussy on my cock while drinking my lips. I understood that the sister-in-law has been completely chudasi. Now I too was desperate to give a fuck to her pussy by giving cocks in her pussy on xxx kahani.

I put the cocks on her sister’s pussy and started rubbing.
Sister-in-law shouted softly – Ahh, brother-in-law, and do not suffer. Now fuck your sister’s pussy. Now I am not being stopped any more about xxx kahani.

cript>

Hearing this much, I put the cocks on her sister’s pussy and pushed the cocks in her pussy immediately, then the sister-in-law screamed ‘Ummh… Ahhh… Hahh… Yah… ’
Bhabhi’s pussy was very tight, so the cock was completely stuck in her pussy in xxx kahani.

It seemed that for a long time, sister-in-law has not got her pussy fuck.
I asked – your pussy is looking very tight.
She said – Your brother’s cock does not stand. I had been working with finger and brinjal for so many days in xxx kahani.

While talking in this way, I gave a strong push to the sister-in-law’s pussy. My cock got completely full in law’s pussy. I started fucking her pussy.

With speed, I started taking the cocks inside out. After that, I increased the speed of cocks in her pussy. Now that pain was forgotten. She was pushing her ass upwards and pushing her pussy towards cocks like xxx kahani.

After 10 minutes of fucking, the law’s pussy water came out. I was still fucking her pussy.

Then I made sister-in-law a mare and started licking cocks in her pussy from behind. She started taking cocks in fun about xxx kahani.

The whole of my cock was going inside her pussy and then I was taking it out completely. The voice of pooch-pooch was coming from the pussy which was filling me with more passion.

After fucking her pussy for five minutes, I pushed her in the pussy and said – Ahh bhabhi… about to leave.
That quote – remove it inside itself like xxx kahani.

I left hot hot semen in her sister’s pussy only after two four bumps. While giving shock, I filled her pussy with my semen. Then we both fell on the bed. Stayed like this for a while.

After a while, sister-in-law started teasing my cock again. I also started caressing her pussy. Once again, the mood was for sex. I once again licked cocks in her pussy and for the second time thirty minutes of her pussy then xxx kahani.

In this way, that night I did a total of three times. The next morning when I woke up, I was lying naked on the bed. I saw that sister-in-law was fresh and bathed.

Seeing me getting up, sister-in-law gave a naughty smile. I was fresh after that too. Then I once again gave Bhabi’s pussy Chod. This time also got a chance to kill her sister-in-law then start xxx kahani.

In this way, I enjoyed very much with the sister-in-law on that night of rain. I stayed in my brother’s house for two-three days and we both had a lot of fun.

Friends, you must have liked my sister-in-law sex story. Then you mail me and tell your opinion. I look forward to your responses. You can send me your responses to the mail ID given below. Do not forget to comment on the story as well. And to read sex videos and new story, telegram group can join. [email protected]

Read more hot chudai story –

Besthindisexstories पोर्न जैसी चुदाई की भाभी के साथ1 fun sex

Hindipornstory दो भाइयों ने की 1 भाभी की चुदाई Best Sex Fun

kamukta hindi stories 1 भाभी की चूत चुदाई उनके मायके में fun

Leave a Comment

org/tools/popad.js">